लालू यादव समेत 16   दोषी करार कर जेल भेजा,  पूर्व मुख्‍यमंत्री जगन्‍नाथ मिश्र सहित अन्‍य छह  बरी

राष्‍ट्रीय जनता दल पार्टी इसे उच्‍च न्‍यायालय में चुनौती देगी।
राष्‍ट्रीय जनता दल प्रमुख लालू प्रसाद को चारा घोटाला मामले में दोषी करार दिया गया और हिरासत में भेजा गया। विशेष सीबीआई अदालत अगले महीने की तीन तारीख को सजा सुनायेगी। पार्टी इसे उच्‍च न्‍यायालय में चुनौती देगी। सीबीआई की विशेष अदालत ने चारा घोटाला मामले में बिहार के पूर्व मुख्‍यमंत्री लालू प्रसाद और 15 अन्‍य को दोषी करार दिया है। पूर्व मुख्‍यमंत्री जगन्‍नाथ मिश्र सहित अन्‍य छह को बरी कर दिया है। दोषियों को सजा अगले महीने की तीन तारीख को सुनाई जाएगी। यह मामला 1991 से 1994 के बीच देवघर खजाने से नवासी लाख सत्‍ताइस हजार रूपये की धोखाधड़ी का है। हमारे संवाददाता ने बताया है कि लालू प्रसाद और अन्‍य दोषियों को हिरासत में ले लिया गया है। चारा घोटाले के एक मामले में राजद प्रमुख लालू प्रसाद समेत 16 आरोपियों को दोषी करार कर जेल भेज दिया गया। रांची के विशेष सीबीआई अदालत के जज शिवपाल सिंह ने दोपहर के बाद फैसला सुनाया। बिहार के पूर्व मुख्‍यमंत्री जगन्‍नाथ मिश्र, पूर्व मंत्री विद्यासागर निषाद तथा लोक लेखा समिति के पूर्व अध्‍यक्ष ध्रुव भगत समेत छह को निर्दोष करार दिया गया। दोषियों को सजा देने पर बहस आगामी जनवरी होगी। इस केस में इसमें छह राजनेता, छह अफसर तथा दस सप्लायर्स अभियुक्त हैं। इनमें बिहार के दो पूर्व मुख्यमंत्रियों के अलावा पूर्व सांसद आर. के. राणा, तीन पूर्व आईएएस अधिकारी भी शामिल हैं। अन्य अभियुक्तों में बिहार के पूर्व मंत्री विद्यासागर निषाद, पूर्व लोक लेखा समिति के अध्यक्ष जगदीश शर्मा तथा ध्रुव भगत शामिल थे। ==इस मामले में राष्‍ट्रीय जनता दल प्रमुख लालू प्रसाद और बिहार के पूर्व मुख्‍य मंत्री जगन्‍नाथ मिश्र मुख्‍य आरोपी थे। लालू प्रसाद को चारा घोटाला के एक अन्य मामले में दोषी ठहराया जा चुका है जिसके कारण उन्‍हें लोकसभा सीट छोड़नी पड़ी थी और चुनाव लड़ने से अयोग्‍य घोषित किया गया था।  इस मामले में 27 अक्‍तूबर, 1997 को अड़तीस लोगों के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल किए गए थे। इस मामले में 27 अक्टूबर 1997 को 38 लोगों के खिलाफ आरोप पत्र दायर किया गया था।  इस मामले में लालू यादव, जगन्नाथ मिश्र सहित 34 लोगों को आरोपी बनाया गया था। लेकिन ट्रायल के दौरान कई आरोपियों का निधन होने और दो आरोपियों के सरकारी गवाह बन जाने की वजह से इस मामले में अब सिर्फ 22 आरोपी ही बचे थेराष्‍ट्रीय जनता दल के नेता रघुवंश प्रसाद सिंह ने कहा है कि उनकी पार्टी, सीबीआई अदालत के आज के फैसले के विरूद्ध उच्‍च न्‍यायालय में अपील करेगी।
 

दोषी ठहराए जाने के बाद लालू ने ताबड़तोड़ सिलसिलेवार ट्वीट किए
श्री लालू प्रसाद यादव ने सिलसिलेवार ट्वीट् संदेशों में कहा है कि पूर्वाग्रहयुक्‍त दुष्‍प्रचार और हथकंडों से सच को आधे अधूरे और संदेहास्‍पद तरीके से पेश करने से सच भी झूठ की तरह लगने लगता है। उन्होंने लिखा कि हर हाल में लड़ना होगा। लालू यादव ने विरोधियों पर निशाना साधते हुए कहा है कि वे(लाल) उनकी राहों का कांटा नहीं बल्कि आंखों की कील हैं। उन्होंने एक ट्वीट में लिखा कि, देश के न्यायप्रिय और शांतिप्रिय साथियों हर षड्यंत्र से बचना होगा। हर हाल में लड़ना होगा। विजयपथ पर चलना होगा। 
लालू यादव ने लिखा है कि वे अकेले सब पर भारी हैं और आखिरी दम तक सामाजिक न्याय के लिए लड़ते रहेंगे। उन्होंने लिखा कि, साथ हर बिहारी है अकेला सब पर भारी है सच की रक्षा करने को लालू का संघर्ष जारी है। मरते दम तक सामाजिक न्याय की लड़ाई लड़ता रहूंगा। जगदेव बाबू ने गोली खाई, हम जेल जाते रहते है लेकिन मैं झुकूंगा नहीं। लड़ते-लड़ते मर जाऊंगा लेकिन मनुवादियों को हराऊंगा। एक और ट्वीट में लालू यादव ने लिखा है कि, ना ज़ोर चलेगा लाठी का लालू लाल है माटी का। लालू यादव ने संभवत: खुद को दोषी ठहराए जाने के लिए कुछ विशेष दलों और जिम्मेदार माना है, इसीलिए उन्होंने लिखा है कि, सामंतवादी ताकतों, जानता हूं लालू तुम्हारी राहों का कांटा नहीं, आंखों की कील है। पर इतनी आसानी से नहीं उखाड़ पाओगे। उन्होंने अपने विरोधियों को चेताया भी है कि वे उन्हें परास्त नहीं कर सकते। लालू ने लिखा कि, ऐ सुनो कान खोल कर, आप इस गुदड़ी के लाल को परेशान कर सकते हो, पराजित नहीं। लालू यादव ने बीजेपी पर अप्रत्यक्ष हमला करते हुए कहा कि, झूठे जुमले बुनने वालों सच अपनी जिद पर खड़ा है। धर्मयुद्ध मे लालू अकेला नहीं, पूरा बिहार साथ खड़ा है। लालू ने अदालत के फैसले के बाद नेल्सन मंडेला, बाबा साहेब अंबेडकर और मार्टिन लूथर किंग का हवाला देते हुए लिखा कि वे अपने प्रयासों में नाकाम हुए होते तो इतिहास उन्हें खलनायक के तौर पर याद करता। लेकिन पक्षपाती, नस्लवादी और जातिवादी लोगों के लिए वे खलनायक हैं। किसी को कोई खास या अलग बरताव की उम्मीद नहीं करनी चाहिए।
उन्होंने एक अन्य ट्वीट में कहा कि ताकतवर लोग और ताकतवर वर्ग हमेशा समाज को शासक और शासित वर्ग में बांटते रहे हैं। जब भी निचले तबके के किसी व्यक्ति ने इस अन्याय को चुनौती दी है, तो इन्होंने उसे सजा दी है।
लालू यादव ने एक फिलॉस्फर की तरह लिखा है कि जब तक सच अपनी तैयारी करता है, झूठ आधी दुनिया में फैल चुका होता है। लेकिन अंत में जीत सच की ही होती है।
लालू यादव ने लिखा, धूर्त भाजपा अपनी जुमलेबाज़ी और कारगुज़ारियों को छुपाने और वोट प्राप्त करने के लिए विपक्षियों का पब्लिक पर्सेप्शन बिगाड़ने के लिए राजनीति में अनैतिक और द्वेष की भावना से ग्रस्त गंदा खेल खेलती है।

 

भारतीय जनता पार्टी ने कहा कि आज के फैसले से लगता है कि कांग्रेस और आरडीजे गठबंधन भ्रष्टाचार का गठबंधन है।

केंद्रीय मंत्री और वरिष्ठ भाजपा नेता, जे पी नड्डा ने कहा कि अदालत के फैसले को स्वीकार करने के बजाय, श्री यादव इस मुद्दे को राजनीतिक रंग दे रहे हैं। लालू प्रसाद यादव जी को इस दोषी करार होने को जहां मानना चाहिए उसके बजाय इसका भी राजनीतिकरण कर रहे हैं और अपने द्वारा किये गए भ्रष्‍टाचार को डिवेट करने के लिए वह भारतीय जनता पार्टी पर आरोप-प्रत्‍यारोप लगाने की कोशिश कर रहे हैं।  

 

कानून मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने कहा-आज के फैसले से साबित होता है कि भ्रष्‍टाचारी, कानून के हाथों बच नहीं सकते।

केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि आज की सजा का सबक यह है कि कानून की शक्ति से भ्रष्टाचार हमेशा पकड़ लिया जाएगा। वह आरजेडी प्रमुख की सजा के बाद आज चेन्‍नई में पत्रकारों से बात कर रहे थे। आज लालू प्रसाद यादव को दोषी ठहराये जाने से यह सबक मिला है कि अगर आप भ्रष्‍टाचार करेंगे तो कानून आपको छोड़ेगा नहीं। यह दिलचस्‍प बात है कि श्री लालू प्रसाद यादव और उनकी पार्टी आरजेडी कांग्रेस पार्टी की सहयोगी रही है। आज का संदेश है कि भ्रष्‍टाचारी कानून से बच नहीं सकता। जनता दल यूनाइटेड के नेता के. सी. त्‍यागी ने इस फैसले का स्‍वागत करते हुए कहा कि इससे भ्रष्‍टाचार पर रोक लगाने में मदद मिलेगी। सार्वजनिक जीवन में भ्रष्‍टाचार के लिए कोई जगह नहीं है। राजनीति करने वाले लोग डरेंगे। कानून का राज कायम होगा और बिहार की राजनीति में क्रांतिकारी परिवर्तन आयेगा। बिहार के उप-मुख्‍यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि आरजेडी प्रमुख के दोषी ठहराए जाने का फैसला उम्मीद के अनुरूप ही आया है।

 कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने कहा कि लालू प्रसाद यादव और उनके वकील इस मामले की कानूनी लड़ाई में सक्षम थे। श्री तिवारी ने कहा कि आरजेडी प्रमुख इसकी कानूनी लड़ाई 1996 से लड़ रहे हैं।
 

मीसा भारती,  और  अन्‍य के खिलाफ आरोप-पत्र दायर 
 इस बीच,प्रवर्तन निदेशालय ने मनी लांड्रिंग मामले में लालू प्रसाद की बेटी मीसा भारती, उनके पति शैलेष कुमार और कई अन्‍य के खिलाफ आरोप-पत्र दायर किया है।  निदेशालय के वकील नितेश राणा ने विशेष न्‍यायाधीश एन के0 मल्‍होत्रा की अदालत में यह आरोप-पत्र दायर किया है। जांच एजेंसी ने मीसा और उनके पति शैलेष कुमार के मनी लांड्रिंग में शामिल होने के संदेह में दिल्‍ली में उनके एक फार्म हाउस को जब्‍त किया था। यह फार्म हाउस मीसा और उनके पति शैलेष कुमार का है लेकिन मैसर्स मिशैल पैकर्स एंड प्रिंटर्स प्राइवेट लिमिटेड के नाम पर है। प्रवर्तन निदेशालय का आरोप है कि यह फार्म हाउस वर्ष 2008-09 में मनी लांड्रिंग से हासिल एक करोड़ बीस लाख रुपये की मदद से खरीदा गया था। प्रवर्तन निदेशालय ने दिल्‍ली में मीसा भारती के परिसर पर छापे मारे थे और उनसे तथा उनके पति से सुरेन्‍द्र जैन, वीरेन्‍द्र जैन तथा अन्‍य के खिलाफ जांच से जुड़े मामले में पूछताछ की थी।  निदेशालय ने पांच हजार करोड़ रुपये के मनी लांड्रिंग मामले में कारोबारी गगन धवन के खिलाफ भी दिल्‍ली की एक अदालत में आरोप पत्र दायर किया है। जिसपर अगली सुनवाई तीन जनवरी को निर्धारित की गयी है।

 

अमित शाह के बेटे, शाह जादा वाली खबर से रोक हटी
जय अमित शाह के कारोबार की जादुई तरक्की का खुलासा करने वाली खबर पर लगी रोक हट गई है। गुजरात की एक अदालत ने शनिवार को यह आदेश दिया।अब इस खबर से जुड़े किसी भी पहलू को प्रकाशित किया जा सकता है। जय शाह की जाईदु कमाई वाली खबर से रोक हट गई है। गुजरात की एक अदालत ने द वायर में प्रकाशित खबर द गोल्डन टच ऑफ जय अमित शाह को किसी भी तरह आगे बढ़ाने या उस पर किसी तरह की चर्चा करने पर लगी अंतरिम रोक को हटा दिया।द वायर ने अमित शाह के बीजेपी का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने के बाद उनके बेटे जय शाह की कंपनी का टर्नओवर 16000 गुना बढ़ जाने को एक खबर प्रकाशित की थी, जिस पर पूरे देश में जबरदस्त प्रतिक्रिया हुई थी। इस खबर के प्रकाशन के बाद मोदी सरकार के मंत्रियों ने सामने आकर सफाई दी थी और जय शाह ने अदालत में अर्जी देकर इस खबर से संबंधित किसी भी किस्म के प्रकाशन और चर्चा पर रोक लगाने की मांग की थी। एक निचली अदालत ने 12 अक्टूबर को जय शाह की याचिका मंजूर करते हुए इस संबंध में आदेश दिया था। इस आदेश के तहत 'द वायर', उसके संपादक और आलेख के लेखक को जय शाह की कम अवधि में बेशुमार कमाई की कहानी को किसी भी तरह आगे बढ़ाने पर रोक लगाई गई थी।
यह रोक मीडिया के सभी माध्यमों में लगाई गई थी। अदालत ने इस बारे में इंटरव्यू, टीवी बहस समेत अन्य सभी संभावित माध्यमों पर रोक लगई थी। द वायर ने इस 'रोक' को चुनौती दी थी और इसे प्रेस की स्वतंत्रता का हनन बताया था और कहा था कि आलेख में कुछ भी अपमानसूचक नहीं है। वेबसाइट ने कहा था कि यह खबर सार्वजनिक रिकार्ड और जय शाह द्वारा उपलब्ध कराई गई सूचना के आधार पर प्रकाशित की गई थी।लेकिन शनिवार को अदालत ने अपने आदेश में 'नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद'- वाक्य को छोड़कर बाकी सभी तथ्यों से रोक हटा ली है। वेबसाइट 'द वायर' की ओर से जारी बयान में कहा गया है, "अदालत के नवीनतम आदेश के अनुसार, अब हम जय शाह के व्यापार के बारे में किसी भी तरह से लिखने और रिपोर्ट करने के लिए स्वतंत्र हैं। साथ ही हम वास्तविक कहानी के साथ सार्वजनिक गतिविधि करने के लिए भी स्वतंत्र हैं।" इस मामले की सुनवाई के दौरान जय शाह के वकील ने अपना पक्ष रखते हुए कहा कि वे लोग वास्तविक कहानी को वेबसाइट से हटाने की मांग नहीं कर रहे हैं, बल्कि इस मुद्दे पर किसी भी तरह की चर्चा पर रोक की मांग कर रहे हैं। निचली अदालत ने हालांकि इस दलील को खारिज कर दिया।जय शाह के वकील ने इस मामले को ऊपरी अदालत में ले जाने तक इस चर्चित खबर पर एक माह के लिए रोक लगाने की मांग की, जिसे न्यायालय ने खारिज कर दिया।

 

फिर संघर्ष विराम उल्‍लंघन कर की गई गोलीबारी में एक मेजर सहित चार सैनिक शहीद 

जम्‍मू-कश्‍मीर में नियंत्रण रेखा के पास पा‍किस्‍तान द्वारा संघर्षविराम उल्‍लंघन कर की गई गोलीबारी में एक मेजर सहित चार सैनिक शहीद।जम्‍मू-कश्‍मीर के राजौरी जिले में शनिवार को नियंत्रण रेखा के पास केरी सेक्‍टर में पा‍किस्‍तान की गोलीबारी में एक मेजर और तीन सैनिक शहीद हो गये। हमारे संवाददाता ने बताया है कि एक अन्‍य जवान इस गोलीबारी में घायल भी हुआ है। रक्षासूत्रों के अनुसार, नियंत्रण रेखा पर से बलों ने के अनुसार, दोपहर अकारण गोलाबारी कर क्षेत्र में गश्‍त कर रही सेना की टुकड़ी को निशाना बनाया। इस हमले में मेजर मुहारकर प्रफुल्‍ला अम्‍बादाश और तीन जवान गंभीर रूप से घायल हो गये, जिन्‍होंने जख्‍मों की ताव न लाते हुए बाद में दम तोड़ दिया। सीमा रेखा पर तैनात जवानों ने गोलीबारी पर असरदार ढंग से जवाबी कार्रवाई की और दोनों ओर से गोलीबारी का सिलसिला शाम तक जारी रहा। 
 

मिल्‍ली मुस्लिम लीग को राजनीतिक दल का दर्जा देने से पाकिस्‍तानकी राजनीति में हिंसा और उग्रवाद पनपेगा 
पाकिस्‍तान सरकार ने अदालत में कहा-हाफिज सईद की पार्टी मिल्‍ली मुस्लिम लीग को राजनीतिक दल का दर्जा देने से देश की राजनीति में हिंसा और उग्रवाद पनपेगा।    पाकिस्‍तान सरकार ने इस्‍लामाबाद की एक अदालत से अनुरोध किया है कि मुंबई आतंकी हमले के मास्‍टरमाइंड हाफिज़ सईद समर्थित मिल्‍ली मुस्लिम लीग-एम एम एल को राजनीतिक पार्टी के रूप में पंजीकृत करने की याचिका पर विचार नहीं किया जाये। सरकार ने कहा है कि एम एम एल के पंजीकृत हो जाने से राजनीतिक में हिंसा और चरमपंथ को बढ़ावा मिलेगा। सईद ने हाल में कहा था कि उसका संगठन जमात-उद-दावा, एम एम एल के बैनर तले 2018 के आम चुनाव में भाग लेगा।
 

महिला के साथ दुष्‍कर्म के लिए चार व्‍यक्तियों को आजीवन कारावास
भोपाल की एक अदालत ने अक्‍टूबर में शहर के रेलवे स्‍टेशन के पास एक 19 वर्षीय महिला के साथ दुष्‍कर्म के लिए चार व्‍यक्तियों को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। पीडि़ता कोचिंग क्‍लास से अपने घर लौट रही थी। घटना की गंभीरता को देखते हुए मध्‍यप्रदेश उच्‍च न्‍यायालय ने आरोप पत्र दाखिल होने के बाद प्रतिदिन के आधार पर मामले की सुनवाई का आदेश दिया था।
 

अहमदाबाद में राहुल गांधी, बोले-अगली बार 135 सीट जीतेगी कांग्रेस
गुजरात चुनाव के नतीजों के बाद पहली बार कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अहमदाबाद में पार्टी के कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। राज्य में मजबूती से चुनाव लड़ने के लिए उन्होंने कार्यकर्ताओं को बधाई दी।  राज्य में पार्टी के अच्छे प्रदर्शन की वजह से वह काफी उत्साहित दिखे। सबसे पहले राहुल गांधी ने प्रदेश में मजबूती से चुनाव लड़ने के लिए पार्टी के कार्यकर्ताओं को बधाई दी। कार्यकर्ताओं को धन्यवाद देते हुए उन्होंने कहा, 90 फीसदी लोग एक साथ लड़े और चुनाव में कांग्रेस को जिताने की कोशिश की। उन्होंने बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा कि कांग्रेस ने गुजरात मॉडल का मिथक तोड़ा है। बीजेपी की ओर इशारा करते हुए उन्होंने कहा, अगर कांग्रेस एक साथ खड़ी हो जाती है, तो वे हार जाते हैं। उन्होंने कहा, चुनाव में हमारी हार नहीं हुई, हम जीते हैं, क्योंकि वे गुस्से से लड़े और हम प्यार से। उनके पास सारे संसाधन थे, और हमारे पास सिर्फ सच।
राहुल गांधी ने कहा कि इस बार विधानसभा चुनाव में नया नेतृत्व तैयार हुआ है और यह नेतृत्व अगले चुनाव में गुजरात की सरकार को चलाएगा। अत्मविश्वास से लबरेज कांग्रेस अध्यक्ष ने कार्यकर्ताओं से कहा, आप देख लेना, मैं यहां मंच से आपको कहता हूं, अगले चुनाव में कांग्रेस 135 सीट जीतेगी। उन्होंने कहा कि अगर गुजरात में कांग्रेस यह भरोसा करती है कि वह चुनाव जीत सकती है, तो हम जरूर जीतेंगे और 70 फीसदी लोग ऐसा सोचते हैं। उन्होंने कहा कि आपने गुजरात चुनाव के नतीजों को देखा है, आप जानते हैं कि गुजरात में कांग्रेस चुनाव जीत सकती है। उन्होंने अपनी पार्टी के घोषणापत्र को ऐतिहासिक बताया और उसे तैयार करने में अहम भूमिका निभाने वाले सैम पित्रोदा की तारीफ की। राहुल गांधी ने बीजेपी पर कांग्रेस के खिलाफ दुष्प्रचार कर चुनाव जीतने का आरोप लगाया। मंच से बोलते हुए उन्होंने कहा, आइए अब मैं आपको बताता हूं कि आखिर हम चुनाव क्यों हार गए। पिछले 20 सालों से बीजेपी और नरेंद्र मोदी ने राज्य में कांग्रेस पार्टी, उसके नेताओं और कार्यकर्ताओं के खिलाफ दुष्प्रचार किया है। 3 से 4 महीने पहले कुछ लोग यह सवाल खड़े कर रहे थे कि क्या कांग्रेस गुजरात में चुनाव लड़ पाएगी। लेकिन इन सारी बातों को कांग्रेस ने गलत साबित कर दिया। राहुल गांधी ने कहा कि यह कांग्रेस पार्टी की जिम्मेदारी है कि वह गुजरात के लोगों, किसानों और युवाओं की रक्षा करे। उन्होंने भरोसा जताया कि उनकी पार्टी यह करके दिखाएगी।
राहुल गांधी ने मंच से कड़े लहजे में पार्टी के उन सदस्यों को चेताया, जिन्होंने चुनाव में पार्टी का साथ नहीं दिया। उन्होंने कहा, पार्टी के जिन सदस्यों ने हमारे साथ नहीं लड़ा उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। अहमदाबाद में कार्यकर्ताओं को संबोधित करने से पहले राहुल गांधी ने सोमनाथ मंदिर के दर्शन किए। उन्होंने मंदिर में विधिवत पूजा-अर्चना की। इस दौरान उनके प्रदेश कांग्रेस के कई नेता भी मौजूद थे।

 

बनास नदी में बस गिरने से 33 लोगों की मृत्यु, 7 घायल
मृतकों के परिजनों को दो लाख तथा घायलों को पचास हजार की आर्थिक सहायता देने की घोषणा
 राजस्थान में सवाईमाधोपुर जिले में दुब्बी बनास नदी के पुल से टकराकर बस के बनास नदी में शनिवार को गिरने की घटना से 33 लोगों की मृत्यु हो गई तथा सात लोग घायल हो गये। वहीं मृतकों के शवों की शिनाख्त कर पोस्टमार्टम के पश्चात शव परिजनों को सौंपे जा रहे हैं। उक्त हादसे की गम्भीरता को देखते हुए जिला प्रभारी मंत्री राजपाल सिंह शेखावत ने प्रत्येक मृतक के परिजनों को दो लाख रूपए की आर्थिक सहायता तथा प्रत्येक घायल को पचास हजार रूपए की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है। प्रभारी मंत्री ने घटना पर दुख जताते हुए बताया कि शनिवार को सवाई माधोपुर से लालसोट की ओर सुबह 7 बजे एक मिनी बस के नदी में गिरने की सूचना मिलने पर एसएचओ सूरवाल मय पुलिस टीम को लेकर तथा ग्रामीणों के साथ घटना स्थल पर पहुंचे। इसके तत्काल पश्चात जिला कलेक्टर के.सी. वर्मा तथा जिला पुलिस अधीक्षक मामनसिंह भी घटना स्थल पर पहुंच गये। पुलिस प्रशासन तथा गांव वालों की मदद् से सात घायलों को बचाकर उन्हें निजी अस्पताल में भर्ती करवाया गया जिनमें से पांच की स्थिति ठीक है। वहीं दो लोग गम्भीर हैं। उन्होंने बताया कि मृतकों की डेड बॉडीज राजकीय जिला अस्पताल में भिजवाई गई है। प्रभारी मंत्री ने बताया कि जिला प्रशासन, पुलिस तथा ग्रामीणों की तत्परता से सात लोगों की जान बचाई जा सकी तथा बचाव कार्य तत्परता से सम्पादित किया जा सका।  घटना की सूचना मिलने के पश्चात भरतपुर संभागीय आयुक्त सुबीर कुमार संसदीय सचिव जितेन्द्र गोठवाल, गंगापुर विधायक मानसिंह गुर्जर तथा सवाई माधोपुर विधायक राजकुमारी दिया कुमारी घायलों से मिलने पहुंचे तथा उनकी कुशलक्षेम की जानकारी ली और उन्हें सात्वना भी दी।  संभागीय आयुक्त सुबीर कुमार ने बताया कि सवाई माधोपुर जिले में मलारना डूंगर तहसील में मलारना चौड़ पंचातय समिति मुख्यालय पर रामदेव जी का एक मन्दिर है जिसमें मंगलवार व शनिवार को दूर दराज से यात्री एवं दर्शनार्थी आते हैं। मध्यप्रदेश, बिहार, आसाम, यूपी से यात्री ट्रेनों से आकर सवाई माधोपुर स्टेशन पर उतरकर बस के माध्यम से लोग मन्दिर दर्शन करने जाते हैं।  इस प्रकरण में शनिवार को सुबह एक निजी बस में सवार होकर ये लोग मलारना चौड़ जा रहे थे। प्रथम दृष्टया बनास नदी के पुल पर किसी वाहन को ओवरटेक करने अथवा वाहन पर अपना नियन्त्रण खोने की वजह से बस गलत साईड में रैलिंग तोड़कर नदी में गिर गई। नदी की 100 फिट की गहराई है एवं नदी में 7 फीट पानी था। लोगों की पानी में गिरने एवं दम घुटने से मृत्यु हो गई।  जिला प्रशासन, पुलिस तथा ग्रामीणों की ओर से किये गये बचाव कार्य में 32 डेड बॉडीज को पानी से बाहर निकालकर सवाई माधोपुर सामान्य चिकित्सालय की मोर्चरी में रखवाया गया। बाद में एनडीआरएफ की टीम ने एक और मृतक के शव को नदी से निकालकर सवाई माधोपुर सामान्य चिकित्सालय की मोर्चरी में भिजवाया। पुलिस तथा प्रशासन एवं सामान्य चिकित्सालय के प्रमुख चिकित्सा अधिकारी एवं उनकी टीम मृतकों की पहचान कर उनके शवों का पोस्टमार्टम कर उनके परिजनों को सुपूर्द कर रही है। समाचार लिखे जाने तक प्रमुख चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि अब तक 26 डेड बॉडीज की शिनाख्त करने के पश्चात पोस्टमार्टम कर उनके परिजनों को सुपूर्द कर दी गई है। इस हादसे में एक परिवार के पांच लोगों की मृत्यु हो गई।  प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने इस दुर्घटना पर गहरा दुख व्‍यक्‍त किया है। एक ट्वीट में उन्‍होंने कहा कि उनकी संवेदनाएं पीड़त परिवारों के साथ हैं। श्री मोदी ने कहा कि राज्‍य सरकार स्थिति पर नजदीकी नजर रखे हुए है और सभी पीड़तों को हरसंभव सहायता दी जा रही है।मृतकों में उत्‍तर प्रदेश के नौ, मध्‍यप्रदेश के चार और बिहार के तीन लोग शामिल हैं,
 

डोकलाम  के बाद सशस्त्र सीमा बल सिक्किम और भूटान  में अपनी ताकत और बढ़ा रहा है
केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि भारत और चीन के बीच डोकलाम मुद्दे के बाद सशस्‍त्र सीमा बल सिक्किम और भूटान सीमा से लगे क्षेत्र में अपनी स्थिति मजबूत कर रहा है। शनिवार को नई दिल्‍ली में सशस्‍त्र सीमा बल के 54वें स्‍थापना दिवस पर आयोजित परेड को संबोधित करते हुए श्री राजनाथ सिंह ने कहा कि गृह मंत्रालय ने अलग खुफिया शाखा गठित करने की सशस्‍त्र सीमा बल की मांग मंजूर कर ली है। गृह मंत्री ने कहा कि सीमावर्ती क्षेत्रों में रह रहे लोग महत्‍वपूर्ण है और सरकार उनके कल्‍याण के लिए प्रतिबद्ध है। चीन के साथ हुए डोकलाम विवाद के बाद सिक्किम और भूटान से लगी हुई सीमा पर नये बॉर्डर पोस्ट बनाकर सशस्त्र सीमाबल अपनी ताकत और बढ़ा रही है। बॉर्डर पर शीरिक एक्शन प्रोग्राम भी आपके द्वारा चलाये जा रहे हैं। मेडिकल्स कैम्प्स लगाए जाते हैं। वहां रह रहने वाले नागरिकों के लिए अन्य प्रकार की सेवाएं आपके द्वारा उपलब्ध करायी जातीं हैं। हमे यह मान कर चलना चाहिए सीमा पर रहने वाले लोग हमारे स्ट्रेटजिक एसेट्स हैं।
 

गंगा नदी के किनारे स्थित गांवों के विकास के लिए गंगा ग्राम परियोजना शुरू
सरकार ने शनिवार को नई दिल्‍ली में गंगा ग्राम स्‍वच्‍छता सम्‍मेलन में गंगा ग्राम परियोजना का शुभारंभ किया। यह परियोजना स्‍वच्‍छ गंगा मिशन नमामि गंगे का एक भाग है। इसके तहत गंगा नदी के किनारे बसे गांवों का विकास ग्रामीणों की मदद से सुनिश्चित किया जाएगा। पेयजल और स्‍वच्‍छता मंत्री उमा भारती तथा जल संसाधन मंत्री नितिन गडकरी इस अवसर पर मौजूद थे। सम्‍मेलन में सुश्री भारती ने कहा कि गंगा का संरक्षण सरकार और लोगों का संयुक्‍त दायित्‍व है। उन्‍होंने कहा कि केंद्र ने गंगा तट पर बसे सभी चार हजार चार सौ 70 गांवों को खुले में शौच मुक्‍त घोषित किया है। सुश्री भारती ने कहा कि आरंभ में परियोजना के तहत इनमें से 24 गांवों को गंगा ग्राम के रूप में विकसित किया जाएगा। गंगा की तरफ का जो गांव का हिस्सा है, उस हिस्से में अगर गंदगी जाती है तो वह गंगा में जा रही है। कोई नाला गिरता है तो वह गंगा में जा रहा है। वहां कोई स्नान करने का तीर्थ बना हुआ है, वो पूरी गंदगी गंगा में जा रही है। उसको रोकने का उपाय अब गंगा किनारे के सरपंचो को करना है। परियोजना के तहत ठोस और तरल कचरा प्रबंधन, तालाबों और जल संसाधनों का नवीकरण, जल संरक्षण, जैविक कृषि, बागवानी और औषधीय पौधों को बढ़ावा देने का काम किया जाएगा।
 

भारत और रूस के बीच आर्थिक और सांस्कृतिक संबंधों पर वार्ता 
भारत और रूस के बीच आर्थिक और सांस्कृतिक संबंधों को सुदृढ़ करने के लिए नई दिल्ली में बातचीत। भारत और रूस ने शनिवार को  व्‍यापार, निवेश, परिवहन, ऊर्जा, कृषि, उद्योग और अंतरिक्ष के क्षेत्रों में आर्थिक सहयोग की व्‍यापक समीक्षा की। विदेश मंत्री सुषमा स्‍वराज ने  शनिवार को रूस के उप-प्रधानमंत्री दमित्री रोगोजिन के साथ नई दिल्‍ली में मुलाकात की। दोनों नेताओं ने भारत-रूस अंतर सरकारी आयोग की बैठक की सह-अध्‍यक्षता की। यह आयोग व्‍यापारिक, आर्थिक, वैज्ञानिक, प्रौद्योगिकी और सांस्‍कृतिक सहयोग से संबंधित है। श्री रोगोजिन इस बैठक के सिलसिले में  शनिवार को सुबह ही नई दिल्‍ली पहुंचे थे। उनके साथ रूस के कुछ वरिष्‍ठ सरकारी अधिकारी और व्‍यापार तथा उद्योग जगत के प्रतिनिधि भी हैं। 


राहुल ने व्यंगात्मक ट्वीट में बीजेपी को कहा, लाई हार्ड
कांग्रेस अध्यक्ष ने बीजेपी पर नए सिरे से हमला बोला है। एक व्यंगातमक ट्वीट में राहुल गांधी ने लिखाहै कि, अगर बीजेपी के पास कोई फिल्म फ्रैंचाइजी होती तो इसे लाई हार्ड कहा जाता। एक व्यंगातमक ट्वीट में राहुल गांधी ने लिखा है कि, ''अगर बीजेपी के पास कोई फिल्म फ्रैंचाइजी होती तो इसे लाई हार्ड कहा जाता। इसके साथ ही उन्होंने इस ट्वीट में कई हैशटैग इस्तेमाल किए हैं। एक है #BJPLieHard, दूसरा है #BJPLies और एक अन्य है #HowManyBJPLies'' If BJP had a film franchise it would be called Lie Hard #BJPLieHard #BJPLies #HowManyBJPLies Office of RG (@OfficeOfRG) December 23, 2017 राहुल गांधी के इस ट्वीट के बाद इन हैशटैग पर तमाम लोगों ने कई तरह के ट्वीट किए हैं। कांग्रेस ने तो इन्हीं हैशटैग पर तमाम आंकड़े पेश करते हुए मोदी सरकार के कई वादों की पोल खोली है।
इससे पहले शुक्रवार को कांग्रेस कार्यसमिति की बैठ के बाद भी राहुल गांधी ने बीजेपी पर हमला बोला था और कहा था कि बीजेपी की बुनियाद झूठ पर आधारित है। उन्होंने कहा था कि, ''हमने पीएम से तीन सवाल पूछे थे। कोई जवाब नहीं दिया। जय शाह और राफेल डील पर पीएम क्यों नहीं बोलते? नोटबंदी और गब्बर सिंह टैक्स पर क्यों नहीं बोलते?''

 

सरकार ने सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों को बंद करने की अफवाहें खारिज की

सरकार ने कहा बैंकों के सुधार का काम हो रहा है।  सरकार ने सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों को बंद करने की अफवाहों को गलत बताते हुए कहा है कि किसी सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक को बंद करने का प्रश्न ही नहीं है। वित्त मंत्रालय में वित्तीय सेवा सचिव राजीव कुमार ने एक ट्वीट में कहा कि सरकार, इन बैंकों में दो लाख ग्यारह हज़ार करोड़ रुपये के पुनर्पूंजीकरण से इन्हें मज़बूत बना रही है। उन्होंने लोगों से अफवाह फैलाने वालों पर विश्वास न करने की अपील की और कहा कि सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों की सुधार योजना पटरी पर है। भारतीय रिज़र्व बैंक ने बैंक ऑफ इंडिया समेत कुछ बैंकों के मामले में त्वरित सुधार कार्रवाई--पीसीए शुरू की है। रिज़र्व बैंक ने अपनी ओर से यह स्पष्ट किया कि पीसीए व्यवस्था का उद्देश्य जनता के लिये बैंकों के सामान्य कामकाज में कठिनाई उत्पन्न करना नहीं है। रिज़र्व बैंक ने कहा कि उसने सोशल मीडिया समेत मीडिया के कुछ वर्गों में दी जा रही गलत सूचना का संज्ञान लिया है। इसमें पीसीए के दायरे में आये कुछ बैंकों को बंद किये जाने की खबर दी जा रही है। रिज़र्व बैंक के अनुसार पीसीए व्यवस्था ऐसे निरीक्षण के तरीकों में से एक है, जिसमें प्रारम्भिक चेतावनी देने के लिये बैंकों के कुछ कामकाज के मानकों की निगरानी की जाती है। पूंजी, परिसम्पत्तियों की गुणवत्ता और अन्य मानकों में कमी पाये जाने पर कार्रवाई की शुरुआत की जाती है। 
 

अमरीकी नौसेना प्रमुख रिचर्ड वी स्‍पैन्‍सर की विदेश सचिव और नौसेना प्रमुख से मुलाकात 
अमरीकी नौसेना प्रमुख रिचर्ड वी स्‍पैन्‍सर ने द्विपक्षीय सहयोग और बढाने के लिए नई दिल्ली में विदेश सचिव और नौसेना प्रमुख से मुलाकात की। अमरीकी नौसेना प्रमुख रिचर्ड वी स्‍पैन्‍सर ने विदेश सचिव एस जयशंकर और नौसेना प्रमुख एडमिरल सुनील लांबा से द्विपक्षीय नौसैनिक सहयोग और बढाने के लिए व्‍यापक बातचीत की है। इसके साथ-साथ दोनों पक्षों ने भारत-प्रशांत क्षेत्र में आपसी हित के मुद्दों पर भी चर्चा की। नई दिल्‍ली में अमरीकी दूतावास ने कहा है कि बैठक में दोनों नौसेनाओं के बीच सहयोग, कानून के शासन के लिए दोनों देशों की प्रतिबद्धता, बेरोकटोक नौपरिवहन तथा मुक्‍त और निष्‍पक्ष व्‍यापार के बारे में भी विचार-विमर्श किया गया। नौसेना प्रमुख के रूप में श्री स्‍पैन्‍सर की यह पहली भारत यात्रा है।
 

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने नए प्रतिबंध लगा, उत्तर कोरिया के परमाणु कार्यक्रम के लिए तेल आपूर्ति सीमित की 

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने शुक्रवार को रात उत्तर कोरिया पर और प्रतिबंध लगा दिये, इसमें उत्‍तर कोरिया के मिसाइल और परमाणु कार्यक्रमों के लिये महत्वपूर्ण तेल की आपूर्ति सीमित हो जाएगी। सुरक्षा परिषद ने सर्वसम्मति से अमरीका द्वारा तैयार किये गये प्रस्ताव को स्वीकार किया, जिसमें विदेशों में काम कर रहे उत्तर कोरिया के अपने देश के लिये धन अर्जित करने वाले कर्मियों के प्रत्यपर्ण के आदेश दिये गये हैं। इस वर्ष तीसरी बार उत्तर कोरिया पर प्रतिबंध लगाये गये हैं।


 समाचार संक्षेप मे

>   भारतीय जनता पार्टी के अध्‍यक्ष अमित शाह ने पार्टी के वरिष्‍ठ नेता और केन्‍द्रीय मंत्री किरेन रिजिजू को नगालैंड के लिए पार्टी का चुनाव प्रभारी नियुक्‍त किया है। असम के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री हेमंत बिस्‍वा सरमा को त्रिपुरा में चुनाव के लिए भाजपा का राज्‍य प्रभारी बनाया गया है। नगालैड और त्रिपुरा में अगले वर्ष के शुरू में विधानसभा चुनाव होने हैं।

>  
 मेघालय में आगामी चुनाव के मद्देनज़र मुख्य निर्वाचन आयुक्त, ए के जोती ने राज्य का दो दि‍वसीय दौरा किया है। इस दौरान उन्‍होंने राजधानी शिलांग में राजनीतिक दलों, सुरक्षा एजेंसियों और प्रशासनिक अधिकारियों के साथ बैठक की। श्री जोती ने चुनाव तैयारियों पर संतोष व्यक्त किया।

>
   फिलीपीन्‍स में उष्‍णकटिबंधीय तूफान टैम्‍बिन से मरने वालों की संख्‍या 130 से अधिक हुई।फिलिपीन्‍स में उष्‍णकटिबंधीय तूफान में मरने वालों की संख्‍या बढ़कर 133 हो गई है। पुलिस ने बताया है कि बचाव दल ने आज उफनती नदी से कई शव निकाले हैं। तूफान टैम्‍बिन, कल से ही फिलिपीन्‍स के दूसरे सबसे बड़े द्वीप मिन्‍डानाओ में तबाही मचाये हुए है।

>   
सिक्‍खों के दसवें गुरू गुरू गोविंद सिंह जी के तीन सौ 51वें प्रकाश पर्व के मौके पर देशभर के गुरूद्वारों में विशेष आयोजन किये जा रहे हैं और गुरूद्वारों को रोशनी से सजाया गया है। इस अवसर पर बिहार की राजधानी पटना में तीन दिन का समारोह शुरू हो गया है।
                                                                                                                                                                           >  अमरीकी राष्ट्रपति ने दस खरब पचास अरब डॉलर के कर सुधार कानून को मंजूरी दी-अमरीकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रम्‍प ने अमरीकी टैक्‍स कोड में व्‍यापक सुधार संबंधी कानून पर हस्‍ताक्षर कर दिए हैं। यह कानून साढ़े दस खरब डॉलर के कर सुधार से जुड़ा हुआ है। अमरीकी कांग्रेस ने इसे दो दिन पहले ही मंजूरी दी थी। सत्‍ता संभालने के बाद श्री ट्रम्‍प की यह बड़ी विधायी जीत है जिसमें कांग्रेस ने अरबों डॉलर के बड़े कर सुधार को मंजूरी दी है। 


  भारत और संयुक्त अरब अमारात के बीच व्यापक रणनीतिक भागीदारी और रक्षा सहयोग मज़बूत बनाने के प्रयासों के अंतर्गत भारतीय नौसेना के दो पोत आई.एन.एस.-तेग और आई.एन.एस.-त्रिकंड कुछ दिन के लिये आबूधाबी बंदरगाह पर रहेंगे। ये पोत 26 दिसम्बर को रवाना होंगे। इससे दोनों देशों की नौसेना के बीच मैत्री और सहयोग के अवसर उत्पन्न होंगे।

> अ
सम गण परिषद के एक प्रतिनिधिमंडल ने शुक्रवार को नई दिल्ली में गृहमंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात की और नागरिकता संशोधन अधिनियम को लेकर चिंता व्यक्त की। बांग्लादेश समेत पड़ोसी देशों के अल्पसंख्यक लोगों को नागरिकता देने के लिये इस अधिनियम में संशोधन कर सकता है। प्रतिनिधिमंडल ने असम समझौते की भावना के विपरीत बांग्लादेशियों को नागरिकता प्रदान करने का विरोध किया। असम गण परिषद ने अधिनियम में संशोधन के विरोध में समर्थन हासिल करने के लिये नई दिल्ली में नौ राजनैतिक दलों के नेताओं से भी मुलाकात की।

>   
चार पाकिस्‍तानी कैदियों को पूरी सजा भुगतने के बाद अटारी-वाघा सीमा से शुक्रवार को वापस पाकिस्‍तान भेज दिया गया। पाकिस्‍तान ने इन कैदियों की राष्‍ट्रीयता की पुष्टि की थी। विदेश मंत्रालय ने कल नई दिल्‍ली में कहा कि भारत, पाकिस्‍तान की हिरासत से भारतीय मछुआरों और कैदियों की जल्‍दी रिहाई और उन्‍हें वापस स्‍वदेश भेजे जाने समेत मानवीय मुद्दों के समाधान को प्राथमिकता मानता है। भारत ने पाकिस्‍तान से इस वर्ष अभी तक तीन सौ तिरेसठ मछुआरों सहित कुल तीन सौ सत्‍तर भारतीय कैदियों की सुरक्षित रिहाई कराई है।


खेल-जगत    
*   
अंतर्राष्‍ट्रीय ओलिम्पिक समिति ने सोची ओलिम्पिक में रजत पदक विजेता अलबर्ट डेमचेंको और तत्‍याना इवानोवा सहित ग्‍यारह रूसी खिलाड़यों के डोपिंग टेस्‍ट में नशीली दवा लेना सिद्ध हो जाने के बाद कल उन पर आजीवन प्रतिबंध लगा दिया।


  खबरी दुनिया 
*   हिमाचल और गुजरात में सरकार के गठन से संबंधित खबर और टू जी स्‍पैक्‍ट्रम घोटाले में अदालत का फैसला शनिवार  के अखबारों की अहम सुर्खियां हैं।

*   गुजरात में फिर रूपाणी राज, हिमाचल का फैसला बाकी - हिन्‍दुस्‍तान की पहली खबर है। दैनिक ट्रिब्‍यून का भी कहना है- गुजरात में फिर रूपाणी ,हिमाचल में रार। जनसत्‍ता ने लिखा है- अमित शाह के विश्‍वास पात्र रूपाणी बने रहेंगे मुख्‍यमंत्री, नितिन पटेल उपमुख्‍यमंत्री।

*   टू जी स्‍पैक्‍ट्रम मामले में कणिमोझी और ए राजा को बरी किये जाने पर दैनिक जागरण की टिप्‍पणी है- फैसले से सकते में सीबीआई, ईडी। पत्र लिखता है- यही मापदण्‍ड रहा तो खारिज हो जाएंगे सारे हाई प्रोफाइल केस।

*   आदर्श सोसाइटी हाउसिंग घोटाला में महाराष्‍ट्र के पूर्व मुख्‍यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता अशोक चव्‍हाण के खिलाफ मुकदमा चलाने की सीबीआई को मिली इजाजत रद्द होने पर राष्‍ट्रीय सहारा ने लिखा है- टू जी के बाद कांग्रेस के लिए एक और खुशखबरी। राजस्‍थान पत्रिका कहता है- आदर्श राहत से कांग्रेस आक्रामक। जनसत्‍ता ने भी चव्‍हाण पर मुकदमा न चलने की खबर प्रमुखता से दी है।

*   बीकानेर जमीन घोटाले में कसा रॉबर्ट वाड्रा के इर्दगिर्द शिकंजा दैनिक जागरण के पहले पन्‍ने पर है। जनसत्‍ता लिखता है- प्रवर्तन निदेशालय ने वाड्रा के दो करीबियों को गिरफ्तार किया।

*   रोहिणी के आश्रम में लड़कियों को बंधक बनाकर रखने के मामले में दैनिक भास्‍कर ने दिल्‍ली के राम रहीम शीर्षक से लिखा है- वीरेन्‍द्र दीक्षित के दिल्‍ली के उत्‍तम नगर के अलावा राजस्‍थान के दो आश्रमों पर भी छापा, 65 लड़किया और छुड़ाई गई,

*   क्रिकेट की दुनिया में रोहित शर्मा का एक और रिकॉर्ड- राष्‍ट्रीय सहारा की पहली खबर है। पत्र लिखता है- 35 गेंदों में ठोका शतक, विश्‍व रिकॉर्ड की बराबरी की।

*   अमर उजाला ने पहले पृष्‍ठ पर नीचे खबर दी है- संसद में नहीं बोल पाये सचिन तो फेसबुक पर साझा किया सपना।

राजस्थान समाचार विशेष

बनास नदी बस हादसा -- 
मुख्यमंत्री ने किया शोक व्यक्त,  घायलों के उपचार में कोई कसर न रहे 
जयपुर,    मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे ने सवाई माधोपुर के पास बनास नदी में हुए बस हादसे पर गहरा दुःख व्यक्त करते हुए मृतकों के परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है।  श्रीमती राजे को जैसे ही इस हादसे की जानकारी मिली, उन्होंने अधिकारियों को घायलों के शीघ्र उपचार तथा सभी प्रभावितों एवं उनके परिजनों को हरसंभव सहायता उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। उन्होंने जिला प्रभारी मंत्री श्री राजपाल सिंह शेखावत को मौके पर भेजकर राहत कार्यों की निगरानी के निर्देश भी दिए।  मुख्यमंत्री ने ईश्वर से दिवंगतों की आत्मा की शांति तथा शोक संतप्त परिजनों को यह आघात सहन करने की शक्ति प्रदान करने की प्रार्थना की है। 

 

अठारहवीं राज्य सहकारी खेलकूद प्रतियोगिता को-ऑप. स्पोर्ट्स-2017शुरू 
भीलवाड़ा,  सहकारिता एवं गोपालन मंत्री श्री अजयसिहं किलक ने शनिवार को भीलवाड़ा  में, अठारहवीं राज्यस्तरीय सहकारी खेलकूद प्रतियोगिता को-ऑप. स्पोर्ट्स 2017 का मुख्य अतिथि के रुप में   शुभारंभ किया। उन्होंने खेलों का ध्वजारोहण किया, मार्चपास्ट की सलामी ली तथा मशाल भी प्रज्ज्वलित की। कार्यक्रम की अध्यक्षता सरकारी मुख्य सचेतक श्री कालूलाल गुर्जर ने की।
स्पेक्ट्रम तथा केन्द्रीय सहकारी बैंक खेलकूद एवं सांस्कृतिक समिति भीलवाड़ा के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित राज्य स्तरीय सहकारी खेलकूद प्रतियोगिता में प्रदेश के 30 सहकारी बैंकों के 350 खिलाड़ी भाग ले रहे हैं। खेलों के शुभारंभ की घोषणा करते हुए सहकारिता मंत्री ने कहा कि इस तरह के खेलों के आयोजन से कामकाजी तनाव से मुक्ति के साथ सांस्कृतिक आदान-प्रदान का अवसर मिलता है। उन्होंने कहा कि सहकारी खेलों में बैंकों के साथ साथ पूरे सहकारिता विभाग को शामिल किया जाना चाहिये। उन्होंने तीन दिन तक खेलों का लुत्फ उठाने तथा आत्मावलोकन करने को कहा। सहकारिता मंत्री ने सहकार आंदोलन को आगे बढ़ाने का आह्वान भी किया।  भीलवाड़ा केन्द्रीय सहकारी बैक के प्रबंधक निदेशक श्री रणजीतसिहं चूंडावत ने अतिथियों का स्वागत किया तथा सहकारी खेलों के बारे में विस्तार से जानकारी दी।  कार्यक्रम में सहाड़ा के विधायक श्री बालूलाल चौधरी, दामोदर अग्रवाल, नगर विकास न्यास के अध्यक्ष श्री गोपाल खंडेलवाल तथा अंतर्राष्ट्रीय खिलाडी मीनू पुनिया भी मंचासीन थे। सहकारिता मंत्री ने खेलों का शुभारंभ करते हुए 100 मीटर दौड़ प्रारंभ करवाई तथा विजेताओं को पुरस्कार प्रदान किये। अंत में स्पेक्ट्रम के चेयरमेन श्री अशोक माहेश्वरी ने अतिथियों, खिलाड़ियों तथा गणमान्यजनों का आभार व्यक्त किया।


चिकित्सकों के साथ हुए समझौते का हुआ पालन, कोई दमनात्मक कार्यवाही नहीं 
जयपुर,   चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री श्री कालीचरण सराफ ने कहा है कि राज्य सरकार ने चिकित्सकों के साथ 12 दिसम्बर को हुए समझौते का पूरा पालन किया है और सरकार चिकित्सकों के विरुद्ध किसी प्रकार की भी दमनात्मक कार्यवाही नहीं कर रही है। श्री सराफ ने बताया कि चिकित्सकों की स्वीकार की गई मांगों के बारे में स्पष्ट आदेश भी निकाले जा चुके हैं। उन्होंने बताया कि प्रदेश भर में सेवारत साढ़े 7 हजार चिकित्सकों में से 2 हजार से अधिक चिकित्सक अपनी ड्यूटी देकर जनता की सेवा कर रहे हैं।  चिकित्सा मंत्री ने पुनः समस्त सेवारत चिकित्सकों से गुमराह हुए बिना तत्काल अपनी ड्यूटी पर उपस्थित होने की अपील की है। उन्होंने कहा है कि सेवारत चिकित्सक संघ के कुछ प्रतिनिधि भय के वातावरण का बहाना बनाकर ड्यूटी पर नहीं लौटने के बारे में चिकित्सकों को गुमराह कर रहे हैं। उन्होंने स्पष्ट किया कि चिकित्सा विभाग में कोई भय का वातावरण नही है बल्कि पूर्ण सौहार्दपूर्ण तरीके से 2 हजार से अधिक चिकित्सक अपनी ड्यूटी पर उपस्थित हो रहे हैं।  चिकित्सा मंत्री ने कहा कि राज्य सरकार उच्च न्यायालय के निर्देशानुसार काम पर लौटने वाले किसी भी चिकित्सक को गिरफ्तार नही कर रही है। उन्होंने सेवारत चिकित्सकों से भी उच्च न्यायालय के आदेश मानकर तत्काल ड्यूटी पर लौटने की अपील की है।
लेकिन  सरकारी डाक्टरों की हड़ताल, शनिवार को आठवें दिन भी जारी रही।
 

24 दिसम्बर, 2017

 

भारत और चीन के मजबूत संबंध न केवल दोनों देशों, बल्कि पूरे क्षेत्र और विश्‍व के लिए महत्‍वपूर्ण: प्रधानमंत्री
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा है कि मजबूत भारत-चीन संबंध न केवल दोनों देशों के लोगों के आपसी लाभ बल्कि पूरे क्षेत्र और विश्व के लिए महत्वपूर्ण हैं। उन्होंने यह बात नई दिल्ली में आज शाम उनसे मिलने आए चीन के स्टेट काउंसलर यांग जिएची से मुलाकात के दौरान कही। बैठक के दौरान श्री जिएची और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने सीमा विवाद पर शुक्रवार को  हुई दोनों देशों के बीच विशेष प्रतिनिधि स्तर की वार्ता के 20वें दौर की बातचीत का ब्यौरा दिया। श्री मोदी ने इस वर्ष सितम्बर में नौवें ब्रिक्स शिखर सम्मेलन के समय शियामिन दौरे और वहां राष्ट्रपति शी चिनपिंग से मुलाकात का उल्लेख किया। श्री जिएची ने राष्ट्रपति शी चिनपिंग और प्रधानमंत्री ली छीछियांग की ओर से प्रधानमंत्री मोदी को शुभकामनाएं दीं।
 इससे पूर्वे भारत और चीन के विशेष प्रतिनिधियों ने शुक्रवार को  सीमा के मसले पर 20वें दौर की बातचीत की। राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल और चीन के स्टेट काउंसलर तथा चीन की कम्युनिस्ट पार्टी की केंद्रीय समिति के सदस्य यांग जिएची के बीच यह बातचीत हुई। दोनों विशेष प्रतिनिधियों ने आपसी भागीदारी में होने वाले विकास में दोनों देशों की पूर्ण क्षमता का उपयोग किए जाने पर बल दिया। विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि विशेष प्रतिनिधियों ने बातचीत के पिछले सभी दौर की व्यापक समीक्षा की और इस बात पर सहमति व्‍यक्‍त की कि सीमा के प्रश्न पर जल्द समझौता होना दोनों देशों के हित में है। दोनों पक्षों ने इस बात पर सहमति व्यक्त की कि सीमा के प्रश्न के अंतिम समाधान तक सीमावर्ती क्षेत्रों में शांति और अमन बनाए रखा जाना जरूरी है। दोनों पक्षों ने मतभेदों के परस्पर स्वीकार्य समाधान ढूंढते समय एक-दूसरे की संवेदनाओं, चिंताओं और अपेक्षाओं को उचित सम्मान देने की आवश्यकता पर भी बल दिया। चीन के विशेष प्रतिनिधि ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से भी मुलाकात की।
 

आतंकवादी संगठनों के समर्थकों को अपनी हरकतों को बंद करने को रोकने के लिए मजबूर किया जाना चाहिए:भारत 
भारत ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद से कहा है कि तालिबान, हक्कानी नेटवर्क और लश्कर-ए-तैयबा जैसे आतंकवादी संगठनों के समर्थकों को अपनी हरकतों को बंद करने को रोकने के लिए मजबूर किया जाना चाहिए। साथ ही, आतंकवादियों की सुरक्षित पनाहगाहों को भी बंद किया जाना चाहिए। संयुक्त राष्ट्र में भारत के उप स्थायी प्रतिनिधि तन्मय लाल ने अफगानिस्तान में सुरक्षा स्थिति बिगड़ने के बारे में चिंता व्यक्त की। संयुक्त राष्ट्र में अफगानिस्ता के राजदूत महमूद सैकल ने भी सुरक्षा परिषद में कहा कि पाकिस्तान द्वारा सीमापार से अंधाधुंध गोलाबारी से अफगानिस्तान के धैर्य की परीक्षा नहीं ली जानी चाहिए।
 

विजय रूपाणी गुजरात के मुख्‍यमंत्री बने रहेंगे
गुजरात में श्री विजय रूपाणी मुख्यमंत्री और श्री नितिन पटेल उप मुख्यमंत्री बने रहेंगे। वित्त मंत्री और भाजपा के केंद्रीय पर्यवेक्षक अरुण जेटली ने शुक्रवार को गांधीनगर में पार्टी मुख्यालय में नवनिर्वाचित विधायकों की बैठक के बाद यह घोषणा की। मीडिया को संबोधित करते हुए श्री जेटली ने बताया कि श्री भूपेन्द्र सिंह चुड़ासमा द्वारा रखे गए प्रस्ताव का सभी नवनिर्वाचित विधायकों ने समर्थन किया। शुक्रवार को विधानसभा दल की बैठक में सर्वसम्‍मति के साथ श्री विजय भाई रूपाणी को नेता चुना गया और श्री नीतिन भाई पटेल को उपनेता चुना गया। बाकी सरकार के गठन की प्रक्रिया जो चीफ मिनिस्‍टर इलेक्‍ट हैं, जो आउट गोइंग चीफ मिनिस्‍टर भी थे विजय भाई रूपाणी वो अपने साथियों के साथ कंसल्‍ट करके उसको पूरा करेंगे। श्री जेटली ने ये भी कहा कि नई सरकार के शपथ ग्रहण समारोह की तारीख की घोषणा शीघ्र कर दी जाएगी। इस बीच, गांधीनगर में श्री रूपाणी ने भाजपा द्वारा राज्य में विकास को लेकर दिए गए वचन के प्रति अपनी प्रतिबद्धता दोहराई है और कहा कि उनकी सरकार सब को साथ लेकर आगे बढ़ेगी। आज एक प्रक्रिया पूरी हुई है। नेता और उपनेता का घोषणा हो गई है। आने वाले दिन में हम पार्टी की ओर से राज्‍यपाल का समय मांग कर उनकी कन्‍वीनियंट डेट लेकर शपथ विधि का कार्यक्रम भी आगे बनायेंगे। मंत्रिमंडल का भी गठन होगा और अब पार्टी के वरिष्‍ठ लोगों के साथ बैठकर हम लोग तय करेंगे।

डॉ0 मनमोहन सिंह के प्रति प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी की  टिप्पणियां 
ऊपरी सदन की कार्यवाही बुधवार तक स्‍थगित, लोकसभा में नारेबाजी 

राज्‍यसभा की कार्यवाही बुधवार तक के लिए स्‍थगित कर दी गई। शुक्रवार को  बैठक शुरू होने पर राज्‍यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद और कुछ अन्‍य नेताओं ने सदन की कार्यवाही तीसरे पहर ढाई बजे तक के लिए स्‍थगित करने का सुझाव दिया, ताकि विभिन्‍न पार्टियों के नेता प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी की पूर्व प्रधानमंत्री डॉ0 मनमोहन सिंह के प्रति टिप्‍पणियों पर बना गतिरोध समाप्‍त करने के तौर-तरीकों का पता लगा सकें। संसदीय कार्य राज्‍यमंत्री विजय गोयल ने कहा कि इस मुद्दे पर दो बैठकें पहले ही हो चुकी हैं और गतिरोध समाप्‍त करने के प्रयास किये जा रहे हैं।  लीडर ऑफ अपोजीशन ने जो बात कही है, मैं उसका सम्‍मान करता हूं और जैसा चेयरमैन साहब ने कहा था कि सब पार्टी के लोग बैठकर इसके ऊपर फैसला कर ले तो मैं समझता हूं कि दो तीन मीटिंगें हो चुकी हैं। वार्ता लगातार चल रही है, तो मेरा यह कहना था कि सदन को चलने दें। Before adjourning the House, Chairman M. Venkaiah Naidu said the House should continue with its slated business and wanted to take up Zero Hour mentions. However, later he adjourned the House till Wednesday.राज्‍यसभा के सभापति वेंकैया नायडू ने गतिरोध समाप्‍त करने के लिए सत्‍ता पक्ष और विपक्ष के नेताओं के साथ बैठक की। राज्यसभा के सभापति वेंकैया नायडू ने सदन में चल रहे गतिरोध को समाप्त करने के प्रयास के तहत कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं गुलाम नबी आजाद और आनंद शर्मा के साथ बातचीत की। बैठक में संसदीय कार्य राज्य मंत्री विजय गोयल भी मौजूद थे। बुधवार तक सदन की बैठक स्थगित किए जाने के बाद श्री नायडू ने अपने कक्ष में दोनों नेताओं से अलग-अलग बात की। उन्होंने सदन की कार्यवाही 27 दिसंबर से सामान्य रूप से चलाए जाने की आवश्यकता पर बल दिया। सूत्रों ने बताया कि श्री नायडू ने सुझाव दिया कि सदन के नेता अरुण जेटली और विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद को गतिरोध खत्‍म करने के लिए आगे और बातचीत करनी चाहिए।
लोकसभा में शून्‍यकाल नारेबाजी के बीच शुरू हुआ और कांग्रेसी सदस्‍यों ने डॉ0 मनमोहन सिंह के प्रति प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी की टिप्‍पणियों पर उनके स्‍पष्‍टीकरण की मांग जारी रखी।The Lok Sabha has taken up Question Hour amidst sloganeering by Congress members who continue to demand a clarification by Prime Minister Modi on his remarks against Dr. Singh.
 

ओखी तूफान प्रभावित राज्यो में स्थिति के आकलन के लिए एक केंद्रीय दल  वहां का दौरा करेगा
गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि ओखी तूफान प्रभावित राज्यों- तमिलनाडु, केरल और लक्षद्वीप में स्थिति के आकलन के लिए एक केंद्रीय दल शीघ्र ही वहां का दौरा करेगा। लोकसभा में देश के विभिन्न भागों में प्राकृतिक आपदाओं, विशेषकर ओखी चक्रवात, के बारे में अल्पकालीन चर्चा का उत्तर देते हुए श्री सिंह ने कहा कि केंद्रीय दल 26 से 29 दिसम्बर तक केरल और उसके बाद अन्य राज्यों का दौरा करेगा। गृह मंत्री ने कहा कि चक्रवात ओखी के कारण उत्पन्न स्थिति से निपटने के लिए केंद्र सरकार ने राज्य सरकारों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर काम किया है। तमिलनाडु में 80 डेथ्स हुई और केरल में 74 डेथ्‍स की रिपोर्ट प्राप्‍त हुई है। तमिलनाडु के 275 फिशरमैन और केरल के 215 फिशरमैन अब भी लापता हैं। यह जानकारी प्राप्‍त हुई है और जो अभी हमारे फिशरमैन लापता हैं उनकी तलाश करने के लिए सभी संभव प्रयास किए जा रहे हैं। ओखी तूफान को राष्ट्रीय आपदा घोषित करने की सदस्यों की मांग के बारे में श्री राजनाथ सिंह ने कहा कि मौजूदा कानून सरकार को इसे राष्ट्रीय आपदा घोषित करने की अनुमति नहीं देता, लेकिन सरकार के विचार में यह गंभीर मामला है। तूफान के दौरान भारतीय नौसेना और तट रक्षक बल के राहत कार्यों का ब्यौरा देते हुए गृह मंत्री ने कहा कि इसके बारे में अग्रिम चेतावनी लगातार दी जा रही थी और तीन-तीन घंटे पर समाचार दिए जा रहे थे। श्री सिंह ने यह भी बताया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने हाल में प्रभावित क्षेत्रों का दौरा किया था और उन्होंने केरल, तमिलनाडु और लक्षद्वीप की आवश्यकताओं के मद्देनजर सवा तीन अरब रुपये की वित्तीय सहायता देने की घोषणा की थी। केरल , तमिलनाडु और लक्षद्वीप की आवश्‍यकताओं को पूरा करने के लिए केन्‍द्र 325 करोड़ की तत्‍काल सहायता प्रदान करेगा, मृतक के निकट संबंधी को दो लाख रुपए की सहायता राशि और गंभीर रूप से घायल व्‍यक्‍ति के लिए 50 थाउजेंड रुपय की सहायता राशि की मंजूरी प्राइमिनिस्‍टर नेशनल रिलीफ फंड के अंतर्गत दी गई। गृह मंत्री ने कहा कि ओखी के कारण नष्ट हुए लगभग डेढ़ हजार मकानों के पुनर्निर्माण के लिए प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत डेढ़-डेढ़ लाख रुपये की सहायता दी जाएगी। इससे पहले, चर्चा शुरू करते हुए कांग्रेस के के. सी. वेणुगोपाल ने चक्रवातों के कारण होने वाले नुकसान को सीमित करने के लिए प्रभावी अग्रिम चेतावनी प्रणाली की आवश्यकता पर बल दिया।
 

राज्‍यसभा की पांच सीटों के चुनाव के कार्यक्रम की घोषणा 
निर्वाचन आयोग ने राज्‍यसभा की पांच सीटों के चुनाव के कार्यक्रम की घोषणा की, तीन सीटें दिल्‍ली और एक-एक सीट सिक्किम और उत्‍तर प्रदेश में।निर्वाचन आयोग ने दिल्ली से राज्यसभा की तीन और सिक्किम से एक सीट के लिए चुनाव कार्यक्रम की घोषणा कर दी है। आयोग ने उत्तर प्रदेश से राज्यसभा की एक सीट के उप-चुनाव की तारीख की भी घोषणा की है। अधिसूचना 29 दिसंबर को जारी की जाएगी। पांच जनवरी तक पर्चे भरे जा सकेंगे। अगर आवश्यक हुआ, तो मतदान 16 जनवरी को होगा।
 

उत्‍तर प्रदेश संगठित अपराध नियंत्रण विधेयक-2017 पारित नहीं हो सका
उत्‍तर प्रदेश में राज्‍य विधानपरिषद ने आज विपक्ष के हंगामे के कारण उत्‍तर प्रदेश संगठित अपराध नियंत्रण विधेयक-2017 पारित नहीं हो सका। विधेयक को विचार के लिए प्रवर समिति को भेज दिया गया है। विधान परिषद में भारतीय जनता पार्टी के पास बहुमत न होने के कारण विधेयक पारित नहीं हो सका। विधानसभा पहले ही इस विधेयक को पारित कर चुकी है।उत्‍तर प्रदेश विधानसभा की कार्यवाही निर्धारित कामकाज की समाप्ति के बाद शुक्रवार को तीसरे पहर अनिश्चितकाल के लिए स्‍थगित कर दी गई।
 

सरकार ने प्‍याज की भंडारण की सीमा अगले वर्ष मार्च तक बढ़ाई 

केन्द्र ने प्याज की भंडार सीमा अगले वर्ष 31 मार्च तक बढ़ा दी है। एक ट्वीट में खाद्य और उपभोक्ता मामलों के मंत्री रामविलास पासवान ने कहा है कि यह निर्णय प्याज की जमाखोरी रोकने के लिए लिया गया है। इसका उद्देश्य प्याज की बढ़ती कीमतों को रोकना भी है। इससे पहले प्याज भंडारण की समय सीमा 31 दिसम्‍बर को समाप्त हो रही थी।
 

टू-जी विवाद के पीछे का सच अब सबके सामने आया : राहुल गांधी
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा है कि टू-जी विवाद के पीछे का सच अब सबके सामने आ गया है। शुक्रवार को नई दिल्ली में कांग्रेस कार्य समिति की बैठक के बाद श्री गांधी ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी को अब भ्रामक प्रचार बंद कर देना चाहिए। राफेल सौदे पर सवाल उठाते हुए उन्होंने सरकार पर आरोप लगाया कि एक उद्योगपति को लाभ पहुंचाने के लिए ही समूचे सौदे में बदलाव किया गया। कार्य समिति की बैठक में शीर्ष कांग्रेस नेता सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह सहित पार्टी के अन्य नेता मौजूद थे।  बैठक के बाद पत्रकारों से बात करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि बीजेपी की पूरी संरचना ही झूठ पर आधारित है और यही उनकी राजनीति का डिजायन है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा है कि कांग्रेस लगातार प्रधानमंत्री से कई मुद्दों पर सवाल पूछ रही है, लेकिन वे किसी भी सवाल का कोई उत्तर नहीं दे रहे। उनका कहना है कि दरअसल बीजेपी की बुनियाद ही झूठ पर आधारित है, वह गुजरात का मोदी मॉडल हो या 2-जी के आरोप। उन्होंने कहा कि बीजेपी के सारे झूठ एक-एक कर सामने आ रहे हैं।अध्यक्ष बनने के बाद राहुल गांधी ने शुक्रवार को कांग्रेस कार्यसमिति की पहली बैठक की अध्यक्षता की। इस बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कहा, मुझे लगता है कि 2 जी के फैसले पर हमारा ही पक्ष सही साबित हुआ है। दरअसल बीजेपी की पूरी संरचना ही झूठ पर आधारित है। एक-एक कर उनके सारे झूठ सामने आ रहे हैं।कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि हम लगातार प्रधानमंत्री से सवाल कर रहे हैं, लेकिन उन्होंने किसी का भी कोई जवाब नहीं दिया। राहुल गांधी ने कहा, बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह जी के बेटे ने तीन महीने में 50 हजार रूपए को 80 करोड़ में बदल दिया। हमारे प्रधानमंत्री ने इस बारे में कुछ नहीं बोला। रफेल डील को बदला गया। एक बिजनेस मैन को इनाम दिया गया। नियमों का पालन नहीं हुआ, प्रक्रिया को अनदेखा किया गया। हमने इस पर तीन सवाल पूछे, लेकिन प्रधानमंत्री इनका जवाब नहीं दे रहे। उनकी पूरी बुनियाद ही झूठ पर आधारित है।राहुल गांधी ने गुजरात के मोदी मॉडल पर फिर सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि गुजरात का मोदी मॉडल कुछ नहीं बल्कि झूठ है। राहुल ने कहा, अगर आप गुजरात में मोदी मॉडल देखेंगे तो कुछ नजर नहीं आएगा। यह भी एक झूठ था। हमने गुजरात में लोगों से बात की और उनका कहना है कि गुजरात में ऐसा कोई मॉडल नहीं है। हो यह रहा है कि गुजरात के लोगों के संसाधनों की चोरी की जा रही है।कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि दरअसल बीजेपी की पूरी राजनीति ही झूठी है। राहुल गांधी ने सवाल किया कि हर खाते में 15 लाख रुपए देने का क्या हुआ। उन्होंने कहा, 2-जी फैसले को ही देखो। एक-एक कर बीजेपी के सारे झूठ सामने आ रहे हैं।
 

अशोक चव्‍हाण पर मुकदमा चलाने के लिए दी गयी राज्‍यपाल की स्‍वीकृति रद्द 
बंबई उच्‍च न्‍यायालय ने आदर्श आवास समिति घोटाले में पूर्व मुख्‍यमंत्री अशोक चव्‍हाण पर मुकदमा चलाने के लिए सी बी आई को दी गयी महाराष्‍ट्र के राज्‍यपाल की स्‍वीकृति रद्द। बंबई उच्‍च न्‍यायालय ने शुक्रवार को आदर्श आवास समिति घोटाले में महाराष्‍ट्र के पूर्व मुख्‍यमंत्री अशोक चव्‍हाण के खिलाफ अदालती कार्रवाई के लिए दी गयी राज्‍यपाल की स्‍वीकृति को रद्द कर दिया। न्‍यायालय ने कहा कि सीबीआई ने राज्‍यपाल से अनुमति प्राप्‍त करते समय श्री चव्‍हाण के खिलाफ कई नये सबूत होने का दावा किया था, लेकिन वह इन्‍हें प्रस्‍तुत करने में असफल रही है।  उच्‍च न्‍यायालय की खण्‍डपीठ ने आदर्श आवास घोटाले में अदालती कार्रवाई की स्‍वीकृति दिये जाने के खिलाफ श्री चव्‍हाण की याचिका पर सुनवाई करते हुए शुक्रवार को अपना आदेश सुनाया। न्‍यायमूर्ति रंजीत मोरे और साधना जाधव की अध्‍यक्षता वाली खंडपीठ ने अशोक चव्‍हाण की याचिका पर सुनवाई के बाद राज्‍यपाल के फैसले को खारिज कर दिया। खंडपीठ ने कहा कि इस मामले में केन्‍द्रीय जांच ब्‍यूरो को अभी तक कोई ठोस सबूत प्रस्‍तुत नहीं कर पाई है। याचिका अशोक चव्‍हाण द्वारा दायर की गई थी। फरवरी, 2016 में राज्‍यपाल ने केन्‍द्रीय जांच ब्‍यूरो को अनुमति दी थी कि वो चव्‍हाण पर भ्रष्‍टाचार निरोधक अधिनियम के प्रावधानों के अनुसार मुकदमा चला सकती है। सीबीआई ने श्री चव्‍हाण पर आरोप लगाया था कि उन्‍होंने दक्षिणी मुंबई में आदर्श आवास समिति की बहुमंजिला इमारत में नियमों का उल्‍लंघन कर एक और मंजिल बनाने की इजाजत के लिए अपने रिश्‍तेदारों के लिए दो फ्लैट लिये थे।
 

संसद की कार्यवाही बार-बार बाधित होना देश के लिए अच्‍छा नहीं: उपराष्‍ट्रपति 

उपराष्‍ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने संसद के चालू सत्र के दौरान सदनों की कार्यवाही बार बार स्‍थगित किये जाने को लेकर अप्रसन्‍नता व्‍यक्‍त की है। श्री नायडू राज्‍यसभा के पदेन सभापति भी हैं और उन्‍होंने कहा है कि सदन की कार्यवाही में बार बार व्‍यवधान आना देश के लिए अच्‍छा नहीं है। शुक्रवार को नई दिल्‍ली में अंतर्राष्‍ट्रीय प्रदर्शनी और सम्‍मेलन केन्‍द्र तथा समन्वित पारगमन गलियारा विकास परियोजना की आधारशिला रखने के लिए आयोजित समारोह में उन्‍होंने यह बात कही। 


संसद में :-  
*   वित्‍तमंत्री अरुण जेटली ने शुक्रवार को राज्‍यों को मुआवजा देने से संबंधित वस्‍तु और सेवा कर संशोधन विधेयक लोकसभा में पेश किया। यह विधेयक इस संबंध में 2 सितम्‍बर को जारी अध्‍यादेश का स्‍थान लेगा। इसमें केन्‍द्र सरकार को पान मसाला, कोयला, एयरेटेड शीतल पेय और तम्‍बाकू जैसी कुछ वस्‍तुओं के लिए जीएसटी की दरें तय करने के एवज में राज्‍यों को मुआवजा देने का प्रावधान है।


*   सरकार ने राज्‍यों से निजी अस्‍पतालों और चिकित्‍सा संगठनों के बारे में कायदे-कानून बनाकर विनियमित करने को कहा है। लोकसभा में शुक्रवार को पूरक प्रश्‍नों के जवाब में स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री जे पी नड्डा ने कहा कि उन्‍होंने सभी राज्‍यों को केन्‍द्रीय चिकित्‍सीय प्रतिष्‍ठान अधिनियम को स्‍वीकार करने या फिर अलग से अपना कानून बनाने के बारे में लिखा है। उन्‍होंने कहा कि सरकार ने अखिल भारतीय नर्स परिसंघ की मांगों पर विचार के लिए भी कदम उठाये हैं और ज्‍यादातर मांगें स्‍वीकार कर लिये जाने की संभावना है।
इस महकमे के लिए भारत सरकार बड़ी सेंस्टिव रही है और समिति ने इसको उसी तरीके से लेकर के तुरंत अपनी रिपोर्ट दी और स्‍टेट गवर्मेंट्स से कहा है। इस तरीके का कोई हमारे पास रिकार्ड नहीं है, क्‍योंकि यह स्‍टेट्स को रखना पड़ता है। हम लोगों ने प्राइवेट इंस्‍टीटयूशन्‍स के लिए क्‍लिनिकल इस्‍टैबलिशमैंट एक्‍ट बनाकर के किया है। इसको स्‍टेट्स को अडाप्‍ट करना और स्‍टेट्स में ही उनकी रजिस्‍ट्रेशन होनी और स्‍टे्टस को ही उसे इम्‍पलीमेंट करना है। स्‍वास्‍थ्‍य राज्‍यमंत्री अनुप्रिया पटेल ने सदन को बताया कि केन्‍द्र ने स्‍वास्‍थ्‍य कार्यक्रमों को लागू करने में राज्‍यों की भूमिका बढ़ाने के लिए पहल की है।


*   
केन्‍द्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने राज्‍यसभा की कार्यवाही में बाधा डालने के लिए कांग्रेस की आलोचना की है। संसद के बाहर आज संवाददाताओं से बातचीत में श्री जावड़ेकर ने कहा कि सरकार किसी भी मुद्दे पर बहस के लिए तैयार है। उन्‍होंने कहा कि मसलों को सुलझाने का एकमात्र तरीका बातचीत है, न कि बाधाएं उत्‍पन्‍न करना।


 *    वित्‍त मंत्री अरूण जेटली ने लोकसभा को आश्‍वासन दिया है कि सरकारी बैंको में जमा लोगों का पैसा सुरक्षित है
 और इस बारे में कोई आशंका नहीं होनी चाहिए। लोकसभा में वर्ष 2017-18 के लिए अनुपूरक मांग पर बहस के जवाब में श्री जेटली ने कहा कि प्रस्‍तावित वित्‍तीय संकल्‍प और जमा बीमा विधेयक पारित होने पर लोगों का पैसा पहले से ज्‍यादा सुरक्षित रहेगा। वित्तमंत्री ने इन आरोपों का खंडन किया कि वस्‍तु और सेवाकर-जीएसटी लागू होने से राज्‍यों को राजस्‍व का नुकसान हो रहा है। श्री जेटली ने कांग्रेस शासित राज्यों में पेट्रोल और डीजल पर कर नहीं घटाए जाने की आलोचना की। आज स्थिति यह है कि पेट्रोलियम वस्तु और सेवाकर का हिस्सा है, लेकिन इसकी दर शून्य है। जीएसटी परिषद के निर्णय के बाद इस पर टैक्स लगेगा। यूपीए ने अपने संशोधन में पेट्रोलियम को भी पूरी तरह जीएटी से बाहर रखा था। बाद में सदन ने अनुपूरक मांगों और विनियोग विधेयक को पारित कर देश की संचित निधि से सरकार को धन व्‍यय करने की अनुमति दे दी।


रॉबर्ट वाड्रा से जुड़े बीकानेर भूमि घोटाला मामले में दो लोग गिरफ्तार
प्रवर्तन निदेशालय ने रॉबर्ट वाड्रा की कम्‍पनी से जुड़े बीकानेर भूमि घोटाला मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया। प्रवर्तन निदेशालय ने पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के दामाद रॉबर्ट वाड्रा से जुड़े बीकानेर भूमि घोटाला मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया है। एजेंसी ने जयप्रकाश बागड़वा और अशोक कुमार की गिरफ्तारी धनशोधन रोकथाम अधिनियम के तहत कोलायत भूमि मामले में अनियमितताओं के लिए की है। अशोक कुमार, स्काईलाइट हॉस्पिटेलिटी प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के महेश नागर का एक नजदीकी सहयोगी है और यह कंपनी रॉबर्ट वाड्रा से जुड़ी है।
 

अमरीका ने पाकिस्‍तान को तालिबान और अन्‍य आतंकी गुटों को पनाह  देने के खिलाफ आगाह किया
अमरीकी उप-राष्‍ट्रपति माइक पेंस ने कहा है कि राष्‍ट्रपति डोनल्‍ड ट्रंप ने तालिबान और अन्‍य आतंकवादी गिरोहों को अपने यहां पनाह देने के सिलसिले में पाकिस्‍तान को आगाह किया है। श्री पेंस बिना किसी पूर्व कार्यक्रम के अफगानिस्‍तान की अपनी यात्रा के दौरान बगराम के वायुसेना केन्‍द्र में करीब 500 अमरीकी सैनिकों को संबोधित कर रहे थे। उन्‍होंने कहा कि पाकिस्‍तान ने लंबे समय से पाकिस्‍तान ने तालिबान और अन्‍य आतंकी संगठनों को सुरक्षित ठिकाने मुहैया कराये हैं, मगर अब इन ठिकानों का दौर खत्‍म होने को है। श्री पेंस ने कहा कि ट्रंप प्रशासन ने अमरीकी सेना को आतंकियों और उग्रवादियों के खिलाफ सीधी कार्रवाई करने का जो निर्देश दिया है उससे वे उन्‍हें कहीं भी निशाना बना सकते हैं।
 

दिल्ली के राम रहीम के आश्रम से पुलिस ने 41 लड़कियों को छुड़ाया,  हाईकोर्ट ने आश्रम के बाबा 4 जनवरी तक पेश करने को कहा 
आध्यात्मिक यूनिवर्सिटी की आड़ में चल रहे आश्रम में नाबालिगों के कथित यौन शोषण के मामले में दिल्ली हाईकोर्ट ने आश्रम के फरार बाबा वीरेंद्र देव दीक्षित को 4 जनवरी तक पेश करने का आदेश दिया है।  इससे पहले 212 दिसंबर को हाईकोर्ट द्वारा नियुक्त सीबीआई टीम के नेतृत्व में पुलिस ने रोहिणी स्थित वीरेंद्र देव दीक्षित के आश्रम में 9 घंटे की कड़ी कार्रवाई के बाद 41 लड़कियों को छुड़ाया। दिल्‍ली पुलिस ने आश्रम के 14 दरवाजे तोड़े और वहां से लड़कियों को बाहर निकाला। जिसके बाद वहां मौजूद एक डॉक्टर से लड़कियों का मेडिकल चेकअप कराया गया। छुड़ाई गई लड़कियों में से ज्यादातर नाबालिग हैं।आश्रम से निकाली गई इन लड़कियों को अलीपुर स्थित मिंडा चाइल्ड वेलफेयर होम भेजा जाएगा। इस पूरी कार्रवाई के दौरान दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल अपनी टीम के साथ वहां मौजूद रहीं। महिला आयोग के साथ ही वहां मौजूद चाइल्ड वेलफेयर कमेटी ने भी छुड़ाई गई एक-एक लड़की से बात की। बताया जा रहा है कि छुड़ाई गई सभी लड़कियां डरी हुई थीं और उनमें से कई एक शब्द भी नहीं बोल पा रही थीं। बताया जा रहा है कि इनमें से कई लड़कियां अच्छे घरों से हैं। इस मामले में जिस लड़की ने बाबा के कारनामों का खुलासा किया था, उसका भाई सीबीआई में इंस्पेक्टर है। मामले में शुक्रवार को सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट ने बाबा वीरेंद्र को 4 जनवरी तक पेश करने का आदेश देते हुए उसके आठ आश्रमों की लिस्ट और उनकी डिटेल भी मांगी है। कोर्ट का कहना है कि ऐसा न करने पर उसके खिलाफ वारंट जारी किया जाएगा। बताया जाता है कि वीरेंद्र देव का दिल्ली, पंजाब, यूपी, हरियाणा और राजस्थान के माउंट आबू में भी आश्रम है, जो कि इसका मुख्यालय है। लोगों के मुताबिक नेपाल में भी वीरेंद्र का आश्रम है। स्थानीय लोगों को आश्रम में गलत काम होने का शक पहली बार तब हुआ, जब आश्रम की छत से कूद कर एक युवती ने खुदकुशी की थी। इसके कुछ ही दिनों के बाद एक और लड़की ने अपनी जान देने की कोशिश की, लेकिन उसे बचा लिया गया। इन दोनों घटनाओं के बाद यूनिवर्सिटी के आड़ में चल रहे आश्रम को एक जेल में बदल दिया गया, जहां 24 घंटे कड़ा पहरा रहता था।स्थानीय लोगों का कहना है कि उन्होंने बाबा वीरेंद्र देव दीक्षित को कभी नहीं देखा है। बताया जाता है कि वह हमेशा रात में आता था। आसपास के लोगों को उसके आश्रम आने की जानकारी अगले दिन गाड़ियों के काफिले को देखकर मिलती थी।आश्रम के पड़ोस में रहने वाले स्थानीय लोगों का आरोप है कि आश्रम की संदिग्ध गतिविधियों के बारे में कई बार पुलिस से शिकायत की गई थी, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। बताया जा रहा है कि आध्यात्मिक यूनिवर्सिटी के नाम से चल रहे आश्रम में दो आश्रम हैं। एक मुख्य और दूसरा हाल ही में बना वीवीआईपी आश्रम। दोनों आश्रमों को जोड़ने के लिए एक सुरंग भी बनाई गई थी। इसी के जरिये वीवीआईपी आश्रम में सुख-सुविधा के सामान पहुंचाए जाते थे, जिनमें लड़कियां भी शामिल होती थीं।बताया जा रहा है कि बाबा वीरेंद्र सिर्फ 28 साल तक की लड़कियों के ही साथ रहता था। उसने हर उम्र की लड़कियों के लिए काम तय कर रखा था। 28 से 40 साल तक की महिलाओं को चौथी मंजिल पर रखा जाता था। उनका काम आश्रम की सफाई करना, खाना बनाना, कपड़े और बर्तन धोना था। 40 साल से अधिक उम्र की महिलाएं शिक्षा देती थीं।
 

भारत-स्विटज़रलैंड के बीच स्‍वत: टैक्‍स संबंधी सूचना का आदान-प्रदान समझौता

भारत ने अगले महीने से कर संबंधी सूचना के स्वतः आदान-प्रदान के लिये स्विटज़रलैंड के साथ समझौते पर हस्ताक्षर किए। विदेशों में जमा काले धन पर अंकुश लगाने के लिए भारत ने स्विट्जरलैंड के साथ समझौते पर हस्‍ताक्षर किये हैं। इसके तहत पहली जनवरी से दोनों देशों के बीच स्‍वत: ही टैक्‍स संबंधी सूचना का आदान-प्रदान होने लगेगा। एक ट्वीट में केन्‍द्रीय प्रत्‍यक्ष कर बोर्ड- सीबीडीटी ने बताया कि स्विट्जरलैंड में संसदीय प्रक्रिया पूरी होने और आपसी समझौते पर हस्‍ताक्षर हो जाने के बाद अब भारत और स्विट्जरलैंड के बीच पहली जनवरी 2018 से सूचना का आदान-प्रदान शुरू हो जायेगा। इस समझौते पर सीबीडीटी के अध्‍यक्ष सुशील चंद्र और भारत में स्विट्जरलैंड के राजदूत एंद्रेज बॉम ने कल नई दिल्‍ली में हस्‍ताक्षर किये।
 

आतंकवाद और कट्टरवाद समूचे विश्‍व के लिए चुनौती: उपराष्‍ट्रपति
उपराष्‍ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने कहा है कि भारत और माली सहित समूचे विश्‍व के लिए आतंकवाद और कट्टरवाद चुनौती हैं। गुरुवार को नई दिल्‍ली में माली के उच्‍च न्‍यायालय के अध्‍यक्ष अब्‍दुर्रहमान नियांग और वहां के दो सांसदों के प्रतिनिधि मंडल के साथ मुलाकात में श्री नायडू ने यह बात कही। राज्‍यसभा के उपसभापति डॉक्‍टर पी.जे. कुरियन, राज्‍यसभा के महासचिव देश दीपक वर्मा तथा अन्‍य गणमान्‍य लोग इस अवसर पर उपस्थित थे। उपराष्‍ट्रपति ने कहा कि भारत नवीकरणीय ऊर्जा परियोजनाओं के लिए माली को ऋण देने को तैयार है।  श्री नायडू ने कहा कि भारत में ताजमहल और टिम्बकटू- रूबरू प्रदर्शनी के आयोजन का उत्‍सुकता से इंतजार किया जा रहा है।
 

ग्रामीण उपभोक्ताओं के लिय़े डाक सेवाओं में सुधार  हेतु 'दर्पण परियोजना'

सरकार ने ग्रामीण उपभोक्ताओं के लिय़े डाक सेवाओं में सुधार के उद्देश्य से दर्पण परियोजना आरम्भ की। संचार मंत्री मनोज सिन्‍हा ने नये भारत के लिए ग्रामीण डाक घरों को डिजिटल प्रणाली से जोड़ने की योजना दर्पण का शुभारंभ किया। सूचना प्रौद्योगिकी के माध्‍यम आधुनिकीकरण की इस परियोजना का उद्देश्‍य डाक रहित ग्रामीण जनता को वित्‍तीय समावेश के दायरे में लाना है। 14 सौ करोड़ रूपये की लागत की इस परियोजना से प्रत्‍येक शाखा डाकपाल को टेक्‍नॉलाजी प्रदान की जाएगी। डाक विभाग की विज्ञप्ति में बताया गया है कि इससे करीब एक लाख 29 हजार डाक घरों को अपनी सेवाओं को बेहतर बनाने में मदद मिलेगी।  श्री सिन्‍हा ने बताया कि मार्च 2018 तक इस परियोजना को पूरा करने का लक्ष्‍य रखा गया है।
 

धुमेह सहित 27 आवश्यक दवाओं का मूल्य अधिसूचित 
राष्ट्रीय औषधि मूल्य निर्धारण प्राधिकरण ने मधुमेह सहित विभिन्न बीमारियों के इलाज के लिये 27 आवश्यक दवाओं का मूल्य अधिसूचित किया। राष्‍ट्रीय औषधि‍ मूल्‍य निर्धारण प्राधिकरण-एनपीपीए ने 27 आवश्‍यक दवाओं के मूल्‍य अधिसूचित किए हैं। इनमें मधुमेह, रक्‍तचाप और दर्द की दवा शामिल है। मूल्‍य नियंत्रण के दायरे में न आने वाली दवाओं पर उत्‍पादकों को अधिकतम खुदरा मूल्‍य में सालाना 10 प्रतिशत की वृद्धि की अनुमति है। आवश्‍यक दवाओं की गणना विशेष चिकित्‍सीय वर्ग में एक प्रतिशत से अधिक बिक्री वाली सभी दवाओं के सामान्‍य औसत के आधार पर तय की जाती है।
 

होम्‍योपैथिक डॉक्‍टरों को एलोपैथी की अनुमति-अधिसूचना पर HC की रोक 
बंबई उच्‍च न्‍यायालय ने महाराष्‍ट्र में होम्‍योपैथिक डॉक्‍टरों को एलोपैथी इलाज करने की अनुमति संबंधी अधिसूचना पर रोक लगा दी है। 27 सितंबर 2017 को जारी महाराष्ट्र चिकित्सा और औषधि विभाग की अधिसूचना को इंडियन मेडिकल एसोसिएशन-आईएमए ने चुनौती दी थी। न्‍यायमूर्ति शांतनू केमकर और न्‍यायमूर्ति राजेश केतकर की पीठ ने इस स्थिति में मरीज के जीवन को जोखिम पर चिंता व्‍यक्‍त की। अधिसूचना के अनुसार 1951 से 1982 के बीच होम्‍योपैथी डिग्री के बाद महाराष्‍ट्र मेडिकल कांउसिल के साथ पंजीकृत डॉक्‍टरों को आधुनिक एलोपैथिक इलाज की अनुमति दी गई थी।
 

येरुशलम पर संयुक्त राष्ट्र में भारत समेत 128 देशों ने अमरीकी फैसले के खिलाफ  वोट दिया
 येरुशलम को इसराइल की राजधानी के रूप में मान्यता देने के अमरीकी फैसले के खिलाफ संयुक्त राष्ट्र महासभा में प्रस्ताव का भारत सहित 128 देशों ने समर्थन किया। येरुशलम को इस्राइल की राजधानी के रूप में मान्यता देने के अमरीकी फैसले के खिलाफ कल संयुक्त राष्ट्र महासभा में प्रस्ताव पर मतदान के दौरान अमरीका पूरी तरह अलग-थलग पड़ गया। भारत सहित 128 देशों ने प्रस्ताव के पक्ष में वोट दिया। मतदान से पहले अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने धमकी दी थी कि जो भी देश प्रस्ताव के पक्ष में वोट देंगे, उन्हें अमेरिका से मिलने वाली आर्थिक मदद में कटौती की जाएगी। लेकिन, उनकी धमकी का कोई खास असर नहीं पड़ा और सिर्फ नौ देशों ने ही प्रस्ताव के खिलाफ वोट दिया। इन देशों में अमेरिका के अलावा ग्वाटेमाला, होंडुरास, इजरायल, मार्शल आइलैंड्स, माइक्रोनेशिया, पलाउ, टोगो और नोरू शामिल हैं। जिन प्रमुख देशों ने मतदान में हिस्सा नहीं लिया उनमें आस्ट्रेलिया, भूटान, कनाडा, कोलंबिया, हंगरी, मैक्सिको, पनामा, फिलीपींस, पोलैंड और यूगांडा शामिल हैं।  35 देश वोटिंग में शामिल नहीं हुए। यह प्रस्ताव तुर्की और यमन ने पेश किया था।  फलस्तीन के राष्ट्रपति महमूद अब्बास ने संयुक्त राष्ट्र महासभा के फैसले का स्वागत किया है। इस्राइल के प्रधानमंत्री बेनयामिन नेतन्याहू ने संयुक्त राष्ट्र में हुए मतदान की निंदा की, लेकिन इस बात पर संतोष व्यक्त किया कि कई देशों ने इसमें हिस्सा नहीं लिया।


 समाचार संक्षेप में
>   
जम्‍मू कश्‍मीर के राज्‍यपाल एन०एन०वोहरा ने विधान परिषद के सदस्‍य के तौर पर तस्‍सदुक हुसैन मुफ्ती के नाम को मंजूरी दे दी है। राज्‍य मंत्रिमंडल ने विधान परिषद के पूर्व नेता युवराज विक्रमादित्‍य सिंह के इस्‍तीफे से रिक्‍त सीट पर मुख्‍यमंत्री महबूबा मुफ्ती के भाई तस्‍सदुक हुसैन मुफ्ती के नाम की अनुशंसा की थी

>   
बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्‍स दशमलव छह प्रतिशत की तेजी से 184 अंक बढ़कर 33 हजार 940 के नए रिकार्ड उच्‍चतम स्‍तर पर बंद हुआ। नेशनल स्‍टाक एक्‍सचेंज का निफ्टी भी 53 अंक बढ़कर दस हजार चार सौ 93 के नए एतिहासिक उच्‍चतम स्‍तर पर बंद हुआ। अंतरबैंकिंग विदेशी मुद्रा बाजार में रूपया डालर के मुकाबले सिर्फ एक पैसे मजबूत हुआ और एक डालर की कीमत 64 रूपये 5 पैसे दर्ज हुई। दिल्‍ली सर्राफा बाजार में सोने की कीमत 15 रुपये कम हो कर 29 हजार 685 रुपये प्रति दस ग्राम पर आ गई।

>   
पूर्व क्रिकेट खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर ने कल राज्यसभा में भाषण का मौका नहीं मिलने के बाद अपनी बात कहने के लिए आज फेसबुक का सहारा लिया। 15 मिनट के अपने वीडियो संदेश में श्री तेंदुलकर ने कहा कि भारत को एक खेल प्रेमी देश से खेल खेलने वाला देश बनाना उनका स्वप्न है।

>   
भारत और चीन के बीच विशेष प्रतिनिधि स्‍तर की 20वीं वार्ता शुक्रवार को नई दिल्‍ली में संपन्‍न हुई। भारत की ओर से राष्‍ट्रीय सुरक्षा सलाहकार और विशेष प्रतिनि‍धि अजित डोवाल और चीन की ओर से विशेष प्रतिनिधि यांग जिइची ने सीमा संबंधी मुद्दे पर बातचीत में हिस्‍सा लिया। हाल में डोकलाम मुद्दे को लेकर दोनों देशों के बीच गतिरोध समाप्‍त होने के बाद आयोजित इस वार्ता का महत्‍व और भी बढ़ गया है।


खबरी दुनिया  
*    टू-जी स्पेक्ट्रम घोटाले में विशेष सीबीआई अदालत द्वारा सभी आरोपियों को बरी करने का फैसला शुक्रवार को सभी अखबारों में छाया हुआ है। दैनिक जागरण ने लिखा है कि सीबीआई पूर्व संचार मंत्री समेत तमाम आरोपियों पर नहीं सिद्ध कर पाई दोष। अमर उजाला ने सीबीआई जज के इस बयान को पहली खबर बनाया है कि सात साल तक सबूतों का इंतजार करता रहा सब निर्रथक, महज अटकलों पर था केस। इस मुद्दे पर भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस के बीच सियासी घमासान को अधिकतर अखबारों ने दिया है। वित्त मंत्री अरूण जेटली का यह बयान कि यह फैसला कांग्रेस की बेगुनाही का सर्टिफिकेट नहीं है, को भी अधिकतर अखबारों ने इसके साथ ही दिया है। नवभारत टाइम्स का आकलन है - एक घोटाला जिसने बदल दी राजनीति की दशा और दिशा।

 

*   संसद में हंगामे के बीच सचिन तेंदुलकर पहला भाषण नहीं दे पाये - हिन्दुस्तान सहित लगभग सभी अखबारों में है। पत्र लिखता है कि वे खेलने के अधिकार पर अपने विचार रखने वाले थे। जनसत्ता का कहना है कि 22 गज की पिच पर सचिन भले ही रन मशीन के रूप में जाने जाते हैं, लेकिन राजनीतिक खेल में उन्होंने अभी अपना खाता नहीं खोला है।

*   नई दिल्ली के रोहिणी में एक आश्रम में छापेमारी में 41 किशोरियों को छुड़ाने की खबर अमर उजाला सहित सभी अखबारों में है। पत्र ने लिखा है कि इन लड़कियों को सुधार गृह भेज दिया गया है।

*   संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी प्रतिनिधि सैय्यद अकबरुद्दीन का चीन और पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए यह कहना कि संकीर्ण राजनीतिक और रणनीतिक फायदे के लिए पाले जा रहे हैं आतंकी, दैनिक जागरण में है।

*   क्रिकेट खिलाड़ी विराट कोहली और अनुष्का शर्मा के रिसेप्शन में सजा सितारों का मेला - हिन्दुस्तान सहित सभी अखबारों में सचित्र है। पत्र लिखता है कि क्रिकेट और फिल्म जगत की तमाम हस्तियों ने शिरकत की।
 

राजस्थान समाचार विशेष   

जैन समाज सरकार पर विश्वास रखे, विचलित न हों - मुख्यमंत्री
जयपुर,    मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे ने कहा कि धार्मिक स्थल जन-जन की आस्था और विश्वास के केंद्र होते हैं। राज्य सरकार ऎसा कोई कदम नहीं उठाएगी, जिनसे धार्मिक आस्था के केंद्रों को कोई नुकसान पहुंचे। उन्होंने कहा कि जैन समाज को सरकार पर विश्वास रखना चाहिए। पदमपुरा और बरखेड़ा के अपने तीर्थों की रक्षा को लेकर उन्हें विचलित होने की आवश्यकता नहीं है। राज्य सरकार जैन समाज की भावनाएं आहत नहीं होने देगी।  श्रीमती राजे शुक्रवार को जैन मुनि श्री तरुण सागर जी महाराज के मुख्यमंत्री निवास पर आगमन के दौरान उपस्थित श्रद्धालुओं को संबोधित कर रही थीं। उन्होंने कहा कि मेरा सौभाग्य है कि इतने बडे़ संत के चरण मेरे निवास पर पडे़ हैं और उनकी चरण-वंदना का सुअवसर मुझे मिला है। उन्होंने कहा कि मीठा हर कोई बोलता है, लेकिन क्रांतिकारी मुनि तरुण सागर जी अपने कड़वे प्रवचनों के माध्यम से देश और समाज को नई दिशा दे रहे हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि ईश्वरीय कृपा और संतों का मार्गदर्शन मुझे हमेशा मिला है। उन्होंने कहा कि तीर्थों पर मेरा अटूट विश्वास है और मैं हमेशा इनके आगे शीश झुकाती हूं। ऎसे में किसी भी धर्म के आस्था स्थल का अहित हम कभी नहीं सोच सकते।
मुनि श्री तरुण सागर ने समाज की भावना का आदर करने के लिए मुख्यमंत्री का आभार  व्यक्त करते हुए कहा मुख्यमंत्री पर पूरा विश्वास, जो कहती हैं वही करती हैं इस अवसर पर धर्म सभा को संबोधित करते हुए मुनि श्री तरुण सागरजी ने कहा कि मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे बहुत ही विनम्र हैं और वे जो कहती हैं, वही करती हैं। जैन समाज को मुख्यमंत्री पर पूरा विश्वास है। उन्होंने कहा कि राजस्थान जैसे बडे राज्य का संचालन करना आसान कार्य नहीं है, लेकिन श्रीमती राजे पूरे धैर्य और कुशलता से सभी को साथ लेकर प्रदेश को आगे बढ़ा रही हैं।  जैन मुनि श्री तरूण सागर जी ने सभी जैन समाज के लोगों से कहा कि वे अपने तीर्थ क्षेत्र को लेकर किए जाने वाले जुलूस या प्रदर्शन को वापस लें और समाज की भावना का आदर करने के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त करें। मुख्यमंत्री की संवेदनशीलता पर जैन समाज की ओर से उनका आभार व्यक्त किया गया। इससे पहले मुख्यमंत्री ने अपने निवास के प्रवेशद्वार पर मुनिश्री की अगवानी की और पाद प्रक्षालन कर वंदना की। मुनिश्री ने मुख्यमंत्री के सिर पर पिच्छिका रखकर उन्हें आशीर्वाद दिया और कहा कि वे राजस्थान को देश का अग्रणी राज्य बनाने के संकल्प में हमेशा सफल हों। मुनिश्री को विदा करने के लिए श्रीमती राजे मुख्यद्वार तक गर्ईं। 


मुख्यमंत्री ने यूपी के पूर्व राज्यपाल श्री जोशी के निधन पर शोक व्यक्त किया
जयपुर,    मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे ने उत्तर प्रदेश के पूर्व राज्यपाल श्री बी.एल. जोशी के निधन पर शोक व्यक्त किया है।  श्रीमती राजे ने कहा कि राजस्थान के छोटे से गांव से निकलकर श्री जोशी ने भारतीय पुलिस सेवा सहित कई महत्वपूर्ण संवैधानिक पदों की जिम्मेदारी संभाली और जनकल्याण के  कार्यों  में योगदान दिया। मुख्यमंत्री ने ईश्वर से दिवंगत की आत्मा की शांति तथा शोक संतप्त परिजनों को यह आघात सहन करने की शक्ति प्रदान करने की प्रार्थना की है। 

 

गहलोत ने जोशी के निधन पर संवेदना व्यक्त की
जयपुर,  पूर्व मुख्यमंत्री एवं कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव श्री अशोक गहलोत ने उत्तरप्रदेश एवं उत्तराखण्ड के पूर्व राज्यपाल श्री बी.एल. जोशी के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है।  श्री जोशी को भारतीय सभ्यता एवं संस्कृति से जुड़ एक उदार हृदय वाले व्यक्तित्व के रूप में याद करते हुए श्री गहलोत ने कहा कि वे सर्वसुलभ थे। दोनों ही राज्यों के राज्यपाल के साथ-साथ दिल्ली के उपराज्यपाल एवं राजस्थान मानवाधिकार आयोग के सदस्य के रूप में आम जनता से लेकर राजनेताओं तक जो भी उनके सम्पर्क में आया, उनका ही होकर रह गया। अपने सम्बन्धों, सम्पर्कों एवं सिद्धान्तों के प्रति उनका समर्पण सदैव याद किया जायेगा।  श्री गहलोत ने कहा कि श्री जोशी का न रहना देश और राज्य के साथ स्वयं उनके लिए एक अपूरणीय क्षति है। उन्होंने ईश्वर से स्वर्गीय आत्मा की शांति तथा शोकाकुल परिजनों को यह आघात सहने की शक्ति प्रदान करने की प्रार्थना की। 

 

धौलपुर जिले पर चार साल में 5200 करोड़ रुपये खर्च- मुख्यमंत्री
धौलपुर ,  श्रीमती राजे ने धौलपुर लिफ्ट परियोजना के शिलान्यास समारोह के अवसर पर धौलपुर जिले के लिए कई नई घोषणाएं की। उन्होंने कहा कि धौलपुर जिले में लिफ्ट परियोजना के लिए 70-80 के दशक से हर बार चुनाव के समय वादे किये जाते रहे, लेकिन इस पर काम नहीं किया गया। हमने चार साल पहले जिले को धौलपुर लिफ्ट परियोजना की सौगात देने का वादा किया था, जिसे आज क्रियान्वित कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि 9 करोड़ रुपये की लागत से धौलपुर में बन रहे स्टेट इंस्टीट्यूट ऑफ होटल मैनेजमेंट का काम आगामी जून माह तक पूरा हो जाएगा।  मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे ने कहा है कि धौलपुर जिले में हमारी सरकार ने चार वर्षों में विकास कार्यों पर 5,200 करोड़ रुपये खर्च किये हैं जबकि पूर्ववर्ती सरकार ने 5 वर्ष में केवल 680 करोड़ रुपये ही खर्च किये थे। उन्होंने कहा कि हमने आज एक ही दिन में 1200 करोड़ रुपये से अधिक के विकास कार्यों की सौगात जिले को दी है। श्रीमती राजे ने कहा कि धौलपुर जिले में बीते चार सालों मे 1058 करोड़ रुपये से सड़कों के 175 कार्य करवाए गये हैं और आने वाले एक साल में 467 करोड़ रुपये के 127 कार्य और करवाए जाएंगे। 36 करोड़ रुपये की लागत से सड़कों का नवीनीकरण हुआ है, जिसे आगे बढ़ाते हुए 21 करोड़ रुपये सड़कों के नवीनीकरण पर और खर्च किये जाएंगे। साथ ही 46 ग्रामीण गौरव पथों पर 28 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि 8.25 करोड़ रुपये की लागत से मनिया-मरैना वाया मांगरोल की 12 किमी सड़क बनवाई जाएगी।
मुख्यमंत्री ने धौलपुर जिला अस्पताल के नये भवन का भी शिलान्यास किया। उन्होंने कहा कि कई दशक से धौलपुरवासी छोटे से अस्पताल में इलाज कराने को मजबूर हो रहे थे, अब उनकी स्वास्थ्य जरूरतों के लिए नये एवं बड़े अस्पताल भवन का निर्माण होगा, जिस पर 100 करोड़ रुपये लागत आएगी। श्रीमती राजे ने धौलपुर शहर के लिए 5 तथा बाड़ी और राजाखेड़ा कस्बों के लिए 1-1 अन्नपूर्णा रसोई वैन को हरी झड़ी दिखाकर रवाना किया। इससे पहले मुख्यमंत्री ने रसोई वैन से भोजन थाली लेकर वहां उपस्थित महिलाओं को परोसी। उन्होंने समारोह में उपस्थित जनसैलाब के बीच पहुंचकर लोगों का अभिवादन स्वीकार किया। समारोह के दौरान गणमान्यजनों ने तलवार, मुकुट, पगड़ी, फूल-मालाएं आदि भेंटकर मुख्यमंंत्री का अभिनन्दन किया।

की गई नई घोषणाएं-  
क्षेत्र में दुग्ध डेयरी को बढ़ावा देने के लिए सहेली सर्वांगीण महिला विकास सहकारी समिति को एक हजार लीटर क्षमता के 40 बल्क मिल्क कूलर उपलब्ध कराए जाएंगे। इससे 25 हजार महिला दुग्ध उत्पादक लाभान्वित होंगी।
धौलपुर के ट्रान्सपोर्ट नगर योजना प्रथम में 8 बीघा निशुल्क भूमि आरक्षित कर अम्बेडकर पार्क बनाया जायेगा। 
लुहारी, कासिमपुर, सुन्दरपुर एवं दीवानपुरा, गुन्नापुरा, निधेराखुर्द, निधेराकलां, अजयपुरा, मलिकपुर, डोगंरपुर, तोर, कोलुआ एवं नगलाधानी गांवों में लगभग 8 करोड़ रुपये खर्च कर पेयजल पाइपलाइन बिछाने के साथ-साथ पम्प व टैंक योजना का निर्माण किया जाएगा।
पार्वती बांध की नहरों के विस्तार, पुनरूद्वार एवं आधुनिकीकरण के लिए पिछले साल 19 करोड़ दिये गये थे। अब मुख्य नहर बसेड़ी व सैपऊ ब्रांच, मकरा वितरिका, रजौरा कलां माइनर को पक्का करवाया जाएगा।
बसेडी एवं अन्य क्षेत्रों की समस्त माइनर नहरों को पक्का करने का काम आगामी वित्तीय वर्ष में वित्तीय प्रावधान रखकर करवाया जावेगा। इसके पूर्ण होने पर समस्त पार्वती सिंचाई परियोजना का नहरी तन्त्र पक्का हो जायेगा। जिससे पार्वती बांध के 100 गांव लाभान्वित होंगे। इस पुनरोद्धार से नहरों से होने वाली पानी की छीजत में कमी आयेगी और आखिरी छोर तक किसानों को सिंचाई के लिए पर्याप्त पानी उपलब्ध होगा।
 

कृषि अर्थशास्त्र की स्मार्ट विधा को विकसित करें विश्वविद्यालय - राज्यपाल
उदयपुर ,    कृषि विश्वविद्यालयों व वैज्ञानिकों को पैदावार बढ़ाने तक ही अपने को सीमित नहीं रखना चाहिए। बढ़ी हुई पैदावार का तब तक कोई लाभ नहीं है जब तक उस पैदावार का लाभकारी मूल्य किसान को ना मिले। अतः उद्योगों की ही भांति कृषि को भी बाजार के अर्थशास्त्र से जोड़ने का काम करना होगा। इसके लिए कृषि अर्थशास्त्र की स्मार्ट विधा को विकसित करना चाहिए।
यह बात राज्यपाल श्री कल्याण सिंह ने शुक्रवार को उदयपुर के महाराणा प्रताप कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के ग्यारहवाँ दीक्षान्त समारोह में कही। श्री सिंह ने कहा कि कृषि विश्वविद्यालयों को सरकार से सामंजस्य बनाते हुए बाजार की दिशा एवं उपभोक्ता डिमाण्ड का भी अध्ययन करना चाहिए। उन्हें यह आकलन करना चाहिए, डाटा तैयार करना चाहिए कि कौनसी फसल कितनी मात्रा में बोने पर डिमाण्ड और सप्लाई का सामंजस्य बना रहेगा। विश्वविद्यालयों को किसानों, उपभोक्ताओं और बाजार के बीच संतुलन स्थापित करने की भूमिका निभानी चाहिए।  श्री सिंह ने कहा कि कृषि को बाजार के अर्थशास्त्र से जोड़ने पर किसानों को अपनी फसले सड़क पर फैंकने या खेतों में जलाने हेतु मजबूर नहीं होना पड़ेगा। दुनिया के कई ऎसे देश है जहां भविष्य की मांग का आकलन कर उसके अनुसार किसानों को कितने क्षेत्रफल पर कौनसी फसल बोनी चाहिए इस आशय की एडवाईजरी जारी की जाती है। बिना मांग का आकलन किये फसलों का उत्पादन जहां किसान को उपज का सही मूल्य नहीं मिलने देता वहीं उपज की बर्बादी से राष्ट्रीय क्षति भी होती है। सुखाडिया विश्वविद्यालय के विवेकानंद सभागार में शैक्षणिक प्रगमन के आगमन के पश्चात राष्ट्रगान व महाराणा प्रताप कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के कुलगीत के गायन के साथ दीक्षान्त समारोह प्रारंभ हुआ।राज्यपाल श्री सिंह ने युग पुरूष महाराणा प्रताप को नमन करते हुए दीक्षान्त समारोह में स्वर्ण पदक प्राप्त करने वाले व उपाधि धारक विद्यार्थियों को शुभकामनाएँ दी।  उन्होंने कहा कि विपरीत भौगोलिक व जलवायु की परिस्थितियों के बावजूद यहाँ के कृषि वैज्ञानिकों और किसानों के योगदान से राजस्थान का नाम अग्रणी राज्यों मे लिया जाता है। मेवाड़ मे सीमित जोत और जल संसाधनों के कारण समन्वित कृषि पद्यति से खेती करने की महती आवश्यकता है। इससे किसानों की आय मे 25-50 प्रतिशत की वृद्धि की जा सकती है। राज्यपाल ने कहा कि विश्वविद्यालयों को हमारी संस्कृति के संदर्भ मे कृषि मॉडल तैयार करने चाहिए। उन्होंने बताया कि वर्तमान समय में वैज्ञानिक खेती द्वारा हमारे देश में भरपूर पैदावार हो रही है, इसमें कृषि विश्वविद्यालयों के वैज्ञानिकों का भी अहम योगदान रहा है।  उन्होंने कहा कि स्वर्ण पदक प्राप्त करने वाले विद्यार्थियो मे छात्राओं की अधिक संख्या दर्शाती है कि आज कृषि शिक्षा मे वे अग्रणी हैं। दीक्षान्त समारोह में स्वर्ण पदक प्राप्त करने वाले विद्यार्थियो मे 24 छात्राएँ एवं 14 छात्र थे। 

 

सीकर जिले में दो स्वास्थ्य केन्द्र भवनों का शिलान्यास, 6.40 करोड़ की लागत से होगा भवनों का निर्माण
सीकर, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य राज्य मंत्री श्री बंशीधर बाजिया ने कहा कि राज्य सरकार ने भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना शुरू कर गरीब व निर्धन व्यक्तियों के गंभीर बीमारियों का इलाज सुलभ करवा रही है। जिले में 15 सरकारी व 36 निजी चिकित्सालय कार्यरत है जिनके माध्यम से 36 करोड़ राशि की लोगों को सहायता प्रदान की जा चुकी है। 
चिकित्सा एवं स्वास्थ्य राज्य मंत्री शुक्रवार को सीकर जिले के विधानसभा क्षेत्र खण्डेला में 4.55 करोड़ की लागत से सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र एवं ठीकरिया में 1.85 करोड़ की लागत से बनने वाले प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र के भवनों के शिलान्यास करने के बाद मुख्य अतिथि के रूप में जन समुह को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने वर्तमान सरकार के 4 साल के दौरान सीकर जिले में विधानसभा क्षेत्र में करवाए गए विकास 
 कार्यों की जानकारी देते हुए कहा कि करोड़ों की लागत के विकास  कार्यों की सौगात खण्डेला को मिली है। उन्होंने कहा कि सरकार के पास पैसों की कोई कमी नहीं है हर विकास कार्य में हमेशा आगे रहे है। उन्होंने कहा कि खण्डेला शहर व आस-पास के क्षेत्र में लगभग 30 करोड़ के ग्रामीण गोरव पथ, सड़को का निर्माण, नॉन पेच सड़क, पानी की टंकी, एसएलआर, हैडपम्प, नलकूपों पर थ्री फेस कनेक्शन, सीसी सड़क, इन्टरलिंक सड़क, विद्यालयों में कमरा निर्माण, लैब व कम्प्यूटर सुविधा, बैरिक निर्माण, माध्यमिक विद्यालय को क्रमोन्नत, सार्वजनिक पुस्तकालय, आदर्श पीएचसी, मुख्यमंत्री जल स्वावलम्बन के कार्य, विधायक स्थानीय विकास आदि अनेक विभागों के कार्यों से क्षेत्र का सर्वार्गीण विकास हो पाया है। राज्य सरकार किसानों के लिए दुर्घटना से मौत होने पर 50 हजार की र्आथिक सहायता से बढ़ा कर 6लाख रुपए किया है और अब इसे 10 लाख रुपए करने जा रहे है। समारोह में प्रधान श्री मूलचंद वर्मा ने खण्डेला में हुए विकास कार्यों की जानकारी देते हुए बताया कि पंचायत समिति ने उपखण्ड कार्यालय, उप तहसील भवन के लिए एक ही जगह भूमि उपलब्ध करवाई गई है। जिससे लोगों को किसी प्रकार की परेशानियां नहीं हो। इसी प्रकार सीएचसी के लिए भी एक एकड़ भूमि उपलब्ध करवाई है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी श्री विष्णु मीणा ने कहा कि जिले में अनेक प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र स्वीकृत किये गये है। राज्य सरकार मरीजों के इलाज के लिए संवेदनशील है। समारोह में अतिथियों का साफा एवं माला पहना कर स्वागत किया गया। इस अवसर पर जनप्रतिनिधि, अधिकारी-कर्मचारी, गणमान्य नागरिक व काफी संख्या में ग्रामीण मौजूद रहे।   

*   मेयर द्वारा पद का दुरुपयोग कर मेराथन में शुल्क वसूल करवाना दुर्भाग्यपूर्ण,पूर्व मेयर ज्योति खंडेलवाल ने कहा-शुल्क वापस नहीं किया तो मुकदमा दर्ज कराया जाएगा।
 

23 दिसम्बर, 2017

 

2जी मामले में कोर्ट ने ए. राजा व सांसद कनिमोझी  समेत सभी आरोपियों को बरी कर दिया है
दिल्‍ली की विशेषCBI  अदालत ने टू-जी स्‍पेक्‍ट्रम घोटाला और मनी लांड्रिंग के एक मामले में पूर्व दूरसंचार मंत्री ए राजा और डीएमके सांसद कणिमोझी के अलावा 15 अन्‍य आरोपियों और तीन कंपनियों को बरी किया। न्‍यायाधीश ने कहा-अभियोजन पक्ष आरोपों को सिद्ध करने में विफल। दिल्ली में पटियाला हाउस की सीबीई कोर्ट ने 2जी स्पेक्ट्रम घोटाले में पूर्व दूरसंचार मंत्री ए राजा और द्रमुक सांसद कनिमोझी समेत सभी आरोपियों को बरी कर दिया है।पूर्व संचार मंत्री ए राजा और डीएमके सांसद कणिमोई अन्‍य सभी आरोपियों तथा तीन कंपनियों को सीबीआई की विशेष अदालत ने गुरुवार को  टू-जी स्‍पेक्‍ट्रम घोटाला मामले में बरी कर दिया। साथ ही दो पक्षों के बीच पैसों के लेन-देन के भी कोई सबूत नहीं मिले हैं, जिसकी वजह से कोर्ट ने सभी आरोपियों को बरी कर दिया। अदालत ने कहा कि अभियोजन पक्ष आरोपों को साबित करने में बुरी तरह विफल रहा है। जिन 15 अन्‍य लोगों को बरी किया गया है उनमें पूर्व संचार सचिव सिद्धार्थ बेहुरा, ए राजा के निजी सचिव रहे आर के चंदौलिया और स्‍वान टेलीकॉम कम्‍पनी के प्रवर्तक शाहि‍द उस्‍मान शामिल हैं। सीबीआई के विशेष न्‍यायाधीश ओ पी सैनी ने आज नई दिल्‍ली में अपना फैसला सुनाते हुए कहा कि अभियोजन एक भी आरोपी के खिलाफ सबूत देने में नाकाम रहा। यह मामला 14 मार्च, 2011 को सुनवाई के लिए सीबीआई की अदालत में आया था। सीबीआई ने आरोप लगाया था कि टू-जी स्‍पेक्‍ट्रम के लिए लाईसेंसों के आवंटन में केन्‍द्रीय राजस्‍व को तीन खरब नौ अरब 84 करोड़ रुपये की हानि हुई थी। उच्‍चतम न्‍यायालय ने दो फरवरी 2012 को इन लाईसेंसों को रद्द कर दिया था। ए राजा और डीएमके प्रमुख एम करूणानिधि की बेटी कनिमोई को टू-जी स्‍पेक्‍ट्रम घोटाले में प्राप्‍त धन को ठिकाने लगाने के लिए प्रवर्तन निदेशालय द्वारा धन शोधन कानून के तहत दायर अन्‍य मामले में भी बरी कर दिया गया। प्रवर्तन निदेशालय ने अपने आरोप पत्र में डीएमके प्रमुख एम करूणानिधि और उनकी पत्‍नी दयालु अम्‍माल को भी आरोपी बनाते हुए कहा था कि स्‍वॉन टेलीकॉम प्राइवेट लिमिटेड कम्‍पनी के प्रवर्तकों ने डीएमके द्वारा संचालित कलइनार टीवी को दो अरब रुपये दिए थे। इनके साथ ही 16 अन्‍य लोगों को भी मनी लांड्रिंग मामले में बरी कर दिया गया। एस्‍सार समूह के प्रवर्तक रविकांत रूइया और अंशुमान रूइया तथा छह अन्‍य को टू-जी घोटाला जांच के एक अन्‍य मामले में भी बरी कर दिया गया। विशेष अदालत ने आज जिन तीन मामलों पर फैसला सुनाया उनमें अनेक कम्‍पनियों सहित कुल 35 आरोपी बनाये गए थे। सीबीआई के पहले मामले में 17 आरोपी थे, जबकि प्रवर्तन निदेशालय के दूसरे मामले में 19 लोगों पर मुकदमा चलाया जा रहा था। तीसरे मामले में एस्‍सार के मालिकों सहित 8 आरोपी थे। सीबीआई के प्रवक्‍ता ने कहा है कि फैसले की पूरी प्रति प्राप्‍त होने के बाद इस बारे में कानूनी सलाह लेकर भावी कार्रवाई के बारे में निर्णय लिया जाएगा। प्रवर्तन निदेशालय के सूत्रों ने भी कहा कि विशेष न्‍यायालय के फैसले के खिलाफ अपील की जाएगी। 


कांग्रेस 2जी स्‍पेक्‍ट्रम आवंटन पर अदालत के फैसले का सम्‍मान करती है: पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह
 पूर्व प्रधानमंत्री डॉ0 मनमोहनसिंह ने कहा- इस फैसले से ये सिद्ध हो गया कि बिना किसी आधार के यूपीए सरकार के खिलाफ बड़े पैमाने पर दुष्‍प्रचार किया गया। फैसला आने के बाद पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा है कि उनकी पार्टी टूजी स्‍पेक्‍ट्रम आवंटन पर अदालत के फैसले का सम्‍मान करती है। संसद के बाहर मीडिया से बातचीत में डॉ. सिंह ने कहा कि फैसले में सब कुछ साफ हो गया है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने ट्वीट कर कहा, आज मेरी बात सिद्ध हो गई, कोई भ्रष्टाचार और कोई नुकसान नहीं हुआ । अगर घोटाला है तो झूठ का घोटाला है जो विपक्ष और विनोद राय ने की है। विनोद राय को देश के सामने माफी मांगनी चाहिए। कोर्ट के फैसले पर कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने भी कहा कि घोटाले के जो आरोप लगाए गए थे, वो गलत थे, जो आज साबित हो गया। कांग्रेस नेता शशी थरूर ने कहा, 2जी मामले में निर्दोष लोगों को फंसाया गया था। कोर्ट ने वही किया है जिसकी उम्मीद इस देश में की जाती है।    यह पूरा मामला साल 2008 का है जब दूरसंचार विभाग द्वारा 2जी स्पेक्ट्रम के लाइसेंस आवंटन में कथित तौर पर अनिमितता हुई थी।  साल 2010 में सीएजी की ओर से जारी की गई रिपोर्ट में पूरी बात सामने आई थी। 2जी स्पेक्ट्रम घोटाले की सुनवाई 6 साल पहले 2011 में शुरू हुई थी, उस वक्त कोर्ट ने 17 आरोपियों के खिलाफ आरोप तय किए थे।पूर्व केंद्रीय दूरसंचार मंत्री ए. राजा पर आरोप था कि उन्होंने नियम-कायदों को नजरअंदाज करते हुए 2जी स्पेक्ट्रम की नीलामी की इजाजत दी थी। सीबीआई के मुताबिक, इन्होंने साल 2001 में तय की गई दरों पर 2008 में स्पेक्ट्रम बेच दिया था। राजा पर यह भी आरोप था कि उन्होंने अपनी पसंदीदा कंपनियों को पैसे लेकर गलत तरीके से स्पेक्ट्रम आवंटित किया था।

 

डीएमके ने फैसले का स्‍वागत किया कोर्ट के फैसला आने के बाद द्रमुक सांसद कनिमोझी ने कहा कि मैं उन सभी लोगों का शुक्रिया अदा करती हूं जिन्होंने मेरा साथ दिया।कोर्ट के फैसले के बाद ए राजा और द्रमुक सांसद कनिमोझी के समर्थकों में उत्साह देखने को मिला ।    इस बीच, डीएमके के कार्यकर्ताओं ने टू-जी स्‍पेक्‍ट्रम मामले में फैसला आने के बाद गुरुवार को  चेन्‍नई में पटाखे चलाकर और मिठाईयां बांट कर खुशी मनाई। पार्टी के कार्यकारी अध्‍यक्ष एम के स्‍टालिन ने सीबीआई की वि‍शेष अदालत के फैसले को ऐतिहासिक बताया। चेन्‍नई में संवाददाताओं से बातचीत करते हुए उन्‍होंने कहा कि यह मामला पार्टी को नष्‍ट करने के इरादे से डीएमके नेताओं पर चलाया गया। 
 

कांग्रेस फैसले को सम्मान का तमगा मान रही है लेकिन ये भ्रष्‍ट और गलत नीति थी: अरूण जेटली 
इधर, वित्तमंत्री अरूण जेटली ने कहा है कि कांग्रेस टू-जी स्पेक्ट्रम आवंटन पर फैसले को सम्मान का तमगा और ईमानदार नीति का प्रमाण पत्र मान रही है लेकिन यह भ्रष्ट और गलत नीति थी जिसकी पुष्टि उच्चतम न्यायालय ने 2012 में आवंटन को रद्द करके कर दी थी। फैसले पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए श्री जेटली ने कहा कि यू.पी.ए. सरकार की नीलामी नीति का नुकसान तथ्यों से बिल्कुल स्पष्ट होता है कि बाद में की गई नीलामी में उच्चतम मूल्य मिला। श्री जेटली ने आशा व्यक्त की कि जांच एजेंसियां फैसले का अध्ययन कर जो भी जरूरी होगा वह करेंगी। आज जो टूजी मामले में जो वर्डिक्ट आया है, कांग्रेस का नेतृत्व ऐसे वक्तव्य दे रहा है जैसे कोई सम्मान पत्र उसको मिल गया हो। इसका जो इतिहास है वो एक भ्रष्टाचार का इतिहास रहा है और तथ्यों से वो साबित हो चुका है और इन तथ्यों का अध्ययन करके जो भी इंवेस्टिगेटिव एजेंसी है और प्रोसीक्यूटिंग एजेंसी है, जो भी इसके संबंध में निर्णय लेंगे, इसको अध्ययन करेंगे और उपयुक्त निर्णय आगे लेंगे। इस बीच, भाजपा नेता सुब्रमण्‍यम स्‍वामी ने कहा कि सरकार को तुरंत इस मामले में उच्‍च न्‍यायालय में अपील दायर करनी चाहिए, ताकि सच्‍चाई सामने आ सके।फैसले के बाद अन्ना हजारे ने कहा कि सरकार के पास पुख्ता सबूत हैं तो उन्हें मामले को हाई कोर्ट 
 ले जाना चाहिए।वित्‍त मंत्री अरूण जेटली ने कहा है कि कांग्रेस को टू जी स्‍पेक्‍ट्रम मामले पर आए फैसले को बढ़चढा कर प्रस्‍तुत नहीं करना चाहिए। उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस की शून्‍य हानि की कहानी गलत साबित हुई, जब 2012 में स्‍पेक्‍ट्रम आबंटन को उच्‍चतम न्‍यायालय ने रद्द कर दिया।  ये तो नीति ऐसी थी जिससे भ्रष्‍टाचार बढता था वो रद्द की गई और स्‍वाभाविक था कि उससे नुकसान भी हो रहा था। ये तो सुप्रीम कोर्ट का फैसला सीएजी रिपोर्ट के बाद उसको साबित कर चुका था। अब इसके लिए क्रि‍मिनल लॉ में कौन दोषी है तो आज का फैसला यह है कि कोई दोषी नहीं है। श्री जेटली ने कहा कि जांच एजेंसियां टू जी मामले पर आए फैसले  का बारीकी से अध्‍ययन करेंगी और आगे की कार्य योजना तैयार करेंगी। श्री जेटली ने कहा कि कांग्रेस ने 2001 में निर्धारित कीमतों पर 2008 में स्‍पेक्‍ट्रम का आबंटन किया और यह पूरी प्रक्रिया मनमाने ढंग से चली, जिससे सरकारी खजाने को भारी नुकसान हुआ। 
 

टू-जी घोटाला मामले में CBI  विशेष अदालत के फैसले को चुनौती देंगे: CBI और ED
सी बी आई, टू जी घोटाला मामले में आरोपियों को बरी किए जाने के खिलाफ अपील करेगी। सी बी आई ने कहा कि विशेष अदालत के फैसले की प्रथमदृष्टया जांच करने पर ऐसा प्रतीत होता है कि आरोपों के पक्ष में अभियोजन पक्ष की ओर से दिए गए साक्ष्यों पर अदालत ने उचित विचार नहीं किया। सी बी आई ने एक बयान में कहा कि इस मामले में आवश्‍यक कानूनी कदम उठाए जाएंगे। इस बीच, प्रवर्तन निदेशालय ने भी धन-शोधन मामले में 19 आरोपियों को बरी किए जाने के विशेष अदालत के फैसले के खिलाफ अपील करने का फैसला किया है।
 

राज्‍यसभा की कार्यवाही विपक्ष के हंगामे के कारण गुरुवार को दो बजे तक  स्‍थगित
राज्‍यसभा की कार्यवाही विपक्ष के हंगामे के कारण आज दोपहर बाद दो बजे तक के लिए स्‍थगित कर दी गई। विपक्ष पूर्व प्रधानमंत्री डॉक्‍टर मनमोहन सिंह के खिलाफ प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी द्वारा की गई टिप्‍पणियों की सफाई की मांग पर अड़ा हुआ है। सदन की बैठक शुरू होते ही कांग्रेसी सदस्‍य सदन के बीचोबीच आकर श्री मोदी के खिलाफ नारे लगाने लगे। विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि समूचा विपक्ष इस बात की प्रतिक्षा कर रहा है प्रधानमंत्री सदन में आकर डॉक्‍टर सिंह के खिलाफ की गई अपनी टिप्‍पणियों की सफाई दें। सभापति एम वेंकैया नायडू ने कहा कि वे उत्‍तेजित सदस्‍यों के व्‍यवहार की निंदा करते हैं। उन्‍होंने कहा कि न तो प्रधानमंत्री और न ही पूर्व प्रधानमंत्री के खिलाफ आरोप लगाये जाने चाहिए। उधर, लोकसभा में भी इसी मुद्दे पर कांग्रेस सदस्‍यों ने आज शून्‍यकाल के दौरान बहिर्गमन किया।


तमिलनाडु की आर के नगर विधानसभा सीट के उपचुनाव में रिकार्ड 77 प्रतिशत  मतदान
चार राज्यों के पांच विधानसभा क्षेत्रों में गुरुवार को हुआ उप-चुनाव शांतिपूर्ण रहा। अरुणाचल प्रदेश की दो, तमिलनाडु, उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल की एक-एक सीट के लिए मतदान आज संपन्न हुआ। मतदान के लिए वीवी-पैट वाले ई वी एम का इस्तेमाल किया गया। मतों की गिनती रविवार को की जाएगी और परिणाम उसी दिन घोषित किए जाने की संभावना है। आज जिन क्षेत्रों के लिए उप-चुनाव हुए, उनमें चेन्नई की राधाकृष्णन नगर सीट शामिल है, जहां का नेतृत्व राज्य की पूर्व मुख्यमंत्री जयललिता करती थीं।तमिलनाडु की आर के नगर विधानसभा सीट के उपचुनाव में रिकार्ड 77 प्रतिशत से अधिक मतदानहुआ।
 

लोकसभा ने पूरक अनुदान मांगों और विनियोग विधेयक-2017 को मंजूरी दी
लोकसभा में गुरुवार को भोजनावकाश के बाद 2017-18 के लिए सरकार ने विभिन्‍न मदों के तहत 66 हजार 113 करोड़ रुपये के अतिरिक्‍त खर्च का प्रस्‍ताव किया है। चर्चा की शुरूआत करते हुए कांग्रेस के वीरप्‍पा मोइली ने आरोप लगाया कि देश की आर्थिक स्थिति खराब है और सरकार को इसे बेहतर बनाने के लिए कदम उठाने चाहिए। भारतीय जनता पार्टी के रमेश पोखरियाल निशंक ने कांग्रेस के इन आरोपों का खण्‍डन करते हुए कहा कि भारत की अर्थव्‍यवस्‍था तेजी से सही दिशा में बढ़ रही है। वित्‍त मंत्री अरूण जेटली ने आज लोकसभा को भरोसा दिलाया कि सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों में जमा लोगों का पैसा सुरक्षित है और इस संबंध में कोई डर की जरूरत नहीं है। अनुपूरक मांगों पर बहस का जवाब देते हुए श्री जेटली ने कहा कि प्रस्‍तावित वित्‍तीय संकल्‍प और जमा सुरक्षा विधेयक में लोगों की जमा राशि की सुरक्षा की मौजूदा के मुकाबले और अधिक व्‍यवस्‍था है। बाद में सदन ने अनुपूरक मांगों और विनियोग विधेयक 2017 को पारित कर दिया। 
 

साहित्‍य अकादमी के वर्ष 2017 के लिए पुरस्‍कारों की घोषणा

ममंग दायी को अंग्रेजी उपन्‍यास ब्‍लैक हिल के लिए और हिंदी में रमेश कुंतल मेघ को विश्‍व मि‍थक सरित सागर के लिए पुरस्‍कार। साहित्‍य अकादमी ने वर्ष 2017 के लिए पुरस्‍कारों की आज घोषणा कर दी। चौबीस भाषाओं के लिए दिए जाने वाले इन पुरस्‍कारों में सात उपन्‍यास, कविता और लघु कथाओं के पांच-पांच संग्रह, पांच साहित्यिक आलोचनाएं, एक नाटक और एक निबंध पुस्‍तक को पुरस्‍कार के लिए चुना गया। उर्दू में साहित्‍य अकादमी पुरस्‍कार बेग एहसास की कहानी संग्रह दखमा को प्रदान किया जाएगा। असमिया में जयंत माधव बरा के उपन्‍यास मरियाहोला, बंगला में आफसार आमेद के उपन्‍यास सेइ निखोंज मानुषटा और तमिल में स्‍वर्गीय इंकलाब की कविता कानधल नाटककल को प्रदान किया जाएगा। ओडिया कहानी संग्रह इटाभाटिर शिल्‍पी के लिए गायत्री सराफ और संस्‍कृत उपन्‍यास गंगापुत्रावदानम्म के लिए निरंजन मिश्र को पुरस्‍कार दिया जाएगा। अकादमी ने वार्षिक अनुवाद पुरस्‍कारों की भी घोषणा की है। साहित्‍य अकादमी पुरस्‍कारों का वितरण अगले साल 12 फरवरी को वार्षिक साहित्‍य उत्‍सव के दौरान किया जाएगा।
 

बिहार में चीनी मिल का बॉयलर फटने से 5 मरे, सात गंभीर रूप से घायल
बिहार में गोपालगंज जिले के सासामूसा में चीनी मिल का बॉयलर फटने से पांच की मौत और सात गंभीर रूप से घायल। मिल का मालिक गिरफ्तार। बिहार में गोपालगंज जिले के सासामूसा में एक चीनी मिल में बॉयलर फटने से हुई दुर्घटना में दो और लोगों की मृत्‍यु हो जाने से मृतकों की संख्‍या बढ़कर पांच हो गई है। प्रभारी जिला अधिकारी दयाशंकर मिश्रा ने बताया कि सात गंभीर रूप से घायलों का पटना मेडिकल कॉलेज और अस्‍पताल - पी एम सी एच में इलाज चल रहा है। उन्‍होंने बताया कि दुर्घटना स्‍थल की जिला और पुलिस अधिकारियों की तलाशी के बाद मिल परिसर में किसी के दबे होने की आशंका नहीं है। हमारे संवाददाता ने बताया है कि यह हादसा बुधवार को रात साढ़े 12 बजे बॉयलर के अधिक गर्म हो जाने की वजह से हुआ था। उस समय वहां 25 मजदूर मौजूद थे। स्थानीय लोगों और कामगारों ने आरोप लगाया कि चीनी मील के उपकरण जर्जर हो चुके थे। जिसके कारण बुधवार को रात इतना बड़ा हादसा हो गया। हादसे के बाद मजदूरों के परिजनों का आक्रोश फूट पड़ा। उन्होंने गुरुवार को फैक्ट्री परिसर में तोड़-फोड़ की और कई वाहनों को आग के हवाले कर दिया। मृतकों के परिजन आश्रितों को बीस-बीस लाख रुपये का मुआवजा और सरकारी नौकरी देने की मांग कर रहे थे। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने घटना के उच्च स्तरीय जांच के आदेश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने स्थानीय प्रशासन को मृतकों के निकट आश्रितों को चार-चार लाख रुपये की सहायता राशि प्रदान करने और बेहतर इलाज की व्यवस्था करने को कहा है।  मिल मालिक और उसके दोनों पुत्रों को मजदूरों की सुरक्षा और संरक्षा की स्थिति का ध्‍यान न रखने के आरोप में हिरासत में ले लिया है।
 

अमरीका के खिलाफ UNO  का समर्थन करने वाले देशों को ट्रम्प  की धमकी
अमरीका के राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रम्प ने येरूशलम को इस्रायल की राजधानी के रूप में मान्यता देने के फैसले के खिलाफ संयुक्त राष्ट्र प्रस्ताव का समर्थन करने वाले देशों की वित्तीय सहायता रोकने की धमकी दी।    अमरीका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने चेतावनी दी है कि येरूशलम को इस्रायल की राजधानी के रूप में मान्यता देने के फैसले के खिलाफ संयुक्त राष्ट्र प्रस्ताव का समर्थन करने वाले देशों की वित्तीय सहायता रोक देंगे। व्हाइट हाउस में श्री ट्रम्प ने कहा कि कई देश लाखों-करोड़ों डॉलर अमरीका से लेते हैं और वे अमरीका के खिलाफ मतदान की बात करते हैं। श्री ट्रम्प की ये प्रतिक्रिया संयुक्त राष्ट्र महासभा में गुरुवार को येरूशलम को इस्राइल की राजधानी के रूप में मान्यता देने के मुद्दे पर मसौदा प्रस्ताव पर मतदान से पहले आई है। संयुक्‍त राष्‍ट्र महासभा में आज उस प्रस्‍ताव पर मतदान किया जाना है, जिसमें राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रम्‍प से आग्रह किया गया है कि वे येरूशलम को इस्राइल की राजधानी की मान्‍यता दिए जाने के अपने फैसले को वापस ले लें।अमरीका के राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रम्प ने धमकी दी है कि येरूशलम को इस्रायल की राजधानी के रूप में मान्यता देने के फैसले के खिलाफ संयुक्त राष्ट्र प्रस्ताव का समर्थन करने वाले देशों की वित्तीय सहायता रोक दी जाएगी। श्री ट्रंप ने व्हाइट हाउस में कहा कि कई देश लाखों-करोड़ों डॉलर अमरीका से लेते हैं और वे अमरीका के खिलाफ मतदान की बात करते हैं। श्री ट्रम्प की ये प्रतिक्रिया संयुक्त राष्ट्र महासभा में येरूशलम को इस्राइल की राजधानी के रूप में मान्यता देने के मुद्दे पर मसौदा प्रस्ताव पर मतदान से पहले आई है।
 

रिजर्व बैंक ₹ 2000 का नोट सर्कुलेशन से बाहर करने की तैयारी में
स्टेट बैंक की इकोफ्लैश रिपोर्ट के अनुसार, ₹ 2000 का नोट शायद सर्कुलेशन से बाहर हो जाएगा।  ₹ 2000 का गुलाबी नोट क्या सर्कुलेशन से बाहर हो जाएगा? यह सवाल काफी दिनों से सोशल मीडिया में चर्चा का विषय बना हुआ है। लेकिन बुधवार को सरकारी बैंक एसबीआई यानी स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने ऐसा संकेत दिया जिससे लगता है कि जल्द ही गुलाबी रंग का ₹ 2000 का नोट बंद हो जाएगा।बुधवार को सामने आई एसबीआई की एक रिसर्च रिपोर्ट में कहा गया है कि रिजर्व बैंक ₹ 2000 के नोटों को अपने पास रोक सकता है या इस हाई डिनोमिनेशन करंसी यानी उच्च मूल्य वाले नोट की छपाई पर रोक लगा सकता है।एसबीआई इकोफ्लैश रिपोर्ट में कहा गया कि, "हमारा आंकलन है कि मार्च 2017 तक छोटे डिनोमिनेशन करंसी यानी कम मूल्य वाले 3,501 अरब रुपए सर्कुलेशन में थे। इससे पता चलता है कि छोटे डिनोमिनेशन वाले नोटों को अलग कर दें तो 8 दिसंबर तक हाई डिनोमिनेशन वाले नोटों का मूल्य 13,324 अरब रुपए था। वित्त मंत्रालय के लोकसभा में दिए गए प्रेजेंटेशन के मुताबिक 8 दिसंबर तक आरबीआई ने 500 रुपए के 1,695.7 करोड़ नोट और ₹ 2000 के 365.4 करोड़ नोट छापे थे। इन नोटों का कुल मूल्य 15,787 अरब रुपए होता है।"स्टेट बैंक के ग्रुप चीफ इकोनॉमिक एडवाइजर सौम्य कांति घोष ने रिपोर्ट में कहा कि, "इसका मतलब है कि हो सकता है रिजर्व बैंक ने हाई करंसी नोट्स (15,787 अरब रुपए-13,324 अरब रुपए) के बाकी 2,463 अरब रुपए छापे तो हों, लेकिन मार्केट में उनकी सप्लाई नहीं की गई हो।"दिलचस्प तौर पर रिपोर्ट में कहा गया, "यह मान लेना ठीक है कि 2,463 अरब रुपए मूल्य के नोट कम से कम हो सकते हैं, क्योंकि रिजर्व बैंक ने छोटे डिनोमिनेशन (यानी 50 और 200 रुपए) के नोट भी छापे हैं।"एसबीआई की इकोफ्लैश में कहा गया है कि, "तार्किक नजरिए से देखें तो ₹ 2000 के नोट से ट्रांजैक्शंस मुश्किल होता है, इसलिए ऐसा लगता है कि आरबीआई ने जानबूझकर ₹ 2000 के नोट की प्रिंटिंग को रोक दिया है या हालात सामान्य बनाने के लिए शुरुआत में पर्याप्त मात्रा में प्रिंटिंग के बाद अब कम संख्या में इनकी प्रिंटिंग की जा रही है। इसका यह भी मतलब है कि सर्कुलेशन में मौजूद कुल करंसी में छोटी करंसी के नोटों का शेयर वैल्यू टर्म में 35 फीसदी तक पहुंच सकता है। "मोदी सरकार ने पिछले साल 8 नवंबर को ₹500 और ₹1000 के नोटों को बंद करने का एलान किया था। इन नोटों का मूल्य कुल सर्कुलेशन करेंसी में 86-87 फीसदी हिस्सेदारी थी। इस फैसले से पूरे देश में नकदी की किल्लत हो गई थी, और नोट बदलवाने या उन्हें बैंक में जमा कराने के लिए बैंकों के बाहर लंबी-लंबी कतारें लग गई थीं। 

 

नये उपभोक्ता संरक्षण विधेयक को केंद्रीय मंत्रिमंडल की मंज़ूरी 
केंद्रीय मंत्रिमंडल ने नये उपभोक्ता संरक्षण विधेयक को मंज़ूरी दी, विधेयक में उपभोक्ताओं के अधिकारों के संरक्षण के लिये प्राधिकरण गठित करने का प्रस्ताव। मिलावट के मामलों और कम्पनियों के भ्रामक विज्ञापनों के लिये जुर्माने और कारावास का प्रावधान। केंद्रीय मंत्रिमंडल ने नये उपभोक्ता संरक्षण विधेयक को मंजूरी दे दी है। इसमें उपभोक्ताओं के अधिकारों को सुरक्षित रखने के लिए एक प्राधिकरण बनाने का प्रस्ताव किया गया है। नये विधेयक में मिलावट के मामलों और कंपनियों के भ्रामक विज्ञापनों के लिए जुर्माना लगाने के साथ कारावास की सजा का प्रावधान किया गया है। समाचार एजेंसी पीटीआई ने सूत्रों के हवाले से खबर दी है कि नये विधेयक में गुमराह करने वाले विज्ञापनों में शामिल जानी-मानी हस्तियों पर भी जुर्माना और तीन साल तक प्रतिबंध लगाने की यह व्यवस्था की गई है। मंत्रिमंडल ने बुधवार को उपभोक्ता संरक्षण विधेयक 2017 पेश करने को मंजूरी दे दी। इसके पेश होने के बाद 2015 में लाया गया विधेयक वापस ले लिया जायेगा। केंद्र ने तीस वर्ष पुराना उपभोक्ता संरक्षण विधेयक 1986 रद्द करने के लिए अगस्त 2015 में लोकसभा में उपभोक्ता संरक्षण विधेयक पेश किया था।  
 

चक्रवाती तूफान ओखी के दौरान कोच्चि के निकट समुद्र में फंसे 34 मछुआरों का पता चला
चक्रवाती तूफान ओखी के दौरान कोच्चि के निकट गहरे समुद्र में फंसे 34 मछुआरों का पता लगा लिया गया है। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि खोज और बचाव दल ने उन्हें ढूंढ़ लिया था और अब मछुआरों को तट पर लाने का प्रयास किया जा रहा है। कोच्चि तट से समुद्र में मछली पकड़ने गए मछुआरे चक्रवात ओखी में फंस गए थे। इस महीने के शुरू में आए ओखी चक्रवात से केरल, तमिलनाडु के तटीय इलाके और लक्षद्वीप बुरी तरह प्रभावित हुए थे। ज्ञातव्य है,प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने मंगलवार को केरल, तमिलनाडु और लक्षद्वीप का दौरा किया। उन्‍होंने लापता मछुआरों की तलाश और चक्रवात पीड़ितों की मदद के लिए केन्‍द्र से हर संभव सहायता का आश्‍वासन दिया था।
 

पाकिस्तान ने रोहिंज्या आतंकवादी गुटों से मिलकर बांग्लादेश के खिलाफ साजिश  रची 
बांग्लादेश ने पाकिस्तान पर रोहिंज्या आतंकवादी गुटों के साथ मिलकर बांग्लादेश के खिलाफ साजिश रचने का आरोप लगाया। बांग्लादेश के मंत्री ओबैदुल कादर ने कहा है कि पाकिस्तान रोहिंज्या आतंकवादी गुटों के साथ बंगलादेश के खिलाफ षड्यंत्र रच रहा है। कोलकाता में उन्होंने कहा कि पाकिस्तान, बंगलादेश को परेशान करने का कोई मौका चूकता नहीं है। श्री कादर ने बंगलादेश मुक्ति संग्राम के युद्ध अपराधियों का समर्थन करने के लिए पाकिस्तान की आलोचना की है।  श्री कादर ने अंतरराष्ट्रीय समुदाय से रोहिंज्या मामले में हस्तक्षेप करने और म्यामां छोड़कर बाहर जाने वालों की समस्या के हल के लिए म्यामां पर दबाव बनाने की अपील की।
 

अंतर्राष्ट्रीय निकाय, संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की विफलता, स्वतः स्पष्ट हैं:भारत
भारत ने कहा है कि संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में उचित प्रतिनिधित्व न होने से वह विश्व की मौजूदा चुनौतियों से प्रभावी तरीके से निपट नहीं पा रहा है। संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी प्रतिनिधि सैय्यद अकबरुद्दीन ने 15 सदस्यों की सुरक्षा परिषद का विस्तार करने की आवश्यकता पर जोर दिया। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की विशेष बैठक में भारत ने कहा कि वर्तमान जटिल चुनौतियों से निपटने में सात दशक पहले गठित इस अंतर्राष्ट्रीय निकाय की विफलता के कारण, स्वतः स्पष्ट हैं। एक अरब 25 करोड़ की जनसंख्या वाला भारत संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का स्थायी सदस्य नहीं है। सुरक्षा परिषद के पांच स्थायी सदस्यों में चार सदस्य देशों - अमरीका, ब्रिटेन, फ्रांस और रूस ने भारत की स्थायी सदस्यता के प्रयासों का समर्थन किया है, लेकिन एक सदस्‍य देश चीन इसका विरोध कर रहा है। सैयद अकबरूद्दीन ने संयुक्‍त राष्‍ट्र में सुधारों की आवश्‍यकता पर भी ज़ोर दिया।
 

महाराष्ट्र में दुकानें, होटल और मॉल अब हफ्ते में चौबीसों घंटे खुले रहेंगे 
महाराष्ट्र के श्रम मंत्री संभाजी नीलांगेकर पाटिल के अनुसार, महाराष्ट्र में दुकानें, होटल और मॉल अब हफ्ते में चौबीसों घंटे खुले रह सकते हैं लेकिन शराब की दुकानों और डिस्को पर यह कानून लागू नहीं होगा। महाराष्‍ट्र के नए कानून के अनुसार भीड़ वाले या सार्वजनिक स्‍थानों पर दुकानों, मॉल और होटलों को 24 घंटे खुला रखा जा सकता है। यह विधेयक पिछले सत्र के दौरान महाराष्‍ट्र विधायिका द्वारा पारित कर दिया गया था। संशोधित कानून में कहा गया है कि छोटे प्रतिष्‍ठानों को चलाने के लिए लाइसेंस की आवश्‍यकता नहीं होगी, लेकिन संबंधित प्राधिकरण से ऑनलाइन पंजीकरण करना अनिवार्य होगा। यह छोटे और मध्‍यम आकार के प्रतिष्‍ठानों को छूट देता है, जिनके पास दस से कम श्रमिक या घर से काम करने वाले कर्मचारी हैं। 
 

गंगा को गंदा करने वालों में बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि भी शामिल: सीएजी  की रिपोर्
सीएजी की ताजा रिपोर्ट के अनुसार, बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि भी उन कंपनियों में शामिल है जो गंगा नदी को प्रदूषित कर रही हैं।  भारत के नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (सीएजी) की ताजा रिपोर्ट से यह बात सामने आई है कि बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि गंगा नदी को प्रदूषित कर रही है। पतंजलि उन कंपनियों की लिस्ट में शामिल है जो गंगा को प्रदूषित कर रही हैं। मोदी सरकार की महत्वकांक्षी परियोजना नमामि गंगे को लेकर एक विस्तृत रिपोर्ट 19 दिसंबर को संसद के दोनों सदनों में पेश की गई। रिपोर्ट में कई चौंकाने वाली बातें सामने आई हैं। सीएजी के मुताबिक गंगा नदी को प्रदूषित करने वाली हरिद्वार की जिन 9 कंपियों को बंद किया गया था, उनमें से 7 कंपनियां अभी भी चल रही हैं। यही नहीं हरिद्वार के पांच आश्रमों को बंद करने की चेतावनी मिलने के बाद वहां सेप्टिक टैंकों की व्यवस्था की गई, ताकी गंदा पानी गंगा में ना पहुंचे। कैग रिपोर्ट में यह भी सामने आया है कि सरकार द्वारा गंगा की सफाई के लिए नमामि गंगे परियोजना को आवंटित 2600 करोड़ रुपये को खर्च ही नहीं किया गया। सीएजी की ताजा रिपोर्ट के अनुसार, नहीं इस्तेमाल किए 2600 करोड़ रुपये।रिपोर्ट में यह बात भी सामने आई है कि 180 दोषी उद्योगों में से 42 उद्योगों ने नोटिस के बावजूद अनुपालन प्रस्तुत नहीं किया और ना ही निरीक्षण के लिए यूईपीपीसीबी से संपर्क किया।

 

राजस्थान सरकार में मंत्री के बेटों पर अलवर में एक युवक का अपहरण कर पिटाई करने का आरोप
राजस्थान सरकार में सामान्य प्रशासन मंत्री हेमसिंह भड़ाना के बेटों और उनके साथियों पर अलवर में युवक का अपहरण कर उसकी बेरहमी से पिटाई करने का आरोप लगा है। मारपीट में घायल युवक को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पूरा मामला 19 दिसंबर का है। पीड़ित के मुताबिक शाम करीब चार बजे वह शिवाजी पार्क के ब्लॉक-3 में अपने किराए के कमरे में था। इसी दौरान मंत्री हेमसिंह भड़ाना के दोनों बेटे हितेश सिंह, सुरेंद्र सिंह और उनके कई साथी कमरे पर पहुंचे और बंदूक के बल पर उसका अपहरण कर लिया। अपहरण के बाद उसे वीर सावरकर नगर में अपने घर ले गए और उसके साथ मारपीट की। मारपीट में युवक को हाथ, पैर और सिर में गंभीर चोटें आईं हैं। बताया जा रहा है कि युवक से मारपीट से एक दिन पहले यानी 18 दिसंबर को मंत्री हेमसिंह भड़ाना को उनके घर के बाहर आए कार सवार कुछ अज्ञात लोगों ने गालियां दी थीं। इसके बाद वे फरार हो गए थे। पीड़ित युवक के पिता के मुताबिक, जिस समय अज्ञात लोगों ने मंत्री हेमसिंह भड़ाना को गालियां दीं, उस वक्त उनका बेटा वहां खड़ा था। उनका कहना है कि मंत्री को गाली देने के आरोप में ही उनके बेटे की बुरी तरह से पिटाई की गई है, जबकि गाली देने वालों से उनके बेटे का कोई लेना-देना नहीं था।
मंत्री हेमसिंह भड़ाना ने अपने बेटों पर लगे अपहरण और मारपीट के आरोप को लेकर सफाई दी है। उन्होंने कहा, मेरे बेटों पर जो भी आरोप लगाए गए हैं वे गलत हैं। उधर पूरे मामले में एसपी राहुल प्रकाश ने बताया कि केस दर्ज कर मामले की जांच की जा रही है


समाचार संक्षेप में 
>  
 बाम्बे स्टॉक एक्सचेंज का सेंसेक्स आज 21 अंक घटकर 33 हजार 756 पर बंद हुआ। उधर, नेशनल स्टाक एक्सचेंज का निफ्टी 4 अंक कम होकर 10 हजार 440 पर आ गया। अंतर बैंकिंग विदेशी मुद्रा बाजार में एक डॉलर की तुलना में रूपया पांच पैसे मजबूत होकर 64 रूपये छह पैसे के स्‍तर पर पहुंच गया। दिल्‍ली सर्राफा बाजार में ‍सोने का मूल्‍य दस रूपये बढ़कर 29 हजार सात सौ रूपये प्रति दस ग्राम हो गया।

>   
विदेश मंत्रालय ने कहा है कि कुलभूषण जाधव से मिलने के लिए पाकिस्‍तान जाने की उनकी मां और पत्‍नी की यात्रा की व्‍यवस्‍था की जा रही है। मंत्रालय के प्रवक्‍ता रवीश कुमार ने नई दिल्‍ली में बताया कि दोनों देश इस मुलाकात के तौर-तरीकों को अंतिम रूप दे रहे हैं। पाकिस्‍तान के भारत के साथ संबंधों को सामान्‍य करने के सिलसिले में वहां के सेना प्रमुख क़मर जावेद बाजवा की कथित टिप्‍पणी के बारे में प्रवक्‍ता ने कहा कि पाकिस्‍तान को यह समझ लेना चाहिए कि भारत के साथ मैत्रीपूर्ण संबंध रखना उसके लिए महत्‍वपूर्ण है।

>    
मालदीव के बारे में मंत्रालय के प्रवक्‍ता रवीश कुमार ने  कहा कि भारत इस देश के साथ द्विपक्षीय संबंधों को बहुत महत्‍व देता है। उन्‍होंने कहा कि भारत ने इस विचार से मालदीव को अवगत करा दिया है कि उसे भारतीय चिन्‍ताओं के प्रति संवेदनशील होना चाहिए। भारत और मालदीव के बीच गहरे सम्‍बन्‍ध हैं। हमने सुरक्षा के हितों के लिए विचार साझा किए हैं। दोनों देशों के बीच कई परियोजनाएं चल रही हैं। जिनमें एकरूपता झलकती है।

>  
 प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने आज के पी शर्मा ओली और पुष्‍पकमल दहल प्रचंड सहित नेपाल के शीर्ष नेताओं से टेलीफोन पर बातचीत की। विदेश मंत्रालय के प्रवक्‍ता रवीश कुमार ने कहा है कि श्री मोदी ने प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउबा से भी टेलीफोन पर बातचीत की थी।

>   सरकार ने चना और मसूर के आयात पर तत्‍काल प्रभाव से 30 प्रतिशत आयात शुल्‍क लागू करने का निर्णय लिया है। वित्‍त मंत्रालय ने कहा है कि आगामी रबी के मौसम के दौरान चने और मसूर के उत्‍पादन में बढ़ोतरी की संभवना है और अगर इनके सस्‍ते आयात पर नियंत्रण नहीं किया गया तो इससे किसानों के हित प्रभावित होंगे। फिलहाल तुअर यानी अरहर पर दस प्रतिशत आयात शुल्‍क लगा हुआ है। इसके अलावा सरकार ने हाल ही में पीली मटर पर 50 प्रतिशत आयात शुल्‍क लागू कर दिया है। अन्‍य दालों पर कोई आयात शुल्‍क नहीं है।

>  
 केन्‍द्रीय कृषि एवं किसान कल्‍याण मंत्री राधा मोहन सिंह ने कहा कि लागत घटाने और उपज का उचित मूल्य दिलाना सरकार की प्राथमिकता है। खेती और किसानों की दशा में सुधार के लिए केन्‍द्र सरकार कृषि क्षेत्र की समस्याओं को व्यापक रूप में देख रही है। किसानों की आमदनी को दोगुना करने के लिए सरकार ने हर संभव प्रयास शुरु किए हैं।   आमदनी बढानी है तो नई टेक्‍नोलजी, नई प्रकार की खेती, इंटर क्रोपिंग, इंटिग्रेटिंग फार्मिंग और अनाज के अलावा दूसरे क्षेत्र में भी बागवानी, पेड इस सब दिशा में जाना चाहिए और तब जा कर आमदनी बढेगी सिर्फ अनाज उपजाने से किसान की आमदनी नहीं बढनी है।

 खबरी दुनिया 
*   गुरुवार को प्रकाशित सभी अखबारों ने किशोर न्‍याय बोर्ड के इस फैसले को ऐतिहासिक बताते हुए सुर्खियों में दिया है कि - प्रद्युम्‍न हत्‍याकांड के आरोपी पर चलेगा बालिगों की तरह मुकदमा। दैनिक भास्‍कर ने लिखा है - अपराध जघन्‍य, मानसिकता बर्बर, इसे बालिग मानकर केस चलेगा। 

*   हिन्‍दुस्‍तान ने फैसलों का दिन शीर्षक से लिखा है - बहुचर्चित टीवी शो के एंकर इलियासी को पत्‍नी की हत्‍या मामले में 17 साल बाद आए फैसले में उम्र कैद की सज़ा।

*   अखबारों ने दिल्‍ली के मैक्‍स अस्‍पताल का लाइसेंस रद्द करने के दिल्‍ली सरकार के फैसले पर रोक लगाते हुए अपीलीय प्राधिकरण द्वारा रोक लगाने की खबर भी लगभग सभी अखबारों के मुख पृष्‍ठ पर है।

*   कुछ अखबारों ने संसद की कार्यवाही में आ रहे गतिरोध को मुख पृष्‍ठ पर दिया है। राजस्‍थान पत्रिका ने लिखा है - हठयोग में जकड़ी संसद।

*   इकनोमिक टाइम्‍स ने खाद्य मंत्री रामविलास पासवान के इस आश्‍वासन को अहमियत दी है कि राज्‍यों के साथ मिलकर सरकार ज्‍यादा खरीद केन्‍द्र खोल रही है ताकि किसानों को न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य मिलना पक्‍का हो सके।

*   हिन्‍दुस्‍तान और दैनिक भास्‍कर ने पहले पन्‍ने पर आयकर विभाग की रिपोर्ट के आधार पर विस्‍तार से आलेख दिया है - 2014-15 की तुलना में 15-16 में देश में करोड़पतियों की संख्‍या 23 दशमलव पांच प्रतिशत बढ़ी लेकिन उनकी कुल आय में 25 प्रतिशत तक की कमी हुई।

*   रक्षा मंत्रालय के भारतीय वायुसेना के लिए 83 हल्‍के लड़ाकू तेजस विमान की खरीद का प्रस्‍ताव जारी करने की खबर भी कुछ अखबारों में है।
 

राजस्थान समाचार विशेष 

राजविकास की सातवीं बैठक मे मुख्यमंत्री ने कहा सिस्टम की रि-इंजीनियरिंग से बढ़ी विकास की रफ्तार
जयपुर,    
मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे ने महत्वपूर्ण विकास परियोजनाओं की नियमित मॉनीटरिंग के लिए शुरू किए गए नवाचार राजविकास के सकारात्मक परिणामों पर खुशी व्यक्त करते हुए कहा कि विकास की यह रफ्तार यूं ही बनी रहे, ताकि हम सब मिलकर राजस्थान को विकास का मॉडल स्टेट बना सकें।  श्रीमती राजे गुरूवार को मुख्यमंत्री कार्यालय में राजविकास की सातवीं बैठक में पिछली बैठकों में दिए गए निर्देशों की क्रियान्विति की समीक्षा कर रही थीं। उन्होंने कहा कि हम विकास की गति बढ़ाने के लिए सिस्टम की रि-इंजीनियरिंग कर रहे हैं। हमारा प्रयास है कि नियमों और प्रक्रियाओं का सरलीकरण हो तथा जनहित में त्वरित निर्णय लेकर विकास परियोजनाओं में लगने वाले समय और लागत में कमी लाएं। उन्होंने कहा कि परियोजनाएं समय पर पूरी होंगी तो इनका फायदा आमजन को मिलेगा और राजस्थान देश में एक तेजी से बदलते राज्य के रूप में अपनी पहचान बनाए रख सकेगा।  श्रीमती राजे ने राजस्थान को मार्च-2018 तक खुले में शौच से मुक्त बनाने के लक्ष्य की समीक्षा करते हुए कहा कि हमारे शहर देश के टॉप-50 स्वच्छ शहरों में स्थान बनाएं। साथ ही प्रमुख शहर टॉप-10 में भी शामिल हों। इसके लिए जनवरी माह में शुरू होने वाले स्वच्छता सर्वेक्षण के सभी मापदंड पूरे करें और जनप्रतिनिधियों तथा आमजन को इस मुहिम से जोड़ें। उन्होंने कहा कि शहर की स्वच्छता रैंकिंग को वहां के लोगों के लिए गौरव का विषय बनाएं।  मुख्यमंत्री ने विभिन्न जिला कलक्टरों से स्वच्छ भारत अभियान की प्रगति की जानकारी ली और कहा कि शौचालय निर्माण के काम में तेजी लाकर अपने-अपने जिले को शीघ्र ओडीएफ बनाएं। उन्होंने प्रमुख शासन सचिव स्वायत्त शासन डॉ. मंजीत सिंह तथा शासन सचिव पंचायतीराज श्री नवीन महाजन को निर्देश दिए कि जिन जिलों में अभियान में और तेजी लाने की आवश्यकता है वहां स्पेशल सैल गठित करें और मानव संसाधन बढ़ाएं।  श्रीमती राजे ने निर्देश दिए कि प्रदेश के विभिन्न नगरीय क्षेत्रों में संचालित अन्नपूर्णा रसोई वैन को ऎसे स्थान पर खड़ा किया जाए जहां ज्यादा से ज्यादा लोग इसका लाभ उठा सकें और रसोई में उपलब्ध खाना व्यर्थ न जाए। उन्होंने इस योजना के तहत उपलब्ध कराई जा रही खाद्य सामग्री की नियमित चैकिंग करने के निर्देश भी जिला कलक्टरों को दिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि एनसीआर प्लानिंग बोर्ड द्वारा अलवर सहित एनसीआर क्षेत्र में स्वीकृत किए गए सड़कों के कामों को अविलम्ब शुरू किया जाए। उन्होंने सार्वजनिक निर्माण विभाग के प्रमुख शासन सचिव श्री आलोक को निर्देश दिए कि वे सभी कामों को प्राथमिकता के आधार पर जल्द प्रारंभ कराएं ताकि आमजनता को इनका लाभ मिल सके। उन्होंने अलवर और श्रीगंगानगर में मिनी सचिवालय, विभिन्न जिलों में आवासीय विद्यालयों तथा ग्रिड सब स्टेशनाें के निर्माण सहित अन्य महत्वपूर्ण परियोजनाओं को शीघ्र पूरा करने के निर्देश दिए। श्रीमती राजे ने कोटा जिले के बोराबास-मंडाना वाटर सप्लाई प्रोजेक्ट को अगले साल 30 जून तक पूरा कर इससे संबंधित सभी 60 गांवों में पानी पहुंचाने के निर्देश दिए। उन्होंने चम्बल-भीलवाड़ा पेयजल परियोजना के दूसरे चरण, पोकरण-फलसूंड-बालोतरा लिफ्ट वाटर सप्लाई प्रोजेक्ट, चम्बल-सवाईमाधोपुर-नादौती पेयजल स्कीम सहित अन्य पेयजल परियोजनाओं का काम भी जल्द पूरा करने के निर्देश दिए। इस अवसर पर मुख्य सचिव श्री अशोक जैन, अतिरिक्त मुख्य सचिव वित्त श्री डीबी गुप्ता, प्रमुख शासन सचिव आयोजना श्री अखिल अरोरा सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।


विधानसभा में पूर्व अध्यक्ष श्री गोपाल  सिंह को श्रद्धांजलि दी
जयपुर,   विधानसभा सचिव श्री पृथ्वी राज ने गुरूवार को यहां विधानसभा में पूर्वअध्यक्ष श्री गोपाल सिंह की पुण्यतिथि पर उनके चित्र के समक्ष पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी ।  श्रद्धांजलि कार्यक्रम में विधानसभा के वरिष्ठ उप सचिव श्री हनुमान कुमार सैनी सहित विधानसभा के अधिकारियों एवं कर्मचारियों ने पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी ।


प्रदेश को डेयरी क्षेत्र में अव्वल बनाएं - मुख्यमंत्री
  जयपुर,    मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे ने कहा कि प्रदेश को डेयरी के क्षेत्र में अव्वल बनाने के लिए कार्य योजना तैयार की जाए। इसके लिए पायलट प्रोजेक्ट के आधार पर शीघ्र काम शुरू करें। उन्होंने कहा कि कमजोर मिल्क यूनियनों को आत्मनिर्भर बनाने, नस्ल सुधार तथा प्रदेश में डेयरी विकास के लिए राज्य सरकार पूरा सहयोग करेगी।  श्रीमती राजे बुधवार को मुख्यमंत्री निवास पर डेयरी विभाग की समीक्षा बैठक को संबोधित कर रही थीं। मुख्यमंत्री ने इसके लिए देश की सर्वश्रेष्ठ मिल्क यूनियनों का दौरा कर वहां प्रयोग लाई जा रही कार्य प्रणाली का अध्ययन करने तथा राजस्थान के अनुरूप उसे लागू करने के निर्देश दिए।  मुख्यमंत्री ने कहा कि राजस्थान में सबसे अधिक पशुधन होने के कारण डेयरी विकास की अपार संभावनाएं मौजूद हैं। इस क्षेत्र में हम बेहतर तकनीक और मार्केटिंग के माध्यम से डेयरी उत्पादन को कई गुना बढ़़ा सकते हैं। इससे हमारे पशुपालक और किसान भाइयों की आय में काफी वृद्धि होगी। उन्होंने कहा कि डेयरी विकास प्रदेश के किसानों के लिए गेम चेंजर साबित हो सकता है।  बैठक के दौरान श्रीमती राजे ने प्रदेश की विभिन्न मिल्क यूनियनों के जरिए हो रहे दुग्ध संकलन, प्रोक्योरमेंट, दुग्ध उत्पादों के विपणन सहित अन्य कार्यों की गहन समीक्षा की। उन्होंने कहा कि डेयरी प्रदेश की अर्थव्यवस्था के लिए एक महत्वपूर्ण क्षेत्र है। सरकार इसे प्रोत्साहित करने के लिए कोई कसर नहीं छोडेगी।  इस अवसर पर सहकारिता एवं गोपालन मंत्री श्री अजय सिंह किलक, प्रमुख शासन सचिव कृषि श्रीमती नीलकमल दरबारी, प्रमुख शासन सचिव सहकारिता श्री अभय कुमार, शासन सचिव पशुपालन श्री अजिताभ शर्मा एवं आरसीडीएफ के सीएमडी श्री राजेश यादव सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे। 


प्रदेश के 205 माध्यमिक एवं 26 उच्च प्राथमिक विद्यालय क्रमोन्नत
जयपुर,   मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे के निर्देश पर राज्य सरकार ने 205 माध्यमिक विद्यालयों को उच्च माध्यमिक विद्यालयों तथा 26 उच्च प्राथमिक विद्यालयों को माध्यमिक विद्यालयों में क्रमोन्नत किया है। अलवर जिले के 74, अजमेर जिले के 10, जयपुर जिले के 119 तथा भीलवाड़ा जिले के 2 माध्यमिक विद्यालयों को उच्च माध्यमिक विद्यालयों में क्रमोन्नत किया गया है। इसी प्रकार अलवर जिले के 14 और जयपुर जिले के 12 उच्च प्राथमिक विद्यालयों को माध्यमिक विद्यालयों में क्रमोन्नत किया गया है। 

 

राजस्‍थान में सरकारी डाक्‍टर, गुरुवार को छठे दिन भी हड़ताल पर रहे

आमजन के हितों को देखते हुए चिकित्सकों को काम पर लौटने की सरकार की अपील 
जयपुर,  चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री श्री कालीचरण सराफ ने कहा है कि सेवारत चिकित्सकों एवं रेजीडेन्ट डॉक्टर्स व सरकार के बीच हुए समझौते के अधिकांश बिन्दुओं पर क्रियान्विति कर दी गयी है। शेष कुछ बिन्दुओं पर निर्धारित प्रावधानों के अनुसार कार्यवाही की जा रही है। उन्होंने कहा कि आन्दोलनरत चिकित्सक तत्काल काम पर लौटें। कार्य पर लौटने वाले चिकित्सकों को गिरफ्तार नहीं किया जायेगा।  श्री सराफ ने गुरूवार को स्वास्थ्य भवन में बैठक को सम्बोधित करते हुए यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार एवं राजस्थान सेवारत चिकित्सक संघ के बीच दिनांक 12.11.2017 को हुए समझौते की अधिकांश मांगों को क्रियान्वित कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि डी.ए.सी.पी. एरियर के प्रकरणों का निस्तारण चिकित्सा शिक्षा विभाग में पूर्व अनुमत एक बारीय शिथिलन के अनुरूप करने की मांग पर कार्मिक विकर दिया गया है।भाग द्वारा नोटिफिकेशन जारी  इस कार्य में एक बारीय लगभग 100 करोड़ का वित्तीय भार आयेगा। उन्होंने बताया कि 1 अप्रेल, 2018 से 6, 12, 18 वर्ष पूर्ण होने अर्थात डी. ए. सी. पी. का वित्तीय लाभ डेट ऑफ जोयनिंग के स्थान पर डेट ऑफ एलिजिबिलिट से करने संबंधी नियम में परिवर्तन करने की मांग पर भी कार्मिक विभाग द्वारा नोटिफिकेशन जारी कर दिया गया है। इससे लगभग 8.10 करोड़ प्रतिवर्ष का वित्तीय भार पड़ेगा। उन्होंने बताया कि 18 वर्षीय डी.ए.सी.पी. में 18 प्रतिशत की सीमा से अधिक किसी वर्ष विशेष में यदि पात्र चिकित्सक शेष रह जाते है तो सीमा से अधिक संख्या पर वित्त विभाग द्वारा शिथिलन की मांग पर वित्त विभाग की सहमति दिनांक 30 नवम्बर 2017 को प्राप्त हो गई है।  श्री सराफ ने बताया कि सेवारत चिकित्सक संघ की 10000/- की ग्रेड पे की मांग पदोन्नति के समुचित अवसर प्रदान करने के लिए कैडर रिव्यु के रिवाइज्ड प्रस्ताव अभी संघ से प्राप्त नहीं हुए है। प्रस्ताव प्राप्त होने पर अग्रिम कार्यवाही की जावेगी।  पीडब्यूडी व यातायात मंत्री श्री यूनुस खान ने कहा कि सरकार द्वारा सेवारत चिकित्सकों एवं रेजीडेन्ट डॉक्टर्स की अधिकांश मांगों पर समझौते के अनुसार क्रियान्विति कर दी गयी है। आमजन के हितों को देखते हुए चिकित्सकों को काम पर लौटकर अपने राजकीय दायित्वों का निर्वहन करना चाहिए।  इस अवसर पर शासन सचिव चिकित्सा शिक्षा श्री आनंद कुमार, निदेशक जनस्वास्थ्य डॉ. वी.के माथुर सहित संबंधित अधिकारीगण मौजूद थे। 
 

22 दिसम्बर, 2017 

 

कपड़ा क्षेत्र में तीन वर्ष के लिए एक हजार 300 करोड़ रुपये की नई कौशल विकास योजना को मंजूरी
केन्‍द्रीय मंत्रिमंडल ने कपड़ा क्षेत्र में तीन वर्ष के लिए एक हजार 300 करोड़ रुपये की नई कौशल विकास योजना को मंजूरी दी। मंत्रिमंडल ने अन्‍य पिछड़ा वर्ग के श्रेणी उप वर्गीकरण पर गठित आयोग की अवधि अगले वर्ष दो अप्रैल तक बढ़ाई। मंत्रिमंडल की आर्थिक मामलों की समिति ने कौशल विकास की एक नई योजना को मंजूरी दी है, जिसमें कताई और बुनाई को छोड़कर वस्‍त्र क्षेत्र की तमाम गतिविधियों को शामिल किया गया है। वस्‍त्र क्षेत्र में क्षमता निर्माण नाम की इस योजना के लिए 13 सौ करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है और इसकी अवधि 2019-20 तक होगी। इस योजना का उद्देश्‍य मांग पर आधारित कौशल विकसित करना और रोजगार के अवसर उपलब्‍ध कराना है। 


अचल संपत्ति के अधिग्रहण में संशोधन से संबंधित विधेयक  मंजूर, वन संशोधन विधेयक-2017  भी पारित 
लोकसभा ने बुधवार को अचल संपत्ति के अधिग्रहण के लिए मुआवजे के नियमों में संशोधन से संबंधित विधेयक को मंजूरी दी। लोकसभा ने बुधवार को भारतीय वन संशोधन विधेयक-2017  भी पारित कर दिया। यह विधेयक इस वर्ष 23 नवम्‍बर को राष्‍ट्रपति द्वारा जारी अध्‍यादेश का स्‍थान लेगा। विधेयक में गैर-वन भूमि में लगाये गये बांस को वृक्ष को परिभाषा से छूट देने का प्रावधान है ताकि आर्थिक उपयोग के लिए बांसों की कटाई और ढुलाई के लिए परमिट की आवश्‍यकता न रहे।  विधेयक पर चर्चा का जवाब देते हुए पर्यावरण और वन मंत्री हर्ष वर्धन ने कहा कि पेड़-पौधों के वर्गीकरण में बांस यद्यपि घास की श्रेणी में आता है लेकिन भारतीय वन अधिनियम, 1927 के अंतर्गत इसे पेड़ माना गया है और इसकी कटाई और ढुलाई के लिए परमिट की आवश्‍यकता होती है। 1927 के नियम के चलते गैर-वन भूमि में किसानों द्वारा बांस की खेती में बाधा आती है। डॉ० हर्ष वर्धन ने कहा कि नए प्रावधान से पूरे देश में, खासतौर से पूर्वोतर और मध्‍य भारत में किसानों और आदिवासियों की कृषि आय में वृद्धि करने में मदद मिलेगी। उन्‍होंने कहा कि एक टन बांस, 350 मानव दिवस रोजगार पैदा करता है तथा पर्यावरण को बनाये रखने में भी योगदान करता है।    चर्चा का जवाब देते हुए आवास तथा शहरी मामलों के मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा कि संशोधन केवल राष्‍ट्रीय सुरक्षा और रक्षा उद्देश्‍यों के लिए किया जा रहा है और सरकार भूमि मालिकों को उचित मुआवजा दे रही है। उन्‍होंने कहा कि जिन मामलों में दुबारा नोटिस जारी किया गया है उन मामलों में संपत्ति मालिक मुआवजे की राशि पर ब्‍याज के हकदार होंगे। हालांकि उन मामलों में ये प्रावधान लागू नहीं होंगे जहां मुआवजा दिया जा चुका है और भूमि मालिक उसे स्‍वीकार कर चुके हों। मंगलवार को पेश किये गये इस विधेयक परबुधवार को  चर्चा आगे बढ़ाते हुए भारतीय जनता पार्टी के रमेश विधूड़ी ने विधेयक को राष्‍ट्र की सुरक्षा के हित में बताया। उन्‍होंने कहा कि विधेयक, मुकदमे के प्रावधानों का दुरूपयोग कर बेईमान लोगों द्वारा अनावश्‍यक लाभ उठाने को रोकने में मदद करेगा। तृणमूल कांग्रेस के कल्‍याण बनर्जी ने अधिग्रहीत भूमि का उचित समय में उपयोग करने का सुझाव दिया। मार्क्‍सवादी कम्‍युनिस्‍ट पार्टी के मोहम्‍मद सलीम ने संशोधन के प्रावधानों को विधेयक के मूल वर्ष 1952 से लागू करने की आलोचना की। उन्‍होंने कहा कि ऐसी स्थिति में मुआवजा देने के लिए भूमि के वास्‍तविक मालिक की पहचान करना बहुत कठिन होगा।


डॉ0 मनमोहन सिंह के खिलाफ प्रधानमंत्री की टिप्‍पणियों के लिए  कांग्रेस की माफी मांगने की मांग  खारिज 
पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के खिलाफ प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी की टिप्‍पणियों के लिए श्री मोदी द्वारा माफी मांगे जाने की कांग्रेस की मांग को भारतीय जनता पार्टी ने सिरे से खारिज कर दिया है और जोर देकर कहा है कि उन्‍होंने कुछ भी गलत नहीं कहा। बुधवार को  नई दिल्‍ली में संवाददाताओं को जानकारी देते हुए भाजपा प्रवक्‍ता सम्बित पात्रा ने आरोप लगाया कि मुख्‍य विपक्षी दल गुजरात और हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव में हार के बाद की हताशा में संसद की कार्यवाही रोकने की कोशिश कर रहा है।  गुजरात चुनाव के दौरान प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी द्वारा कांग्रेस नेताओं के खिलाफ लगाये गये आरोप के मुद्दे पर संसद की कार्यवाही आज चौथे दिन भी बाधित हुई। कांग्रेस सदस्‍यों द्वारा हंगामे के बीच राज्‍यसभा की कार्यवाही दो बार स्‍थगित होने के बाद दोपहर दो बजे दिनभर के लिये स्‍थगित हो गई। वहीं लोकसभा में भी कांग्रेस सदस्‍यों ने भोजनावकाश से पहले हंगामा किया और सदन के कामकाज को स्‍थगित करना पड़ा। दोपहर में जब कार्यवाही शुरू हुई तो कांग्रेस सदस्‍यों ने एक बार फिर नारेबाजी की और बाद में सदन से बाहर चले गये। इसके बाद लोकसभा ने देरशाम तक बैठकर दो विधेयकों को पारित किया। विपक्ष का इस मुद्दे पर अड़े रहने और सत्‍तापक्ष द्वारा भी किसी मांग को मानने से इन्‍कार करने के बीच संसद के दोनों सदनों की कार्यवाही आने वाले दिनों में भी प्रभावित होने की संभावना है। 


प्रधानमंत्री का 2019 में लोकसभा चुनाव जीतने हेतु देशभर में भाजपा को बूथ स्‍तर पर मजबूत बनाने का आह्वान 

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा है कि नई पीढ़ी को हर स्तर पर प्रोत्साहन दिया जाना चाहिए ताकि देश नये भारत के रूप में उभर सके। उन्होंने भारतीय जनता पार्टी के सांसदों से कहा कि वे समर्पित भाव से लोगों के लिए काम करना जारी रखें। भाजपा संसदीय दल की बुधवार को नई दिल्ली में हुई बैठक के बाद संसदीय मामलों के मंत्री अनंत कुमार ने श्री मोदी के हवाले से कहा कि हिमाचल प्रदेश और गुजरात में भाजपा की जीत को लोगों के प्रति समर्पित किया जाना चाहिए। हमें इस जनादेश को इस मेंडेट को गुजरात और हिमाचल की जनता को और देश की जनता को समर्पित करना चाहिए और उनकी सेवा में और तत्‍परता से लगे रहना चाहिए और माननीय प्रधानमंत्री जी ने ये भी कहा यानी नई पीढियों को हमें आगे लाना होगा। श्री कुमार ने कहा कि प्रधानमंत्री ने 2019 में लोकसभा चुनाव जीतने के लिए देशभर में भाजपा को बूथ स्‍तर पर मजबूत करने को कहा। उन्‍होंने पार्टी के भीतर तथा बाहर युवाओं को प्रोत्‍साहन देने का भी आग्रह किया। श्री कुमार ने कहा कि बैठक के दौरान भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने दोनों राज्यों के लोगों को उनकी पार्टी के उम्मीदवारों को चुनने के लिए धन्यवाद दिया।
गुजरात और हिमाचल प्रदेश से भाजपा सांसदों ने बुधवार को प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी से मुलाकात करके उन्‍हें दोनों राज्‍यों में विधानसभा चुनाव में जीत के लिए धन्‍यवाद दिया। वित्‍तमंत्री अरूण जेटली जो गुजरात से राज्‍यसभा सदस्‍य हैं और राज्‍य के अन्‍य सांसदों ने श्री मोदी से जाकर मुलाकात की। हिमाचल प्रदेश से सांसद केन्‍द्रीय मंत्री जे पी नड्डा और भाजपा नेता शांता कुमार, अनुराग ठाकुर और अन्‍य सांसद भी प्रधानमंत्री से मिले। भाजपा अध्‍यक्ष अमितशाह भी इस मौके पर मौजूद रहे। दोनों राज्‍यों में अभी मुख्‍यमंत्री के नाम को तय किया जाना है।


गुजरात  चुनाव प्रचार में डॉ मनमोहन सिंह व अन्य के खिलाफ प्रधानमंत्री के बेबुनियाद आरोप

कांग्रेस के विरोध  के कारण संसद में गतिरोध  जारी।

प्रधानमंत्री की Ex.PM डॉ मनमोहन सिंह के प्रति की गई टिप्‍पणी पर माफी की मांग पर, कांग्रेस व विपक्षी सदस्‍यों के विरोध  के कारण संसद में गतिरोध जारीरहा। संसद के दोनों सदनों की कार्यवाही आज विपक्षी सदस्‍यों के विरोध प्रदर्शन के कारण लोकसभा की कार्यवाही दो बजे और राज्‍यसभा की कार्यवाही दिनभर के लिए स्‍थगित कर दी गई है। हमारे संवाददाता ने बताया है कि ये सदस्‍य गुजरात में चुनाव रैली के दौरान प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी से पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह के प्रति की गई उनकी टिप्‍पणी पर माफी की मांग कर रहे थे। पहले स्‍थगन के बाद लोकसभा की कार्यवाही फिर 12 बजे शुरू होने पर कांग्रेस के सदस्‍य अपनी मांग के समर्थन में नारे लगाते हुए सदन के बीचोबीच आने लगे। हंगामे के बीच जनहित के मामले निपटाये गये। अध्‍यक्ष सुमित्रा महाजन ने सदस्‍यों से शांति बनाये रखने की बार-बार अपील की, लेकिन वे नहीं माने और अध्‍यक्ष को सदन की कार्यवाही दो बजे तक के लिए स्‍थगित करनी पड़ी। राज्‍यसभा में भी कार्यवाही दोबारा शुरू होने पर कांग्रेसी सदस्‍य नारे लगाते हुए सदन के बीचोंबीच आ गए। सभापति एम वेंकैया नायडु ने कहा कि वे प्रश्‍नकाकाल को स्‍थगित करने की इजाजत नहीं देंगे। उन्‍होंने सदस्‍यों से अपनी सीट पर वापस जाने को कहा और सदन की गरिमा को बनाए रखने का अनुरोध किया। सभापति ने पहले स्‍थगन के बाद प्रश्‍नकाल जारी रखने की कोशिश की, लेकिन विपक्ष ने इसका विरोध किया। बाद में सदन की कार्यवाही दो बजे तक के लिए स्‍थगित कर दी गई।  
इसके अलावा कांग्रेस के कुछ सांसदों ने संसद परिसर में शांतिपूर्ण विरोध प्रदर्शन किया। यह विरोध प्रदर्शन धर्म के नाम पर राजस्थान और अन्य राज्यों में कथित रूप से लोगों की हत्या को लेकर किया गया।


उपचुनाव से पहले दिवंगत जयललिता के वीडियो के प्रसारण पर रोक 

तमिलनाडु में आर.के. नगर विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र के निर्वाचन अधिकारी ने आज होने वाले उपचुनाव से पहले दिवंगत जयललिता के अस्‍पताल से संबंधी वीडियो के प्रसारण पर रोक लगाई। तमिलनाडु में आर के नगर विधानसभा क्षेत्र के निर्वाचन अधिकारी ने चेन्‍नई के एक अस्‍पताल में तमिलनाडु की पूर्व मुख्‍यमंत्री जे जयललिता के एक वीडियो के टेलीविजन चैनलों पर प्रसारण और समाचार पत्रों से प्रकाशित करने पर रोक लगाने को कहा है। इस निर्वाचन क्षेत्र में आज  उप चुनाव कराए जाएंगे। एक विज्ञप्ति में अधिकारी ने बताया कि यह वीडियो प्रत्‍यक्ष या अप्रत्‍यक्ष रूप से चुनाव पर असर डाल सकता है। उन्‍होंने बताया कि यह प्रसारण जन प्रतिनिधितत्‍व कानून 1951 के प्रावधानों का उल्‍लंघन है जिसमें मतदान से 48 घंटे पहले टेलीविजन पर किसी भी चुनाव संबंधी सामग्री के प्रसारण पर रोक है। इससे पूर्वे तमिलनाडु में सत्‍तारूढ़ ऑल इंडिया अन्‍ना डी एम के ने दिवंगत जे जयललिता के अस्‍पताल के एक कथित वीडियो के प्रसारण के लिए ससिकला परिवार की कड़ी आलोचना की है। पार्टी के वरिष्‍ठ नेता और मत्‍स्‍य मंत्री डी जयकुमार ने कहा कि यह षडयंत्र है और आज  होने वाले उप चुनाव को देखते हुए यह एक निंदनीय कार्रवाई है।


अवकाश प्राप्त एयर मार्शल जे. एस. गुजराल को जमानत 
दिल्ली की एक अदालत ने अगस्ता वेस्टलैंड वी.वी.आई.पी. हेलीकॉप्टर घोटाला मामले में अवकाश प्राप्त एयर मार्शल जे. एस. गुजराल को जमानत दी। दिल्ली की एक अदालत ने अगस्ता वेस्टलैंड वी.वी.आई.पी. हेलीकॉप्टर घोटाला मामले में अवकाश प्राप्त एयर मार्शल जे. एस. गुजराल को बुधवार को जमानत दे दी। केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो - सीबीआई के विशेष न्यायाधीश अरविंद कुमार ने दो लाख रुपये के निजी मुचलके और इतनी ही जमानत राशि पर उनकी जमानत मंजूर की। इससे पहले उन्हें समन भेजा गया था जिसके बाद वे अदालत में उपस्थित हुए।


रॉयन इंटरनेशनल स्‍कूल में छात्र की हत्‍या के मामले में आरोपी को बालिग मानकर सुनवाई की जाये
किशोर न्‍यायिक बोर्ड ने कहा - रॉयन इंटरनेशनल स्‍कूल में छात्र की हत्‍या के मामले में आरोपी को बालिग मानकर सुनवाई की जाये, न की बाल अपराधी के तौर पर। किशोर न्यायिक बोर्ड ने कहा है कि गुड़गांव के रयान स्कूल में दूसरी कक्षा के छात्र प्रद्युम्न ठाकुर की हत्या के आरोपी पर वयस्क के रूप में मुकदमा चलाया जाएगा। बोर्ड में याचिका दायर की गई थी जिसमें कहा गया था कि आरोपी को वयस्क मानते हुए उस पर मुकदमा चलाया जाए, न कि बाल अपराधी के तौर पर। इसी याचिका को देखते हुए बोर्ड ने यह आदेश पारित किया है। इससे पहले बोर्ड ने ग्यारहवीं कक्षा के छात्र की जमानत याचिका रद्द कर दी।


हाफिज़ सईद के पाकिस्तान में राजनीति में आने पर   अमरीका चिंतित

अमरीका ने मुम्बई के आतंकी हमलों के मुख्‍य षड्यंत्रकारी हाफिज़ सईद के पाकिस्तान में राजनीति में आने पर चिंता व्‍यक्‍त की। अमरीका ने मुम्बई आतंकी हमलों के मुख्‍य षड्यंत्रकारी हाफिज़ सईद के पाकिस्तान में राजनीति में आने पर चिंता व्‍यक्‍त की है। जमात-उद-दावा प्रमुख सईद ने इससे पहले कहा था वह अपने संगठन मिल्ली मुस्लिम लीग से चुनाव लड़ेगा। अमरीकी विदेश विभाग की प्रवक्ता हीथर नौउर्ट ने वाशिंगटन में संवाददाताओं से कहा कि संयुक्त राष्ट्र और अमरीका ने सईद को आतंकी घोषित हुआ है। सुश्री हीथर ने कहा कि सईद को पि‍छले महीने पाकिस्तान में नज़रबंदी से रिहा किया गया और अब चुनाव में उसके उतरने की खबरें अमरीका के लिए चिंताजनक है


बिहार में माओवादियों ने स्‍टेशन मास्‍टर सहित दो रेलकर्मियों का अपहरण किया 
बिहार में हथियार बंद माओवादियों ने आज सुबह जमालपुर रेलवे स्‍टेशन के पास मसूदन रेल हाल्‍ट पर स्‍टेशन मास्‍टर सहित दो रेलकर्मियों का अपहरण कर लिया। मुंगेर के पुलिस अधीक्षक शंकर झा ने बताया कि बुधवार को  तड़के पूर्वी रेलवे के क्‍यूल - जमालपुर रेल खंड पर बीस नक्‍सलियों ने हमला करके उपकरणों तथा रेल यातायात नियंत्रण पैनल में आग लगा दी। अपहरण के बाद नक्‍सली जंगलों में भाग गए। सुरक्षाकर्मी घटनास्‍थल पर पहुंच गए और अपहृत रेलकर्मियों को मुक्‍त कराने के लिए सघन तलाशी अभियान शुरू कर दिया। नक्‍सल हमले के बाद इस क्षेत्र में रेलगाडियों का आवागमन प्रभावित हुआ है। बहुत सी एक्‍सप्रेस रेलगाडियां भागलपुर-जमालपुर- क्‍यूल खंड पर विभिन्‍न स्‍टेशनों पर रोक दी गई हैं।
 

मोस्ट वांटेड एंकर सुहैब इलियासी को उम्र कैद

इंडियाज मोस्ट वांटेड के एंकर सुहैब इलियासी को अपनी पत्नी अंजू इलियासी की हत्या के आरोप में दिल्ली की कड़कड़डूमा कोर्ट ने उम्रकैद की सजा सुनाई है और सुहैब पर 2 लाख का जुर्माना भी लगाया है। सजा पर बहस के दौरान सुहैब इलियासी ने कहा कि मैं निर्दोष हूं। सुहैब इलियासी के वकील ने कोर्ट में 3 फैसलों का उदाहरण देते हुए कम से कम सजा का अनुरोध किया। उन्होंने कहा कि सुहैब व्यथित और मानसिक रूप से परेशान था इसलिए उसे फांसी की सजा न दिया जाए। सरकारी वकील ने बहस के दौरान सुहैब इलियासी के लिए फांसी की सजा की मांग की। 11 जनवरी, 2000 को सुहैब इलियासी के घर पर पत्नी अंजू इलियासी की संदिग्ध हालत में मौत हो गई थी। ऐसा कहा गया कि हत्या में कैंची का इस्तेमाल किया गया था। 12 अगस्त 2014 को हाईकोर्ट ने सुहैब के खिलाफ पत्नी अंजू की हत्या का केस चलाने का निर्देश दिया था। हाईकोर्ट ने कहा था कि अंजू इलियासी की बहन और उसकी मां के बयानों को देखने के बाद प्रथम दृष्टया सुहैब इलियासी के खिलाफ हत्या का मामला बनता है। अंजू के परिवारवालों ने अपने शपथ पत्र में कहा था कि उन्हें कई बार अंजू इलियासी ने फोन कर बताया था कि उसकी कभी भी हत्या हो सकती है। 28 मार्च, 2000 को पुलिस ने सुहैब इलियासी को अपनी पत्नी अंजू इलियासी के हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया था और पुलिस ने दहेज प्रताड़ना और दहेज हत्या की धारा के तहत आरोप तय किए थे। जांच के दौरान ये बात सामने आई कि दोनों के बीच अक्सर दहेज को लेकर झगड़ा होता था और शायद इसी कारण उन्होंने अपनी पत्नी अंजू इलियासी की हत्या की। हत्या को अंजाम देने के बाद सुहैब इलियासी ने अंजू इलियासी की दोस्त रीता को फोन कर उसकी आत्महत्या की जानकारी दी।दिल्ली के रहने वाले सुहैब इलियासी ने जामिया मिल्लिया इस्लामिया से पत्रकारिता की पढ़ाई की है। पढ़ाई के बाद वे लंदन में टीवी एशिया में काम करने गए। 1996 में सुहैब इलियासी भारत लौटकर आए और इंडियाज मोस्ट वांटेड नाम के एक क्राइम बेस्ड रिएलिटी शो की शुरूआत की। फिलहाल वे ब्यरोक्रेसी टूडे नाम की पत्रिका के संपादक हैं। 

 

प्रधानमंत्री मोदी जी को क्रेडिबिलिटी प्रॉब्लम है (Modi ji has a credibility problem) -राहुल गांधी ने कहा 
श्री राहल गांधी ने  बुधवार को संसद भवन में पत्रकारों को सम्बोधित  करते हुए कहा कि तीन-चार महीने पहले जब हम गुजरात गए थे तो, कहा गया था कि कांग्रेस पार्टी बीजेपी से लड़ नहीं सकती है। 3-4 महीने का हमने solid काम किया , सिर्फ मैंने नहीं , AICC के लोगों ने, गुजरात की र्टीम ने और रिजल्ट आपने देखा है, बीजेपी को जबरदस्त झटका लगा है और गुजरात में लगा है। मुझे वहाँ पता लगा कि जो मोदी जी का मॉडल है, actually उसको गुजरात के लोग मानते ही नहीं हैं। Propaganda बहुत अच्छा है, मार्केटिंग बहुत अच्छी है, मगर (वो मॉडल) अंदर से खोखला है और जो हमने कैंपेन लड़ा, उसका वो जवाब नहीं दे पाए विकास की बात कर रहे हैं, लेकिन reality ये है कि वो उसका जवाब नहीं दे पाए। आपने देखा होगा कि चुनाव होने से पहले कहने को कुछ रहा नहीं था मोदी जी के पास। अपने बारे में बोल रहे थे, कांग्रेस पार्टी के बारे में बोल रहे थे। तो हमारे लिए काफी अच्छा रिजल्ट है। ठीक है हार गए, जीत सकते थे। वहाँ थोड़ी कमी हो गई। मगर मेरा आज main message ये है कि normally राजनेता जाता है, जैसे मैं गुजरात गया और सोचता है कि वो गुजरात को अपनी बात बताए। ..और तीन महीने में गुजरात ने और गुजरात की जनता ने मुझे बहुत सिखाया और main बात ये सिखाई है कि चाहे आपका जो विपक्ष हो, आपसे जिसकी लड़ाई है, चाहे उसमें जितना भी क्रोध हो, जितना भी गुस्सा हो, जितना भी पैसा हो, जितना भी धन हो, जितनी भी फ़ोर्स हो, उसको आप प्यार से, भाईचारे से र्टक्कर दे सकते हैं। और ये शायद गााँधी जी ने पहले देश को सिखाया था, मगर ये बात गुजरात के दिल के अंदर है और बहुत गहरी है। और ये जो आपने देखा गुजरात के चुनाव में, ये वो feeling है। ये मेरा काम नहीं है। गुजरात ने मोदी जी को और बीजेपी को message दिया है ...ये जो गुस्सा आप में है, जो क्रोध आप में है, ये आपके काम नहीं आएगा और इसको प्यार हरा देगा। तो ये मुझे main message गुजरात ने दिया और मैं गुजरात के लोगों को और हिमाचल प्रदेश के लोगों को टदल से धन्यवाद करना चाहता हं और जो चुनाव जीते हैं, उनको मैं बधाई देना चाहता हं। 
एक प्रश्न पर कि कल मोदी जी ने कहा है कि ये जातिवाद की हार है और GST पर मुहर है, क्या कहेंगे, श्री राहुल गांधी ने कहा कि देखिये मोदी जी ने बोला है कि विकास का चुनाव है, उन्होंने बोला कि GST पर मुहर है। अजीब सी बात है चुनाव में उनके भाषणों में, ना विकास की बात हो रही थी, ना GST की मुहर की बात हो रही थी, ना नोर्टबंदी की बात हो रही थी। मोदी जी की credibility पर बहुत बड़ा सवाल उठ गया है। and Frankly Modi ji has a credibility problem and he will find it very difficult, उनको बहुत मुश्किल लगेगा, क्योंकि जो वो कह रहे हैं, वो उनकी जो उनकी forces हैं, उनका जो संगठन है, उसको वो repeat कर रहा है। मगर देश उसको सुन नहीं रहा है। ये गुजरात के चुनाव ने दिखाया और ये आपको आने वाले समय में बहुत अच्छी तरह दिखेगा । simple सी बात है, मैं credibility की बात करता हूँ । मोदी जी ने भ्रष्र्टाचार की बात non-stop की, आज राफेल के मामले में और जय शाह के मामले में मोदी जी के मुँह से एक शब्द क्यों नहीं निकलता है?  देश ये जानना चाहता है कि आपने non-stop भ्रष्र्टाचार की बात
 की। जय शाह, अमित शाह जी के पुत्र ने 50,000 रुपए को 80 करोड़ में तीन महीने में बदला। राफेल में घपला हुआ है। आप इसके बारे में एक शब्द क्यों नहीं कहते हैं
?ये है  credibility.

 

मैं बीजेपी को उसकी जीत के लिए अभिनंदन नहीं दूंगा, क्योंकि ये जीत बेईमानी से हुई है: हार्दिक पटेल
पाटीदार आरक्षण आंदोलन के युवा नेता हार्दिक पटेल नेकहा है कि गुजरात में बीजेपी की जीत, दरअसल उसकी हार है, और उसने ईवीएम मशीनों मेंछेड़छाड़ कर ये जीत हासिल की है। उन्होंने कहा कि ये बेईमानी की जीत है।  EVM के साथ छेड़छाड़ हुई है और यह हक़ीक़त है। अपने ट्वीट में हार्दिक बीजेपी पर पैसे और बेईमानी से गुजरात चुनाव जीतने का आरोप लगाया।  उन्होंने कहा कि मैं बीजेपी को उसकी जीत के लिए अभिनंदन नहीं दूंगा क्योंकि ये जीत बेईमानी से हुई हैं। गुजरात की जनता जागृत हुवी हैं लेकिन और जागृत होना ज़रूरी हैं  EVM के साथ छेड़छाड़ हुवी है यह हक़ीक़त हैं।  


Hardik Patel (@HardikPatel_) December 18, 2017. इससे पहले पत्रकारों से बातचीत में हार्दिक ने कहा कि, सूरत, राजकोट और अहमदाबाद में ईवीएम मशीनों में टेपरिंग हुई है। क्योंकि यहां हार और जीत का अंतर बेहद कम है। बीजेपी ने पैसों के बल पर जीत हासिल की है।हार्दिक का कहना है कि चुनाव परिणाम के बाद भी ईवीएम एक बड़ा मुद्दा रहेगा। इस मुद्दे पर सभी विपक्षी दलों को एकसाथ खड़ा होना होगा। मेरी दादागिरी आगे भी जारी रहेगी। उन्होंने कहा कि ईवीएस से छेड़छाड़ कर जीत हासिल करने वाली बीजेपी को मैं बधाई देता हूं।उन्होंने कहा कि अहमदाबाद, सूरत और राजकोट में जो मैंने देखा उससे मुझे यकीन हो रहा है कि कुछ गड़बड़ी जरूर हुई है। हार्दिक के मुताबिक कोली समुदाय वाली 6 सीटों पर बीजेपी और कांग्रेस में करीबी लड़ाई थी, जबकि 7 कोली समुदाय वाली सीट पर कांग्रेस आगे है। उन्होंने कहा कि शंकर सिंह वाघेला के उम्मीदवारों ने कांग्रेस को 100 सीटों पर नुकसान पहुंचाया। हार्दिक के मुताबिक दर्जन भर कांग्रेस नेताओं के बागी तेवर से भी पार्टी को नुकसान हुआ है। There has been tampering in EVMs in Surat,Rajkot and Ahmedabad, hence the gap is very less wherever tampering happened. EVMs are hackable: Hardik Patel pic.twitter.com/cPNaItPrbw


ANI (@ANI) December 18, 2017 हार्दिक ने कहा कि सूरत की वारछा रोड सीट पर 1 लाख पटेल वोटर हैं, लेकिन वहां रैली में इतनी भीड़ होने के बाद भी अगर हारे तो यह सवाल है उठना जायज है कि इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन में गड़बड़ी है। उनका कहना है कि गुजरात की जनता को अभी बहुत ज्यादा जागरूक होने की जरुरत है। हार्दिक के मुताबिक, जहां जीत का अंतर 1,000 से 2,000 तक रहा है, वहां ईवीएम बड़ा मुद्दा रहा है। हार्दिक ने कहा कि बीजेपी ने इसलिए 100 सीटें जीतीं ताकि कोई ईवीएम पर शंका न करे।अपने राजनीतिक भविष्य के सवाल हार्दिक ने कहा कि मैं 23 साल का हूं, अपने राजनीतिक भविष्य की बात बाद में करेंगे। मैं संघर्ष करूंगा, बुजदिलों की तरह घर में नहीं बैठूंगा। अगले 5 दिनों में मैं फिर जनसंपर्क शुरू करूंगा। हार्दिक ने पूछा कि हमें वोट डालने के बाद भी यह सोचना पड़ता है कि हमारा वोट सही से पड़ा या फिर नहीं, यह कैसा लोकतंत्र

 

तूफान से प्रभावित केरल, तमिलनाडु और लक्षद्वीप के लिए 325 करोड़ रूपये की सहायता की घोषणा
 प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने ओखी तूफान से प्रभावित केरल, तमिलनाडु और लक्षद्वीप के लिए तत्‍काल 325 करोड़ रूपये की सहायता की घोषणा की है। इससे पहले तमिलनाडु को 280 करोड़ रूपये और केरल को 76 करोड़ रूपये दिये जा चुके हैं। केंद्र सरकार पूरी तरह क्षतिग्रस्‍त लगभग चौदह सौ मकानों के पुनर्निर्माण के लिए प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत सहायता देगी और प्रत्‍येक लाभार्थी को डेढ़ लाख रूपये तक दिए जाएंगे। बीमा कम्‍पनियों को भी ओखी तूफान से प्रभावित लोगों का दावा तेजी से निपटाने को कहा गया है। तूफान में हताहत लोगों के निकटतम परिजन को दो लाख रूपये और गंभीर रूप से घायल प्रत्‍येक व्‍यक्ति को 50 हजार रूपये की अनुग्रह राशि दी जाएगी। इससे पहले, प्रधानमंत्री ने लक्षद्वीप, तमिलनाडु और केरल का दौरा किया और तूफान से प्रभावित इलाकों में राहत कार्यों का जायजा लिया। श्री मोदी ने प्रभावित मछुआरों को आश्‍वासन दिया कि उन्‍हें हरसंभव सहायता दी जाएगी। पूरा देश आपकी इस दुख की घड़ी में आपके साथ है, जो भी प्रयास करने होंगे, जो लोग मिशिंग है उनको ढुढेंगे। उन प्रयासों में कोई कमी नहीं रहेगी। जिनकी लाइविली हुड पर भी संकट आया है उसको भी सरकारी नॉम्स के तहत जितनी ज्यादा मदद मिल सकती है उस मदद करने के लिए भारत सरकार भी आगे आएगी। मैं यह विश्वास दिलाने के लिए आपके पास आया हूँ। कोई प्रयत्न में कमी नहीं रहेगी। ये मैं फिर से एक बार विश्वास देता हूँ।


संसद में :-   बीजू जनता दल नेता भर्तृहरि मेहताब ने ओडिशा और छत्‍तीसगढ़ के बीच महानदी जल विवाद के हल के लिए जल्‍द से जल्‍द अधिकरण के गठन की मांग की। श्री मेहताब ने लोकसभा में बुधवार को इस मुद्दे पर स्‍थगन प्रस्‍ताव रखा। उन्‍होंने केंद्र पर अपने वादे से मुकरने का आरोप लगाया।


*  प्रधानमंत्री स्पष्टीकरण  तो दें : विपक्ष -सरकार और विपक्ष ने डॉक्‍टर मनमोहन सिंह के खिलाफ प्रधानमंत्री की टिप्‍पणी को लेकर राज्‍यसभा में गतिरोध समाप्‍त करने पर चर्चा की। गुजरात में चुनाव प्रचार के दौरान पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और अन्‍य लोगों पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की टिप्‍पणी पर राज्‍यसभा में गतिरोध समाप्‍त करने के लिए सरकार और विपक्ष के बीच मंगलवार को   बैठकें हुईं। लेकिन गतिरोध समाप्‍त करने पर कोई सहमति नहीं बन सकी। विपक्ष के नेताओं ने संसद भवन में वित्‍त मंत्री अरुण जेटली और संसदीय कार्यमंत्री अनंत कुमार से मुलाकात की और राज्‍यसभा में प्रधानमंत्री से स्पष्टीकरण देने की मांग की।

*  
नोटबंदी के बाद जम्‍मू-कश्‍मीर में पत्‍थरबाजी की घटनाओं में काफी कमी आयी है। गृह राज्‍य मंत्री हंसराज अहीर ने लोकसभा में लिखित उत्‍तर में बताया कि नोटबंदी के बाद देश में सुरक्षा की स्थिति में सुधार दिखाई दिया है। उन्‍होंने कहा कि विमुद्रीकरण के बाद से माओवादियों और उनके समर्थकों से 90 लाख रुपए बरामद हुए तथा 564 माओवादियों ने समर्पण किया। कई पूर्वोत्‍तर राज्‍यों में भी उग्रवाद की घटनाओं में कमी आयी।

*  
सरकार ने इस साल अब तक विभिन्‍न श्रेणियों में 34 हजार 445 पाकिस्‍तानी नागरिकों को वीज़ा जारी किया। लोकसभा में एक प्रश्‍न के लिखित उत्‍तर में गृह राज्‍यमंत्री किरेन रीजीजू ने कहा कि पिछले वर्ष पाकिस्‍तान के 52 हजार से अधि‍क लोगों को वीज़ा दिया गया था।

उत्‍तर भारत के कई भागों में तापमान में गिरावट, शीतलहर जारी 

कश्‍मीर घाटी में हाल की बर्फबारी के बाद सर्दी बढ़ गयी है। पंजाब और हरियाणा में भी मौसम सर्द बना हुआ है।राज्‍य के अधिकांश इलाकों में तापमान शून्‍य से नीचे है। राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्‍ली में भी कल का दिन बहुत ठंडा रहा। उत्‍त्‍र प्रदेश के कई जिले ठंड की चपेट में हैं। सर्द हवाओं से तापमान में गिरावट आई है और यह सामान्य से काफी नीचे आ गया है। पिछले 24 घंटों के दौरान मुरादाबाद सबसे ठंडा स्थान रहा, जहां तापमान पांच डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। रात का तापमान सामान्य से कई डिग्री नीचे चला गया है। ठंड और घने कोहरे के कारण सामान्य जन जीवन शिथिल हो गया है। कम दृष्यता के चलते सड़क दुर्घटनाओं में काफी वृद्धि हुई है। जनपदों में स्कूल के समय में परिवर्तन किया गया है। राजधानी लखनऊ में कक्षा आठ तक के स्कूल प्रात नौ बजे से पहले नहीं खोलने के निर्देश दिये गये हैं। मौसम विभाग ने कोहरा और शीतलहर अभी जारी रहने की संभावना बताई है। 


चीन और रूस ने अमरीका की नई सुरक्षा रणनीति की आलोचना की
चीन और रूस ने अमरीका की नयी राष्ट्रीय सुरक्षा रणनीति की निंदा की है। इस नीति में अमरीका ने चीन और रूस को अमरीकी हितों को चुनौती देने वाले प्रतिद्वंद्वी देश करार दिया है। चीन ने मंगलवार को कहा कि अमरीकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रम्प की नयी सुरक्षा रणनीति से शीत युद्ध की मानसिकता नजर आती है। रूस ने कहा कि नयी अमरीकी सुरक्षा बताती है कि अमरीका एकध्रुवीय विश्व के विचार को नहीं छोड़ना चाहता। अमरीकी राष्ट्रपति ट्रम्प ने सोमवार को नयी सुरक्षा रणनीति घोषित की थी, जिसमें अमरीकी आर्थिक हितों को प्राथमिकता देने और ताकत के ज़रिये शांति स्थापित करने की बात कही गयी थी।


समाचार संक्षेप मे
>   
अन्‍य पिछड़े वर्गों में उप-श्रेणियां बनाने के बारे में विचार के बारे में गठित आयोग का कार्यकाल अगले साल दो अप्रैल तक बढ़ा दिया गया है। केन्‍द्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में बुधवार को  इसका फैसला किया गया। इस आयोग का गठन इसी साल दो अक्‍तूबर को किया गया था। आयोग के अध्‍यक्ष सेवा निवृत्‍त न्‍यायाधीश न्‍यायमूर्ति जी रोहिणी ने 11 अक्‍तूबर से कार्य करना प्रांरभ किया। 

>  
13वीं गुजरात विधानसभा  भंग कर दी गई। राज्‍यपाल ओ०पी०कोहली ने गांधीनगर में इस आशय का आदेश जारी किया। निवर्तमान मुख्‍यमंत्री विजय रूपाणी अगली व्‍यवस्‍था तक अपने पद पर बने रहेंगे।  नया मंत्रिमंडल पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के जन्‍मदिन 25 दिसम्‍बर को शपथ ले सकता है।  पार्टी के विधायक दल के नेता के चुनाव के सिलसिले में नवनिर्वाचित विधायकों से बातचीत के लिए नियुक्‍त पार्टी के केंद्रीय पर्यवेक्षक अरुण जेटली और सरोज पांडेय शुक्रवार को गुजरात पहुंच रहे हैं। 

>  
गुजरात विधानसभा चुनाव के परिणामों के विश्‍लेषण के लिए आज म्‍हेसाणा में कांग्रेस का दो दिन का चिंतन शिविर शुरू हुआ। राज्‍य के लिए पार्टी प्रभारी अशोक गहलोत की अध्‍यक्षता में हुई बैठक में अहमदाबाद, बनासकांठा और पाटन सहित 20 जिलों के चुनाव परिणामों पर चर्चा की गई। बैठक में कहा गया कि बनासकांठा और पाटन जिले में टिकट बंटवारे में गलतियों के कारण पार्टी को हार का सामना करना पड़ा। कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी पार्टी के नवनिर्वाचित विधायकों से मिलने के लिए शनिवार को राज्‍य का दौरा करेंगे।

>  
 पाकिस्‍तान उच्‍चायोग ने नई दिल्‍ली में कुलभूषण जाधव की मां और पत्‍नी को श्री जाधव से मिलने के लिए वीजा जारी किया। नई दिल्ली स्थित पाकिस्तान उच्चायोग ने पाकिस्‍तान की जेल में बंद कुलभूषण जाधव से मुलाकात के लिए उनकी मां और पत्‍नी को इस्लामाबाद जाने का वीजा जारी कर दिया है। पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने एक ट्वीट के जरिए यह जानकारी दी। श्री जाधव पाकिस्तान की जेल में कथित जासूसी के आरोप में कैद हैं। पाकिस्तान में श्री जाधव के साथ परिवार के सदस्यों की मुलाकात के दौरान एक भारतीय राजनयिक भी मौजूद रहेंगे।

>  
 विदेश मंत्री सुषमा स्‍वराज ने लोगों से फिर अपील की है कि वे पाकिस्‍तान से भारत लौटी बोलने में असमर्थ गीता नाम की लड़की के माता-पिता का पता लगाने में मदद करें। एक ट्वीट में श्रीमती स्‍वराज ने कहा कि गीता के देवनागरी लिपि में कुछ कागज पाकिस्‍तान से मिले हैं जो किसी बोली में हैं। 
 

>   बाम्‍बे स्‍टॉक एक्‍सचेंज का सैंसेक्‍स आज 59 अंक घटकर 35 हजार 777 पर बंद हुआ। उधर, नेशनल स्‍टॉक एक्‍सचेंज का निफ्टी 19 अंक कम होकर 10 हजार 444 पर आ गया। अंतरबैंकिंग विदेशी मुद्रा बाजार में एक डॉलर की तुलना में रूपया 7 पैसे कमजोर होकर 64 रूपये 11 पैसे रह गया और अंतर्राष्‍ट्रीय बाजारों में ब्रैंट कच्‍चे तेल की कीमत 14 सेंट बढ़कर 63 डॉलर 94 सेंट प्रति बैरल हो गई। 

 दिल्‍ली मेट्रो की शीघ्र शुरू हो रही मैजेंटा लाइन की धुलाई के दौरान एक ट्रेन की दुर्घटना के सिलसिले में दिल्‍ली मेट्रो रेल निगम ने कालिंदी कुंज डिपो के प्रभारी अधिकारी सहित चार अधिकारियों को निलम्बित कर दिया। दिल्‍ली मेट्रो के प्रवक्‍ता के अनुसार उच्‍चाधिकारियों के एक दल द्वारा जांच के बाद आज निलम्‍बन के आदेश जारी किए गए। 

>   
जम्मू-कश्मीर में इस महीने की 14 तारीख तक दो सौ छह आतंकवादी मारे गए हैं। गृह राज्य मंत्री हंसराज गंगाराम अहीर ने आज राज्यसभा में इसकी जानकारी देते हुए बताया कि राज्य में इस साल आतंकवाद की तीन सौ 37 घटनाओं में 75 सुरक्षाकर्मी शहीद हुए। 

>   
भारत का पहला राष्ट्रीय रेल और परिवहन विश्वविद्यालय गुजरात में वडोदरा में स्थापित किया जाएगा, जहां मानव संसाधनों को प्रशिक्षित किया जाएगा और उनकी योग्यता बढ़ाई जाएगी। इस आशय का निर्णय केंद्रीय मंत्रिमंडल की आज शाम नई दिल्ली में हुई बैठक में लिया गया। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की यह पहल रेल और परिवहन क्षेत्र में न्यू इंडिया की दिशा में बदलाव के लिए उत्प्रेरक का काम करेगा।    

    
>  
 प्रधानमंत्री की आर्थिक सलाहकार परिषद् की तीसरी बैठक आज नई दिल्‍ली में नीति आयोग भवन में संपन्‍न हुई। परिषद् के अध्‍यक्ष डॉ विवेक देबराय, और सदस्‍य रतन पी. वॉटल, सुरजीत भल्‍ला, रथिन रॉय, आशिमा गोयल और डॉ शमिका रवि बैठक में मौजूद रहें। पिछले महीने परिषद की दूसरी बैठक में कौशल विकास, रोजगार सृजन और चिकित्‍सा तथा शिक्षा के क्षेत्र में निवेश के स्रोत बढ़ाने के अलावा आधारभूत वित्‍त को बढ़ाने पर भी चर्चा की गई थी। बैठक में पांचवें वित्‍त आयोग के खाके को तैयार करने के लिए सिफारिशें तैयार करने पर भी विचार किया गया।


>  
भारत ने बुधवार को फिर जोर देकर कहा है कि पाक अधिकृत कश्‍मीर में सिंधु नदी पर बांधों का निर्माण अवैध है और यह भारत की संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता का उल्‍लंघन है। विदेश राज्‍यमंत्री वी के सिंह ने आज लोकसभा में एक लिखित उत्‍तर में कहा कि भारत का यह स्‍पष्‍ट मानना है कि यह क्षेत्र पाकिस्‍तान द्वारा गैर कानूनी ढ़ंग से हथियाया गया है। उन्‍होंने कहा कि पाकिस्‍तान चीन की मदद से सिंधु नदी पर छह बांधों का निर्माण कर रहा है और इस बारे में भारत की आपत्ति को पाकिस्‍तान और चीन तक पहुंचा दिया गया है।

>   
ग्रीस की संसद ने वर्ष 2018 के बजट को मंज़ूरी दे दी है। सरकार ने इसे देश के कई अरब यूरो के बेलआउट पैकेज के तहत अंतिम बजट करार दिया है। प्रधानमंत्री अलैक्सिस सिप्रास ने सदन को बताया कि देश कठिन समय को पीछे छोड़ चुका है जिसे अब कोई भी याद नहीं करना चाहता। उन्होंने कहा कि सरकार ने सरकारी राजस्‍व के संचालन में विश्वसनीयता फिर हासिल कर ली है।

>  
भारतीय नौसेना ने श्रीलंका के दक्षिण-पश्चिमी तट के पास वहां की नौसेना के साथ संयुक्‍त समुद्र विज्ञान सर्वेक्षण का दूसरा चरण सफलतापूर्वक पूरा कर लिया है। यह अभ्यास 26 अक्‍टूबर को भारतीय नौसेना के जहाज़ सतलुज के श्रीलंका पहुंचने पर शुरू हुआ था। भारतीय नौसेना ने मंगलवार को श्रीलंका के नौसेना प्रमुख को सर्वेक्षण चार्ट सौंपे। दोनों देशों के बीच पहला संयुक्‍त समुद्री सर्वेक्षण 29 मार्च से 11 मई के बीच किया गया था जबकि इसका तीसरा चरण अगले वर्ष किया जाएगा।

>  
दिल्‍ली मेट्रो रेल निगम- डीएमआरसी ने मेट्रो ट्रेन के दीवार से टकराने की घटना की उच्चस्तरीय जांच के आदेश दिये हैं। कार्यकारी निदेशक रैंक के तीन अधिकारियों की समिति इस घटना की जांच करेगी। दक्षिण दिल्ली के कालिंदी कुंज डिपो में मंगलवार को  मेट्रो ट्रेन परीक्षण के दौरान दीवार से टकरा गयी। यह मेट्रो ट्रेन नयी मेजेंटा लाइन पर परीक्षण से गुजर रही थी। इस लाइन का 25 दिसंबर को प्रधानमंत्री को उद्घाटन करना है।

>  
राष्ट्रीय जांच एजेंसी-एनआईए के विशेष न्यायालय ने इंग्लैंड के नागरिक जगतार सिंह जोहल को तीन दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया है। वह शिवसेना नेता दुर्गा दास गुप्ता की हत्या और कई अन्य हत्याओं के मामलों में दोषी है। अप्रैल, 2016 में मोटरसाइकिल सवार दो लोगों ने पंजाब के खन्ना में श्री गुप्ता की हत्या की थी। जोहल को मंगलवार को  कड़ी सुरक्षा के बीच मोहाली में एनआईए की विशेष अदालत में पेश किया गया। जोहल और चार अन्य लोगों को योजनाबद्ध हत्या के मामलों में पिछले महीने पंजाब पुलिस ने गिरफ्तार किया था।

>  
प्रवर्तन निदेशालय ने नोटबंदी के बाद धनशोधन जांच के सिलसिले में मुम्बई की हीरा कम्पनी की 58 करोड़ रुपये की परिसम्पत्तियां कुर्क कर ली हैं। यह मामला एक हज़ार चार सौ अठहत्तर करोड़ रुपये की धनराशि और पांच सौ से ज़्यादा फर्ज़ी कम्पनी खातों से जुड़ा है। राजेश्वर एक्पोर्ट्स कम्पनी की दस अचल सम्पत्तियों सहित स्वर्ण और हीरे के आभूषणों की कुर्की के अस्थायी आदेश जारी किये गये हैं। ये सम्पत्तियां रितेश जैन और अमृतलाल जैन की हैं। रितेश जैन ने फर्ज़ी कम्पनियों के खातों के माध्यम से नोटबंदी के बाद बड़ी मात्रा में मनी लांड्रिग की थी। इस मामले में हांगकांग की एक कम्पनी भी शामिल है।


 खबरी दुनिया 
*   गुजरात और हिमाचल प्रदेश के विधानसभा चुनाव के नतीजों के बाद भाजपा और कांग्रेस के बीच आरोप प्रत्‍यारोप  बुधवार के लगभग सभी अखबारों में हैं। अमर उजाला ने लिखा है- सियासत में साख पर संघर्ष। जनसत्‍ता को लगता है- मुख्‍यमंत्रियों के नामों पर पसोपेश में है भाजपा। 

*  पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह पर प्रधानमंत्री मोदी की टिप्‍पणी के कारण लोकसभा में लगातार दूसरे दिन हंगामे पर राष्‍ट्रीय सहारा ने लोकसभाध्‍यक्ष सुमित्रा महाजन के इस बयान को छापा है- हार जीत हो गई खत्‍म करो हंगामा। दैनिक ट्रिब्‍यून की पहली खबर है- विपक्ष आक्रामक, सुलह की कोशिश न कर पाये।

*   प्रॉपर्टी के लेनदेन को फिलहाल आधार कार्ड से जोड़ने की अनिवार्यता का कोई प्रस्‍ताव नहीं है। सरकार के इस स्‍पष्‍टीकरण को राजस्‍थान पत्रिका सहित लगभग सभी अखबारों ने प्रमुखता से दिया है। कुछ अखबारों ने वित्‍त मंत्री अरूण जेटली के इस बयान को भी दिया है कि सरकार पेट्रोलियम पदार्थों को जी एस टी के दायरे में लाने की पक्षधर है।

*   दिल्‍ली में प्राथमिक शिक्षकों की भर्ती परीक्षा रद्द, भारी पैमाने पर धांधली के बाद उपराज्‍यपाल की इस कार्रवाई को हिन्‍दुस्‍तान सहित अधिकतर अखबारों ने प्रमुखता से दिया है। राष्‍ट्रीय सहारा का कहना है कि शिक्षा सचिव को धोखाधड़ी में लिप्‍त कर्मियों पर सख्‍त कार्रवाई करने के निर्देश दिये गए।

*    अमरीका ने माना भारत को वैश्विक शक्ति शीर्षक से दैनिक जागरण ने लिखा है- अमरीका अहम मुद्दों पर भारतीय रूख का खुलेआम समर्थन करने को भी तैयार दिखता है। दैनिक ट्रिब्‍यून सहित कई अखबारों की सुर्खी है कि अमरीका ने फिर कहा - आतंकी संगठनों पर कार्रवाई करे पाकिस्‍तान। 

*   नियंत्रक और महालेखा परीक्षक -सी ए जी की यह रिपोर्ट कि कैसे हो गंगा साफ जब खर्च ही नहीं हुए दो हजार एक सौ तैंतीस करोड़ रूपये अमर उजाला में विस्‍तार से है।

*  पब्लिक स्‍कूलों में नर्सरी दाखिले की दौड़ 27 दिसम्‍बर से, यह खबर नवभारत टाइम्‍स सहित अधिकतर अखबारों ने दी है।

*   मोबाइल गेम से खाली हो सकता है आपका खाता राजस्‍थान पत्रिका ने इसे डिजीटल दुनिया का सबसे बड़ा खतरा बताते हुए आयरलैंड की एक घटना को दिया है जिसमें एक बच्‍चे ने मोबाइल पर गेम खेलते खेलते मां की पूरी तनख्‍वाह ही खर्च कर दी। 

राजस्थान समाचार विशेष  
ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री से राज्य भर के श्रोताओं ने आकाशवाणी के माध्यम से किया सीधा संवाद
जयपुर,    ग्रामीण विकास एवं पंचायतीराज मंत्री श्री राजेन्द्र राठौड़ ने बुधवार को आकाशवाणी के माध्यम से सुबह 10 से 11 बजे तक एक घंटे के सजीव फोन इन कार्यक्रम में ग्राम पंचायतों को सशक्त बनाने, ग्राम पंचायतों के वित्तिय सशक्तिकरण करने, जन प्रतिनिधियों के लिए आवश्यक शैक्षिणिक योग्यता के माध्यम से विकास योजनाओं का बेहतर संचालन और उनके ग्रामीण विकास में प्रभावी योगदान की चर्चा की। उन्होंने ग्रामीण क्षेत्रो में स्वच्छता के लिए शोचालय निर्माण के लिए जोर दिया और मनरेगा योजना द्वारा परिसम्पति का निर्माण तथा इससे रोजगार सृजन के बारे में विस्तार से जानकारी दी।  श्री राठौड ने बताया कि संविधान के 73 वें व 74वें संशोधन से ग्रामीण विकास के स्वप्न को वास्तविक रूप से साकार करने के लिए बनायी गयी योजनाओं की जानकारी दी।  राज्यभर सेे श्रोताओं ने श्री राठौड़ से फोन के माध्यम से सीधे संवाद किया और ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज, 2013 से कनिष्ठ लिपिकों की भर्ती संबंधी परेशानियॉ दूर करने, ग्रामीण क्षेत्र में पानी की समस्या, रोजगार, जनता जल योजना, फूड सिक्योरीटी एक्ट, ग्रामीण क्षेत्र में सोलर लाईट, प्रधानमंत्री आवास योजना, जिला परिषद में भर्ती, विधायक विकास कोष, आदर्श ग्राम योजना, नवाचार द्वारा गांवों में भी शहरी सुविधाएं प्राप्त करने संबंधी समस्याओं के हाथो हाथ समाधान किए।  लाइव फोन इन कार्यक्रम का संचालन श्री भीमप्रकाश शर्मा एवं सुषमा नरूला ने किया। कार्यक्रम के प्रस्तुतकर्ता श्री राकेश जैन थे। 
 

21 दिसम्बर, 2017

 

प्रधानमंत्री ने लक्षदीप  में तूफान ओखी से हुए नुकसान का जायजा लिया
प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने तमिलनाडु, लक्षद्वीप और केरल के एक दिन के दौरे में तूफान ''ओखी'' से प्रभावित लोगों से मुलाकात की। उन्‍हें राहत और पुनर्वास कार्यों में हरसंभव सहायता का आश्‍वासन दिया। प्रधानमंत्री ने मंगलवार को लक्षद्वीप, तमिलनाडु और केरल का दौरा किया। श्री नरेन्‍द्र मोदी ने तमिलनाडु में कन्‍याकुमारी में तूफान प्रभावित लोगों से मुलाकात की। उन्‍होंने कन्‍याकुमारी और तूफान प्रभावित अन्‍य क्षेत्रों में राहत और पुनर्वास कार्यों का जायजा लिया। मुख्‍यमंत्री ई०के० पलनीसामी ने प्रधानमंत्री को एक ज्ञापन सौंपा। इसमें तूफान से हुए नुकसान का ब्‍यौरा दिया गया है। ज्ञापन में तत्‍काल उपाय करने की मांग की गई है। श्री पलनीसामी ने राज्‍य आपदा राहत कोष के लिए तत्‍काल केन्‍द्र से 747 करोड़ रुपये जारी करने को कहा। हमारे संवाददाता ने बताया है कि मछुआरे प्रधानमंत्री से मुलाकात कर काफी संतुष्‍ट नजर आए। प्रधानमंत्री ने मुख्‍यमंत्री और वरिष्‍ठ अधिकारियों के साथ स्थिति की समीक्षा के बाद मछुआरों और अन्‍य लोगों की परेशानियां सुनी। बाद में इन लोगों ने बताया कि प्रधानमंत्री से बातचीत कर उन्‍हें उम्‍मीद बंधी है कि उनकी परेशानियां कम करने के लिए कदम उठाये जाएगे। मुख्‍यमंत्री ने बताया कि श्री मोदी ने वायदा किया है कि वे राज्‍य की मांग पर विचार करेंगे।  इसके बाद प्रधानमंत्री ने शाम को तिरूवनंतपुरम में तूफान ''ओखी'' से प्रभावित पुन्‍थुरा क्षेत्र का दौरा किया। श्री मोदी ने प्रभावित मछुआरों को आश्‍वासन दिया कि उन्‍हें सभी संभव सहायता दी जाएगी। प्रधानमंत्री ने यह भी कहा कि लापता मछुआरों की खोज जारी रहेगी। श्री मोदी ने कहा कि देश उन सभी परिवारों के साथ है जो इस आपदा से प्रभावित हैं। भारत सरकार पूरी तरह आपके साथ है, जो भी प्रयास करने होंगे जो लोग मिसिंग हैं, उनको ढूंढेगे। उन प्रयासों में कोई कमी नहीं रहेगी, जिनकी लाइवलीहुड पर भी संकट आया है, उसको भी सरकारी नॉर्मस् के तहत जितनी ज्‍यादा मदद मिल सकती है, उस मदद करने के लिए भारत सरकार भी आगे आएगी। प्रधानमंत्री ने आश्‍वासन दिया कि संसद के वर्तमान सत्र में इस मामले पर विचार किया जाएगा। दिल्‍ली रवाना होने से पहले प्रधानमंत्री ने तिरूवनंतपुरम में राज्‍य प्रशासन के साथ उच्‍च स्‍तरीय बैठक में स्थिति का जायजा लिया। प्रधानमंत्री अपने इस दौरे के दौरान सबसे पहले लक्षद्वीप गए। वहां उन्‍होंने कावारत्‍ती में एक उच्‍चस्‍तरीय बैठक में तूफान प्रभावित इलाकों में राहत कार्यों का जायजा लिया। तूफान ने इस केन्‍द्रशासित प्रदेश में काफी तबाही मचाई थी। प्रधानमंत्री ने द्वीप के प्रभावित लोगों और स्थानीय प्रशासन के साथ बातचीत की। लक्षद्वीप के प्रशासक फारूक खान ने प्रधानमंत्री को चक्रवात पर रिपोर्ट सौंपी। लक्षद्वीप पर सामान्य विकास कार्यों की रिपोर्ट भी प्रधानमंत्री को दी गई।ओखी तूफान ने तीस नवंबर को कन्‍याकुमारी और केरल तट पर तबाही मचाई थी, जिसमें केरल के 70 और तमिलनाडु के 14 लोगों की जान गई थी। संयुक्‍त बचाव दलों ने लापता मछुआरों की तलाश का काम शुरू किया था। करीब सौ मछुआरों के अभी भी लापता होने की खबर है।
 

संसद ने कम्‍पनी संशोधन विधेयक-2017 पारित  किया चूककर्ता कंपनियों पर कठोर कार्रवाई करने और कारोबार को और सरल बनाने संबंधी कंपनी संशोधन विधेयक-2017 संसद में पारित। राज्‍य सभा ने मंगलवार को इसे मंजूरी दे दी। लोकसभा इसे मानसून सत्र में पारित कर चुकी है। विधेयक में कार्पोरेट शासन मानकों को मजबूत करना और मानकों का उल्‍लंघन करने वाली कम्‍पनियों के खिलाफ सख्‍त कार्रवाई करना तथा कारोबार के तौर-तरीकों को सरल बनाना जैसे प्रावधान शामिल हैं। इसमें कम्‍पनी अधिनियम 2013 में 40 से अधिक संशोधन का प्रावधान है। कम्‍पनी अधिनियम-2013 यूपीए सरकार के कार्यकाल में पारित किया गया था। राज्‍यसभा में विधेयक पर चर्चा के दौरान सदस्‍यों द्वारा उठाये गए मुद्दों का जवाब देते हुए कार्पोरेट मामलों के राज्‍यमंत्री पी पी चौधरी ने कहा कि इन संशोधनों से कार्पोरेट जगत का कामकाज और बेहतर हो जाएगा तथा कारोबार करने में आसानी होगी। इससे पहले, चर्चा की शुरूआत करते हुए कांग्रेस के नेता और पूर्व वित्‍तमंत्री पी चिदम्‍बरम ने सुझाव दिया कि लघु और मध्‍यम श्रेणी की कम्‍पनियों के हितों की सुरक्षा के लिए अलग से कानून बनना चाहिए।
 

लोकसभा ने केन्‍द्रीय सड़क कोष संशोधन विधेयक 2017 ध्‍वनिमत से पारित किया

यह हाई स्‍पीड डीजल तेल और पेट्रोल पर एकत्रित उपकर के कोष का नियमन संबंधी अधिनियम में संशोधन के बारे में है। विधेयक में राष्‍ट्रीय राजमार्गों के विकास और रखरखाव के लिए उपकर का आवंटन घटाकर साढ़े इकतालीस प्रतिशत से उनतालीस प्रतिशत करने का प्रावधान है। विधेयक के तहत अब उपकर का ढाई प्रतिशत यानी लगभग दो हजार 339 करोड़ रुपये वार्षिक राष्‍ट्रीय राजमार्गों के विकास और रख रखाव के लिए होंगे। ये विधेयक सड़क परिवहन, राजमार्ग और जहाजरानी मंत्री नितिन गडकरी ने सदन के पटल पर रखा था। विधेयक पर चर्चा का जवाब देते हुए उन्‍होंने कहा कि यह कानून बनने से बंदरगाह सम्‍पर्क में बड़ी क्रांति आएगी। इससे पर्यटन और बंदरगाह तथा माल ढुलाई में वृद्धि होगी। विभिन्‍न राजनीतिक दलों के सदस्‍यों ने भी बहस में हिस्‍सा लिया।
 

राफेल बोफोर्स नहीं है और यह अब तक हुए रक्षा सौदों में सबसे अधिक पारदर्शी : प्रकाश जावड़ेकर
भारतीय जनता पार्टी ने कहा है कि कांग्रेस के लिए अब आत्‍म-मंथन का समय है क्‍योंकि वह एक के बाद एक राज्‍य में चुनाव हार रही है और अपनी इस विफलता को छि‍पाने के लिए सफलता को फिर से परिभाषित करने की कोशि‍श कर रही है। पार्टी के वरिष्‍ठ नेता और केन्‍द्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने नई दिल्‍ली में कहा है कि कांग्रेस का भाजपा को आत्‍मविश्‍लेषण करने को कहना उसके अहंकार को दर्शाता है। राफेल सौदे पर कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी के आरोपों पर श्री जावड़ेकर ने कहा कि राफेल बोफोर्स नहीं है और यह अब तक हुए रक्षा सौदों में सबसे अधिक पारदर्शी है। इससे पहले, कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने आरोप लगाया था कि प्रधानमंत्री का गुजरात का विकास मॉडल चुनाव में लोगों को अपनी ओर आकृष्‍ट करने में नाकाम रहा है।
 

केंद्र पेट्रोलियम उत्‍पादों को जी०एस०टी० के अंतर्गत लाने के पक्ष मे
वित्‍तमंत्री अरूण जेटली ने कहा-केंद्र पेट्रोलियम उत्‍पादों को जी०एस०टी० के अंतर्गत लाने के पक्ष में। सरकार, पेट्रोलियम पदार्थों को जी एस टी के दायरे में लाने के पक्ष में है और इस बारे में राज्‍यों से सहमति मिलने की प्रतीक्षा कर रही है। वित्‍त मंत्री अरुण जेटली ने राज्‍यसभा में एक प्रश्‍न के उत्‍तर में बताया कि सरकार ने इन उत्‍पादों पर पहले ही उत्‍पाद शुल्‍क घटा दिया है और राज्‍य सरकारों से भी इन पर राज्‍य कर कम करने को कहा है।
 

सरकार ने चीनी उत्‍पादन में वृद्धि के अनुमान के कारण, इसके भंडारण और कारोबार की सीमा पर लगी रोक हटाई।

सरकार ने चीनी के कारोबारियों के लिए चीनी के भंडारण और कारोबार सीमा त्‍वरित रूप से हटा दी है। उत्‍पादन में वृद्धि के अनुमानों के चलते ऐसा किया गया है। मांग और आपूर्ति की स्थिति सुगम रहने की संभावना को देखते हुए ऐसा किया गया है। एक बयान में खाद्य और सार्वजनिक वितरण मंत्रालय ने कहा कि मूल्‍य, सामान्‍य दरों पर स्थिर रहने की भी उम्‍मीद है। अनुमान है कि भारत में चीनी का उत्‍पादन ब्रिकी वर्ष 2017-18 में बढकर दो सौ 49 लाख टन रहेगा। पिछले वर्ष ये उत्‍पादन दो सौ तीन लाख टन था।
 

सदन में प्रधानमंत्री द्वारा पूर्व प्रधानमंत्री डॉक्टर मनमोहन सिंह और अन्य के खिलाफ की गई टिप्पण पर गतिरोध जारी 
गुजरात में चुनाव प्रचार के दौरान प्रधानमंत्री की कांग्रेस नेताओं पर टिप्‍पणी से राज्‍यसभा में हो रहे गतिरोध को समाप्‍त करने के लिए वित्‍त मंत्री अरूण जेटली विपक्ष के नेताओं से मिलेंगे। 
प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी द्वारा गुजरात चुनाव प्रचार अभियान के दौरान कांग्रेस नेताओं के विरूद्ध टिप्‍पणियों पर राज्‍यसभा में चल रहे गतिरोध को समाप्‍त करने के लिए सरकार विपक्षी नेताओं की चिंताओं को दूर करेगी। राज्‍यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद के सवाल के उत्‍तर में सदन के नेता अरुण जेटली ने कहा कि समस्‍या का हल निकालने के लिए वे विपक्षी नेताओं से बात करेंगे। शीतकालीन सत्र के पहले दिन से ही पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह और कुछ अन्‍य नेताओं के हाल में नई दिल्‍ली में पाकिस्‍तानी प्रतिनिधिमंडल से मिलने को लेकर श्री मोदी की टिप्‍पणी पर सदन में शोरशराबा जारी है। श्री आजाद ने इस मामले को गंभीर बताते हुए कहा कि इस तरह के आरोप राष्‍ट्र और लोकतंत्र के हित में नहीं हैं। उन्‍होंने प्रधानमंत्री से इस बारे में स्‍पष्‍टीकरण भी मांगा। सभापति एम.वेंकैया नायडू ने भी सदन को शांतिपूर्ण ढंग से चलाने के लिए गतिरोध को समाप्‍त करने के वास्‍ते रास्‍ता निकालने को कहा।
उधर, लोकसभा में भी कांग्रेस सदस्‍यों ने इसी मुद्दे पर 
मंगलवार को शून्‍यकाल के दौरान बहिर्गमन किया। ये लोग प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी द्वारा की गई टिप्‍पणी पर उनसे माफी मांगने की मांग कर रहे थे। इससे पहले, प्रश्‍नकाल के दौरान भी इसी मुद्दे पर विपक्षी कांग्रेस सदस्‍यों के शोरशराबे के कारण कार्यवाही रोकनी पड़ी थी। 12 बजे जब सदन की कार्यवाही दोबारा शुरू हुई, तो वही स्थिति फिर पैदा हो गई और कांग्रेस सदस्‍य सदन के अध्‍यक्ष के आसन के सामने आकर प्रधानमंत्री के खिलाफ नारे लगाने लगे। सदन में व्‍यवस्‍था बनाए रखने की अध्‍यक्ष सुमित्रा महाजन की बार-बार की जा रही अपील पर भी कांग्रेस सदस्‍यों ने कोई ध्‍यान नहीं दिया। इस बीच, संसदीय कार्य मंत्री अनंत कुमार ने लोकसभा में अध्‍यक्ष के सामने कांग्रेस सदस्‍यों के व्‍यवहार पर कड़ी आपत्ति जताई है। उन्‍होंने इसे शर्मनाक और निंदनीय बताते हुए कहा कि कांग्रेस सांसदों ने अध्‍यक्ष के प्रति असम्‍मान जताया है। श्री कुमार ने कहा कि उन्‍होंने तथा अध्‍यक्ष ने कई बार उत्‍तेजित कांग्रेस सांसदों से सदन की कार्यवाही में हिस्‍सा लेने का अनुरोध किया, लेकिन वे लगातार शोर मचाते रहे, जो सही नहीं था।
 

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना- 

महिला और बाल कल्‍याण मंत्रालय का स्‍पष्‍टीकरण - बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना में नकद राशि देने का कोई प्रावधान नहीं। लोगों से योजना के नाम पर फर्जी फार्म भरने पर सतर्क रहने को कहा।  महिला और बाल विकास मंत्रालय ने आम लोगों से ''बेटी बचाओं बेटी पढ़ाओं'' योजना के नाम पर फर्जी फार्म भरने से मना किया है। मंत्रालय ने एक बयान जारी कर कहा है कि इस साल के शुरू से ही उसके पास भोली भाली लड़कियों और महिलाओं की ओर से भरे हुए फर्जी फार्म प्राप्‍त हो रहे हैं, जिनमें ''बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ'' योजना के नाम पर नकद प्रोत्‍साहन राशि देने का वायदा किया गया है। मंत्रालय ने लोगों से यह भी कहा है कि इस प्रकार की फर्जी गतिविधि का शिकार होकर अपनी ऊर्जा और संसाधन को बर्बाद न करें। मंत्रालय ने स्‍पष्‍ट किया है कि ''बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ'' योजना के अंतर्गत व्‍यक्तिगत नकद प्रोत्‍साहन राशि देने का कोई प्रावधान नहीं है।
 

अमरीका का उत्तर कोरिया पर बड़े साइबर हमले वन्नाक्राई का आरोप 
अमरीका ने बड़े साइबर हमले वन्नाक्राई के लिए सीधे तौर पर उत्तर कोरिया को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा है कि इस साल के शुरू में इस हमले से विश्व भर के एक सौ पचास देशों में तीन लाख कम्‍पयूटर सं‍क्रमित हो गए। उत्‍तर कोरिया पर कम्‍पयूटर को संक्रमित करने और सॉफ्टवेयर में एक्‍सेस वापस लाने के लिए वसूली करने का व्‍यापक स्‍तर पर संदेह जताया जा रहा था। हालांकि इंग्‍लैंड ने इसका खंडन किया था, लेकिन अमरीका को अब भी इससे निपटना है। गृह सुरक्षा सलाहकार टॉम बोसर्ट ने वॉल स्‍ट्रीट जनरल में इस संबंध में एक घोषणा की है और उनके मंगलवार को पत्रकारों के साथ बातचीत में इस बारे में विस्‍तार से जानकारी देने की भी संभावना है।
 

सरकार नशे के आदी लोगों के लिए नई पुनर्वास नीति लायेगी
 लोकसभा मंगलवार को  सरकार ने बताया कि राष्‍ट्रीय सर्वेक्षण के आधार पर नशे के आदी लोगों के लिए नई पुनर्वास नीति बनाई जाएगी। प्रश्‍नकाल में पूरक प्रश्‍नों के उत्‍तर देते हुए सामाजिक न्‍याय और अधिकारिता मंत्री थारवरचंद गहलोत ने कहा कि सरकार पुनर्वास नीति 2001 की समीक्षा कर रही है और देश भर में नशे के आदी लोगों के बारे में भी सर्वेक्षण किया जा रहा है। उन्‍होंने बताया कि सरकार ने अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्‍थान से संबद्ध एक संस्‍थान को इस सर्वे की जिम्‍मेदारी दी है।
कृषि मंत्री राधामोहन सिंह ने कहा है कि राज्‍यों को न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य पर अनाज खरीदने के निर्देश दिए गए हैं। मंगलवार को लोकसभा में एक प्रश्‍न के उत्‍तर में उन्‍होंने कहा कि मध्‍य प्रदेश सरकार न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य से कम पर अनाज बेचने वाले किसानों को कीमत के अंतर का भुगतान कर रही है। उन्होंने  कहा कि केन्‍द्र ने इस पहल की स्‍वीकृति दी है।
राज्‍यसभा - सरकार, पेट्रोलियम पदार्थों को वस्‍तु एवं सेवा कर यानी जी एस टी के दायरे में लाने के पक्ष में है और इस बारे में राज्‍यों से सहमति मिलने की प्रतीक्षा कर रही है। आज राज्‍यसभा में प्रश्‍नकाल के दौरान एक प्रश्‍न के उत्‍तर में वित्‍त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि सरकार ने इन उत्‍पादों पर पहले ही उत्‍पाद शुल्‍क घटा दिया है और राज्‍य सरकारों से भी इन पर राज्‍य कर को कम करने के लिए लिखा है।
वित्‍त मंत्री अरुण जेटली ने कहा है कि कानून निर्माताओं के विरूद्ध चल रहे मामलों की सुनवाई प्राथमिकता के आधार पर की जानी चाहिए, लेकिन लम्‍बे समय से चल रहे मामलों में भी दोषियों के खिलाफ त्‍वरित कार्रवाई की जानी चाहिए। श्री जेटली आज राज्‍यसभा में समाजवादी पार्टी के नरेश अग्रवाल द्वारा शून्‍यकाल में उठाए गए उस प्रश्‍न का उत्‍तर दे रहे थे, जिसमें कानून निर्माताओं और राजनीतिज्ञों के खिलाफ चल रहे आपराधिक मामलों की सुनवाई के लिए विशेष न्‍यायालयों के गठन के केन्‍द्र के फैसले पर सवाल उठाया गया था।

संसद के बाहर-संसदीय कार्य मंत्री अनंत कुमार ने कहा है कि गुजरात और हिमाचल के लोगों ने नरेन्‍द्र मोदी सरकार पर भरोसा जताया है और बेहतर प्रशासन के लिए मतदान किया। संसद के बाहर श्री कुमार ने कहा कि दोनों राज्‍यों में मिली जीत यह बताती है कि लोग सरकार और गरीबों के लिए किये जा रहे उसके कामों से खुश हैं।
संसद के बाहर श्री गांधी की गुजरात और हिमाचल प्रदेश में जीत के लिए भारतीय जनता पार्टी को शुभकामनाएं-कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने आरोप भी लगाया है कि प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी का विकास का गुजरात मॉडल हाल में हुए विधानसभा चुनावों में लोगों को अपनी ओर आकृष्‍ट करने में नाकाम रहा है। मंगलवार को संसद के बाहर श्री गांधी ने गुजरात और हिमाचल प्रदेश में जीत के लिए भारतीय जनता पार्टी को शुभकामनाएं दीं।

 

भारतीय जनता पार्टी का लगातार छठी बार गुजरात की सत्ता पर फिर कब्जा

गुजरात में सत्‍ताधारी भारतीय जनता पार्टी राज्‍य में अपनी लगातार छठी जीत का जश्‍न मना रही है। भाजपा को मिली सीटों में लगभग आधी शहरी क्षेत्रों से हैं, जबकि विपक्षी कांग्रेस को अधिकतर ग्रामीण क्षेत्रों में जीत मिली है। गुजरात में भाजपा की लगातर छठी विजय के बाद नई सरकार के सामने अऩेक चुनौतियां रहेंगी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की प्रतिभा ने राज्य में भाजपा सरकार बनाए रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। लेकिन, विपक्ष कांग्रेस की सीटें और मतों की हिस्सेदारी में वृद्धि पार्टी के लिए निश्चित रूप से चिंता का कारण बनेगी। भाजपा की जीत का एक सबसे बड़ा पहलु समाज के विभिन्न वर्गों में बढ़ते असंतोष के बावजूद सत्ता में बने रहना है। लेकिन, अब नये नेतृत्व को सबसे पहले इन बढ़ते हुए असंतोष का समाधान ढूंढना पड़ेगा। राज्य में अभूतपूर्व विकास के बावजूद नई सरकार को शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों के बीच बढ़ती खाई को भरने के लिए विकास के फल ग्रामीण जनता तक पहुंचाने पर भी ध्यान देना पड़ेगा। 
 

चीन में हजारों लोगों के सामने 10 लोगों को फांसी,
चीन के गुआंगडोंग प्रांत में 10 लोगों को सरेआम फांसी देने का अजीबोगरीब मामला सामने आया है और इस फांसी को देखने के लिए बकायदा लोगों को निमंत्रण तक दिया गया था। कोर्ट के आदेश के बाद सभी दोषियों को पब्लिक ट्रायल के बाद फांसी की सजा दी गई।गुआंगडोंग में 12 आरोपियों पर पब्लिक ट्रायल चलाया गया। जहां 10 दोषियों में 7 आरोपियों पर नशा संबंधित अपराधिक मामले और बाकि 3 आरोपियों पर हत्या और डकैती के मामले में दोषी पाया गया, जबकि दो व्यक्तियों के खिलाफ पुख्ता सबूत नहीं होने के कारण उन्हें छोड़ दिया गया। घटना से चार दिन पहले सोशल मीडिया पर स्थानीय निवासियों के लिए एक नोटिस जारी किया गया था, जिसमें दोषियों को दी जाने वाली सजा के दौरान शामिल होने के लिए आमंत्रित किया गया था। दोषियों के सजा के लिए एक स्टेडियम में व्यवस्था की गई थी। जहां हजारों की संख्या में लोग सजा को देखने आए थे। स्टेडियम में मौजूद कई लोगों ने इस घटना को अपने कैमरे में भी कैद किया जिसके बाद एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल भी हो गया है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार,पब्लिक ट्रायल को देखने के लिए स्कूली छात्र भी आए थे।चीन में हर साल दुनिया के बाकी हिस्सों के मुकाबले अधिक लोगों को फांसी की सजा दी जाती है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार साल 2015 में लुफेंग में भी नशीली पदार्थों की तस्करी को लेकर ओपन एयर ट्रायल का आयोजन किया गया था। उस समय इस पब्लिक ट्रायल के 10000 लोग गवाह बने थे।
 

गुजरात चुनाव ने कांग्रेस को एक मजबूत विपक्ष और विकल्प के तौर पर स्थापित किया

मोदी के मजबूत विकल्प के तौर पर उभरे हैं राहुल गांधीगुजरात चुनाव के बाद देश की सियासत  पर कांग्रेस के मुखपत्र 'नवजीवन' में मंगलवार को छपे जफ़र आगा के विलेषण के अनुसार, ''गुजरात चुनाव ने कांग्रेस को एक मजबूत विपक्ष और विकल्प के तौर पर स्थापित किया है। साथ ही राहुल गांधी को एक ऐसे नेता के तौर पर पेश किया है जो मोदी के प्रभुत्व को चुनौती दे सकते हैं। गुजरात  के चुनावी  रणक्षेत्र में राहुल गांधी ने नरेंद्र मोदी के खिलाफ अकेले युद्ध किया। मां सोनिया गांधी वहां नहीं थीं, बहन प्रियंका भी पर्दे के पीछे से मदद नहीं कर रही थीं, जैसा कि उत्तर प्रदेश के चुनाव में होता रहा है। भले ही इस जंग में राहुल चुनाव न जीत पाए हों, लेकिन युद्ध के आखिरी दौर में सहयोगियों के साथ 82 सीटें जीतकर उन्होंने नरेंद्र मोदी को परेशानी में जरूर डाल दिया। ईमानदारी से कहा जाए तो गुजरात चुनावों ने राष्ट्रीय स्तर पर राहुल गांधी को एक ऐसे दमदार योद्धा के रूप में स्थापित किया है, जो मोदी जैसे विकट राजनीतिक विरोधी को चुनौती दे सकता है।आखिरकार, नव निर्वाचित कांग्रेस अध्यक्ष ने मोदी को चिंतित तो कर ही दिया है। गुजरात में राहुल गांधी के रोड शो और चुनावी रैलियों में उमड़े जन समूह से मोदी इस हद तक घबरा गए थे कि उन्होंने करीब-करीब पूरी केंद्र सरकार को गुजरात में झोंक दिया था। उन्होंने इस चुनाव में अपने जखीरे के हर हथियार और तरकश के हर तीर का इस्तेमाल किया। मोदी की लगभग पूरी कैबिनेट अहमदाबाद में डेरा डालकर पूरे गुजरात के दौरे कर रही थी। और इन सबके निशाने पर सिर्फ एक ही व्यक्ति था, राहुल गांधी। गुजरात चुनावों से सबसे बड़ी खबर अगर कोई निकलती है, तो वह यह कि गुजरात ने राहुल गांधी को नरेंद्र मोदी के मजबूत प्रतिद्वंदी के तौर पर स्थापित कर दिया है। ऐसा प्रतिद्वंदी जो मोदी को सीधे टक्कर दे सकता है। आरएसएस-बीजेपी के दुष्प्रचार के चलते राहुल के बारे में लोगों ने दो राय बना ली थीं। एक तो यह कि वे अपरिपक्व नेता हैं, ऐसे नेता हैं, जिन्हें भारतीय समाज की सच्चाइयों का कोई अंदाजा नहीं है। यानी एक ऐसा बाहरी व्यक्ति जो महज गांधी परिवार के नाम के साथ ही आगे बढ़ने की कोशिश कर रहा है। और दूसरी यह कि राहुल गांधी अपने चाचा संजय गांधी की तरह अहंकारी और विलासिता में पले-बढ़े नेता हैं।लेकिन, राहुल गांधी ने गुजरात में अपनी इन दोनों छवियों को उतार फेंका। उन्हें अच्छी तरह अंदाज़ा था कि उनकी अपनी ही पार्टी कांग्रेस, मोदी जैसे विरोधी से उसके ही घर में मुकाबले के लिए तैयार नहीं है। गुजरात में कांग्रेस न सिर्फ बहुत कमजोर हालत में थी, बल्कि 22 वर्षों के लंबे समय से सत्ता से बाहर रहने के कारण एक तरह से आप्रासांगिक हो चुकी थी। उन्हें अंदाजा था कि अकेले उनकी पार्टी बीजेपी-आरएसएस की सांगठनिक मशीनरी का मुकाबला नहीं कर सकती। हां, राहुल के पास गांधी परिवार का एक करिश्मा जरूर था। इससे आकर्षित होकर लोग उनकी रैलियों में तो आ सकते थे, लेकिन चुनावी जीत के लिए सिर्फ इतना ही काफी नहीं था। उत्तर प्रदेश में यह साबित हो भी चुका था। ऐसे में उन्होंने हार्दिक, अल्पेश और जिग्नेश जैसे युवा गुजराती नेताओं को आकर्षित किया। इन तीनों का अपना सामाजिक आधार मजबूत था और ये तिकड़ी बीजेपी-संघ की सांगठनिक मशीनरी का मुकाबला कर सकती थी। इस रणनीति ने काम किया। बीजेपी को जगह-जगह लोगों के गुस्से का सामना करना पड़ा, कई बार तो उसे रैलियां करने तक में परेशानी आई। राहुल की सोशल इंजीनियरिंग ने सुस्त पड़ी कांग्रेस में एक नई जान फूंकी और वह न सिर्फ सड़कों पर बल्कि विधानसभा में भी एक मजबूत विपक्ष और विकल्प के तौर पर सामने आई। गुजरात अब मोदी की जागीर नहीं रह गया। मोदी की उन्हीं के गृह राज्य में मुहासिर बना दिया गया यानी कांग्रेस की अगुवाई में गुजरात के ऊर्जावान नेताओं के साë