गुजरात विधानसभा चुनाव

गुजरात विधानसभा चुनाव के पहले चरण में आज 89 सीटों पर मतदान शांतिपूर्ण सम्पन्न। 68 प्रतिशत मतदान
गुजरात विधानसभा चुनाव के पहले चरण में 68 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया है। आज राज्य के 89 विधानसभा सीटों पर मतदान कराया गया। वर्ष 2012 के विधानसभा चुनावों में 71 दशमलव सात प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया था। इससे पिछले चुनाव में मतदान प्रतिशत लगभग 60 प्रतिशत था। चुनाव उप आयुक्त उमेश सिन्हा ने शनिवार को  नई दिल्ली में संवाददाताओं को बताया कि मतदान उत्साहपूर्ण रहा। गुजरात विधानसभा के पहले चरण में 70 फीसदी से ज्यादा मतदान होने की संभावना है। मतदान खत्म होने के बाद कांग्रेस और बीजेपी अपनी-अपनी जीत का दावा कर रही हैं। गुजरात विधानसभा चुनाव में पहले चरण की 89 सीटों पर मतदान संपन्न हो गया।  चुनाव आयोग ने प्रेस कॉन्फ्रेंस  मे बताया कि फिलहाल 68 फीसदी मतदान की जानकारी है, लेकिन अंतिम आंकड़ों में मतदान प्रतिशत थोड़े बढ़े हुए हो सकते हैं। पिछले विधानसभा चुनाव में इन सीटों पर औसतन 70 फीसदी मतदान हुआ था। बेहतर मतदान प्रतिशत को देखते हुए कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि पहले चरण में ज्यादा वोटिंग प्रतिशत दर्शाता है कि राज्य बदलाव के लिए तैयार है। उन्होंने कहा, हमें पूरा विश्वास है कि राज्य में कांग्रेस की सरकार बनेगी। वहीं बीजेपी ने भी मतदान खत्म होने के बाद अपनी जीत का दावा किया। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि जनता के मूड से साफ है कि बीजेपी को बड़ी जीत मिलने जा रही है। अरुण जेटली ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर चुनाव आयोग और गुजरात के मतदाताओं का धन्यवाद किया।
मतदान के दौरान इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) में कई जगहों पर खराबी की शिकायतें मिलीं। सूरत समेत कई जगहों पर ईवीएम में खराबी की शिकायत मिलने के बाद चुनाव अधिकारियों ने ईवीएम को बदला। राजकोट और अमरेली में भी कुछ बूथों पर ईवीएम मशीन में खराबी की वजह से कुछ देर के लिए मतदान पर असर पड़ा। बाद में दोनों जगहों पर ईवीएम बदले जाने के बाद मतदान फिर से शुरू हो गया। चुनाव आयोग को सौराष्ट्र और सूरत के कई मतदान केंद्रों के अलावा वलसाड जिले के कोसाम्बा क्षेत्र में ईवीएम मशीनों में गड़बड़ी होने की कई शिकायतें मिलीं। कांग्रेस नेता अर्जुन मोधवाडिया ने आरोप लगाया कि पोरबंदर में मतदान केंद्र ईवीएम मशीनों को ब्लूटूथ से जुड़े हुए थे। इस मामले में चुनाव आयोग को लिखित शिकायत भी दी गई है। जिसके बाद चुनाव आयोग की एक टीम जांच के लिए उस बूथ पर पहुंची जिसके बारे में शिकायत की गई थी। राजकोट के पूर्व निर्वाचन क्षेत्र में भी ईवीएम मशीनों के साथ छेड़छाड़ होने की बात कही गई। चुनाव आयोग के मास्‍टर ट्रेनर विपुल गोटी ने बताया, "शिकायत के बाद दो मशीनों और एक वीवीपैट को बदला गया। इलेक्‍ट्रॉनिक सामानों में दिक्‍कत तो आती ही है।"  मतदान के दौरान बड़े पैमाने पर ईवीएम और वीवीपैट मशीनों में गड़बड़ी की शिकायत के बाद चुनाव आयोग ने कई स्थानों पर मशीनें को बदला। इसकी आयोग ने बताया  कि चुनाव कार्य में लगाई गईं 24,689 वीवीपैट मशीनों में से करीब 470 वीवीपैट मशीनें बदल दी गईं। वहीं शिकायत मिलने पर 26,865 ईवीएम मशीनों में से करीब 100 मशीनों को बदला गया। आयोग ने बताया कि 24,689 कंट्रोल यूनिट में से भी लगभग 94 को शिकायत मिलने के बाद बदल दिया गया।ईवीएम में गड़बड़ी की शिकायत के बाद कांग्रेस ने निर्वाचन आयोग से पूरे मामले में कार्रवाई की मांग की। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल ने चुनाव आयोग से इस मामले में तुरंत कदम उठाने का अनुरोध किया। अहमद पटेल ने ट्वीट किया, "कई मतदान केंद्रों पर ईवीएम में गड़बड़ी होने की खबरें आई हैं। निर्वाचन आयोग से तुरंत जरूरी कदम उठाने का आग्रह करता हूं।"
मतदान के लिए कतार में लगे मतदाताकांग्रेस की ओर से ईवीएम में गड़बड़ी की शिकायत के बाद बीजेपी ने अपनी प्रतिक्रिया 
में  केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने कांग्रेस पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस गुजरात में हार से पहले ईवीएम का बहाना कर रही है। ईवीएम में खराबी के बीच राज्य के मतदाताओं में मतदान को लेकर खासा उत्साह देखा गया। नौजवानों के साथ बुजुर्गों ने भी मतदान में बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया। कई बूथों पर बुजुर्ग अपना वोट डालने बड़ी संख्या में पहुंचे। वहीं भरूच में एक जोड़े ने शादी से पहले बूथ पर पहुंचकर मतदान किया। पहले चरण में कच्छ, मोरबी, जामनगर, सुरेंद्र नगर, देवभूमि द्वारका, राजकोट, बटोद, पोरबंदर, जूनागढ़, अमरेली, गिर सोमनाथ, भावनगर, भरूच, नर्मदा, सूरत, तापी, नवसारी, डांग और वलसाड जिलों में कुल 977 उम्मीदवार चुनावी मैदान में हैं। कुल 24,689 मतदान केंद्रों पर मतदान हुए। पहले चरण में कुल 2,12,31,652 मतदाताओं में से 1,11,05,933 पुरूष और 1,01,25,472 महिलाएं और 247 थर्ड जेंडर से हैं। 89 सीटों में से सत्तारूढ़ बीजेपी के पास 67 और कांग्रेस के पास 16 सीट है। एक-एक सीट एनसीपी और जेडीयू के पास है जबकि बाकी बची दो सीट से निर्दलीय उम्मीदवार जीते थे। अब दूसरे और आखिरी चरण का मतदान 14 दिसंबर को होगा। और 18 दिसंबर को मतगणना होगी। वित्‍तमंत्री अरूण जेटली ने कहा है कि कांग्रेस अपने परम्‍परागत मुद्दों से हट गई है और समाज का धुव्रीकरण करने के लिए बंटवारे के एजेंडे पर चल रही है। श्री जेटली ने आज फेसबुक पर कहा कि कांग्रेस पार्टी के गुजरात में प्रचार का पहला पहलु यह है कि उसने राज्‍य में अपना नेतृत्‍व ध्‍वस्‍त कर दिया है और बाहर से नेतृत्‍व ले लिया है।

 

राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री से पूछा,उनके भाषणों से विकास का मुद्दा क्यों गायब है, क्‍या अब भाषण ही शासन है?
कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए पूछा कि उनके भाषणों से विकास का मुद्दा क्यों गायब है। इससे पहले उन्होंने मोदी से 10 सवाल पूछे हैं, लेकिन किसी का भी जवाब नहीं मिला। कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए सवाल उठाया कि उनके भाषणों से 'विकास' का मुद्दा क्यों गायब है। राहुल ने 9 दिसंबर को गुजरात के पहले चरण के लिए जारी मतदान के बीच पीएम मोदी से पूछा, "इस बार प्रधानमंत्री के भाषणों से विकास गायब है। इसका कारण क्या है।"कांग्रेस उपाध्यक्ष के एक ट्वीट के अनुसार, गुजरात में 22 सालों से भाजपा की सरकार है। मैं केवल इतना पूछूंगा- क्या कारण है इस बार प्रधानमंत्री जी के भाषणों में विकास गुम है? मैंने गुजरात के रिपोर्ट कार्ड से 10 सवाल पूछे, उनका भी जवाब नहीं। पहले चरण का प्रचार खत्म होने तक घोषणा पत्र जारी नहीं हुआ। राहुल ने आगे पूछा, तो क्या अब भाषण ही शासन है? गुजरात में 22 सालों से भाजपा की सरकार है।  मैं केवल इतना पूछूंगा- क्या कारण है इस बार प्रधानमंत्री जी के भाषणों में विकास गुम है?  मैंने गुजरात के रिपोर्ट कार्ड से 10 सवाल पूछे, उनका भी जवाब नहीं। पहले चरण का प्रचार ख़त्म होने तक घोषणा पत्र नहीं। तो क्या अब भाषण ही शासन है?  राहुल गांधी ने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री मोदी ने उनके किसी भी प्रश्न क जवाब नहीं दिया। राहुल का यह ट्वीट चुनाव होने तक पीएम मोदी से हर रोज एक प्रश्न पूछने की रणनीति का हिस्सा है। इससे पहले एक अन्य ट्वीट में राहुल ने गुजरात के मतदाताओं से चुनाव में बढ़चढ़ कर हिस्सा लेने की अपील की थी। उन्होंने लिखा, "मतदाताओं की भागीदारी लोकतंत्र की आत्मा है। मैं पहली बार मतदान करने वाले मतदाताओं का स्वागत और अभिनंदन करता हूं। मैं गुजरात के लोगों से भारी संख्या में मतदान करने और लोकतंत्र के इस उत्सव को सफल बनाने की अपील करता हूं।" मतदाताओं की भागीदारी लोकतंत्र की आत्मा होती है। गुजरात चुनाव में पहली बार वोट डाल रहे युवा साथियों का बहुत स्वागत और अभिनन्दन। गुजरात की जनता से अपील है कि भारी संख्या में मतदान कर लोकतंत्र के इस पर्व को सफल बनाएं।   


नेपाल में संसदीय और प्रांतीय चुनावों में वाम गठबंधन जीत की ओर
नेपाल में संसदीय और प्रांतीय चुनावों में वामपंथी गठबंधन बढ़त बनाये हुए है। संसद की 165 सीटों के लिए हुए चुनाव में वामपंथी गठबंधन ने अब तक घोषित 48 में से 39 सीटें जीत ली हैं और 75 पर बढ़त बनाये हुए हैं। सीपीएन एमाले ने 28 सीटें जीती है जबकि उसकी सहयोगी सीपीएन माओवादी केंद्र को 11 स्‍थान मिले हैं। पिछले चुनाव में सबसे अधिक सीटे जीतने वाली नेपाली कांग्रेस सिर्फ 6 सीट ही हासिल कर पाई है। पूर्व प्रधानमंत्री और सीपीएन एमाले उम्‍मीदवार माधव कुमार नेपाल काठमांडू दो संसदीय चुनाव से जीत गए हैं। संघीय समाजवादी फोरम-नेपाल के अध्‍यक्ष उपेन्‍द्र यादव सत्‍तरी दो क्षेत्र से विजयी हुए हैं । राज्‍य वि‍धानसभाओं की 330 में से 72 सीटों के परि‍णाम भी घोषित हो चुके हैं। वामगठबंधन को 58 नेपाली कांग्रेस को 9 तथा अन्‍य दलों को 5 स्‍थानों पर जीत मिली है। 


इराक ने कहा-इराक-सीरिया सीमा उसके नियंत्रण में है, इस्लामिक स्‍टेट  के खिलाफ युद्ध समाप्‍ति‍ की घोषणा
इराक ने इस्लामिक स्टेट के साथ अपने युद्ध की समाप्ति की घोषणा की है। इराक के प्रधानमंत्री हैदर अल अबादी ने बगदाद में एक सम्मेलन में कहा कि इराक-सीरिया सीमा पर इराकी सेनाओं का पूरा नियंत्रण है। पिछले महीने रावा शहर पर इराकी सेनाओं का कब्जा होने के बाद आईएस के कब्जे वाले सभी इलाकों को छुड़ा लिया गया है।
आतंकवादी संगठन आईएस ने 2014 में सीरिया-इराक के बड़े इलाके पर कब्जा कर लिया था। 


भारत को अपनी मध्यस्थता प्रणाली का स्वयं विकास करना होगा:CJI  दीपक मिश्र 
प्रधान न्यायाधीश न्‍यायमूर्ति दीपक मिश्र ने कहा--भारत को मध्यस्थता का केंद्र बनने के लिए उसे संस्थागत मध्यस्थता को प्राथमिकता देनी चाहिए। उच्‍चतम न्‍यायालय के प्रधान न्यायाधीश न्‍यायमूर्ति दीपक मिश्र ने कहा है कि अगर भारत मध्यस्थता का केंद्र बनता है तो उसे संस्थागत मध्यस्थता को प्राथमिकता देनी चाहिए। वे शनिवार को  नई दिल्ली में वैश्विकरण के युग में मध्यस्थता विषय पर एक अंतर्राष्ट्रीय संगोष्ठी को संबोधित कर रहे थे। न्यायमूर्ति मिश्र ने कहा कि भारत को अपनी मध्यस्थता प्रणाली का स्वयं विकास करना होगा। उन्होंने कहा कि भारतीय संस्थागत परिषद की तरह संस्थागत मध्यस्थता को प्राथमिकता दी जानी चाहिए।


ब्‍लाइंड रिलीफ एसोसिएशन के बाहर सड़क पर व्‍यावसायिक गतिविधियों पर रोक  लगे: HC 
दिल्‍ली उच्‍च न्‍यायालय ने नई दिल्‍ली नगर पालिका परिषद और दिल्‍ली पुलिस को ओबरॉय होटल के पास स्थित ब्‍लाइंड रिलीफ एसोसिएशन के बाहर सड़क पर व्‍यावसायिक गतिविधियों पर रोक लगाने को कहा है। इस जगह अवैध पार्किंग से दृष्टिबाधित लोगों को कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। मुख्‍य न्‍यायाधीश न्‍यायमूर्ति गीता मित्‍तल और न्‍यायमूर्ति सी. हरी शंकर की पीठ ने दिल्‍ली सरकार, नई दिल्‍ली नगर पालिका परिषद और इलाके की यातायात पुलिस को इस मामले की अगली सुनवाई 24 जनवरी को रिपोर्ट पेश करने को कहा है। 


आईएमए देहरादून में 78   देशों के487  कैडेट्स ने अपना प्रशिक्षण पूरा किया
देहरादून स्थित भारतीय सैन्‍य अकादमी में शनिवार को  अठहत्‍तर मित्र देशों के जेंटलमैन कैडेट्स सहित कुल चार सौ सत्‍तासी कैडेट ने अपना प्रशिक्षण पूरा किया। बंगलादेश के सेना अध्‍यक्ष जनरल अबू बिलाल मोहम्‍मद शफी उल हक ने दीक्षांत परेड को संबोधित किया। कैडेट्स ने शानदार परेड का प्रदर्शन किया। संस्‍थान से शनिवार को  पासआउट होने वाले 409 भारतीय कैडेट्स में से सर्वाधिक 76 कमीशन आफीसर उत्‍तर प्रदेश से हैं। हरियाणा से 58 आफीसर हैं और उत्‍तराखंड से 38 अधिकारी सेना के अंग बने। कोर्स के दौरान सर्वोत्‍कृष्‍ट प्रदर्शन करने वाले जेंटलमैन कैडेट चंद्रिकांत आचार्य को स्‍वर्ण ऑनर से सम्‍मानित किया गया। इस अवसर पर बांगलादेश के आर्मी चीफ जनरल अबू बिलाल मोहम्‍मद सैफुल हक ने बांगलादेश मुक्ति संग्राम के दौरान भारतीय सेना की भूमिका को याद किया। गौरतलब है कि अभी तक आईएमए देहरादून ने साठ हजार से ज्‍यादा भारतीय और विदेशी अफसर को तैयार किया है।

 

 भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन- इसरो दूसरा चंद्रयान अगले वर्ष मार्च तक प्रक्षेपित करेगा
भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन-इसरो अगले साल की पहली तिमाही में चन्द्रयान-द्वितीय प्रक्षेपित करने के लिए तैयार है। केन्द्रीय मंत्री डॉक्टर जितेन्द्र सिंह ने ट्वीटर पर कहा कि इसका प्रक्षेपण अगले साल की पहली तिमाही में किया जाएगा। इसरो के अध्यक्ष डॉ. किरन कुमार ने पुणे में पत्रकारों से बातचीत के दौरान इसकी पुष्टि की है। हमारे संवाददाता ने बताया है कि भारत का यह दूसरा चन्द्र अभियान होगा। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन-इसरो के गौरवशाली इतिहास में एक और नया अध्‍याय जुड़ने जा रहा है। इसरो अगले वर्ष की शुरूआत में अपने चंद्रयान-2 प्रक्षेपित करेगा। चंद्रयान-2 में एक आरबिटर होगा जो चंद्रमा की 100 किलोमीटर की दायरे में चक्‍कर लगायेगा। इस अभि‍यान में एक रोबर चंद्रमा की सतह पर उतरेगा। यह रोबर महत्‍वपूर्ण आंकडे एकत्रित करके पृथ्‍वी पर भेजेगा। 


येरूशलम पर अमरीकी फैसले के खिलाफ पश्चिम एशिया में व्‍यापक विरोध प्रदर्शन 

येरूशलम पर अमरीकी फैसले के खिलाफ पश्चिम एशिया में व्‍यापक विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं। इजराइल ने कहा है कि उसने रॉकेट हमलों का बदला लेने के लिए फिलिस्तीनी उग्रवादी संगठन हमास के कई ठिकानों को निशाना बनाया है। इजराइली सेना ने दावा किया है कि उसने शनिवार को  तड़के हमास के हथियार निर्माण स्थल और गोला-बारूद भंडार पर हमला किया। शुक्रवार को देर रात गज़ा से तीन रॉकेट इजराइल पर दागे गए थे, इसमें से एक दक्षिणी शहर सेडरॉट(Sderot) पर दागा गया। इजराइल ने कहा है कि उसने एक मिसाइल को बीच में रोक लिया, दूसरा बंजर भूमि पर और तीसरा सेडरॉट शहर में गिरा। किसी के हताहत होने की खबर नहीं है। फिलिस्तीन के स्वास्थ्य मंत्रालय ने समाचार एजेंसी ए.एफ.पी. को बताया कि गज़ा पर पहले हवाई हमले में 25 लोग घायल हुए हैं। अमरीका के राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रम्प द्वारा येरूशलम को इजराइल की राजधानी के रूप में मान्यता देने के बाद से इजराइल और फिलिस्तीन के बीच तनाव बढ़ गया है। दो सौ से भी अधिक प्रदर्शनकारियों की मिस्र, फ्रांस और गाजापट्टी के झड़पों में घायल होने की खबर है। अमरीका के इस विवास्‍पद फैसले के बाद शुक्रवार को हजारों की संख्‍या में लोग इस फैसले के खिलाफ अपना विरोध प्रदर्शन करने के लिए सड़कों पर उतर आए। कई जगह पर प्रदर्शन ने हिंसात्‍मक रूप ले लिया। हजारों फिलिस्‍तीनी समर्थकों ने जार्डन, मिस्र, इराक, तुर्की, ट्यूनेशिया और ईरान ने भी प्रदर्शन किए। इस बीच संयुक्‍त राष्‍ट्र सुरक्षा परिषद की एमर्जेंसी बैठक में सदस्‍य देशों ने राष्‍ट्रपति ट्रम्‍प के इस कदम की निंदा की है।  इस्राइल में भड़की हिंसा में कम से कम दो लोग मरे, येरुशलम पर अमरीकी फैसले के बाद इस्राइल में हिंसा और विरोध प्रदर्शन।  शुक्रवार को फलस्तीनी रॉकेट हमलों और इस्राइली हवाई हमलों में कम से कम दो लोग मारे गए। अमरीका इस घोषणा के बाद अलग-थलग पड़ गया है। सुरक्षा परिषद की आपात बैठक में अमरीका के कई समर्थक देशों ने श्री ट्रम्प के फैसले की आलोचना की।  इस बीच, अमरीका ने अपने नागरिकों को पाकिस्तान की अनावश्यक यात्रा स्थगित करने की सलाह दी है। अमरीका ने यह भी कहा है कि पाकिस्तान में विदेशी और घरेलू संगठन अमरीकी नागरिकों के लिए खतरा बने हुए हैं। पाकिस्तान में जातीय हमलों समेत बढ़ते आतंकी हमलों के मद्देनजर यह चेतावनी जारी की गयी है।


दक्षिण-पूर्वी बंगाल की खाड़ी में चक्रवाती तूफान   दिशा बदल, पश्चिम बंगाल और बांग्लादेश की तरफ बढ़
दक्षिण पूर्वी बंगाल की खाड़ी में चक्रवाती तूफान की दिशा बदल गई है। यह अब पश्चिम बंगाल और बांग्लादेश की ओर बढ़ रहा है।  शनिवार शाम  तूफान ओडिशा में गोपालपुर बंदरगाह से 150 किलोमीटर दूर था। इसके असर से आज तटीय और उत्तरी ओडिशा में हल्की बारिश की संभावना है। मौसम विभाग के अनुसार ओडिशा के तटवर्ती इलाकों में 60 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से हवाएं चलने की संभावना है।  उधर, मुंबई में शनिवार को सुबह घने कोहरे की परत छाई रही। भारी धुंध के कारण दृश्यता में कमी से कई रेलगाड़ियां देरी से चल रही थीं।  गुस्‍साए रेल यात्रियों ने रेलगाड़ियां रोकीं। शनिवार को सुबह से मुम्‍बई में घना कोहरा छाया हुआ है। कुछ इलाकों में घने धुंध के कारण विजिबिलिटी भी कम हो गयी। शहर में कोहरे के कारण लोकल ट्रेन सर्विस प्रभावित हुईं। लोकल ट्रेन के देर से चलने की समस्‍या से पैसेंजर नाराज हो गए और उन्‍होंने सेंट्रल रेलवे लाइन पर, वासिन रेलवे स्‍टेशन पर रेल रोको आंदोलन किया। इस बीच स्‍काईमैट के अधिकारियों ने बताया है कि दिन में आसमान साफ हो जाएगा। मौसम विभाग ने बताया है कि अधिकतम तापमान 31 डिग्री तक पहुंच सकता है जबकि न्‍यूनतम तापमान 19 डिग्री तक होने की संभावना है। 


भारत को वासेनार की सदस्य्ता मिलना राजनीतिक सफलता : सुषमा स्‍वराज 
भारत वासेनार व्यवस्था में शामिल। विदेश मंत्री सुषमा स्‍वराज ने इसे एक और राजनयिक सफलता बताया।  भारत, शस्त्र निर्यात नियंत्रण की अंतर्राष्ट्रीय वासेनार व्यवस्था में शामिल हो गया है। इस सदस्यता से देश के रक्षा और अंतरिक्ष कार्यक्रमों के लिए उन्नत प्रौद्योगिकी हासिल करने में मदद मिल सकेगी। भारत इस व्यवस्था का 42वां सदस्य देश बना है। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने सदस्‍य देशों के समर्थन के लिए आभार प्रकट किया है। उन्होंने कहा कि यह सदस्यता पिछले वर्ष मिसाइल प्रौद्योगिकी नियंत्रण व्यवस्था में शामिल होने के बाद भारत के लिए एक और राजनयिक सफलता है। विदेश मंत्रालय ने कहा है कि इसमें भारत का शामिल होना परस्पर लाभकारी साबित होगा तथा अंतर्राष्ट्रीय सुरक्षा और परमाणु अप्रसार का लक्ष्य हासिल करने में मदद मिलेगी। परमाणु अप्रसार संधि पर हस्ताक्षर न होने के बावजूद व्यवस्था में भारत के शामिल होने से परमाणु अप्रसार क्षेत्र में इसका योगदान बढ़ेगा। 


नगा मुद्दे पर समझौते से पूर्वोत्तर राज्यों की क्षेत्रीय अखंडता पर आंच नहीं आएगी: राजनाथ सिंह 
गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा - नगा मुद्दे पर समझौते को अंतिम रूप देते समय पूर्वोत्‍तर राज्‍यों की क्षेत्रीय अखंडता पर कोई असर नहीं पड़ेगा। केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि नगा मुद्दे पर समझौते को अंतिम रूप देते समय पूर्वोत्तर राज्यों की क्षेत्रीय अखंडता पर आंच नहीं आने दी जाएगी। श्री राजनाथ सिंह नगालैंड के शोखुवी में पत्रकारों से बातचीत में तीन पूर्वोत्तर राज्यों- अरूणाचल प्रदेश, असम और मणिपुर की क्षेत्रीय अखंडता पर शांति समझौते के संभावित असर के बारे में सवाल का जवाब दे रहे थे। पूर्वोत्तर राज्यों के तीन  राज्यों ने एसएससीएन- आइजक-मुइवा गुट के नगा आबादी वाले क्षेत्रों को मिलाने की मांग का कड़ा विरोध किया है। गृह मंत्री ने नगा समस्या का हल तलाशने की दिशा में मौजूदा वार्ताकार आर. एन. रवि के प्रयासों की भी सराहना की।


कर्नाटक के पूर्व लोकायुक्‍त न्‍यायमूर्ति वाई. भास्‍कर राव की संपत्ति कुर्क
प्रवर्तन निदेशालय ने भ्रष्‍टाचार के मामले में कर्नाटक के पूर्व लोकायुक्‍त न्‍यायमूर्ति वाई. भास्‍कर राव की संपत्ति कुर्क की। प्रवर्तन निदेशालय ने कर्नाटक के पूर्व लोकायुक्त न्यायमूर्ति वाई. भास्कर राव और उनके पुत्र पर भ्रष्टाचार के मामले में पांच करोड़ तीस लाख रुपए मूल्य की संपत्तियां कुर्क कर ली हैं। राज्य सरकार ने 2015 में एक विशेष अन्वेषण दल का गठन किया था।  इस दल ने भारतीय दंड संहिता और भ्रष्टाचार रोकथाम अधिनियम के अंतर्गत चार आरोप-पत्र दाखिल किए हैं।  सरकारी अफसरों को डराकर उनसे भारी मात्रा में पैसा वसूल करने का धंधा लोकायुक्‍त के बेटे के द्वारा चलाने जाने की खबर के बाद जस्टिस भास्‍कर राव को 2015 में निलंबित किया गया। उनके बेटे पर आरोप था कि वह लोकायुक्‍त के जनसंपर्क अधिकारी और अन्‍य लोगों के द्वारा सरकारी अधिकारियों को डराकर करोड़ो का घूस वसूली कर रहे थे। जब जस्टिस भास्‍कर राव ने पद से इस्‍तीफा नहीं दिया तो विधानसभा में उनको निष्‍कासित करने पर निर्णय लिया गया। 


संयुक्त राष्ट्र के कार्यालय में सोमवार को झंडे झुकेगे
संयुक्त राष्ट्र ने कहा है कि कांगो में शांति रक्षक बलों पर हुए हमलों में मरने वालों की संख्या 15 हो गई है। इस कारण संयुक्त राष्ट्र के कार्यालय में सोमवार को झंडे झुके रहेंगे। तंजानिया के ये सैनिक शांति रक्षक बल में कांगो के उत्तरी कीवू अशांत प्रांत में तैनात थे। इस प्रांत में युगांडा के विद्रोही संगठन का ठिकाना है। सुरक्षा परिषद की कल हुई बैठक में मृतकों की स्मृति में मौन रखा गया।

 

भारत की पहली महिला फोटोग्राफर होमी व्यारावाला को गूगल ने उनके 104 वें जन्मदिन पर श्रद्धांजलि दी
आजादी के पहले और बाद के भारत के कई ऐतिहासिक क्षणों को कैमरे में कैद करने वाली होमी व्यारावाला को उनके 104वां जन्मदिनगूगल ने अपने डूडल के जरिए याद किया। सर्च इंजन गूगल ने अपने एक डूडल के जरिये भारत की पहली महिला फोटोग्राफर होमी व्यारावाला को उनके जन्मदिन पर श्रद्धांजलि दी है। गूगल ने उन्हें फर्स्ट लेडी ऑफ द लेंस के तौर पर सम्मानित करते हुए उनका डूडल पेश किया है। देश की पहली महिला फोटोग्राफर होमी व्यारावाला का जन्म 9 दिसंबर 1913 को गुजरात के नवसारी में एक मध्यम वर्गीय पारसी परिवार में हुआ था। मुंबई में पली बढ़ीं व्यारावाला ने शुरुआती फोटोग्राफी अपने दोस्त मानेकशां व्यारवाला से सीखी और फिर जे.जे. स्कूल ऑफ आर्ट में दाखिला लिया, जहां से उन्होंने फोटोग्राफी की बारीकियां सीखी। भारत की यह पहली महिला फोटो जर्नलिस्ट हमेशा छद्म नाम से फोटोग्राफी करती रहीं. होमी व्यारावाला "Dalda 13' के नाम से अपनी तस्वीरें छपवाती थीं, उनकी अधिकतर तस्वीरें इसी नाम से प्रकाशित हुई हैं। इसके पीछे बहुत ही दिलचस्प वजह है। उनका जन्म 1913 में हुआ था और वे अपने पति से 13 साल की उम्र में मिली थी। उनकी पहली कार का नंबर भी DLD 13 था. इसलिए उन्होंने फोटोग्राफी के लिए उन्होंने अपना "Dalda 13"रख लिया. वे इस नाम से फेमस हो गई।
 व्यारावालाहोमी व्यारावाला ने 1930 में फोटोग्राफी के क्षेत्र में कदम रखा और इस क्षेत्र में ऐसी छाप छोड़ी जिसकी यादें आज भी सबके के जहन में जिंदा हैं। जिस दौर में व्यारावाला ने फोटोग्राफी की दुनिया में कदम रखा था उस वक्त कैमरा अपने आप में बेहद नई चीज थी। व्यारावाला की पहली तस्‍वीर बॉम्बे क्रॉनिकल में प्रकाशित हुई थी, जिसके लिए उन्हें प्रति फोटो एक रुपये मिला था। उनकी तस्वीरें टाईम, लाईफ और दि ब्‍लैक स्‍टार जैसे कई अंतर्राष्‍ट्रीय प्रकाशनों में फोटो कहानियों के रूप में प्रकाशित हुईं।  होमी व्यारावालाहोमी व्यारावाला ब्रिटिश सूचना सेवा में एक कर्मचारी थीं। उन्होंने स्‍वतंत्रता के दौरान देश की कई तस्वीरें लीं। द्वितीय विश्वयुद्ध के बाद व्यारावाला ने इलस्‍ट्रेटेड वीकली ऑफ इंडिया मैगजीन के लिए काम करना शुरू कर दिया। उन्होंने इस मैगजीन के लिए 1970 तक काम किया। पति की मौत के बाद उन्होंने फोटोग्राफी छोड़ दी। 1973 में व्यारावाला वडोदरा आकर रहने लगीं। पूरी जिंदगी वह अकेले ही रहीं। साल 2011 में होमी व्यारवाला को भारत सरकार ने पद्म विभूषण से सम्मानित किया। उन्होंने तीन दशक से अधिक समय तक फोटोग्राफी की।  होमी व्यारावालाहोमी व्यारावाला ने अपने कार्य के दौरान जो तस्वीरें लीं उनसे देश की कई यादें जुड़ी हुई हैं। अपनी तस्वीरों के जरिये व्यारावाला ने परिवर्तशील राष्ट्र के सामाजिक तथा राजनैतिक जीवन को दर्शाया। उनकी खींची तस्वीरों में पंडित जवाहर लाल नेहरू से लेकर लॉर्ड माउन्टबेटन और दलाई लामा के भारत में प्रवेश से जुड़ी तस्वीरें शामिल हैं। व्यारावाला ने 16 अगस्त 1947 को लाल किले पर पहली बार फहराये गए तीरंगा, भारत से लॉर्ड माउन्टबेटन के विदाई, महात्मा गांधी, जवाहरलाल नेहरू और लाल बहादुर शास्त्री की अंतिम यात्राओं की तस्वीरें भी अपने कैमरे में कैद की।
बताया जाता है कि 2012 में होमी व्यारवाला अपने घर की सीढ़ियों से गिर गई थीं, जिससे उन्हें कूल्हे में गंभीर चोट आ गई। इस हादसे के बाद पड़ोसियों ने उन्हें अस्पताल में भर्ती करवाया था। उन्हें सांस लेने में भी काफी दिक्कत हो रही थी, जिसके बाद इलाज के दौरान ही 15 जनवरी 2012 को उनका निधन हो गया। होमी व्यारावाला भले ही आज हमारे बीच ना हों लेकिन वह अपने किए गए कार्यों के जरिए आज भी सभी के दिलों में जिंदा हैं।
 

 

सोनिया गांधी: भारत की परवाह में गुजरी पिछले पांच दशकों की जिंदगी 
कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी  9 दिसंबर 2017 को 71 वर्ष की उम्र पूरी करने के साथ कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी अपने जीवन के एक और अहम मोड़ की दहलीज पर पहुंच गईं।19 साल तक कांग्रेस अध्यक्ष रहने के बाद वह इस पद को छोड़ रही हैं।
9 दिसंबर 2017 को 71 वर्ष की उम्र पूरी करने के साथ कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी अपने जीवन के एक और अहम मोड़ की दहलीज पर पहुंच गईं। विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र की सबसे पुरानी पार्टी की 19 साल तक लगातार अध्यक्ष रहने के बाद वह स्वेच्छा से इस पद को छोड़कर अपने उत्तराधिकारी को कमान सौंप देंगी। 1968 में राजीव गांधी की पत्नी और इंदिरा गाधी की बहू बनने के बाद के तीन दशक और उसके बाद कांग्रेस पार्टी के शीर्ष पर अपने 20 साल को जब भी वे याद करेंगी तो निस्संदेह, निजी तौर पर, वे अविश्वसनीय रूप से जटिल और गहरी भावनाओं की लहर से अभिभूत हो जाएंगी। उनकी परियों जैसी सुखद जिंदगी की पटकथा में पहला दुखद मोड़ 31 अक्टूबर 1984 की सुबह उस वक्त आया जब वह खून से लथपथ अपनी सास के शरीर को गोद में लेकर अस्पताल गईं।इसके ठीक 7 साल बाद उनकी जिंदगी में दूसरी विपत्ति तब आई जब 21 मई 1991 को उनके पति की लाश 2000 किमी दूर श्रीपेरंबदूर से लाई गई। इस घटना ने निजी जिंदगी में सदा सुखी रहने की तमाम उम्मीदों पर पानी फेर दिया।  दुख से भरे खालीपन में साथ निभाने के लिए सिर्फ 21 साल का एक बेटा और 19 साल की एक बेटी थी।  वास्तव में कोई नहीं जानता कि अगले कुछ सालों के दौरान उन्हें किन बुरे सपनों और आघातों से गुजरना पड़ा या फिर उस कठिन समय में उन्होंने कैसे अपने बच्चों का मार्गदर्शन किया और उनकी परवरिश की।   लेकिन एक कहावत है कि अगर आप नकारात्मक बातों के ढेर में से एक सकारात्मकता को खोज निकालते हैं तो भयानक स्थिति को भी उल्लेखनीय उपलब्धि में बदला जा सकता है।ऐसा ही सोनिया गांधी के साथ हुआ। पति की मृत्यु के बाद 6 वर्षों तक वह राजनीति से दूर रहीं और पार्टी में नेता की भूमिका के प्रस्ताव को अस्वीकार करती रहीं। उसके बाद 1997 में 51 साल की आयु में उन्होंने एक अहम फैसला लिया, जिसका दूरगामी प्रभाव खुद उनके ऊपर, उनके परिवार पर, कांग्रेस पार्टी पर और आधुनिक भारत के इतिहास पर पड़ने वाला था।सोनिया गांधी ने कलकत्ता में कांग्रेस के अधिवेशन में पार्टी की प्राथमिक सदस्यता ली और एक साल बाद ही 1998 में सीताराम केसरी के नेतृत्व में पार्टी की चुनावी हार के बाद वे कांग्रेस पार्टी की अध्यक्ष चुनी गईं।1999 में अटल बिहारी वाजपेयी के नेतत्व में बीजेपी के नेतृत्व वाली सरकार के गठन के साथ सोनिया गांधी 13वीं लोकसभा में विपक्ष की नेता बनीं। 5 वर्षों तक विपक्ष की भूमिका बखूबी निभाने के बाद उन्होंने 2004 में लेफ्ट और दूसरी पार्टियों के सहयोग से संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन बनाकर अपनी पार्टी को सत्ता में पहुंचाया।  
फिर 18 मई, 2004 को भारतीय राजनीति के इतिहास का सबसे हृदयस्पर्शी क्षण आया। वह पूरी तरह से एक अप्रत्याशित "बलिदान का क्षण" था, जब देश और दुनिया आश्चर्य से देखती रह गई कि किस तरह सोनिया गांधी ने भारत का प्रधानमंत्री बनने से इंकार कर दिया।  चुनाव खत्म हो गए, वाजपेयी की बीजेपी हार चुकी थी और कांग्रेस के नेतृत्व में यूपीए गठबंधन सरकार बनाने के लिए तैयार थी। हर तरफ सोनिया गांधी को देश की दूसरी महिला प्रधानमंत्री के रूप में देखने की उम्मीद की जा रही थी और पार्टी की कार्यकारी समिति द्वारा विधिवत नेता चुने जाने की औपचारिकताओं को पूरा कर लिया गया था।लेकिन उन्होंने इस पद को स्वीकार करने से इंकार कर अपने समर्थकों और विरोधियों को हैरान कर दिया। उन्होंने नव-निर्वाचित पार्टी सांसदों, जिनमें से कई अविश्वास और निराशा में रो रहे थे, से कहा: "मेरा उद्देश्य प्रधानमंत्री का पद कभी नहीं रहा। मैं हमेशा से इस बात को लेकर निश्चित थी कि जब भी मैं खुद को इस स्थिति में पाऊंगी जहां मैं आज खड़ी हूं, मैं अपनी अंतरात्मा की आवाज को सुनूंगी। मैं विनम्रता के साथ इस पद को अस्वीकार करती हूं।"उनके इस ऐलान ने रोने-धोने और मान मनौव्वल के अलावा अफरातफरी का माहौल पैदा कर दिया और उनसे अनुरोध किया गया कि वे अपना फैसला बदल लें। लेकिन उनकी प्रतिक्रिया दृढ़ थी: "मैं अनुरोध करती हूं कि आप मेरे निर्णय को स्वीकार करें। मैं अपने फैसले पर पुनर्विचार नहीं कर सकती हूं। यह मेरी अंतरात्मा, जमीर की आवाज है। इस महत्वपूर्ण समय में मेरी जिम्मेदारी भारत को एक धर्मनिरपेक्ष सरकार देने की है जो मजबूत और स्थिर हो।राजनीतिक विश्लेषकों और विरोधियों ने इसे अलग-अलग तरीके से अपनी धारणा और राजनीतिक झुकाव के अनुसार देखा। कुछ लोगों ने इसे एक उत्कृष्ट बलिदान के रूप में वर्णित किया, जो सार्वजनिक जीवन में दुर्लभ है। दूसरों ने इसमें गुप्त इरादा या आत्मविश्वास की कमी तलाशने की कोशिश की।ज्यादातर लोगों ने इस फैसले के महत्व को कम करने या इस पूरे अध्याय को छिपा कर आमलोगों की याददाश्त से उसे मिटा देने की कोशिश की। लेकिन इतिहास अच्छी तरह से इसकी पहचान एक साहसी फैसले के तौर पर कर सकता है। इस फैसले ने सोनिया गांधी के चरित्र की झलक दिखाई। अंतरात्मा की वह आवाज जिसने उनके निर्णय को प्रभावित किया था वह उनका विवेक था, उनके भीतर के कर्तव्य की भावना थी।प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को उनके जन्मदिन पर बधाई दी है। अपने ट्वीट संदेश में प्रधानमंत्री ने सोनिया गांधी की लंबी उम्र और अच्छे स्वास्थ्य की कामना की है।

 


समाचार संक्षेप मे


>  वर्तमान वित्‍त वर्ष में अप्रैल से नवंबर के दौरान प्रत्‍यक्ष कर की वसूली में चौदह दशमलव चार प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई है। केंद्रीय प्रत्‍यक्ष कर बोर्ड ने एक बयान में कहा कि इस साल नवंबर तक चार लाख 80 हजार करोड़ रुपये के कर की वसूली की गई। यह वर्ष 2017-18 सकल प्रत्‍यक्ष कर वसूली के लक्ष्‍य का 49 प्रतिशत है।

 केंद्रीय सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्री थावरचंद गहलोत ने कहा है कि केंद्र सरकार वरिष्ठ नागरिकों, अनुसूचित जाति और जनजाति तथा दिव्यांग लोगों के कल्याण के लिए प्रतिबद्ध है। वे  दक्षिण गोवा के मड़गांव में राष्ट्रीय वयोश्री योजना शिविर में बोल रहे थे। यह शिविर गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले परिवारों के वरिष्‍ठ नागरिकों को सहायक उपकरण वितरित करने के लिए आयोजित किया गया था। श्री गहलोत ने कहा कि केंद्र सरकार अन्‍य पिछड़ा वर्ग आयोग को संवैधानिक दर्जा देने पर फिर से विचार करेगी और संसद के आगामी सत्र में एक नया विधेयक पेश करेगी।

>  
केंद्रीय कृषि और किसान कल्‍याण मंत्री राधामोहन सिंह ने कहा है कि सरकार का लक्ष्‍य प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी की नीली क्रांति की परिकल्‍पना के जरिए 2022 तक मछुआरों और मत्‍स्‍य पालकों की आय को दोगुना करना है। श्री सिंह ने गोआ सरकार के मत्‍स्‍य पालन विभाग के आज पणजी में आयोजित मत्‍स्‍य उत्‍सव में कहा कि नीली क्रांति का प्रमुख बिन्‍दु आधुनिक तकनीक, प्रशिक्षण और मछुआरों तथा मत्‍स्‍य पालकों की क्षमता निर्माण, वैज्ञानिक तरीकों और मत्‍स्‍य स्‍वास्‍थ्‍य प्रबंधन को बढ़ावा देना है।

>   
छत्‍तीसगढ़ के बस्‍तर क्षेत्र में आज गोलीबारी की एक घटना में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल-सीआरपीएफ के चार जवानों की मौत हो गई। गोलीबारी की यह घटना उग्रवाद प्रभावित बीजापुर जिले के बासागूडा स्थि‍त सीआरपीएफ शिविर में हुई, जहां 168 बटालियन के एक जवान सांताराम ने अपने सहयोगी के साथ विवाद के बाद गोलीबारी की। इसमें दो उप निरीक्षक, एक सहायक उप निरीक्षक और एक जवान की घटना स्‍थल पर ही मौत हो गई। एक अन्‍य जवान गंभीर रूप से घायल हो गया जिसे रायपुर भेजा जा रहा है। गोलीबारी के कारणों का अभी पता नहीं चल पा रहा है।

>   
राजस्‍थान के दौसा जिले में राष्‍ट्रीय राजमार्ग संख्‍या-11 पर खेदली मोड के पास एक जीप के टैंकर से टक्‍कर के कारण सात लोगों की मौत हो गई और पांच अन्‍य गंभीर रूप से घायल हो गये। चार लोगों की घटना स्‍थल पर ही मृत्‍यु हो गई।

>  
श्रीलंका सरकार ने आज हम्बनटोटा बंदरगाह के संचालन का कार्य ऐसी दो कंपनियों को सौंप दिया है, जिनमें चीन की बड़ी हिस्सेदारी है। श्रीलंका की संसद में शनिवार को  हुए एक समारोह में सरकार ने 29 करोड 40 लाख डॉलर की राशि प्रारंभिक तौर पर प्राप्त की। यह राशि एक अरब 12 करोड डॉलर की तीस प्रतिशत है। इसके साथ ही हम्बनटोटा इंटरनेशनल पोर्ट ग्रुप और हम्बनटोटा इंटरनेशनल पोर्ट सर्विसेज ने देश के दक्षिण में बंदरगाह के कार्य शुरू कर दिए हैं। हिंद महासागर में यह स्थान सामरिक दृष्टि से महत्वपूर्ण माना जाता है।
                                                                           
 प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को उनके जन्मदिन पर बधाई दी है। अपने ट्वीट में प्रधानमंत्री ने सोनिया गांधी के दीर्घायु होने और अच्छे स्वास्थ्य की कामना की है

>   प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मतदाताओं से बढ़-चढ़कर अपने अधिकार का इस्तेमाल करने का अनुरोध किया है। श्री मोदी ने एक ट्वीट संदेश में विशेष रूप से युवाओं से वोट डालने को कहा है। 


>   
आध्यात्मिक गुरु दलाई लामा ने युवा पीढ़ी से वास्तविक प्रगति के लिए प्राचीन भारतीय ज्ञान संपदा पर ध्यान केंद्रित करने और इससे अधिक से अधिक सीखने को कहा है। मुंबई के एक स्कूल में विद्यार्थियों से दलाई लामा ने कहा कि भारत की युवा पीढ़ी शांति के लिए ज्ञान प्रसार में व्यापक योगदान कर सकती है।

 


खेल-जगत  


*   भुवनेश्‍वर में ऑस्‍ट्रेलिया विश्‍व हॉकी लीग फाइनल टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंच गया है। भुवनेश्‍वर में आज दूसरे सेमीफाइनल में ऑस्‍ट्रेलिया ने जर्मनी को तीन-शून्‍य से हरा दिया। फाइनल में कल ऑस्‍ट्रेलिया का सामना अर्जेंटीना से होगा। भारत अब कांस्‍य पदक के मुकाबले में कल जर्मनी से खेलेगा। इससे पहले पांचवें स्‍थान के मुकाबले में बेल्जियम ने स्‍पेन को एक-शून्‍य से हरा दिया। खेल का एकमात्र गोल बेल्जियम के डोकियर सबेस्टियन ने चौथे मिनट में किया।   


 
*   एशियाई निशानेबाज़ी चैम्पियनशिप में भारत ने पांच पदक जीते। जापान में 10वीं एशियन एयरगन निशानेबाज़ी चैम्पियनशिप के पहले दिन भारत ने शुक्रवार को पांच पदक जीते। रवि कुमार ने पुरुष 10 मीटर व्‍यक्तिगत एयर राईफल स्‍पर्धा में कांस्‍य पदक हासिल किया। इसी स्‍पर्धा में जूनियर वर्ग में अर्जुन बबुता ने रजत पदक जीता। भारत ने एयर राईफल स्‍पर्धा के टीम वर्ग में तीन रजत पदक अपने नाम किये। इस बीच, ओलिम्पिक कांस्‍य पदक विजेता गगन नारंग पदक नहीं जीत सके। भारतीय खिलाडियों ने शुक्रवार को  सात व्‍यक्तिगत स्‍पर्धाओं के फाइनल में जगह बनाई।
 


 खबरी दुनिया 


*   राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में जिंदा नवजात को मृत बता कर सौंपने के मामले में शालीमार बाग स्थित मैक्स अस्पताल का लाइसेंस रद्द होने 
की खबर को शनिवार को सभी अखबारों ने पहली खबर बनाया है। दैनिक भास्कर ने लिखा है - अस्पताल की लापरवाही पर पहली बार ऐसी कार्रवाई। नवभारत टाइम्स ने इसे मैक्सिमम सजा बताते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री के इस बयान को छापा है कि मरीजों से खुली लूट और आपराधिक लापरवाही को कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।


*   गुजरात विधानसभा के पहले चरण के चुनाव से संबंधित खबरें भी सभी अखबारों में हैं। नवभारत टाइम्स की सुर्खी है - पहले दौर की वोटिंग से पहले तीखे वार। 
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बयान मेरी सुपारी देने पाकिस्तान गए थे मणिशंकर अय्यर। इसे भी अखबारों ने जगह दी है।


*   कर के बोझ से दबी रियल इस्टेट कम्पनी यूनिटेक पर अब होगा सरकार का कंट्रोल, नवभारत टाइम्स में प्रमुखता से है। अमर उजाला की सुर्खी है - सरकार ने सभी आठ निदेशक किए निलम्बित। ट्रिब्यूनल का निर्देश - सरकार अपने दस निदेशक नियुक्त करे।


*   राष्ट्रीय जनता दल प्रमुख लालू प्रसाद के परिवार पर प्रवर्तन निदेशालय का शिकंजा। 45 करोड़ रुपये की सम्पत्ति कुर्क, राष्ट्रीय सहारा में है।


*   दिल्ली में फर्जी शिक्षा बोर्ड के पर्दाफाश होने को हिंदुस्तान ने बॉक्स में देते हुए लिखा है कि 2012 से चल रहे इस फर्जी बोर्ड का जाल देश के 17 राज्यों तक फैला हुआ है।


*   पाकिस्तान में कथित जासूसी के आरोप में गिरफ्तार कुलभूषण जाधव की बड़े दिन पर होगी मां और पत्नी से मुलाकात, अमर उजाला की पहली खबर है। पत्र लिखता है - इस दौरान भारतीय राजनयिक भी साथ में रहेंगे।


*   सेंसेक्स फिर 33 हजार के पार, राष्ट्रीय सहारा के अर्थ जगत में है। पत्र लिखता है कि विदेशी मुद्रा भंडार रिकार्ड स्तर पर।


*   सुप्रीम कोर्ट का यह कहना कि ताजमहल के संरक्षण के लिए 200 वर्षों तक की योजना बने, अमर उजाला सहित अधिकतर अखबारों में है। 
पत्र लिखता है कि अदालत ने हाल में पेश की योजना को नाकाफी बताया।


*   स्मॉर्ट सिटी में शामिल होंगे और दस शहर- शीर्षक से राष्ट्रीय सहारा ने लिखा है इस स्पर्धा में बीस शहरों ने की थी भागीदारी। पांच के प्रस्ताव अंतिम तारीख तक नहीं मिले।

 

 

राजस्थान समाचार विशेष  


चूरू-फतेहपुर आमान परिवर्तित लाइन पर रेल संचालन शुरू
देश में हर रोज 10 नये रेल प्रोजेक्ट शुरू:
 रेल राज्य मंत्री 
चूरू,   रेल राज्य मंत्री श्री राजेन गोहेन ने कहा है कि देश में हर रोज 10 नये रेल प्रोजेक्ट शुरू कर आमजन को बेहत्तर एवं आधुनिक रेल सुविधाएं मुहैया कराई जा रही है। श्री गोहेन शनिवार को चूरू जिला मुख्यालय पर चूरू-फतेहपुर आमान परिवर्तित लाइन पर रेल संचालन के शुभारंभ समारोह में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि देश में आमजन की आवागमन की सुविधाओं के अनुरूप रेल सुविधाओं का विस्तार किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि भारत में समस्त रेल लाइनों को इलेक्ट्रीफाई कर दिया गया है। उन्होंने आश्वासन दिया कि वर्ष 2018-19 में चूरू जयपुर रेल लाईन का कार्य पूर्ण कर चूरू की जनता को जयपुर से सीधा जोड़ दिया जायेगा। इस अवसर पर रेल राज्य मंत्री ने कहा कि चूरू प्लेट फार्म पर प्राथमिकता से एक्सीलेटर सुविधा मुहैया करा दी जायेगी। उन्होंने कहा कि जहां हर रोज एक लाख ट्रेफिक आवागमन होता है वहां ओवर ब्रीज का निर्माण करा दिया जायेगा। उन्होंने कहा कि भारत सरकार द्वारा संचालित योजनाओं के तहत आमजन जागरूक होकर अधिकाधिक लाभ उठावें। समारोह में सांसद श्री राहुल कस्वा ने कहा कि इस क्षेत्र के लोगों की बड़ी समय से इस रेल सुविधा की मांग पूर्ण होने पर अब बड़ी राहत मिलेगी। उन्होंने कहा कि चूरू-झुंझुनू-सीकर क्षेत्र के लोगों  का देश के विकास में महत्ती योगदान के दृष्टिगत रेल सुविधाओं का विकास होना आवश्यक है। उन्होंने कहा कि सीकर-जयपुर रेल सेवाएं आगामी डेढ़ वर्ष में मुहैया कराने के प्रयास जारी है। उन्होंने हावड़ा-बाड़मेर रेल सेवा से चूरू क्षेत्र के लोगों को जोड़ने की मांग करते हुए कहा कि तारानगर क्षेत्र को रेल सुविधा से जोड़ने के महत्ती प्रयास किये जा रहे है। इस अवसर पर ग्रामीण विकास एवं पंचायत राज मंत्री श्री राजेन्द्र राठौड़ ने कहा कि शेखावटी क्षेत्र के लोग देश की सैन्य ताकत में 13 प्रतिशत योगदान प्रदान करते है और इस क्षेत्र के औद्योगिक घरानों का देश में महत्ती स्थान है। उन्होंने चूरू प्लेटफार्म पर एक्सीलेटर सुविधा, चूरू-फतेहपुर रेल सेवा के रोज दो फेरे करने, सूर्यनगरी एक्सप्रेस को चूरू से जोड़ने, हावड़ा-जैसलमेर रेल का सप्ताह मे दो दिन संचालन, अग्रसेन नगर एवं देपालसर में एक-एक ओवर ब्रीज निर्माण की मांग करने पर रेल राज्य मंत्री ने प्राथमिकता से कार्यवाही करने का आश्वासन दिया।  शिक्षा राज्य मंत्री श्री वासुदेव देवनानी ने कहा कि शेखावटी क्षेत्र शिक्षा, सैनिक, औद्योगिक दृष्टि से समृद्ध क्षेत्र है, इसलिए इस क्षेत्र में रेल सुविधा का विस्तार कर आमजन को राहत प्रदान की जानी आवश्यक है। देवस्थान राज्य मंत्री श्री राज कुमार रिणवां ने इस क्षेत्र में रेल सुविधा के विस्तार पर बल दिया। सीकर सांसद श्री सुमेधानंद सरस्वती ने शेखावाटी क्षेत्र में रेल सुविधओं के विस्तार पर बल देते हुए कहा कि यहां के लोग सेना, औद्योगिक, शिक्षा के क्षेत्र मे अग्रणी है। समारोह में राज्य सभा सांसद श्री नरेन्द्र बुडानिया ने कहा कि इस रेल का शुभारंभ होने से इस क्षेत्र के लोगों को बड़ी राहत मिलेगी। उन्होंने कहा कि रेल देश में सर्वोतम सुविधाजनक आवागमन का साधन है इसलिए तारानगर क्षेत्र में रेल सुविधा होना आवश्यक है। सभापति श्री विजय कुमार शर्मा ने कहा कि इस रेल के शुभारंभ से क्षेत्र के लोगों को बहेत्तर रेल सुविधा मिल पायेगी। इस अवसर पर उत्तर-पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक श्री टी.पी.सिंह, अतिरिक्त जिला कलक्टर श्री राकेश कुमार, रेलवे अधिकारी, जनप्रतिनिधि एवं आमजन उपस्थित थे। 


डॉ. मनीष चौधरी निलम्बित
जयपुर   राज्य सरकार के कार्मिक विभाग ने शनिवार को एक आदेश जारी कर भरतपुर के अतिरिक्त मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मनीष चौधरी को निलम्बित कर दिया है। डॉ. चौधरी को उनकी गिफ्तारी की तिथि 5 दिवस से निलम्बित माने जाने के आदेश जारी किये गये है।  विभाग के अतिरिक्त निदेशक श्री गिरीश पाराशर ने 23 नवम्बर को फोन पर सांसद बनकर गालीगलौच करने एवं धमकाने के मामले मे 21 नवम्बर को अशोक नगर थाने में मामला दर्ज करवाया था। अशोक नगर थाने ने इस मामले में अनुसन्धान कर डॉ. मनीष चौधरी को भरतपुर से गिरफ्तार कर लिया। उन्हे भारतीय दण्ड धारा 353, 506, 507, 504, 384 एवं 419 के अपराध मे प्रथम दृस्टया लिप्त पाये जाने पर गिरफ्तार किया गया। डॉ. मनीष चौधरी को 48 घंटे से अधिक अभिरक्षा मे रहने पर राजस्थान सिविल सेवा नियम के अन्तर्गत गिरफ्तारी के दिन 5 दिसम्बर से ही निलम्बित माने जाने के आदेश जारी किये गये है। 


राजसमन्द राजसमन्द में हुई दर्दनाक हत्या के पीड़ित परिवार को दी 5 लाख की सहायता 
पुलिस महानिदेशक ने किया घटना स्थल का दौरा 
जयपुर,  मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे ने राजसमन्द में हुई दर्दनाक हत्या के पीड़ित परिवार को राज्य सरकार की ओर से 5 लाख रुपए की सहायता प्रदान की है। शनिवार को राजसमन्द के एसडीएम श्री राजेन्द्रप्रसाद अग्रवाल ने मृतक के दामाद श्री मुशरफ खान को सहायता राशि का चैक भेंट किया।  यह चैक मृतक अफराजुल की पत्नी श्रीमती गुलबहार के नाम जारी किया गया है। यह चैक अंजुमन कमेटी के सदर एड्वोकेट मोहम्मद फिरोज खान व उपाध्यक्ष रफीक मोहम्मद, परिजनों तथा क्षेत्रावासियों की मौजूदगी में दिया गया। इससे पहले मुख्यमंत्री के निर्देश पर शनिवार को राजसमन्द पहुंचे पुलिस महानिदेशक श्री ओपी गल्होत्रा ने घटना स्थल का दौरा किया। उन्होंने इस घटना तथा इसके बाद राजसमन्द में पैदा हुए हालातों के बारे में पुलिस अधिकारियों से विस्तार से जानकारी ली। उन्होंने जिला पुलिस अधीक्षक कार्यालय के सभाकक्ष में पीड़ित परिवार तथा संबंधित लोगों से घटना के बारे में विस्तृत चर्चा भी की।श्री गल्होत्रा ने पत्रकारों से बातचीत के दौरान बताया कि श्रीमती राजे इस मामले को लेकर बेहद गंभीर हैं और निरंतर फीडबैक ले रही हैं। उन्होंने निर्देश दिए हैं कि घटना के दोषियों पर सख्त से सख्त कार्रवाई की जाए। पुलिस महानिदेशक ने घटना को नृशंस बताते हुए कहा कि इसकी तफ्तीश पूरी गंभीरता से की जा रही है। मामले में साइन्टिफिक एवं फोरेन्सिक तथ्य मिले हैं। इनका हर स्तर पर अनुसंधान जारी है। घटना को लेकर राजसमन्द पुलिस द्वारा अब तक की गई कार्यवाही के प्रति उन्होंने संतोष व्यक्त किया। उन्होंने भरोसा दिलाया कि पुलिस शीघ्र अनुसंधान पूर्ण कर महीने भर में चार्जशीट कोर्ट में पेश करने का प्रयास कर रही है। पूरा प्रयास है कि मामले में न्यायालय से जल्द से जल्द फैसला हो और दोषियों को शीघ्र सजा मिले।  इस अवसर पर एडीजी क्राइम श्री पंकजकुमार सिंह, उदयपुर रेंज के पुलिस महानिरीक्षक श्री आनंद श्रीवास्तव, जिला कलक्टर श्री पीसी बेरवाल, जिला पुलिस अधीक्षक श्री मनोज कुमार सहित अन्य वरिष्ठ पुलिस अधिकारी उपस्थित थे। 
उधर,मालदा (पश्चिम बंगाल) के 5 हजार की आबादी वाले मालदा के सैय्यदपुर गांव में चारों तरफ मातम पसरा है और ऐसा लग रहा है कि जैसे पूरा गांव अफराजुल के घर पर इकट्ठा हो गया है।  ख़बरों के अनुसार  गम और गुस्से के साथ लोग बार-बार यही कह रहे हैं कि अफराजुल बहुत अच्छे आदमी थे। अफराजुल गरीब मजदूर थे, जो मजदूरी करने के लिए राजस्थान गए थे।अफराजुल दूसरे मजदूरों को मालदा से राजस्थान भी ले जाते थे। वह वहां बिल्डिंग बनवाने का काम करते थे। काफी दिनों से वह वहीं रह रहे थे।  पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने 8 दिसंबर को कहा कि उनकी सरकार अफराजुल के परिवार को 3 लाख रुपए और परिवार के एक सदस्य को नौकरी देगी।

 

10 दिसम्बर, 2017

 

 राष्‍ट्रपति ने भारतीय नौसेना की पनडुब्‍बी शाखा को राष्‍ट्रपति ध्‍वज प्रदान किया 

राष्‍ट्रपति श्री कोविन्‍द ने कहा-समुद्र के रास्‍ते व्‍यापार बढ़ने से राष्‍ट्र निर्माण में नौसेना की भूमिका और बढ़ जाती है। राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शुक्रवार को विशाखापट्टनम में पूर्वी नौसेना कमान मुख्‍यालय में भारतीय नौसेना की पनडुब्‍बी शाखा को राष्‍ट्रपति का ध्‍वज प्रदान किया। राष्‍ट्रपति ध्‍वज देश की सुरक्षा में महत्‍वपूर्ण भूमिका के लिए प्रदान किये जाते हैं। स्‍वर्ण जयंती समारोह के अवसर पर अनेक वरिष्‍ठ अधिकारियों और गणमान्‍य व्‍यक्तियों को संबोधित करते हुए राष्‍ट्रपति ने कहा कि भारत के समुद्री हित न केवल देश के आर्थिक और सुरक्षा हितों से, बल्कि लोगों की समृद्धि से भी सीधे तौर पर जुड़े हैं। श्री कोविंद ने कहा कि समुद्री व्‍यापार बढ़ने से भारतीय नौसेना की भूमिका राष्‍ट्रीय सुरक्षा से बढ़कर राष्‍ट्र निर्माण से भी जुड़ जाती है। श्री कोविन्‍द ने देश के सैन्‍य और नागरिक हितों की रक्षा में नौसेना की भूमिका की सराहना की। इस अवसर पर आंध्र प्रदेश के मुख्‍यमंत्री, पूर्वी नौसेना कमान के प्रमुख वाइस एडमिरल करमबीर सिंह और नौसेना के अन्‍य वरिष्‍ठ अधिकारी उपस्थित थे। इस अवसर पर परम्‍परागत परेड के दौरान राष्‍ट्रपति को सलामी गारद पेश किया गया। विशाखापट्टनम में भारतीय नौसेना की पनडुब्‍बी शाखा की आधारशिला तत्‍कालीन नौसेना प्रमुख एडमिरल ए.के. चटर्जी ने रखी थी। इसने 1970-71 के भारत-पाकिस्‍तान युद्ध में महत्‍वपूर्ण भूमिका अदा की थी। भारतीय नौसेना की पनडुब्‍बी सेवा अपनी गौरवमयी स्‍वर्ण जयंती मना रही है। आज ही के दिन आठ दिसम्‍बर 1967 की सुबह आईएनएस कलवेरी पर तिरंगा लहराया गया था। पहली कलवेरी अब सेवा में नहीं है। इस महीने की 14 तारीख को नई कलवेरी को फिर से शामिल की जाएगी।  

 

गुजरात विधानसभा चुनाव 

गुजरात विधानसभा चुनाव के पहले चरण में नवासी सीटों के लिए मतदान आज 
मतदान सुबह आठ बजे शुरू होगा और शाम पांच बजे तक चलेगा, पहले चरण के मतदान के लिए एक लाख सोलह हजार से अधिक चुनाव कर्मचारी नियुक्‍त किए गए हैं। पहले चरण के सभी 24 हजार 600 मतदान केन्‍द्रों पर ई.वी.एम. और वी.वी.पैट मशीन का इस्‍तेमाल किया जाएगा। मतदान शुरू होने के वास्‍तविक समय के एक घंटे पहले सभी मतदान केन्‍द्रों में प्रिजाइडिंग ऑफिसर द्वारा मॉक पोलिंग कराई जाएगी और एक लाख 76 हजार से अधिक पुलिस कर्मचारियों को तैनात किया गया है।  इस चरण में मुख्‍यमंत्री विजय रूपाणी, राजकोट पश्चिमी से चुनाव मैदान में हैं। इनका मुकाबला कांग्रेस के इन्‍द्ररानिल राजगुरू से है। राज्‍य विधानसभा के पूर्व विपक्षी नेता कांग्रेस के शक्ति सिंह गोहिल मांडवी से अपना भाग्‍य अजमा रहे हैं। भाजपा के वीरेन्‍द्र सिंह जड़ेजा का मुकाबला गोहिल से है। डासना भाजपा के रमनभाई बोरा, कांग्रेस के नौशादजी बी सौलंकी और आम आदमी पार्टी उम्‍मीदवार परषोत्‍तम छानियारा के बीच त्रिकोणीय मुकाबला है।  इस बीच, दूसरे चरण के चुनाव का प्रचार जोरों पर है। प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने कहा है कि यह साफ है कि भाजपा की ही जीत होगी। आज अहमदाबाद के निकोल में चुनाव रैली में श्री मोदी ने कहा कि ऐसी कोई भी पार्टी जो विकास विरोधी और समाज को बांटने में लगी हो गुजरात में स्‍वीकार नहीं की जाएगी। इसलिए कांग्रेस की जीत नहीं होगी। उन्‍होंने कहा कि गुजरात, कांग्रेस का कुशासन भूला नहीं है। श्री मोदी ने कहा कि मध्‍यम वर्ग की जनसंख्‍या और शक्ति बढ़ रही है। समाज का यह वर्ग तेजी से तरक्‍की करने की इच्‍छा रखता है। उन्‍होंने कहा कि उनकी पार्टी ने यह सुनिश्चित किया है कि छोटी दुकानें भी लम्‍बे समय तक खुली रह सकती हैं, क्‍योंकि इससे अनेक लोगों को आर्थिक अवसर मिलते हैं। श्री मोदी ने भाभर, हिम्‍मतनगर और कलोल में भी जनसभाओं को सम्‍बोधित किया।
उधर,कांग्रेस उपाध्‍यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि उनकी पार्टी गुजरात में चुनाव जीतने जा रही है और उसे कोई नहीं रोक सकता। उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस दस दिन के भीतर किसानों की ऋण माफी की नीति लेकर आएगी। श्री गांधी ने राज्‍य की भाजपा सरकार पर आदिवासियों की जमीन छीनने और उन्‍हें कोई मुआवजा नहीं देने का आरोप भी लगाया। दूसरे चरण का मतदान 14 दिसम्‍बर को होगा। मतगणना 18 दिसम्‍बर को होगी।


भाजपा ने संकल्‍प-पत्र जारी किया, जिला स्‍तर पर मेडिकल कॉलेज और सबके लिए मकान तथा बिजली का वादा    
भारतीय जनता पार्टी ने गुजरात विधानसभा चुनाव के पहले आज अपना संकल्‍प पत्र जारी किया। अहमदाबाद में घोषणा पत्र जारी करते हुए पार्टी के वरिष्‍ठ नेता और वित्‍त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि पिछले पांच वित्‍त वर्षों में बड़े राज्‍यों में गुजरात एक मात्र राज्‍य है, जहां वृद्धिदर दस प्रतिशत रही। देयर इज ओनली वन स्‍टेट इन इंडिया अमंग द लार्जर स्‍टेट व्‍हिच हैज डबल डिजिट ग्रोथ रेट और यह डबल डिजिट ग्रोथ रेट उस पांच साल में था जबकि विश्‍व की और देश की अर्थव्‍यवस्‍था का जो बूम पीरियड होता है वह नहीं था, और वह गुजरात है, पिछले पांच फिस्‍कल ईयर्स का गुजरात का एवरेज ग्रोथ रेट दस परसेंट है। श्री अरूण जेटली ने कहा कि राज्‍य में भाजपा सरकार ने जो काम किये हैं, वह सबको दिखाई दे रहे हैं। श्री जेटली ने कहा कि पार्टी प्रत्‍येक जिले में मेडिकल कॉलेज तथा सभी परिवारों के लिए मकान और बिजली उपलब्‍ध कराना चाहती है। वित्‍तमंत्री ने कहा कि गुजरात के लिए कांग्रेस की परिकल्‍पना न तो संवैधानिक रूप से और न ही आर्थिक रूप से संभव है। उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस ने अपने घोषणा-पत्र में जिन योजनाओं की घोषणा की है उन पर पहले ही काम हो चुका है। भारतीय जनता पार्टी ने अपने संकल्‍प पत्र में किसानों की आमदनी दोगुनी करने और महिला साक्षरता को सुदृढ़ बनाने का वचन दिया है। पार्टी ने जनजातियों और अन्‍य पिछड़े वर्गों के विकास के प्रति भी अपना संकल्‍प व्‍यक्‍त किया है। इस बीच, राज्‍य में, पाटीदार अनामत आन्‍दोलन समिति के संयोजक दिनेश बम्‍भानिया ने समिति से इस्‍तीफा दे दिया है। इसे पाटीदार नेता हार्दिक पटेल और कांग्रेस के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है। श्री बम्‍भानिया ने कहा है कि आरक्षण आन्‍दोलन राजनीतिक लड़ाई में बदल चुका है। उन्‍होंने आरोप लगाया कि पाटीदारों को आरक्षण देने के मामले में कांग्रेस का रवैया स्‍पष्‍ट नहीं है। उन्‍होंने यह भी कहा कि अनामत आन्‍दोलन समिति के कई अन्‍य संयोजक भी हार्दिक पटेल के साथ नहीं हैं।

 

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि भाजपा सरकार ने नर्मदा का पानी बनासकाठा क्षेत्र में लोगों के घरों तक पहुंचाया

 गुजरात में विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण के लिए प्रचार पूरे जोरों पर है। प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने कहा है कि नर्मदा का पानी बनासकांठा तक भारतीय जनता पार्टी के प्रयासों से ही पहुंचा है। बनासकांठा जिले में भाभर में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि जब पाटण और बनासकांठा में बाढ़ आई थी तो कांग्रेस के विधायक बेंगलुरू में आराम कर रहे थे, जबकि भाजपा के नेता लोगों के साथ राहत और बचाव कार्यों में लगे थे। श्री मोदी आज कलोल, हिम्‍मतनगर और निकोल में भी चुनाव सभा करने वाले हैं।  इस बीच, कांग्रेस उपाध्‍यक्ष राहुल गांधी ने जनजातीय लोगों के विकास के लिए बनायी गयी वन बंधु कल्‍याण योजना को लेकर भाजपा सरकार से सवाल किया है। श्री राहुल गांधी ने अहमदाबाद, छोटा उदयपुर, खेड़ा और आणंद जिलों में सभाएं की हैं। 

 

आदिवासियों की 'वनबंधु योजना' के 55 हजार करोड़ का क्या हुआ? : राहुल गांधी का पीएम मोदी से 10वां सवाल,
कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने गुजरात के आदिवासियों की बुरी हालत पर जोर देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से पूछा कि वनबंधु योजना के लिए आवंटित 55,000 करोड़ रुपये कहां गए?  गुजरात विधानसभा चुनाव में पहले चरण के मतदान से पहले राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद मोदी से 22 सालों का हिसाब, गुजरात मांगे जवाब के तहत अपना 10वां सवाल पूछा है।राहुल ने ट्वीट कर कहा कि बीजेपी शासित गुजरात में आदिवासियों से जमीन छीनी जा रही है। अदिवासियों को उनकी जमीन पर अधिकार नहीं दिया जा रहा है। अपने सवाल में राहुल गांधी ने जमीन के उन लाखों पट्टों का जिक्र किया, जो प्रदेश में अटके पड़े हैं और उन्हें अदिवासियों को नहीं दिया जा रहा है।
22 सालों का हिसाब#गुजरात_मांगे_जवाब -10 वां सवाल: -
आदिवासी से छीनी जमीन 
नहीं दिया जंगल पर अधिकार
अटके पड़े हैं लाखों जमीन के पट्टे 
न चले स्कूल न मिला अस्पताल 
न बेघर को घर न युवा को रोजगार 
पलायन ने दिया आदिवासी समाज को तोड़
मोदीजी, कहाँ गए वनबंधु योजना के 55 हजार करोड़?
केंद्र सरकार ने साल 2014 में जनजातीय आबादी के विकास और कल्याण के लिए वनबंधु योजना शुरू की थी, लेकिन अभी तक इसके तहत कुछ खास नहीं हो पाया है।गुजरात में अदिवासियों की सामाजिक स्थिति बेहद खराब है। राज्य के कई जिलों से अदिवासी समाज पलायन करने को मजबूर हैं। अक्सर राज्य में अदिवासियों पर अत्याचार के मामले भी सामने आते रहते हैं।

 

महाराष्ट्र के भंडारा-गोंदिया से भाजपा सांसद नाना पटोले ने लोकसभा से दिया इस्तीफा
भाजपा नेतृत्व और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कार्यशैली से नाराज  सांसद नाना पटोले ने 8 दिसंबर को लोकसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया। पटोले का इस्तीफा ऐसे समय में आया है जब एक दिन बाद गुजरात में पहले चरण का मतदान होना है।  पटोले ने इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर आरोप लगाया था कि वह अपनी आलोचना नहीं सुनना चाहते। उन्होंने नोटबंदी, जीएसटी और किसानों के प्रति मोदी सरकार के रवैये की खुलकर आलोचना की थी।  इस्तीफे के बाद प्रेस कांफ्रेस को संबोधित करते हुए पटोले ने कहा कि उन्होंने लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन के कार्यालय और भाजपा  नेतृत्व को अपना इस्तीफा सौंप दिया है। महाजन को भेजे अपने पत्र में पटोले ने लिखा है, "आदरणीय मैडम, मैं सदन की सदस्यता से इस्तीफा देता हूं, जो आज से प्रभावी होगा। पार्टी और संसद से इस्तीफा देने के बाद पटोले ने दिल्ली में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मोहन प्रकाश से मुलाकात की। ऐसे में उनके कांग्रेस में जाने की अटकलें तेज हो गई हैं। कहा जा रहा है कि पिछले दिनों पटोले की कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल से भी मुलाकात हुई थी। बताया जा रहा है कि पटोले पिछले लंबे समय से पार्टी नेतृत्व से नाराज चल रहे थे। प्रधानमंत्री  मोदी के 2014 में पद संभालने के बाद भाजपा  और लोकसभा से इस्तीफा देने वाले नाना पटोले पहले सांसद हैं। इससे पहले उन्होंने एक जनसभा में यह कहकर सनसनी फैला दी थी कि प्रधानमंत्री को सवाल पूछा जाना पसंद नहीं है और वह अपनी आलोचना नहीं सुनना चाहते। शुक्रवार को उन्होंने कहा कि वह "पार्टी इसलिए छोड़ रहे हैं, क्योंकि वह काफी दुखी हैं और पार्टी द्वारा खुद को उपेक्षित महसूस कर रहे हैं।"लोकसभा सचिवालय को अपना इस्तीफा सौंपने के तत्काल बाद उन्होंने मीडिया से कहा, "यह सरकार लोगों को आश्वासन देकर, विशेषकर किसानों को आश्वासन देकर सत्ता में आई थी। इसने आश्वासन दिया था कि एम.एस. स्वामीनाथन समिति की सिफारिशों को लागू करेगी, ताकि किसानों की आय दोगुनी हो। लेकिन इसने पहला काम यह किया कि सर्वोच्च न्यायालय को कहा कि वे उन सिफारिशों को लागू करने नहीं जा रहे हैं।" उन्होंने कहा कि पिछले एक साल में देश में किसानों की आत्महत्या में 43 फीसदी की वृद्धि हुई है और किसान समुदाय के लिए एक भी कल्याणकारी उपाय लागू नहीं किया गया। एक जनसभा के दौरान नाना पटोले ने कहा, "बेरोजगारी की स्थिति बहुत गंभीर है। सरकार ने युवाओं को आश्वासन दिया था कि हर साल दो करोड़ नई नौकरियां पैदा की जाएंगी, लेकिन नई नौकरियों को पैदा करने के लिए एक भी कदम नहीं उठाया गया, जबकि सरकारी नौकरियों में भी 10 फीसदी की कटौती कर दी गई।" उन्होंने कहा, "आर्थिक स्थिति खतरनाक स्तर पर है। पिछले साल की गई नोटबंदी के बाद करोड़ों लोगों की नौकरियां चली गईं और यहां तक कि निजी बैंक भी लोगों को नौकरी से निकाल रहे हैं। इसी के साथ जीएसटी ने लगभग छोटे उद्यमों को मार डाला है।" यह पूछे जाने पर कि उन्होंने इस मामले को लोकसभा में क्यों नहीं उठाया। उन्होंने कहा कि उनके जैसे लोगों को लोकसभा में बोलने की अनुमति नहीं दी जाती।किसान समुदाय की शिकायतों को लेकर विदर्भ के नेता ने कहा कि उन्होंने इस मामले को लेकर कई बार प्रधानमंत्री  मोदी और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को पत्र लिखा, लेकिन उन्हें कोई जवाब नहीं मिला। पटोले ने कहा कि उन्होंने अभी तक यह तय नहीं किया है कि वह किस पार्टी में शामिल होंगे, लेकिन वह 'किसी समान विचारधारा वाले राजनीतिक दल' में शामिल होने पर विचार करेंगे। पटोले के इस्तीफे पर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी और कहा कि वह सही वक्त पर इस पर कोई टिप्पणी करेंगे।

 

 
दिल्‍ली सरकार ने मैक्‍स अस्‍पताल का लाइसेंस रद्द किया
दिल्‍ली सरकार ने शालीमार बाग के मैक्‍स अस्‍पताल का लाइसेंस रद्द कर दिया है। सरकार ने अस्‍पताल को इलाज में लापरवाही बरतने का दोषी पाया है। 30 नवम्‍बर को अस्‍पताल ने समय पूर्व जन्‍मे जुड़वा बच्‍चों को मृत घोषित कर पोलिथीन बैग में मां-बाप को सौंप दिया था। बच्‍चों को अंतिम संस्‍कार के लिए ले जाते समय पता चला कि उनमें से एक जीवित है। दिल्‍ली के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री सत्‍येन्‍द्र जैन ने कहा है कि नवजात शिशु की मृत्‍यु के मामले में लापरवाही स्‍वीकार्य नहीं है। मैक्‍स हॉस्‍पिटल में एक बच्‍चे का जो इश्‍यू हुआ था शालीमार बाग में, उसकी फाइनल इंक्‍वायरी रिपोर्ट आ गई है। हम क्रिमनल निग्‍लिजेंस को बर्दाश्‍त नहीं कर सकते किसी भी तरह की और जो यह हुआ यह एक्‍सेप्‍टेबल नहीं है। तो मैक्‍स शालीमार बाग हॉस्‍पिटल का दिल्‍ली सरकार लाइसेंस कैंसिल करती है।


सरकार ने पैन को आधार के साथ लिंक करने की समयसीमा तीन महीने बढ़ाकर 31 मार्च की
सरकार ने आधार संख्‍या को आयकर की स्‍थायी खाता संख्‍या पैन से जोड़ने की समय सीमा तीन महीने बढ़ाकर 31 मार्च कर दी है। वित्‍त मंत्रालय की विज्ञप्ति में कहा गया है कि कुछ करदाता आधार संख्‍या को पैन के साथ नहीं जोड़ पाये हैं, इसी बात को ध्‍यान में रखते हुए समय सीमा आगे बढ़ाई गई है। ऐसे सभी कर दाता जिनके पास आधार संख्‍या या आधार नामांकन संख्‍या है उन्‍हें इसे स्‍थाई खाता संख्‍या यानी पैन से जोड़ना जरूरी है।


भारत आंख के संक्रामक रोग रोहे से मुक्‍त घोषित
भारत को संक्रामक रोहे की बीमारी से मुक्‍त घोषित कर दिया गया है। केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री जे पी नडडा ने शुक्रवार को  नई दिल्‍ली में राष्‍ट्रीय रोहा सर्वेक्षण रिपोर्ट 2014-17 जारी करते हुए ये घोषणा की। उन्‍होंने इसे महत्‍वपूर्ण उपलब्धि बताया। रोहा या ट्रैकोमा आंख की ऐसी बीमारी है जो लोगों के एक दूसरे के संपर्क में आने से फैलती है। इसमें आंखें लाल हो जाती हैं और आंख के अंदरूनी हिस्‍से में सूजन के साथ दाने निकलते हैं। श्री नडडा ने कहा कि सर्वे के नतीजे बताते हैं कि रोहे की बीमारी अब देश में जन स्‍वास्‍थ्‍य संबंधी बड़ी समस्‍या नहीं रही है। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री ने कहा कि यह दशकों से किए जा रहे विभिन्‍न प्रयासों का परिणाम है।


सरकार ने आधार को आयकर की स्‍थायी खाता संख्‍या पैन से जोड़ने की अंतिम तारीख 31 मार्च तक बढ़ायी

केन्‍द्रीय प्रत्‍यक्ष कर बोर्ड-सीबीडीटी ने आधार संख्‍या को आयकर की स्‍थायी खाता संख्‍या पैन से जोड़ने की अंतिम तारीख आगे बढ़ाकर अगले साल 31 मार्च कर दी है। वित्‍त मंत्रालय द्वारा आज जारी विज्ञप्ति में कहा गया है कि कुछ करदाता आधार संख्‍या को पैन के साथ नहीं जोड़ पाये हैं, इसी बात को ध्‍यान में रखते हुए समय सीमा आगे बढ़ाई गई है। ऐसे सभी कर दाता जिनके पास आधार संख्‍या या आधार नामांकन संख्‍या है उन्‍हें इसे स्‍थाई खाता संख्‍या यानी पैन से जोड़ना जरूरी है।

 

ब्रिटेन और यूरोपीय संघ के बीच ब्रेग्ज़िट की शर्तों के बारे में समझौता हुआ 
यूरोपीय संघ से अलग होने के बारे में ब्रिटेन और यूरोपीय संघ के बीच शर्तें तय होने से व्‍यापार समझौते पर बातचीत का रास्‍ता खुला। ब्रिटेन और यूरोपीय संघ के बीच ब्रेग्ज़िट की शर्तों के बारे में  समझौता हो गया है। यूरोपीय आयोग के अध्‍यक्ष जीन क्लाउड जुंकर ने बताया कि ब्रिटेन के, यूरोपीय संघ से अलग होने से संबंधित मुद्दों पर जारी बातचीत काफी आगे बढ़ी है। इनमें आयरलैंड की सीमा, ब्रिटेन का तलाक विधेयक और नागरिक अधिकार के मुद्दे शामिल हैं। ब्रिटेन की प्रधानमंत्री टेरीज़ा मे ने कहा है कि ब्रिटेन में यूरोपीय संघ के सदस्‍य देशों के नागरिक पहले की तरह रह सकेंगे। उन्‍होंने कहा कि इस समझौते पर पहुंचने के लिए दोनों पक्षों को कुछ छोड़ना पड़ा है। इस समझौते से यूरोपीय संघ के नेता शिखर सम्‍मेलन में ब्रेग्ज़िट वार्ता के दूसरे चरण की शुरुआत कर सकेंगे। इसमें व्‍यापार और परिवर्तन की अवधि के बारे में बातचीत की जानी है।


वासेनार संधि संगठन में भारत  शामिल 
विशिष्ट निर्यात नियंत्रण के लिए बने वासेनार संधि संगठन में भारत को शामिल करने का फैसला। परमाणु आपूर्तिकर्ता समूह में भारत के शामिल होने की उम्मीदें बढ़ीं। एक महत्वपूर्ण घटनाक्रम में विशिष्ट निर्यात नियंत्रण के लिए बने वासेनार संधि संगठन ने भारत को नए सदस्य के रूप में शामिल करने का फैसला किया है। भारत ने भले ही परमाणु अप्रसार संधि पर हस्ताक्षर नही किए हैं, लेकिन इस निर्यात नियंत्रण संगठन की सदस्यता से परमाणु अप्रसार के क्षेत्र में भारत की विश्वसनीयता बढ़ेगी। इससे 48 सदस्यों के परमाणु आपूर्तिकर्ता समूह में भारत के प्रवेश का दावा मजबूत होने की उम्मीद है। संगठन ने बयान में कहा है कि सदस्यता के मौजूदा आवेदनों पर गौर करने के बाद भारत को शामिल करने का फैसला किया गया है। औपचारिकताएं पूरी होते ही भारत इस संगठन का 42वां सदस्य बन जाएगा। वासेनार संगठन पारंपरिक हथियारों और दोहरे उपयोग की वस्तुओं और प्रौद्योगिकी के हस्तांतरण में अधिक पारदर्शिता और उत्तरदायित्व को बढ़ावा देने में अहम भूमिका निभाता है। पिछले साल जून में भारत मिसाइल प्रौद्योगिकी नियंत्रण व्यवस्था-एम.टी.सी.आर. का पूर्ण सदस्य बना था जो निर्यात नियंत्रण का एक अन्य महत्वपूर्ण संगठन है। अमरीका के साथ असैन्य परमाणु समझौते के बाद से ही भारत परमाणु आपूर्तिकर्ता समूह-एनएसजी में शामिल होने का प्रयास कर रहा है। समाचार कक्ष से अर्चना साह अग्रवाल। भारत में फ्रांस के राजदूत अलेक्जेंडर जिएग्लर ने वासेनार संगठन में शामिल होने पर भारत को बधाई दी है।


गुजरात उच्च न्यायालय ने चुनाव आयोग के निर्देश पर रोक लगाईं 
गुजरात उच्च न्यायालय ने चुनाव आयोग के उस निर्देश पर रोक लगा दी कि आगामी विधानसभा चुनाव के उम्मीदवारों के पोलिंग एजेंट उस मतदान केन्द्र के क्षेत्र या पड़ोस के मतदान केन्द्र के क्षेत्र का निवासी होना चाहिए। न्यायमूर्ति अकील कुरैशी और न्यायमूर्ति ए वाई कोगज़े की खंडपीठ ने कल अंतरिम आदेश जारी करते हुए कहा कि चुनाव में उम्मीदवार निर्वाचन क्षेत्र के किसी मतदाता या निवासी को किसी भी मतदान केन्द्र पर अपना पोलिंग एजेंट बना सकता है। न्यायालय ने चुनाव आयोग और गुजरात के मुख्य चुनाव अधिकारियों को भी नोटिस जारी कर उनसे 20 दिसंबर तक जवाब मांगा है।


उच्चतम न्यायालय ने कहा- अंतर धार्मिक विवाह के बाद पत्नी का धर्म परिवर्तन नहीं होता
उच्चतम न्यायालय ने कहा है कि अंतर धार्मिक विवाह में महिला के धर्म का स्‍वत: ही पति के धर्म में मिल जाने की कोई कानूनी मान्‍यता नहीं है। प्रधान न्यायाधीश दीपक मिश्रा की अध्यक्षता में पांच न्यायाधीशों की संविधान पीठ उस कानूनी मुद्दे पर सुनवाई कर रही थी कि क्या एक पारसी महिला अन्य धर्म के व्यक्ति से विवाह के बाद अपनी धार्मिक पहचान खो देती है। पीठ ने वलसाड पारसी ट्रस्ट की पैरवी कर रहे वरिष्ठ अधिवक्ता गोपाल सुब्रहमण्यम से कहा कि वे इस बारे में अपने मुवक्किल से जरूरी निर्देश लेने के बाद सुनवाई की अगली तारीख 14 दिसंबर को न्‍यायालय को अवगत करायें। न्यायालय ने पूछा कि क्या पारसी महिला गूलरुख एम गुप्ता को हिंदू व्यक्ति से शादी के बाद अपने माता-पिता के अंतिम संस्कार में भाग लेने की अनुमति होगी?  गूलरुख ने इस परंपरागत कानून को चुनौती दी थी कि किसी हिंदू से विवाह के बाद एक पारसी महिला अपने समुदाय में सभी धार्मिक अधिकार खो देती है। पीठ ने कहा कि ऐसा कोई कानून नहीं है जो कहता हो कि किसी अन्य धर्म के व्यक्ति से विवाह के बाद महिला की अपनी धार्मिक पहचान खत्म हो जाती है। पीठ ने कहा कि ऐसे मामले में केवल महिला ही अपनी पसंद से अपनी धार्मिक पहचान के बारे में फैसला ले सकती है। 


रोहिंज्या और बंगलादेशियों की अवैध घुसपैठ भारत के लिए बड़ी चिंता का शबब :राजनाथ सिंह 
केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने बंगलादेश की सीमा से लगे पांच पूर्वी राज्यों को रोहिंज्या और अन्य अवैध प्रवासियों की घुसपैठ रोकने में सतर्क रहने को कहा है। गुरुवार को कोलकाता में पश्चिम बंगाल, असम, मिजोरम, मेघालय और त्रिपुरा के मुख्यमंत्रियों और गृहमंत्रियों की बैठक में उन्‍होंने कहा कि उग्रवाद प्रभावित राज्यों के लिये बनाई गई एकीकृत कमान की तर्ज पर इन राज्यों में भी अवैध घुसपैठ की रोकथाम के लिये सीमा सुरक्षा की संयुक्‍त कमान तैयार की जाएगी। श्री राजनाथ सिंह ने कहा कि एनडीए सरकार देश की अंतरराष्ट्रीय सीमाओं की सुरक्षा को सर्वोच्च प्राथमिकता दे रही है और सीमा से होने वाले वैध व्यापार के लिए ठोस व्यवस्था की गई है। भारत, बंगलादेश सीमा से रोहिंज्या और बंगलादेशियों की अवैध घुसपैठ भारत के लिए बड़ी चिंता का शबब है। आधिकारिक आंकलन के बाद करीब 36 हजार रोहिंज्या मुसलमान देश के विभिन्न भागों में रह रहे हैं। सीमा सुरक्षा बल के महानिदेशक के.के. शर्मा ने पिछले सप्ताह कहा था कि इस साल अक्टूबर तक सीमा पर करीब 87 रोहिंज्याओं को जवानों ने पकड़ा था, जिनमें से 76 को वापस भेज दिया गया है। उन्होंने बताया था कि करीब से 10 लाख रोहिंज्या बंगलादेश छोड़कर म्यांमा चले गये हैं और उनके भारत में घुसने की संभावना को नकारा नहीं जा सकता है। यह अंतर्राष्ट्रीय सीमा से लगे राज्यों के मुख्यमंत्रियों की गृहमंत्रालय द्वारा बुलाई गई चौथी बैठक थी। 


दिल्ली यमुना तट को हुए नुकसान के लिए आर्ट ऑफ लिविंग फाउंडेशन जिम्मेदार: NGT
राष्ट्रीय हरित अधिकरण ने दिल्ली में यमुना तट को हुए नुकसान के लिए आर्ट ऑफ लिविंग फाउंडेशन को जिम्मेदार ठहराया। राष्ट्रीय हरित अधिकरण-एनजीटी ने दिल्‍ली में पिछले वर्ष मार्च में विश्व सांस्कृतिक उत्सव के आयोजन में यमुना नदी के आस पास के क्षेत्र को हुये नुकसान के लिए श्री श्री रविशंकर के संगठन आर्ट ऑफ लिविंग को जिम्‍मेदार ठहराया है। हालांकि न्यायाधीश स्वतंत्र कुमार की अध्यक्षता में एनजीटी ने गुरुवार को आर्ट ऑफ लिविंग पर और ज्यादा पर्यावरण हर्जाना लगाने से इंकार कर दिया, लेकिन उन्होंने कहा कि आर्ट ऑफ लिविंग ने जो पांच करोड़ रुपये जमा किये है उसे यमुना तट के पुररूद्धार पर खर्च किया जाए। पीठ ने कहा कि इस कार्य के लिए अगर पांच करोड़ से ऊपर खर्च आता है तो उसे आर्ट ऑफ लिविंग से वसूल किया जाएगा।


इस्राइल ने पश्चिमी तट में अपनी सेना तैनात की
इस्राइल ने कहा है कि वह येरुशलम को उसकी राजधानी के रूप में अमरीकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रम्प से मान्यता मिलने के बाद पश्चिमी तट पर और सेना भेज रहा है। इस्राइली सेना ने बताया कि स्थिति के आकलन के बाद यह फैसला लिया गया।  इस बीच गजा पट्टी और अधिकृत पश्चिमी तट पर झड़पों में 31 फलीस्तीनी घायल हुए हैं।  अमरीका के इस विवादास्पद फैसले के बाद मध्य पूर्व इलाके में जगह-जगह पर सदस्यकारी इस फैसले का विरोध कर रहे हैं। गजा में हमास नेताओं ने तीसरा इम्तखता या संघर्ष का एलान करते हुए लोगों को फैसले के खिलाफ रोष व्यक्त करने का आह्वान किया है। इस्राइल में वेस्ट बैंक के इलाके में अतिरिक्त सैनिकों की तैनाती कर दी है। मध्य पूर्व और यूरोप के कई देशों ने भी अमरीका के इस फैसले से अपनी असहमति व्यक्त की है। इस बीच अरब लीग के नेताओं की शनिवार को एक इमरजेंसी बैठक है, जिसमें आगे की प्रतिक्रिया तय की जाएगी। अमरीका ने शुक्रवार को अपने नागरिकों के विदेश यात्रा के संबंध में परामर्श जारी किया है। विदेश विभाग के इस परामर्श में दक्षिण एशिया और विशेष रूप से अफगानिस्तान और पाकिस्तान के साथ-साथ मुस्लिम बहुल देश शामिल हैं।
 

तमिलनाडु की केन्द्र  से ओखी तूफान को राष्ट्रीय आपदा घोषित करने की माँग
तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी ने केन्द्र सरकार से ओखी तूफान को राष्ट्रीय आपदा घोषित करने के लिए कहा है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को लिखे पत्र में उन्होंने बीच समुद्र में फंसे मछुआरों को बचाने में सैन्य कर्मियों की सहायता की सराहना की और तलाशी अभियान जारी रखने का अनुरोध किया। श्री पलानीस्वामी ने अपने पत्र में बागवानी, बिजली नेटवर्क, सड़कों और पानी की आपूर्ति को हुए अभूतपर्व नुकसान का उल्लेख किया। उन्होंने तूफान से हुए नुकसान की भरपाई के लिए आवश्यक वित्तीय सहायता की मांग की।

 

समाचार संक्षेप में

 

>  चुनाव आयोग ने निर्देश दिया कि 178 वस्तुओं पर लगने वाले कर में कटौती के फैसले का चुनाव में प्रचार-प्रसार न किया जाए। चुनाव आयोग ने माना है कि इसका प्रचार करने से राज्य के मतदाता प्रभावित हो सकते हैं। 

 

 >   CBI  विशेष अदालत ने नोएडा के निठारी हत्‍याकांड मामले में चंडीगढ़ के व्‍यापारी मनिन्‍दर सिंह पंढेर और उसके नौकर सुरेन्‍दर कोली को 24 वर्षीय नौकरानी के साथ बलात्‍कार और उसकी हत्‍या के लिए मौत की सजा सुनाई है। सी बी आई प्रवक्‍ता ने बताया कि अदालत ने कोली पर 35 हजार रुपये और पंढेर पर 25 हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया है। उत्‍तर प्रदेश में नोएडा के निठारी इलाके में पंढेर के घर के पिछले हिस्‍से में जो 19 कंकाल मिले थे उनमें इस महिला का कंकाल भी शामिल था। 


>   
निवेशकों द्वारा की गई चौतरफा खरीदारी के बल पर बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स दशमलव नौ प्रतिशत की तेजी से 301 अंकों का उछाल दर्ज करता हुआ 33 हजार के स्‍तर को पर करता हुआ 33 हजार 250 पर बंद हुआ। नेशनल स्टाक एक्सचेंज का निफ्टी भी 99 अंकों की भारी बढत दर्ज करते हुये 10 हजार 266 पर जा पहुंचा। अंतरबैंकिंग विदेशी मुद्रा बाजार में रुपया डालर के मुकाबले 12 पैसे मजबूत हुआ और एक डालर की कीमत 64 रूपये 45 पैसे दर्ज हुई। दिल्ली सर्राफा बाजार में सोना 200 रूपये सस्ता होकर 29 हजार 750 रूपये प्रति दस ग्राम पर आ गया।   


>   
केन्‍द्र ने कहा है कि कर्मचारी राज्‍य बीमा योजना में लगातार सुधार हो रहा है और यह देश के 461 जिलों में लागू है। इस योजना से 10 प्रतिशत जनसंख्‍या को फायदा हो रहा है। कर्मचारी राज्‍य बीमा निगम की बैठक को संबोधित करते हुए श्रम और रोजगार मंत्री संतोष कुमार गंगवार ने कहा कि निगम के एक तिहाई औषधालयों को उन्‍नत बनाने का फैसला किया गया है।

>   पंजाब के मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमरिन्‍दर सिंह ने  पाकिस्‍तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई के कुछ कट्टरपंथी गुटों द्वारा राज्‍य में शांति और स्थिरता भंग करने की कोशिशों के बारे में एक प्रश्‍न के उत्‍तर में मुख्‍यमंत्री ने कहा कि ऐसे तत्‍वों का पता लगाने के लिए उनकी सरकार केन्‍द्रीय एजेंसियों के साथ पूरे तालमेल से काम कर रही है।

>   महाराष्‍ट्र से भारतीय जनता पार्टी सांसद नाना पटोले ने त्‍यागपत्र दे दिया है। भंडारा-गोंदिया लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र से संसद सदस्‍य श्री पटोले ने लोकसभा सचिवालय को अपना इस्‍तीफा भेजा है। ऐसा समझा जाता है कि वे पार्टी नेतृत्‍व से नाराज थे।

>   आयकर विभाग ने करदाताओं को परेशान करने पर एक अधिकारी को निलंबित कर दिया है। केन्‍द्रीय प्रत्‍यक्ष कर बोर्ड ने कहा है कि गुजरात में सुरेन्‍द्रनगर में नियुक्‍त आयकर उपायुक्‍त के खिलाफ गंभीर आरोपों की शिकायतें मिली थीं। मामले की जांच के बाद ये आरोप सही पाये गये।

>   उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों से आत्ममंथन और प्रतिस्पर्धा करने को कहा है, ताकि वे राष्ट्र की मजबूत संपत्ति के रूप में उभर सकें। उन्‍होंने कहा कि सरकार ने क्षेत्रीय असमानता दूर करने के लिए इन उपक्रमों की स्‍थापना की थी। सरकारी उपक्रम देश की अर्थव्‍यवस्‍था के इंजन हैं। हैदराबाद में नवरत्‍न कंपनी राष्‍ट्रीय खनिज विकास निगम - एन.एम.डी.सी के हीरक जयंती समारोह के उपलक्ष्‍य में आयोजित कार्यक्रम में उन्‍होंने यह बात कही।

>   पाकिस्‍तान ने इस महीने की 25 तारीख को जेल में बंद भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव को उनकी पत्‍नी और मां से मिलने की अनुमति दे दी है। पाकिस्‍तान के विदेश कार्यालय की एक प्रवक्‍ता ने बताया कि श्री जाधव के परिजनों के साथ एक भारतीय राजनयिक को भी जाने की अनुमति दी गई है। इस संबंध में भारतीय अधिकारियों को जानकारी दे दी गई है।

>   इस वर्ष का व्‍यास सम्‍मान हिंदी की जानी-मानी लेखिका ममता कालिया को उनके उपन्‍यास दुक्‍खम-सुक्‍खम के लिए दिया जाएगा। विख्‍यात साहित्‍यकार डॉ. विश्‍वनाथ प्रसाद तिवारी की अध्‍यक्षता में चयन समिति ने ममता कालिया को यह सम्‍मान देने का फैसला किया।


  खेल-जगत                
*  
अर्जेन्‍टीना हॉकी विश्‍व लीग फाइनल के फाइनल में पहुंच गया है। भुवनेश्‍वर में पहले सेमीफाइनल में ओलंपिक चैंपियन अर्जेन्‍टीना ने अब से कुछ देर पहले मेज़बान भारत को एक-शून्‍य से पराजित किया। अर्जेन्‍टीना के लिये एकमात्र गोल गोंज़ालो ने 17वें मिनट में गोल दागा। 


*   
भुबनेश्वर में हॉकी विश्व लीग  टूर्नामेंट के क्वार्टर फाइनल मुकाबलों में जर्मनी ने नीदरलैंड को पेनल्टी शूट आउट में 4-3 से हराया, जबकि अर्जेंटीना ने इंग्लैंड को दो के मुकाबले तीन गोल से हराया।
 


 खबरी दुनिया  


*   प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी पर कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर के आपत्ति जनक बयान और कांग्रेस द्वारा उन्‍हें पार्टी की प्राथमिक सदस्‍यता से निलंबित किए जाने की खबरें 
शुक्रवार  के  सभी अखबारों में हैं। राजस्‍थान पत्रिका की पहली खबर है- बिगड़े बोल पर निपटे मणि। नवभारत टाइम्‍स की सुर्खी है- नीचता की राजनीति पर अय्यर हो गए ढेर। दैनिक जागरण की टिप्‍पणी है- कांग्रेस के पैर पर कुल्‍हाड़ी या कुल्‍हाड़ी पर पैर।


*   आधार से लिंक करने की सीमा 31 मार्च तक बढेगी, राष्‍ट्रीय सहारा की पहली खबर है। हिंदुस्‍तान सहित लगभग सभी अखबारों ने लिखा है कि मोबाइल सेवा को आधार से जोड़ने की समय सीमा अगले साल 6 फरवरी तक ही रहेगी। 


*   संसद में सवाल के बदले कथित रूप से घूस लेने के आरोप में 11 पूर्व सांसदों पर आरोप तय, चलेगा केस- अमर उजाला सहित अधिकतर अखबारों में है। जनसत्‍ता ने लिखा है कि दिल्‍ली की एक अदालत ने 2005 के इस मामले में सांसदों पर भ्रष्‍टाचार और आपराधिक षडयंत्र के आरोप तय किए हैं।


*   सात साल की एक बच्‍ची की डेंगू के इलाज के दौरान गुरूग्राम के फोर्टिस अस्‍पताल में मृत्‍यु के बाद अस्‍पताल द्वारा भारी भरकम रकम वसूलने पर हरियाणा के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री का इस अस्‍पताल को सरकार के पैनल से हटाने का आदेश जनसत्‍ता में है।


*   भविष्‍य निधि संगठन-ईपीएफओ की अपने अंशधारकों के लिए नई सेवा शुरू करने को राजस्‍थान पत्रिका ने अर्थ जगत में प्रमुखता से देते हुए लिखा है कि इस सेवा की मदद से अंशधारक अपने सभी प्रोविडेंट फंड को एक साथ यूनिवर्सल एकाउंट नम्‍बर के साथ विलय कर सकते हैं। 


*   यूनेस्‍को द्वारा कुंभ मेले को सांस्‍कृतिक धरोहर की मान्‍यता देने को हिंदुस्‍जान और वीरअर्जुन सहित कई अखबारों ने प्रमुखता से देते हुए लिखा है कि यह इस आध्‍यात्मिक महोत्‍सव की है बड़ी स्‍वीकार्यता

 

 

राजस्थान समाचार विशेष  


 राज्यपाल ने अजमेर, बीकानेर व जोधपुर विश्वविद्यालयों के भवनों का लोकार्पण 
किया 
जयपुर,   राज्यपाल एवं कुलाधिपति श्री कल्याण सिंह ने कहा है कि विश्वविद्यालय उन्नति के लिए निरन्तर प्रयास करें। उन्होंने कहा किविश्वविद्यालय ज्ञान-विज्ञान के केन्द्र होते हैं। यहां छात्र-छात्राओं और अध्यापकों को आगे बढ़ने का मौका मिलता है। राज्यपाल श्री सिंह ने शुक्रवार को यहां राजभवन में महर्षि दयानन्द सरस्वती विश्वविद्यालय, अजमेर के कुबेर भवन, महाराजा गंगा सिंह विश्वविद्यालय, बीकानेर के स्वामी विवेकानन्द वीथी और जयनारायण व्यास विश्वविद्यालय, जोधपुर के विज्ञान संकाय के संगोष्ठी भवन, अभियांत्रिक  विभाग के दो हॉल व परीक्षा भवन का लोकार्पण किया।  राज्यपाल एवं कुलाधिपति श्री सिंह ने कहा कि छात्र-छात्राओं व अध्यापकों को निष्ठा के साथ मेहनत करनी चाहिए। अनुसंधान के क्षेत्र में प्रयास करें ताकि विश्वविद्यालय का देश और विदेशों में गौरव हासिल हो सके। कुलाधिपति श्री सिंह ने तीनो  विश्वविद्यालयों को आधारभूत संसाधनों में उत्तरोतर प्रगति के लिए बधाई दी और कहा कि इन सुविधाओं से छात्र-छात्राएं लाभान्वित हो सकेंगे।
जयनाराण व्यास विश्वविद्यालय, जोधपुर के कुलपति डॉ. आर. पी. सिंह और महाराजा गंगा सिंह विश्वविद्यालय, बीकानेर व महर्षि दयानन्द सरस्वती विश्वविद्याय, अजमेर के कुलपति डॉ. भगीरथ सिंह ने नवनिर्मित भवनों के बारे में विस्तार से जानकारी दी। इस मौके पर तीनों विश्वविद्यालयों के डीन व प्रोफेसरगण, राज्यपाल के सचिव श्री देबाशीष पृष्टि, विशिष्ट सचिव श्री राजेश कुमार गुप्ता व विशेषाधिकारी डॉ. अजय शंकर पाण्डेय सहित राजभवन व विश्वविद्यालय के अधिकारीगण मौजूद थे। राज्यपाल के जनसम्पर्क अधिकारी डॉ. लोकेश चन्द्र शर्मा ने धन्यवाद ज्ञापित किया। 


मुख्यमंत्री ने बादाम का पौधा लगाया
झुन्झुनूं ,(अमित भारद्वाज)    श्रीमती मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने शुक्रवार को झुन्झुनूं खेतड़ी नगर के निदेशक आवास परिसर में बादाम का पौधा लगाया। उन्होंने करीब 5 साल पहले इसी परिसर में उनके द्वारा लगाए गए बॉटल ब्रूश के पौधे को भी देखा और खुश हुर्इं।  इससे पहले निदेशक आवास पर श्रीमती राजे के जयपुर प्रस्थान से पहले भारतीय मजदूर संघ जिला झुन्झुनूं के प्रतिनिधियों ने मुलाकात कर भवन निर्माण  श्रमिकों को सरकार की ओर से विभिन्न सुविधाओं का लाभ दिलाए जाने के संबंध में ज्ञापन दिया। उन्होंने खेतड़ी स्थित कॉपर संयंत्र में नई टेक्नोलॉजी का प्लांट लागने के साथ ही आंगनबाड़ी एवं अन्य कार्य करने वाली 6 हजार महिलाओं का मानदेय बढ़ाए जाने तथा स्थाई करने की मांग रखी।  मुख्यमंत्री ने भारतीय मजदूर संघ की मांगों पर सहानुभूति पूर्वक विचार किए जाने का आश्वासन दिया। 


राजस्थान ललित कला अकादमी के अध्यक्ष को राज्य मंत्री स्तर का दर्जा 
जयपुर,   राज्य सरकार ने आदेश जारी कर राजस्थान ललित कला अकादमी के अध्यक्ष डॉ॰ अश्विन एम. दलवी को राज्य मंत्री स्तर का दर्जा दिया। 
आदेश के अनुसार श्री दलवी को राज्य मंत्री स्तर के रूप में प्रदत सुविधाये देय होगी। सुविधाओं पर होने वाला समस्त व्यय कला साहित्य, संस्कृति एवं पुरातत्व विभाग द्वारा वहन किया जाऎगा। 


सिविल सेवा सी.एस कप टेनिस, बैडमिंटन प्रतियोगिता का हुआ शुभारम्
जयपुर,   षष्टम राज्य स्तरीय सिविल सेवा सी.एस चैलेन्जर कप टेनिस एवं द्वितीय राज्य स्तरीय सिविल सेवा सीएस चैलेन्जर कप बैडमिंटन खेल प्रतियोगिता का उद्घाटन शुक्रवार को ओटीएस के लोन टेनिस कोर्ट में मुख्य सचिव श्री अशोक जैन ने किया।  इस अवसर पर श्री जैन ने सभी प्रतिभागियों को शुभकामना देते हुए कहा कि खेलों से आपसी भाई चारे की भावना में वृद्धि होती है, खेल को खेल की भावना से ही खेला जाना चाहिए। मुख्य सचिव ने टूर्नामेन्ट के लोगो का भी विमोचन किया और बैलून छोड, मुख्य सचिव ने वित्त विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री डीबी गुप्ता के साथ टैनिस खेलकर प्रतियोगिता का शुभारम्भ किया।  जिला कलक्टर श्री सिद्धार्थ महाजन ने सभी अतिथियों का स्वागत किया और बताया कि प्रतियोगिता का आयोजन 08 से 10 दिसम्बर तक ओटीएस लोन टेनिस ग्राउन्ड एवं एसएमएस बेडमिंटन हॉल स्टेडियम में किया जायेगा।  इस वर्ष टेनिस प्रतियोगिता में कुल 17 टीमों द्वारा भाग लिया जा रहा है, जिसमे 103 प्रतिभागी भाग ले रहे है, बेडमिंटन प्रतियोगिता में कुल 12 टीमों द्वारा भाग लिया जा रहा है, जिसमें 89 पुरूष प्रतिभागी तथा 12 महिला प्रतिभागी भाग ले रही है। कार्यक्रम की अध्यक्षता एचसीएम रीपा ने की,  महानिदेशक गुरजोत कौर ने इस अवसर पर युवा एवं खेल विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री जेसी महान्ति, वित्त शासन सचिव नवीन महाजन सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।
 

09 दिसम्बर, 2017

 

प्रधानमंत्री मोदी ने अपनी सरकार में हुए भ्रष्टाचार पर कोई कार्रवाई नहीं की:  पूर्व प्रधान मंत्री डा.मनमोहन सिंह
पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा कि जब यूपीए सरकार में भ्रष्टाचार पर कोई शिकायत आई तो उन्होंने तुरंत एक्शन लिया, लेकिन मोदी सरकार के दौरान भ्रष्टाचार करने वालों पर कोई कार्रवाई नहीं की गई। गुजरात विधानसभा चुनाव प्रचार के सिलसिले में राजकोट पहुंचे पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने मोदी सरकार की नीतियों की तीखी आलोचना की है। मनमोहन सिंह ने भ्रष्टाचार के मुद्दे पर मोदी सरकार पर निशाना साधा। पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने कहा कि हमारे कार्यकाल में जब भ्रष्टाचार पर कोई शिकायत आई, तो हमने उस पर तुरंत एक्शन लिया और कठोरता से कार्रवाई की, लेकिन मौजूदा एनडीए सरकार के दौरान भ्रष्टाचार करने वालों पर कोई कार्रवाई नहीं की गई। मनमोहन सिंह ने कहा कि बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के बेटे जय शाह के मामले में कोई कार्रवाई नहीं हुई। वे जय शाह पर लगे उस आरोप का जिक्र कर रहे थे, जिसमें कथित तौर पर ये कहा गया था कि जय शाह ने गलत तरीके से अपनी कंपनी का कारोबार कुछ ही महीनों में बहुत ज्यादा बढ़ा लिया।
 पूर्व प्रधान मंत्री डा.मनमोहन सिंह ने केंद्र सरकार की आर्थिक नीतियों पर भी सवाल खड़ा किया। उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा, यूपीए के 10 सालों की अर्थव्यवस्था की बराबरी के लिए केंद्र को देश की अर्थव्यवस्था औसतन 5वें वर्ष में 10.6% तक बढ़ानी होगी, मुझे खुशी होगी अगर ऐसा होता है, लेकिन मुझे नहीं लगता कि ऐसा होगा।गुजरात विधानसभा चुनाव में नोटबंदी और जीएसटी व्यपारियों के लिए बड़ा मुद्दा है। पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने नोटबंदी को लेकर भी केंद्र सरकार पर हमला किया। उन्होंने कहा कि नोटबंदी का जो मुख्य लक्ष्य था, वही असफल हुआ है। उन्होंने मोदी सरकार से कहा कि नोटबंदी से जुड़े सभी दस्तावेज संसद और जनता के सामने लाने चाहिए। जीएसटी को लेकर मनमोहन सिंह ने सीधे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर कठघरे में खड़ा किया। उन्होंने कहा कि नोटबंदी के बाद जीएसटी से व्यापारियों को बहुत नुकसान हुआ है। पूर्व पीएम ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुजरात से हैं और उन्होंने गुजरात के व्यापारियों और लोगों को धोखा दिया है।  पूर्व प्रधान मंत्री डा.हमनमोहन सिंह ने मोदी सरकार की विदेश नीति को भी आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहा कि आज जो केंद्र सरकार की विदेश नीति है उससे देश की सुरक्षा खतरे में है। पूर्व पीएम ने कहा कि मोदी सरकार के कुछ फैसले ऐसे हैं जो देश हित में नहीं हैं। उन्होंने कहा, हमारी राष्ट्रीय सुरक्षा इस सरकार की असंगत विदेशी नीतियों से आहत हुई है।

 

गुजरात विधानसभा चुनाव

गुजरात विधानसभा चुनाव के पहले चरण का प्रचार  गुरुवार को शाम समाप्‍त हुआ 

गुजरात में पहले चरण के चुनाव के लिए प्रचार गुरुवार को शाम समाप्‍त हो गया। एक सौ 82 सदस्‍यों वाली विधानसभा के चुनाव के लिए दो चरण में वोट डाले जाएंगे। शनिवार को पहले चरण में 89 निर्वाचन क्षेत्रों में वोट डाले जाएंगे। मतगणना इस महीने की 18 दिसम्‍बर को होगी।    गुजरात के मुख्‍य चुनाव अधिकारी बी बी सेन ने पत्रकारों को बताया कि शनिवार को होने वाले प्रथम चरण के मतदान में 2 करोड़ 12 लाख 31 हजार 652 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। इनमें से एक करोड़ एक लाख 25 हजार 472 महिला मतदाता और 247 तीसरी जाती के मतदाता हैं। मतदान को स्‍वतंत्र और निष्‍पक्ष बनाये रखने के लिये एक लाख 76 हजार से अधिक सुरक्षा कर्मचारियों को तैनात किया गया है। दूसरे चरण का मतदान इसी महीने की 14 तारीख को होगा। जबकि मतों की गिनती 8 दिसम्‍बर को होगी।

 

प्रधानमंत्री नेरन्‍द्र मोदी ने कहा -उनकी पार्टी का सरल एजेंडा है- वो है विकास।

 प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने सूरत में एक चुनावी रेली में कहा है कि उनकी पार्टी का सरल एजेंडा है - वो है विकास। उन्‍होंने कहा कि एन डी ए सरकार जब सत्‍ता में आयी तो उसे कुछ कड़े फैसले लेने पडे लेकिन लोगों ने उसके इन फैसलों पर भरोसा किया। श्री मोदी ने कहा कि देश की सवा सौ करोड़ जनता उनकी हाई कमान है और वे उसके प्रति जवाबदेह हैं। उन्‍होंने कहा कि सूरत के लोगों को पहले लगातार बिजली नहीं मिल रही थी लेकिन भाजपा की सरकार ने बिजली की निर्बाध आपूर्ति सुनिश्चित की।  श्री मोदी ने कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर की उनके खिलाफ अपमानजनक टिप्‍पणी पर कहा कि इससे कांग्रेस की मानसिकता का पता चलता है।  उधर, पूर्व प्रधानमंत्री और कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता मनमोहन सिंह ने राजकोट में पेशेवरों और शिक्षक समुदाय को संबोधित करते हुए कहा कि भाजपा हताशा में लोगों का ध्‍यान असली मुद्दों से हटाने की कोशिश कर रही है क्‍योंकि उसने जिन अच्‍छे दिनों का वादा किया था वे कहीं दिखायी नहीं देते। श्री सिंह ने कहा कि लघु और मझौले उद्योग क्षेत्र अपनी मेहनत से आगे बढ़ा है और राज्‍य सरकार ने इसमें उसकी खास मदद नहीं की है। उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस का गुजरात में विकास का अपना दृष्टिकोण है। कांग्रेस युवाओं को रोजगार उपलब्‍ध कराने के प्रभावी उपाय करेगी। 


बाबा साहेब भीमराव आम्‍बेडकर के समानता के सपने को पूरा करना अभी बाकी :  प्रधानमंत्री
प्रधानमंत्री नेरन्‍द्र मोदी ने कहा - बाबा साहेब भीमराव आम्‍बेडकर के सबके लिए समानता के सपने को अभी पूरा किया जाना है। श्री मोदी ने हर देशवासी को समान अधिकार सुनिश्चित कराने की सरकार की प्रतिबद्धता दोहराई।  नेरन्‍द्र मोदी ने कहा है कि बाबा साहेब भीमराव आम्‍बेडकर के सबके लिए समानता विशेषकर सामाजिक समानता के सपने को अभी पूरा किया जाना है। श्री मोदी ने कहा कि सरकार देश के हर व्‍यक्ति के लिए समान अधिकार सुनिश्चित करने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्‍होंने कहा कि देश के लोग राष्‍ट्र को नई दिशा देने के लिए डॉ आम्‍बेडकर के ऋणी हैं। गुरुवार को  नई दिल्‍ली में डॉ आम्‍बेडकर अंतर्राष्‍ट्रीय केंद्र का उद्घाटन करते हुए श्री मोदी ने कहा कि उनकी सरकार लोगों के सामाजिक सशक्तिकरण के लिए प्रतिबद्ध है। उन्‍होंने कहा कि, केंद्र लोगों विशेषकर युवाओं को डॉ बी आर अम्‍बेडकर के बारे में यह जानकारी उपलब्‍ध कराएगा।  बाबा साहेब का राष्‍ट्र निर्माण में जो योगदान है उस वजह से हम सभी बाबा साहेब के ऋणी हैं। हमारी सरकार का यह प्रयास है कि ज्‍यादा से ज्‍यादा लोगों तक उनके विचार पहुंचे। विशेषकर युवा पीढ़ी उनके बारे में जाने उनका अध्‍ययन करे। प्रधानमंत्री ने कहा कि गरीबों और शोषितों के लिए भीम एप शुरू किया गया और यह देश के आर्थिक विकास को दर्शाने वाला बड़ा कदम है। प्रधानमंत्री ने जातिवाद से लड़ने में देश के युवाओं पर विश्‍वास व्‍यक्‍त करते हुए कहा कि युवा नए भारत के सपने को पूरा करेंगे।  ये देश जाति के नाम पर अलग-अलग होकर उस रफ्तार से आगे नहीं बढ़ पायेगा, जिस रफ्तार से भारत को आगे बढ़ना चाहिए। और इसलिए जब मैं न्‍यू इंडिया को जातियों के बंधन से मुक्‍त करने की बात करता हूं तो उसके पीछे युवाओं पर मेरा अटूट भरोसा होता है। आज की युवा शक्ति बाबा साहेब के सपने को पूरा करने की ऊर्जा रखती है। श्री मोदी ने कहा कि डॉ आम्‍बेडकर भारत के सामाजिक, आर्थिक विकास के प्रति आशावान थे। प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने गुरुवार को गुजरात भाजपा इकाई के अनुसूचित जाति और जनजाति के सदस्‍यों को ऑडियो ब्रिज टैक्‍नोलोजी के जरिए संबोधित किया। श्री मोदी ने पार्टी कार्यकर्ताओं से उनके मोबाइल फोन पर संपर्क किया और राज्‍य में पार्टी की अनुसूचित जाति और जनजाति इकाई के मंडल प्रमुखों से संवाद किया। पार्टी के करीब दस हजार कार्यकर्ताओं ने प्रधानमंत्री के कॉल का जवाब दिया। श्री मोदी ने ओखी तूफान और उसमें पार्टी कार्यकर्ताओं द्वारा की गई आम लोगों की मदद के बारे में भी चर्चा की। 

 

 


गुजरात में भाजपा सरकार ने राज्‍य के किसानों के लिए कुछ नहीं किया: राहुल गांधी

इस बीच,कांग्रेस उपाध्‍यक्ष राहुल गांधी ने गुजरात में किसानों की खराब स्थिति के लिए भाजपा सरकार की निंदा की।   कांग्रेस उपाध्‍यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि गुजरात में भाजपा सरकार ने राज्‍य के किसानों के लिए कुछ नहीं किया है। एक ट्वीट संदेश में श्री गांधी ने कहा कि किसानों को उनकी फसलों का उचित मूल्‍य भी नहीं मिला और न ही उनके ऋण माफ किए गए। कांग्रेस ने कहा है कि गुजरात के लोग जीएसटी, नोटबंदी, महंगाई, बेरोजगारी और शिक्षा के निजीकरण से खुश नहीं हैं। गुरुवार को अहमदाबाद में मीडिया से बातचीत में पार्टी प्रवक्‍ता आर पी एन सिंह ने कहा कि शिक्षा के निजीकरण का मध्‍यम वर्ग और निम्‍न मध्‍यम वर्ग के छात्रों पर असर पड़ा है। उन्‍होंने कहा कि भाजपा गरीबों की पार्टी नहीं है।


कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर ने प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के खिलाफ अपमानजनक टिप्‍पणी के लिए माफी मांगी

मणिशंकर अय्यर को कांग्रेस ने पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निलंबित किया 

पूर्व केंद्रीय मंत्री मणिशंकर अय्यर को कांग्रेस ने पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निलंबित कर दिया है। इससे पहले अय्यर के बयान पर नाराजगी जताते हुए राहुल गांधी ने उनसे माफी मांगने के लिए कहा था।  अय्यर पर यह कार्रवाई अय्यर के उस बयान पर की गई है जिसमें उन्होंने पीएम के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए नीच शब्द का प्रयोग किया था। अय्यर के बयान पर नाराजगी जताते हुए राहुल गांधी ने कहा था कि भाजपा और PM ने कांग्रेस पर हमला करते हुए अक्सर अभद्र भाषा का प्रयोग किया है। कांग्रेस की संस्कृति और विरासत अलग है। श्री मणिशंकर अय्यर ने भारत के प्रधानमंत्री के लिए जिस लहजे और भाषा का प्रयोग किया है वह गलत है। कांग्रेस और मैं चाहते हैं कि वो अपने बयान के लिए माफ़ी मांगे। राहुल के इस ट्वीट के बाद मणिशंकर अय्यर ने माफी मांग ली थी। लेकिन  पार्टी ने इस तरह के आचरण पर सख्त रुख दिखाते हुए उन्हें पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निलंबित कर दिया। कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सूरजेवाला ने एक ट्वीट के जरिये यह जानकारी दी। उन्होंने लिखा, यही है कांग्रेस का गांधीवादी नेतृत्व और विरोधी के प्रति सम्मान की भावना। कांग्रेस पार्टी ने श्री मनी शंकर अय्यर जी को कारण बताओ नोटिस जारी कर प्राथमिक सदस्यता से निलम्बित कर दिया है।इसके साथ ही सूरजेवाला ने बीजेपी और पीएम मोदी को आड़े हाथों लेते हुए  पूछा, क्या मोदी जी कभी यह साहस दिखाएंगे?  कांग्रेस पार्टी ने श्री मनी शंकर अय्यर को कारण बताओ नोटिस जारी कर प्राथमिक सदस्यता से निलम्बित किया है। कांग्रेस पार्टी द्वारा अय्यर के खिलाफ की गई इस कार्रवाई को बड़े संकेत के तौर पर देखा जा रहा है। राहुल गांधी बहुत जल्द पार्टी अध्यक्ष का पद संभालने वाले हैं। ऐसे में इस तरह की कार्रवाई से साफ संकेत जाता है कि पार्टी इस तरह के विचार और भाषा को कभी बर्दाश्त नहीं करेगी भले ही वह विरोधी के लिए क्यों न हो। इस कार्रवाई को लेकर सोशल मीडिया पर कई नेताओं ने कांग्रेस और राहुल गांधी की प्रशंसा की है। नेशनल कांफ्रेंस के नेता और जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने ट्वीट कर कहा, शाबाश राहुल। एक अन्य ट्वीट में अब्दुल्ला ने कहा, अगर किसी को भी राहुल गांधी द्वारा तीव्र और निर्णायक फैसला लिए जाने पर संदेह है तो उन्हें उन आशंकाओं को विराम दे देना चाहिए। वह नीच विवाद से एक राजनेता की तरह निपटे हैं। इससे पहले गुरूवार की सुबह मणिशंकर अय्यर ने पीएम मोदी के लिए उस समय नीच शब्द का इस्तेमाल कर दिया था जब वह मोदी के उस बयान पर प्रतिक्रिया दे रहे थे जिसमें उन्होंने पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू पर डा. भीमराव अंबेडकर की भूमिका को कम करके दिखाने का आरोप लगाया था। पत्रकारों से बातचीत में अय्यर ने मोदी का नाम लिए बगैर नीच शब्द का इस्तेमाल किया था। हालांकि बाद में विवाद बढ़ने पर उन्होंने माफी भी मांग ली थी। लेकिन इससे पहले बीजेपी ने गुजरात के चुनावी माहौल में इस बयान को भुनाने की जमकर कोशिश की। पीएम मोदी ने भी अपनी रैली में अय्यर के बयान को गुजराती अस्मिता से जोड़ते हुए भुनाने की कोशिश की। 


बैंकों के लिए प्रस्‍तावित बेल-इन सुविधा के बारे में लोगों के आशंकित होने की जरूरत नहीं: वित्त मंत्रालय 
सरकार ने कहा है कि वित्तीय समाधान और जमाराशि बीमा संबंधी कानून-एफ आर डी आई बनाने से न्यायिक समाधान जैसे वैधानिक उपायों की तुलना में जमाकर्ताओं को अधिक सहूलियत वाला साबित होगा। वित्त मंत्रालय ने एक वक्तव्य में कहा कि इस विधेयक में ऐसी किसी सीमा का प्रस्ताव नहीं किया गया है, जिससे सार्वजनिक बैंक सहित अन्य बैंकों को वित्तीय सहायता और समाधान के अन्‍य उपाय के लिये सहयोग देने में सरकार के अधिकार पर प्रतिबंध लगे। इसमें कहा गया है कि सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों में सरकार की गारंटी के प्रावधान पहले की तरह बने रहेंगे।  मंत्रालय ने कहा कि मीडिया में एफ आर डी आई बिल के प्रावधानों में जमानत के संबंध में कुछ भ्रामक जानकारियां दी जा रही हैं। मंत्रालय ने कहा है कि भारतीय बैंकों के पास पर्याप्त पूंजी है और इनके नियमन तथा निरीक्षण के लिये समुचित प्रावधान किये गये हैं।  यह विधेयक लोकसभा में इस वर्ष अगस्त महीने में पेश किया गया था। फिलहाल संसद की संयुक्त समिति इस पर विचार कर रही है। 


युनेस्‍को ने कुंभ मेले की मानवता की सांस्‍कृतिक धरोहर के रूप में पहचान की 
भारत के कुंभ मेले को संयुक्‍त राष्‍ट्र शैक्षणिक, वैज्ञानिक और सांस्‍कृतिक संगठन यूनेस्‍को ने मानवता के एक अमूर्त सांस्‍कृतिक धरोहर के रूप में मान्‍यता प्रदान की है। यूनेस्‍को ने एक ट्वीट में कहा है कि दक्षिण कोरिया में हालही में हुए 12वें सत्र में कुंभ मेले को मानवता के अमूर्त सांस्‍कृतिक धरोहर की प्रतिनिधि सूची में अंकित किया गया। इस पर प्रसन्‍नता व्‍यक्‍त करते हुए संस्‍कृति मंत्री महेश शर्मा ने इसे भारत के लिए एक गौरवपूर्ण क्षण बताया। अपने ट्वीट में उन्‍होंने कहा कि कुंभ मेला पृथ्‍वी पर तीर्थ यात्रियों का सबसे बड़ा शांतिपूर्ण मेला माना जाता है, जिसमें बिना किसी जाति, धर्म और संप्रदा‍य के भेदभाव के करोड़ों लोग भाग लेते हैं। 


उच्‍चतम न्‍यायालय, आधार को अनिवार्य बनाने के लिए  संविधान पीठ का गठन करेगा
केन्‍द्र ने उच्‍चतम न्‍यायालय को बताया - विभिन्‍न सेवाओं और सरकारी योजनाओं के लाभ के लिए आधार को अनिवार्य बनाने की अंतिम तिथि अगले वर्ष 31 मार्च तक बढ़ाने को तैयार। केन्‍द्र ने उच्‍चतम न्‍यायालय को बताया है कि वह विभिन्‍न सेवाओं और सरकारी योजनाओं के लाभ के लिए आधार को अनिवार्य बनाने की अंतिम तिथि 31 मार्च तक बढ़ाना चाहता है। महाधिवक्‍ता के.के.वेणुगोपाल ने प्रधान न्‍यायाधीश दीपक मिश्र की पीठ को बताया कि मोबाइल फोन को आधार से जोड़ने की अंतिम तिथि छह फरवरी ही रहेगी। आधार योजना का विरोध करने वालो की ओर से पेश हुए वकील ने पीठ से कहा कि केन्‍द्र सरकार को ये गारंटी देनी चाहिए कि आधार को जोड़ने में विफल रहने वालों के खिलाफ कठोर कार्रवाई नहीं की जाएगी। इस बीच, शीर्ष न्‍यायालय विभिन्‍न योजनाओं और सेवाओं के लिए आधार को अनिवार्य बनाने के केन्‍द्र सरकार के फैसले पर रोक लगाने संबंधी अंतरिम याचिकाओं पर सुनवाई के लिए अगले सप्‍ताह संविधान पीठ का गठन करेगा।

 

भविष्‍य निधि खातों को मौजूदा यूनीवर्सल खाता संख्‍या के साथ जोड़ने की अनुमति
कर्मचारी भविष्‍य निधि संगठन ने भविष्‍य निधि खातों को मौजूदा यूनीवर्सल खाता संख्‍या के साथ जोड़ने की अनुमति दी। कर्मचारी भविष्‍य निधि संगठन ने अपने साढ़े चार करोड़ से अधिक सदस्‍यों के लिए एक नई सुविधा शुरू की है, जिसके तहत उनके कई भविष्‍य निधि खातों को मौजूदा यूनीवर्सल खाता संख्‍या - यू.ए.एन. के साथ जोड़ने की अनुमति मिल जाएगी। इस सुविधा के तहत कर्मचारी भविष्‍य निधि संगठन के अंशदाता अपने पिछले दस खातों को एक बार में ही यूनीवर्सल खाता संख्‍या से जोड़ सकेंगे। एक वरिष्‍ठ अधिकारी ने कल बताया कि संगठन ने इस सुविधा से एक कर्मचारी के लिए एक भविष्‍य निधि खाते का लक्ष्‍य हासिल करना आसान बना दिया है।


इस्राइल की राजधानी येरुशलम,  अमरीका ने दी मान्यता

अमरीकी दूतावास को तल अवीव से येरूशलम ले जाने की अमरीका ने की घोषणा।
अमरीका ने येरुशलम को इस्राइल की राजधानी के रूप में मान्यता दी। अमरीकी दूतावास को तल अवीव से येरूशलम ले जाने की घोषणा।  अमरीका के राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप ने येरुशलम को इस्राइल की राजधानी के रूप में मान्यता दे दी है और तल अवीव स्थित अमरीकी दूतावास को येरूशलम ले जाने की घोषणा की है। बुधवार को  रात राष्‍ट्रपति कार्यालय से टेलीविजन पर संबोधन में उन्होंने विदेश विभाग से कहा कि वह येरुशलम में अमरीकी दूतावास के निर्माण की प्रक्रिया तत्काल शुरू करे। अमरीकी राष्ट्रपति ने इस्राइल-फलस्तीन संघर्ष के समाधान के लिए दो राष्ट्र के सिद्धांत पर प्रतिबद्धता दोहराई। I have determined that it is time to officially recognize Jerusalem as the capital of Israel. While previous Presidents have made this a major campaign promise. They failed to deliver. Today I am delivering. I have judged this course of action to be in the best interests of United States of America and the pursuit of peace between Israel and the Palestinians. इस्राइल के प्रधानमंत्री बेन्‍यामिन नेतन्‍याहू ने इसे ऐतिहासिक, साहसिक और न्यायोचित कदम बताया है। श्री नेतन्‍याहू ने वायदा किया कि येरुशलम के अति संवेदनशील पवित्र स्थानों की यथास्थिति में कोई परिवर्तन नहीं होगा। इसके अलावा, अमरीका ने  इस्राइल से नरम रूख अपनाने को कहा है। वह इस फैसले से अमरीकी सुविधाओं और लोगों पर पड़ने वाले असर का मूल्‍यांकन भी कर रहा है। अमरीका के विदेश विभाग ने बुधवार को तेलअवीव में अमरीकी दूतावास के अधिकारियों को एक पत्र में कहा था कि वे इस्राइल के अधिकारियों को यह बता दें कि वे इस मुद्दे पर अधिकृत प्रतिक्रिया करने से बचें। पत्र में ये भी कहा गया है कि अमरीका को उम्‍मीद है कि इस खबर का पश्चिम एशिया और विश्‍व में प्रतिरोध हो सकता है।


यह घोषणा अमरीका कीं पुरानी नीति और अंतरराष्ट्रीय सहमति के खिलाफ : 

विश्व नेताओं ने दी चेतावनीसंयुक्‍त राष्‍ट्र महासचिव सहित विश्‍व नेताओं ने अमरीकी फैसले की निंदा की,संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की   आपात बैठक बुलाई 

 विश्व नेताओं ने कहा कि  इससे शांति प्रयासों में बाधा आयेगी और इस क्षेत्र में अशांति बढ़ेगी।संयुक्त राष्ट्र महासचिव अंतोनियो गुतरस ने कहा है कि येरुशलम महत्वपूर्ण मुद्दा है और इसे सीधी बातचीत के ज़रिए हल किया जाना चाहिए।फलस्तीन के राष्ट्रपति महमूद अब्बास ने कहा है कि अमरीका शांति प्रयासों में मध्यस्थता की भूमिका से भागना चाहता है। इस्लामी गुट हमास के प्रमुख इस्माइल हनीयेह ने कहा है कि फलस्तीन की जनता इस साजिश को कामयाब नहीं होने देगी। तुर्की ने इस फैसले को गैर जिम्मेदाराना बताया है। सऊदी अरब, ब्रिटेन, फ्रांस, यूरोपीय संघ, चीन, रूस, मिस्र, जॉर्डन, ईरान और कतर ने भी अमरीका के फैसले की निंदा की है। इस बीच, संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने शुक्रवार को  आपात बैठक बुलाई है। संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतरस बैठक को संबोधित कर सकते हैं।


भाजपा ने मणिशंकर अय्यर की प्रधानमंत्री के खिलाफ अपमानजनक टिप्‍पणी की आलोचना की
भारतीय जनता पार्टी ने कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर की प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के खिलाफ अपमानजनक टिप्‍पणी की आलोचना करते हुए कहा है कि इससे बहुत पुरानी पार्टी की सभ्‍यता का पता चलता है। पार्टी नेता अमित शाह ने कहा कि उन्‍हें इस टिप्‍पणी से न तो हैरानी हुई है और न ही धक्‍का लगा है क्‍योंकि कांग्रेस की यह ही संस्‍कृति है। उन्‍होंने कांग्रेस को गरीब विरोधी, दलित विरोध और ओ बी सी विरोधी बताते हुए कहा कि गुजरात की जनता चुनाव में इसके लिए कांग्रेस को सजा देगी।  वित्‍त मंत्री अरूण जेटली ने कहा कि प्रधानमंत्री पर श्री अय्यर की अपमानजनक टिप्‍पणी इस मानसिकता को दर्शाती है कि शासन का अधिकार केवल एक संभ्रात परिवार को ही है।  नीति है कि प्रधानमंत्री जी के खिलाफ रोज़ अभद्र भाषा का इस्‍तेमाल करो, या फिर कोई गलत तथ्‍य दो और फिर जब जनता में आक्रोश फैले उसकी वजह से तो क्षमा मांगने लग पड़ो। मुझे लगता है यह विषय केवल अभद्र भाषा का नहीं है, लेकिन कांग्रेस पार्टी की सोच का है और वो सोच यह है कि इस देश में केवल एक परिवार है जो राज कर सकता है और बाकी इस देश की जनता वो है जिस पर शासन होना चाहियें। और कोई अगर कमजोर वर्ग का व्‍यक्ति इस देश का प्रधानमंत्री बन जाये तो कभी उसको चाय वाला कहो, कभी उसको नीच कहो और इस प्रकार की अपनी मनोस्थिति को प्रकट करो।   इससे पहले, कांग्रेस उपाध्‍यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि पार्टी नेता मणिशंकर अय्यर को प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के खिलाफ अपनी टिप्‍पणी के लिए माफी मांगनी चाहिए।  इसके तुरंत बाद श्री अय्यर ने कहा कि उनकी हिंदी अच्‍छी नहीं है और उनके शब्‍दों का गलत अर्थ समझ लिया गया है। उन्‍होंने कहा कि अगर उनकी बात से कुछ और मतलब निकलता है तो वे इसके लिए माफी मांगते हैं। 


 डॉक्‍टर हर्षवर्धन ने की, आम आदमी से लेकर उद्योग जगत तक, वायु प्रदूषण से निपटने की अपील 
केन्‍द्रीय पर्यावरण मंत्री डॉक्‍टर हर्षवर्धन ने कहा है कि आम आदमी से लेकर उद्योग जगत तक सभी पक्षों को बड़े शहरों में वायु प्रदूषण से निपटने में प्रभावी भूमिका निभानी चाहिए।  श्री हर्षवर्धन ने कहा कि वायु प्रदूषण के मुद्दे से प्रभावी तरीके से निपटने के लिए कार्य योजना तैयार की गई है। केन्‍द्रीय पर्यावरण सचिव के नेतृत्‍व में एक उच्‍चाधिकार प्राप्‍त समिति बना दी गई है जिसमें विज्ञान सचिव भी शामिल हैं। इस समिति में नीति आयोग के लोग और राज्‍य सरकारों के लोग भी हैं। इसमें विज्ञान से जुड़े लोगों को भी रखा गया है जो पराली जलाने से उत्‍पन्‍न समस्‍या का वैज्ञानिक हल ढूंढने में मदद करेंगे, क्‍योंकि यह दिल्‍ली और एनसीआर में बड़ी समस्‍या है। खेल मंत्री ने यह भी कहा है कि प्रधानमंत्री के सुशासन के एजेंडें में खेल पांच उच्‍च प्राथमिकताओं में हैं। उन्‍होंने कहा कि अगला साल खेल वर्ष होगा। खेल औषधि और विज्ञान- साइकोन पर अंतर्राष्‍ट्रीय सम्‍मेलन में श्री राठौड़ ने कहा कि खेलो इंडिया कार्यक्रम के तहत अंडर-17 टूर्नामेंट अगले वर्ष 31 जनवरी और आठ फरवरी के बीच होंगे।


बंगाल की खाड़ी के दक्षिण-पूर्व में बना हवा का दबाव और गहराने की आशंका

बंगाल की खाडी के दक्षिण-पूर्व और इसके आस-पास बना कम दवाब का क्षेत्र उत्‍तर-उत्‍तर पश्चिम की ओर बढ़कर गोपालपुर से लगभग सात सौ किलोमीटर दूर दक्षिण-दक्षिण पूर्व में स्थित है। मौसम विज्ञान विभाग के प्रुमख एम. मोहपात्रा ने  बताया कि इसके उत्‍तर- उत्‍तर पश्चिम की ओर बढ़ने तथा शनिवार सवेरे तक उत्‍तरी आंध्र प्रदेश और दक्षिणी ओडिसा तट तक पहुंचने की संभावना है। उन्‍होंने बताया कि इसके असर से आंध्र प्रदेश में शुक्रवार को तथा शनिवार को और ओडिसा में शुक्रवार से रविवार तक अधिकतर स्‍थानों पर वर्षा होने और दूरदराज के इलाकों में भारी वर्षा होने का अनुमान है। श्री मोहपात्रा ने बताया कि उत्‍तरी आंध्र प्रदेश और ओडिसा तट के पास समुद्र में तेज और ऊंची लहरें उठ सकती हैं। इस दौरान मछुआरों को समुद्र में नहीं जाने की सलाह दी गई है। 

 


समाचार संक्षेप में-

>  भारतीय विशिष्‍ट पहचान प्राधिकरण ने स्‍पष्‍ट किया है कि विभिन्‍न कल्‍याण योजनाओं, बैंक खाते, पैन कार्ड और सिम कार्ड को आधार से जोड़े जाने संबंधी सभी अधिसूचनाएं वैध और न्‍यायोचित हैं। प्राधिकरण ने कहा है कि उच्‍चतम न्‍यायालय ने आधार और इसे विभिन्‍न सेवाओं से जोडे जाने पर किसी तरह की रोक नहीं लगायी है। प्राधिकरण ने यह स्‍पष्‍टीकरण सोशल मीडिया में चल रहे एक वीडियो पर दिया है। 

>  घरेलू शेयर बाजार में जबरदस्‍त उछाल, सेंसेक्‍स 352 अंक बढ़ा। चौतरफा लिवाली से बॉम्‍बे स्‍टॉक एक्‍सचेंज को सैंसेक्‍स आज 352 अंकों की बढ़त लेकर 32 हजार 949 पर बंद हुआ। उधर, निफ्टी 123 अंक बढ़कर 10 हजार 167 पर पहुंच गया। अंतरबैंकिंग विदेशी मुद्रा बाजार में एक डॉलर की तुलना में रूपया 5 पैसे कमजोर होकर 64 रूपये 57 पैसे पर आ गया। 

>  दिल्‍ली की एक अदालत ने आतंकवादी संगठन अलकायदा के लिए युवाओं की भर्ती के आरोप में जेल में बंद एक ब्रिटिश नागरिक को अदालत में पेश किये जाने के लिए वारंट जारी किया है। ये मामला हाल ही में दिल्‍ली पुलिस ने एन आई को सौंपा था। 

>   दिल्‍ली उच्‍च न्‍यायालय ने निर्वाचन आयोग द्वारा बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतिश कुमार के गुट वाले जनता दल युनाइटेड को तीर का चुनाव चिन्‍ह देने के खिलाफ शरद यादव गुट की याचिका पर निर्वाचन आयोग और जनता दल युनाइटेड के नीतिश कुमार गुट से जवाब मांगा है। यह याचिका शरद यादव गुट के नवनियुक्‍त अध्‍यक्ष के राजसेकरन ने दायर की थी। अदालत ने मामले की अगली सुनवाई 19 फरवरी को निर्धारित की है।

>   दिल्ली की एक अदालत ने 2005 में सवाल के बदले पैसा लेने के कथित घोटाले के सिलसिले में 11 पूर्व सांसदों पर भ्रष्टाचार और साजिश रचने के आरोप तय किए हैं। विशेष न्‍यायाधीश किरण बंसल अगले महीने की 12 तारीख से अलग-अलग सांसदों के मामलों की सुनवाई शुरू करेंगे। दो पत्रकारों ने इन सांसदों के खिलाफ स्‍टिंग ऑपरेशन किया था और एक निजी टीवी चैनल ने बारह दिसंबर 2005 को इसे दिखाया था।

 


खेल-जगत   
>   हॉकी विश्‍व लीग फाइनल में बेल्जियम को पेनाल्‍टी शूट आउट में 3-2 से हराकर भारत सेमीफाइनल में। भारत और ऑस्‍ट्रेलिया हॉकी विश्‍व लीग फाइनल के सेमीफाइनल में पहुंच गये हैं। ओडि़सा के भुवनेश्‍वर में क्‍वार्टर फाइनल में भारत ने बेल्जियम को पेनाल्‍टी शूट आउट में 3-2 से हराया। ऑस्‍ट्रेलिया ने क्‍वार्टर फाइनल में स्‍पेन को 4-1 से पराजित किया।


  खबरी दुनिया 


*   गुरुवार को अधिकतर अखबारों ने पहले पन्ने पर रिजर्व बैंक की द्विमासिक मौद्रिक नीति समीक्षा की मुख्य बातों के साथ अपने-अपने आकलन दिए हैं। जनसत्ता लिखता है - नीतिगत ब्याज दर में बदलाव नहीं। केंद्रीय बैंक ने कहा - अर्थव्यवस्था की स्थिति सुधार की ओर। इकोनोमिक टाइम्स का शीर्षक है - रिजर्व बैंक ने नहीं घटाई ब्याज दरें, महंगाई का हवाला दिया।


*   अखबारों ने अयोध्या मामले पर कपिल सिब्बल के बयान के बाद सत्तापक्ष और विपक्ष में जुबानी जंग को भी अहमितयत दी है। हरिभूमि ने बॉक्स में विस्तार से लिखा है - अयोध्या विवाद पर चौतरफा घिरे कपिल सिब्बल। दैनिक भास्कर की पहली खबर है - सुन्नी बोर्ड ने कहा - सिब्बल हमारे वकील नहीं।


*   राष्ट्रीय सहारा ने सरकार के इस निर्णय को अहमितय दी है कि वीरता पुरस्कार विजेताओं को अब दोगुनी राशि दी जाएगी।


*   जनसत्ता ने सेना प्रमुख जनरल रावत के इस बयान को शीर्षक बनाया है कि हम धर्मनिरपेक्ष और जीवंत लोकतंत्र के माहौल में काम करते हैं, इसलिए सेना को राजनीति से अलग रखा जाना चाहिए।


*   दैनिक भास्कर ने लिखा है - दिल्ली में प्रदूषण कम करने की कवायद में दिल्ली सरकार का अधूरा प्लान - नौ बार डांट खा चुकी दिल्ली सरकार से नाराज एनजीटी। राष्ट्रीय सहारा ने लिखा है - सम विषम लागू हुआ तो अब किसी को छूट नहीं।


*   अमर उजाला की बड़ी खबर है - राजधानी में धड़ल्ले से हो रहे हैं अवैध निर्माण, कानून ध्वस्त। हाईकोर्ट की फटकार। राष्ट्रीय सहारा ने लिखा है - सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली में अवैध निर्माण को प्रदूषण की स्थिति का एक कारण बताया।


*   लगभग सभी अखबारों ने जांच कमेटी की रिपोर्ट में गुरूग्राम फोर्टिस अस्पताल प्रबंधन की लापरवाही और गैरकानूनी तरीके अपनाने से बच्ची की मौत का जिम्मेदार ठहराने को महत्व दिया है। दैनिक भास्कर ने लिखा है - इलाज में लापरवाही, हर चीज में मुनाफाखोरी, फोर्टिस पर होगा केस।


*   दिल्ली एनसीआर में 
बुधवार को
 रात आए भूकंप के झटकों की खबर भी लगभग सभी अखबारों ने दी है। देशबंधु ने लिखा है - भूकम्प से थर्राया उत्तर भारत। नवभारत टाइम्स लिखता है - केंद्र रुद्रप्रयाग था। हरिभूमि ने लिखा है दस सैकेंड तक महसूस हुए झटके।


*   राजस्थान पत्रिका ने बीते साल कश्मीर में पत्थरबाजी के लिए चर्चित हुई अफशां के फुटबाल टीम कप्तान बनने की खबर को शीर्षक दिया है - जम्मू कश्मीर में बदलाव की बयार। 


*   दैनिक भास्कर और राजस्थान पत्रिका ने प्रोत्साहन शीर्षक से पहले पन्ने पर लिखा है - केंद्र ने दलित से अंतर-जातीय विवाह पर ढाई लाख रुपये देने का प्रावधान किया। 

 

 

राजस्थान समाचार विशेष 


खेतड़ी के सभी गांवों को मिलेगा कुंभाराम नहर से पानी: मुख्यमंत्री
झुन्झुनूं ,(अमित भारद्वाज)   खेतड़ी विधानसभा क्षेत्र में गुरूवार को आयोजित अपने जनसंवाद कार्यक्रम में मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे ने कहा कि झुन्झुनूं जिले के लोग पानी को तरसते रहे और पिछले 60 साल से यहां विकास के नाम पर केवल राजनीति होती रही। हमारी सरकार विकास पर राजनीति नहीं सिर्फ विकास करने में विश्वास करती है। उन्होंने कहा कि लम्बे समय से पेयजल की समस्या से जूझ रहे झुन्झुनूं जिले के गांवों को कुम्भाराम नहर का पानी मिलेगा। खेतड़ी विधानसभा क्षेत्र के सभी 85 गांवों को इस परियोजना से लाभ होगा।  श्रीमती राजे ने यह बात गुरूवार को झुन्झुनूं जिले के खेतड़ी विधानसभा क्षेत्र के लोगों के साथ दीनबंधु मैरिज पैलेस में संपन्न हुए  जनसंवाद कार्यक्रम में कही। उन्होंने कहा कि खेतड़ी के 85 गांवों में से 25 को तो इसी महीने में कुम्भाराम नहर परियोजना से पानी मिलने लगेगा और शेष गांवों को भी अगले दो माह में पेयजल आपूर्ति होगी।  
पेयजल एवं सीवरेज पर खर्च होंगे 100 करोड़- मुख्यमंत्री ने जनसंवाद के दौरान घोषणा की कि आरयूआईडीपी के चौथे चरण के तहत खेतड़ी शहर में पेयजल एवं सीवरेज कार्यों के लिए 100 करोड़ रूपए खर्च किए जाएंगे।  मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम के दौरान खेतड़ी नगर को सुनियोजित रूप से विकसित करने के लिए योजना बनाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि खेतड़ी नगर एक ऎतिहासिक स्थान है, इसे सुव्यस्थित एवं सुन्दर बनाया जाना चाहिए। इसके लिए उन्होंने खेतड़ी में एक सुन्दर पार्क विकसित करने के साथ ही  शोभजी का बांध, तेजोवाला का बांध तथा जयसंमद बांध का संरक्षण कर वहां पौध रोपण एवं सौन्दर्यकरण करने को कहा। उन्होंने कहा कि बांधों के संरक्षित होने से क्षेत्र की पानी की समस्या का भी समाधान होगा। 
खेतड़ी उप परिवहन कार्यालय होगा क्रमोन्नत- जनसंवाद के दौरान खेतड़ी के लोगों ने उप परिवहन कार्यालय को जिला परिवहन कार्यालय में क्रमोन्नत करने की मांग की। मुख्यमंत्री ने क्षेत्र की आवश्यकता को देखते हुए मौके पर ही उप परिवहन कार्यालय को जिला परिवहन कार्यालय में क्रमोन्नत करने की घोषणा की। इस घोषणा पर क्षेत्रवासियों ने करतल ध्वनि के साथ मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया। 
40 करोड़ से बनेगी मावंडा-मेहाड़ा-निजामपुर सड़क- मुख्यमंत्री ने लोगों की मांग पर मावंडा से मेहाड़ा निजामपुर बॉर्डर (हरियाणा) तक करीब 40 करोड़ की लागत से 17.4 किलोमीटर सड़क शीघ्र बनवाए जाने का आश्वासन दिया। 
खेतड़ी में आर्मी कैन्टीन का प्रस्ताव भेजें- कार्यक्रम में लोगों ने मांग रखी की सैनिक बाहुल्य क्षेत्र होने के कारण खेतड़ी में आर्मी कैन्टीन खोली जाए। इस पर मुख्यमंत्री ने जिला सैनिक कल्याण अधिकारी को निर्देश दिए  कि वे परीक्षण करवाकर आर्मी कैन्टीन के लिए शीघ्र प्रस्ताव भेजें। मुख्यमंत्री ने दूधवा नांगलिया ग्राम पंचायत के आबादी विस्तार तथा चींचड़ोली गांव में भी डीआई पाईपलाइन बिछवाने के लिए भी प्रस्ताव भिजवाने के निर्देश दिए।
अतिक्रमण और अवैध खनन पर सख्त मुख्यमंत्री- जनसंवाद में लोगों ने जोहड़ एवं चारागाह जमीनों पर अतिक्रमण, पेयजल के सिंचाई में उपयोग, अवैध काश्त तथा रवां गांव बांध के कैचमेन्ट एरिया में अवैध खनन की शिकायत की तो मुख्यमंत्री ने इस पर गहरी नाराजगी जताई और अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे गंभीरता के साथ इन मामलों को देखें और समस्या का शीघ्र निस्तारण करें। उन्होंने कहा कि बांधों के कैचमेन्ट एरिया में किसी तरह की खुदाई ना हो यह सुनिश्चित किया जाए।
कार्यवाहक प्राचार्य को हटाने के निर्देश-  मुख्यमंत्री को जब स्वामी विवेकानन्द स्नातकोत्तर महाविद्यालय खेतड़ी के छात्र नेता सुनील चौधरी ने कॉलेज में शिक्षकों द्वारा कक्षाएं नहीं लिए जाने तथा लम्बे समय से इसी कॉलेज में जमे होने की जानकारी दी तो मुख्यमंत्री बेहद नाराज हुई। उन्होंने मौके पर ही कार्यवाहक प्राचार्य श्यामनाथ मिश्र को यहां से हटाने के निर्देश दिए। श्रीमती राजे ने खेतड़ी के इस कॉलेज के साथ ही अन्य कॉलेजों में लम्बे समय से एक ही स्थान पर नियुक्त कॉलेज शिक्षकों को स्थानांतरित करने और कॉलेजों का समय-समय पर निरीक्षण करवाकर लापरवाह शिक्षकों पर कार्रवाई करने के भी निर्देश दिए।
अधीक्षण अभियन्ता भी करें फील्ड का दौरा- श्रीमती राजे ने खेतड़ी विधानसभा क्षेत्र में पीएचईड़ी से जुड़ी समस्याओं को देखते हुए अधीक्षण अभियन्ता को भी फील्ड में दौरा करने और वस्तुस्थिति का जायजा लेने के निर्देश दिए। उन्होंने पीडब्लूडी के एक्सईएन को निर्देश दिए कि हरियाणा बॉर्डर से जुड़ी सड़कों में जो मिसिंग लिंक हैं उनके प्रस्ताव बनाकर भिजवाएं। मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे ने खेतड़ी विधानसभा क्षेत्र में हुए विकास कार्यों  पर आधारित प्रदर्शनी का अवलोकन भी किया। उन्होंने इस दौरान क्षेत्र में मुख्यमंत्री जल स्वावलम्बन अभियान के तहत हुए कार्यों की सराहना की।  इस अवसर पर खान राज्य मंत्री श्री सुरेन्द्रपाल सिंह टीटी, सांसद श्रीमती संतोष अहलावत, विधायक श्री अभिषेक मटोरिया, संभागीय आयुक्त श्री राजेश्वर सिंह, आईजी श्री हेमन्त प्रियदर्शी, जिला कलक्टर श्री दिनेश यादव एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे। इससे पहले मुख्यमंत्री खेतड़ी में हेलिपैड पर पहुंची तो यहां सशस्त्र सेना झण्डा दिवस के उपलक्ष्य में जिला सैनिक कल्याण अधिकारी कमाण्डर एम. ए. राठौड़ ने मुख्यमंत्री को झण्डा लगाया और शुभकामना दी। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने सैनिक कल्याण कोष में अंशदान दिया।


राजसमंद जिले में  हुई   हत्या दर्दनाक, अपराधी को जल्द से जल्द सजा मिलेगी: मुख्यमंत्री
जयपुर,   मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे ने राजसमंद में बुधवार को हुई हत्या की घटना की कड़ी निंदा की है। उन्होंने कहा कि यह बेहद दर्दनाक कृत्य है। श्रीमती राजे ने कहा कि घटना की जानकारी मिलते ही उन्होंने पुलिस को निर्देश दिये थे कि इस मामले में तेजी दिखाते हुए अपराधी को शीघ्रातिशीघ्र सजा दिलवाने का काम किया जाए। उन्होंने कहा कि पुलिस ने आरोपी को तुरन्त गिरफ्तार कर लिया है। अब इस मामले में जांच पूरी कर अपराधी को जल्द से जल्द सजा दिलवाएंगे।
 राजसमंद जिले के थाना राजनगर क्षेत्र में घटित जघन्य एवं संगीन हत्या के आरोपी को मात्र 24 घंटे में गिरफ्तार कर पुलिस ने महत्वपूर्ण सफलता हासिल की है।  महानिदेशक पुलिस श्री ओ.पी गल्होत्रा ने गुरूवार को पुलिस मुख्यालय सभागार में प्रेस वार्ता आयोजित कर यह जानकारी देते हुए बताया कि आरोपी द्वारा बंगाल मूल के एवं वर्तमान में राजनगर निवासी  अफराजुल की बुधवार 6 दिसम्बर को धारदार हथियारों से हत्या कर लाश को जला दिया गया था। उन्होंने बताया कि इस संबंध में सैयदपुर थाना कालियाचाक जिला मालदा (बंगाल) एवं वर्तमान में गांव धोइन्दा निवासी श्री रूप पुत्र हफीजुद्दीन (46) ने रिपोर्ट प्रस्तुत की कि मै व मेरा भाई अफराजुल गत 12-13 साल से कांकरोली में किराये के मकान में रहते है तथा भट्टा व आर.सी.सी का कार्य करते हैं। आज करीब 2-2.30 बजे मेरे पास फोन आया कि मोटरसाइकिल नम्बर आरजे-30-एसके-7786 किसकी है, तो मैंने अपने भाई अफराजुल की होना बताया तो फोन करने वाले ने मुझे देव हेरिटेज होटल रोड राजनगर को आने को कहा।  श्री गल्होत्रा ने बताया कि वह जब अपने साथियों सहित वहां पहुंचा तो मुख्य रोड़ से खेत की तरफ जाने वाले कच्चे रास्ते पर उसके भाई अफराजुल की अधजली लाश उल्टी पडी मिली तथा वहां पर गेंती और धारिया तथा एक प्लास्टिक की बोतल, माचिस आदि पड़े हुए मिले। उसके भाई के सिर पर धारदार हथियार से दो गहरी चोटें भी आई हुई थी। उन्होंने बताया कि आरोपी ने उसके भाई अफराजुल की धारदार हथियार से सिर पर वार कर हत्या की व लाश को जला दिया।  उन्होंने बताया कि श्री रूप की रिपोर्ट पर पुलिस थाना राजनगर जिला राजसमन्द में अभियोग दर्ज कर थानाधिकारी राजनगर श्री रामसुमेर मीणा, द्वारा अनुसंधान प्रारम्भ कर दिया गया।  महानिदेशक पुलिस ने इस सनसनीखेज वारदात को गंभीर बताते हुए कहा कि किसी भी अपराधी को प्रदेश की शांति एवं कानून व्यवस्था को बिगाड़ने की इजाजत नहीं दी जायेगी। उन्होंने कहा कि पुलिस ऎसे अपराधियों से सख्ती से पेश आयेगी।  उन्होंने सोशियल मीडिया पर वायरल हुए वीडियो को संवदेनशील बताते हुए कहा कि मामले की गंभीरता को देखते हुए घटना की सूचना मिलते ही महानिरीक्षक पुलिस उदयपुर रेंज एवं पुलिस अधीक्षक राजसमन्द ने घटनास्थल का तत्काल निरीक्षण कर अपने सुपरविजन में आरोपी की तलाश हेतु टीम गठित कर आरोपी के रिश्तेदार, मित्रों एवं  परिचितों की जानकारी जुटाना प्रारम्भ किया तथा पुलिस ने आरोपी की गिरफ्तारी के लिये अथक प्रयास कर आरोपी शम्भूलाल रैगर को प्रातः 24 घंटे में ही हिरासत में ले लिया, पुलिस द्वारा उससे पूछताछ की जा रही है। उन्होंने घटनाक्रम के वीडियो को सोशयल मीडिया पर वायरल करने की घटना को गंभीर बताते हुए कहा कि ऎसे वीडियों वायरल करने के गंभीर परिणाम होते है। इनसे हम सबको बचने की जरूरत है। उन्होंने बताया कि प्राप्त फुटेज में आरोपी द्वारा मृतक (अफराजुल) के साथ पीछे चलते हुए गेंती व धारिया से अनेक प्रहार कर नृशंसतापूर्वक हत्या करते हुए दिखाया गया है। श्री गल्होत्रा ने बताया कि वीडियो फुटेज वायरल होने पर प्रदेश में साम्प्रदायिक तनाव फैलने की पूरी आशंका थी, परन्तु पुलिस द्वारा त्वरित कार्यवाही करते हुए आरोपी शम्भूलाल रैगर को हिरासत में ले लिया एवं कानून व्यवस्था की यथा स्थिति बनाये रखी। इस कार्य के लिये उदयपुर और राजसमंद पुलिस बधाई की पात्र है।  इस अवसर पर अतिरिक्त महानिदेशक पुलिस,कानून एवं व्यवस्था श्री एन.आर.के. रेड्डी व अतिरिक्त महानिदेशक पुलिस,अपराध श्री पंकज कुमार सिंह मौजूद थे।
 

08 दिसम्बर, 2017

 

गुजरात विधानसभा चुनाव

गुजरात में खराब मौसम के कारण मंगलवार को रोका गया चुनाव प्रचार बुधवार को फिर शुरू हो गया है  
प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने आरोप लगाया-कांग्रेस ने स्‍वतंत्रता आंदोलन में जनजातीय समुदायों के योगदान को भुला दिया। कांग्रेस उपाध्‍यक्ष राहुल गांधी ने कहा-राज्‍य में स्‍वास्‍थ्‍य सेवाओं की हालत खराब।

गुजरात विधानसभा चुनाव के पहले चरण का प्रचार गुरुवार को  शाम समाप्‍त हो जाएगा। सभी पार्टियां मतदाताओं को आकृष्‍ट करने में जुटी हैं। प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने कहा है कि उनकी सरकार जनजातीय लोगों के कल्‍याण के लिए कार्य कर रही है। आज शाम नेत्रांग में एक चुनाव सभा में श्री मोदी ने कहा कांग्रेस ने 50 वर्ष तक देश पर शासन किया मगर जनजातीय मंत्रालय का गठन नहीं किया। उन्‍होंने कहा कि जब श्री अटल बिहारी वाजपेयी प्रधानमंत्री बने तो अलग जनजातीय मंत्रालय बनाया गया और जनजातीय लोगों के लिए अलग से बजट का प्रावधान किया गया।  श्री मोदी ने कहा कि राज्‍य में बालिकाओं की शिक्षा, खासतौर पर जनजातीय बालिकाओं की स्थिति में सुधार हुआ है। उन्‍होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस ने भारत के स्‍वतंत्रता आंदोलन में जनजातीय योगदान को भुला दिया और उसे लगता है कि आजादी की लड़ाई केवल एक परिवार की वजह से जीती गयी। श्री मोदी ने कहा कि उनकी सरकार, गरीबों की सरकार है। इससे पहले प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने बुधवार को धंदुका में जनसभा में कहा--भाजपा सरकार ने राज्‍य में भ्रष्‍टाचार को खत्‍म किया और कानून व्‍यवस्‍था सुधरी।  प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने कहा है कि गुजरात में भारतीय जनता पार्टी सरकार भ्रष्‍टाचार खत्‍म करने में सफल रही है और कानून व्‍यवस्‍था सुधरी है।  धांधुका में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए श्री मोदी ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने पानी टैंकर के नाम पर चल रही धांधली को समाप्‍त किया है। बाबासाहेब डॉ. भीमराव आम्‍बेडकर के महान कार्यों का स्‍मरण करते हुए श्री मोदी ने कहा पूरा देश बाबा साहेब अम्‍बेडकर का हमेशा-हमेशा ऋणी रहेगा, जिसने देश की एकता के लिए अपने जुल्‍मों को दबा दिया, उखाड़ दिया भविष्‍य भारत का देखा और बदले की भावना के बिना समाज को एक करने की दिशा में प्रयास किया। पहले चरण के प्रचार के लिए अब सिर्फ दो दिन बचे हैं। खराब मौसम के कारण सूरत में होने वाली उनकी रैली गुरुवार को होगी। मुख्‍यमंत्री विजय रूपाणी ने बुधवार को सवेरे राजकोट में अपने निर्वाचन क्षेत्र में रोड शो आयोजित किया।  पार्टी अध्‍यक्ष अमित शाह, केंद्रीय मंत्री स्‍मृति ईरानी, उमा भारती, परसोत्‍तम रूपाला और उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ सहित भारतीय जनता पार्टी के अन्‍य प्रमुख प्रचारक भी बुधवार को चुनाव प्रचार कर रहे हैं। राज्‍य की 182 सदस्‍यों की विधानसभा में भाजपा ने 150 से ज्‍यादा सीटें जीतने का लक्ष्य रखा है।   मुख्‍यमंत्री विजय रूपाणी ने बुधवार को अपने मत क्षेत्र राजकोट में रोड शो किया। भाजपा के अन्‍य स्‍टार प्रचारक अमित शाह, केन्‍द्रीय मंत्री स्‍मृति ईरानी, उमा भारती, पुरूषोत्‍म रूपाला और उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने भाजपा के लिए प्रचार किया। 

          
दूसरी ओर, कांग्रेस को 22 साल के बाद फिर से सत्‍तारूढ़ होने की आशा 
इस बीच, कांग्रेस ने कहा है कि भारतीय जनता पार्टी 2012 के गुजरात विधानसभा चुनाव के दौरान किये गये वादों को पूरा नहीं कर पाई है। अहमदाबाद में मीडिया को सम्‍बोधित करते हुए पार्टी नेता आनन्‍द शर्मा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी इन मुद्दों पर बात नहीं करना चाहते और राहुल गांधी की जनसभाओं पर नजर रखे हुए हैं। श्री शर्मा ने कहा कि भाजपा विकास के लिए यह चुनाव नहीं लड़ रही है क्‍योंकि वह इस मामले में असफल रही है।उधर कांग्रेस उपाध्‍यक्ष राहुल गांधी ने कहा है कि गुजरात में 39 प्रतिशत बच्‍चे कुपोषण का शिकार हैं। एक ट्वीट में उन्‍होंने कहा कि राज्‍य में डाक्‍टरों की भारी कमी है और स्‍वास्‍थ्‍य सेवाओं की लागत बेहद ज्‍यादा है। उन्‍होंने राज्‍य में शिशु मृत्‍यु पर भी चिंता प्रकट की।  राज्‍य में चुनाव प्रचार चरम पर है।
 प्रदेश कांग्रेस के प्रमुख भरत सिंह सोलंकी 
बुधवार को शाम सोशल मीडिया पर लोगों के साथ संवाद किया। उन्‍होंने कांग्रेस की सरकार बनने पर 10 दिनों में किसानों का कर्ज माफ करने और युवाओं के लिए सस्‍ती शिक्षा और रोजगार उपलब्‍ध करवाने के वायदे किए। चुनाव सुचारू रूप से कराने के लिए सभी तैयारियां कर ली गई हैं।
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और गुजरात के पार्टी प्रभारी अशोक गहलोत ने कहा  है कि पीएम मोदी और उनकी पार्टी राहुल गांधी पर जितने हमले करेंगे, कांग्रेस की जीत उतनी आसान होती जाएगी। गुजरात विधानसभा चुनाव के लिए चुनाव प्रचार की बढ़ती सरगर्मी के बीच गहलोत ने मोदी पर 'झूठ बोलने' और 'झूठे वादे' करने का आरोप लगाया है। राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री का कहना है कि मोदी का पर्दाफाश हो चुका है और लोग अब उनके झांसे में नहीं आएंगे। गहलोत ने कहा, "हम चाहते हैं कि वह हम पर और हमले करें। हम चाहते हैं कि वह हमारे सम्मानित नेताओं की भर्त्सना करें। वह हम पर जितने प्रहार करेंगे, हमें उतना ही ज्यादा लाभ मिलेगा।" गहलोत का दावा है कि गुजरात में कांग्रेस स्पष्ट बहुमत से जीत हासिल करेगी।गहलोत ने शहजाद पूनावाला के संदर्भ में कहा, "देखिए मोदीजी किस प्रकार कांग्रेस और उसके आंतरिक चुनाव पर भी हमले कर रहे हैं। प्रधानमंत्री जैसी शख्सियत राहुल को पदोन्नत किए जाने पर हमला कर रहा है और वह भी ऐसे व्यक्ति का नाम लेकर जो कांग्रेस सदस्य ही नहीं है।" उन्होंने कहा कि यह साफ दिखाता है कि प्रधानमंत्री और पूरी बीजेपी भयभीत है।उन्होंने कहा, "हार के डर से वह चुनावी एजेंडे को अपने विकास मॉडल से भटकाने के लिए कुछ भी अनर्गल कह रहे हैं। वह कांग्रेस के आंतरिक लोकतंत्र का मजाक उड़ा रहे हैं, लेकिन सभी जानते हैं कि बीजेपी में आरएसएस ही निर्णय लेता है कि कौन प्रधानमंत्री बनेगा, कौन राष्ट्रपति और कौन मुख्यमंत्री। और आप कांग्रेस की बात कर रहे हैं।"गहलोत मोदी के उन आरोपों की बात कर रहे थे जिसमें उन्होंने कहा था कि नेहरू सोमनाथ मंदिर के पुनर्निमाण के पक्ष में नहीं थे और इंदिरा गांधी ने 1979 में माछू बांध बाढ़ आपदा के बाद जब मोरबी का दौरा किया तो वहां की बदबू से बचने के लिए अपनी नाक पर रूमाल रख लिया था।उन्होंने कहा, "ऐसे ही कई अन्य उदाहरण हैं, जिनसे नई पीढ़ी अनजान है। बीजेपी को लोगों को भ्रमित करने की आदत है।"गहलोत ने कहा, "वह ये मुद्दे इसलिए उठा रहे हैं क्योंकि वह बौखला गए हैं। वह चुनाव जीतने के लिए साजिशें रच सकते हैं, लेकिन हमें इसकी परवाह नहीं है। ऐसा इसलिए, क्योंकि उन्हें हार दिखाई दे रही है। गुजरात के लोग हमारे साथ हैं। राहुल जी को लोगों का प्यार और आशीर्वाद मिल रहा है।"मोदी पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री का करिश्मा खत्म हो गया है और उनकी चुनावी रैलियों में भी यह नजर आ रहा है। उन्होंने कहा, "मोदीजी ने लोगों को वायब्रैंट गुजरात के नाम पर मूर्ख बनाया है। गुजरात के गांवों में जाकर देखिए तब आपको 'मोदी मॉडल' के विकास की सच्चाई मालूम होगी। उनका पर्दाफाश हो गया है। उनसे समाज का कौन सा वर्ग खुश है? किसानों से लेकर मजदूरों तक और युवाओं से लेकर व्यापारी वर्ग तक सभी नाखुश हैं। अब गुजरात की जनता उन पर भरोसा नहीं करेगी। वे उनके झांसे में नहीं आएंगे। आप इसे जमीनी तौर पर भी देख सकते हैं। पहले उनकी रैलियों में भीड़ 'मोदी, मोदी' के नारे लगाती थी। लेकिन अब क्या हो रहा है? कुर्सियां खाली पड़ी रहती हैं। जो उनके नाम की माला जपते थे, वे कहां गए?"गुजरात के प्रभारी कांग्रेस महासचिव ने कहा कि राहुल को पार्टी अध्यक्ष बनाए जाने का देश की राजनीति पर सकारात्मक असर होगा और उनके नेतृत्व में युवा आगे आएंगे। उन्होंने कहा, "मुझे विश्वास है कि उनके नेतृत्व में युवा पीढ़ी आगे आएगी। हम भी युवा थे। मैं 28 साल की उम्र में सांसद बना था और फिर पीसीसी अध्यक्ष, महासचिव, केंद्रीय मंत्री और मुख्यमंत्री बना। आज एआईसीसी में चार महासचिव हैं, जो इंदिरा गांधी के शासनकाल में युवा थे। यह कांग्रेस की विशेषता है कि वह नई पीढ़ी को अवसर देती है। राहुलजी भी ऐसा ही करेंगे। वह वरिष्ठ नेताओं के अनुभव से लाभ लेंगे और युवाओं को लेकर आगे बढ़ेंगे।"गहलोत ने भाजपा को 'कपटी' करार देते हुए कहा कि वे गांधीजी को गले लगा रहे हैं, जिनकी उन्होंने हत्या कर दी थी। उन्होंने कहा, "सरदार पटेल ने आरएसएस पर प्रतिबंध लगाया था और अब वे उन पर अपना जन्मसिद्ध अधिकार जता रहे हैं। जनसंघ से लेकर जनता पार्टी और अब भाजपा तक अपनी पूरी यात्रा में लोगों द्वारा अपमानित किए जाने के बाद अब वे कांग्रेस के नाम पर बंटवारे की राजनीति कर रहे हैं।" 

 

अमित शाह जी नहीं जानते राम जन्मभूमि के पूरे मामले का सच : कांग्रेस
मंगलवार को अहमदाबाद में संवाददाताओं को संबोधित करते हुए भाजपा  अध्‍यक्ष अमित शाह ने कहा था कि कांग्रेस नेता और सुन्‍नी वक्‍फ बोर्ड के वकील कपिल सिब्‍बल ने अदालत में सुनवाई के दौरान हैरान करने वाला रवैया अपनाया जब उन्‍होंने कहा कि मामले की सुनवाई 2019 के आम चुनाव के बाद तक टालने की दलील दी। मैं(अमित शाह ) मांग करता हूं कि कांग्रेस पार्टी को इस पर अपना स्‍टैंड स्‍पष्‍ट करना चाहिए! इसके जबाब में बुधवार को अहमदाबाद में राजीव भवन में PCC कार्यालय में आयोजित एक विशेष प्रेस सम्मलेन में AICC के प्रमुख कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा कि 
मैं फिर दोहराता हूँ, कौन किसका वक़ील बनेगा यह वक़ील का निर्णय हो सकता है। भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस का न उसमें हस्तक्षेप है, ना ही लेना देना है। हमारा स्टैण्ड बड़ा ही स्पष्ट और क्लीयर है। वो ये है कि राम जन्मभूमि के पूरे मामले का निर्णय को, जो सुप्रीम कोर्ट करे और जल्द से जल्द करें तो वो सब को सर्वमान्य हो।
क्या अमित शाह जी यह जानते भी हैं की,- क्या अमित शाह जी को यह जानकारी भी है श्रीराम जन्मभूमि का मुक़दमा कब दायर हुआ था।मैं उनकी जनरल-नालिज अपडेट करना चाहता हूँ। राम जन्मभूमि का मुक़दमा पहली बार 24 दिसंबर, 1885 को दायर किया गया था।और वो भाजपा या आरएसएस के द्वारा नहीं निर्मोही अखाड़े के द्वारा महंत रकबरदास के द्वारा वो मुक़दमा दायर किया था, ये तब से पैंडिग है।तब तो भारतीय जनता पार्टी थी ही नहीं। आरएसएस का जन्म 1925 में हुआ और भारतीय जनता पार्टी का जन्म 1980 में।तो विवाद में कूदने से पहले ख़ुद के इतिहास और जन्म की जानकारी भी कर लेते तो अच्छा होता।और ये भी बता दें अमित शाह जी और आदरणीय मोदी जी, 16 नवम्बर 2017 को अधिकतर टेलिविज़न चैनलों ने और समाचार पत्रों ने एक सनसनीख़ेज़ ख़बर भी छापी थी जिसमें राम जन्मभूमि का मुक़दमा दायर करने वाले निर्मोही अखाड़ा के हवाले से यह कहा गया राम मंदिर के निर्माण में भोली भाली जनता, भारतीयों से एकत्रित 1400 करोड़ रुपया भाजपा से संबंधित संस्थाओं ने खा लिया। क्या इस भ्रष्टाचार की जाँच करवाएंगे ? क्या इस बारे में अमित शाह जी ने या मोदी जी ने बयान दिया ?
और एक बात और मैं उन्हें याद दिलाऊँ।-जो राम जन्मभूमि न्यास के सदस्य हैं और भाजपा के पूर्व सांसद हैं राम विलास वेदांती जी। उन्होंने भी यह कहा था, टेलिविज़न चैनलों ने यह दिखाया, अख़बारों में छपा है, उन्होंने यह कहा कि भाजपा मंदिर की आड़ में राजनीतिक रोटियां सेंकती है। तो क्या अमित शाह जी इससे सहमत हैं आप ? और अगर असहमत है तो क्या अपने आपने वेदान्ती जी के ख़िलाफ़ कार्रवाई की ? और अगर वेदान्ती जी की बात सही है तो एक बार फिर आप क्या गुजरात के मुद्दों से ध्यान भटकाकर, पूरे मामले को विकास से, डगर से हटाना नहीं चाहते ? गुजरात के लोग जानना चाहते हैं अमित शाह और मोदी जी, कभी आप पाकिस्तान चले जाते हैं, कभी आप अफ़ग़ानिस्तान पर और चीन पर चुनाव लड़ते हैं गुजरात का। कभी आप मुग़लकाल में पहुँच जाते हैं, कभी आप 1930 से 1947 में जाते हैं, गुजरात के साढ़े छह करोड़ लोग जानना चाहते हैं 2017 में कब आएँगे ? और गुजरात के मुद्दों का जवाब कब देंगे ? कब बताएँगे की पाटीदार समाज पर भाजपा की ज़ालिम जाबर सरकार ने 20 हज़ार मुक़दमे क्यों दर्ज किए ?
कब बताएंगे कि पाटीदारों पर गोलियां क्यों चलाईं?- कब बताएंगे कि पाटीदार समाज आज उत्पीडित और आंदोलित क्यों है? भाजपा की जालिम ज़ाबर सरकार ने आज 20,000 मुकदमे क्यों दर्ज किए? कब बताएंगे कि पाटीदारों पर गोलियां क्यों चलाईं? कब बताएंगे कि पाटीदार समाज आज उत्पीडि़त और आंदोलित क्यों है? कब बताएंगे कि गब्बर सिंह टैक्स के माध्यम से आपने राजकोट और सूरत के कपड़ा व्यापार को 60,000 करोड़ का नुकसान और सूरत और राजकोट के डायमंड व्यापार को 30,000 करोड़ का नुकसान क्यों किया? कब बताएंगे आप कि गुजरात के नौजवान को फिक्स पे आउटसोर्सिंग के माध्यम से आप क्यों उत्पीडि़त कर रहे हैं? कब बताएंगे कि रोटी और रोजगार के लाले गुजरात में क्यों पड़े हैं? कब बताएंगे कि गुजरात में कपास हो या मूंगफली, उसके पूरे दाम भाजपा सरकार क्यों नहीं देती? कब बताएंगे कि दलित हों या पिछड़े, वो सब आंदोलन की राह पर क्यों हैं? ये मूल मुद्दे हैं, अमित शाह जी। ये मूल मुद्दे हैं, आदरणीय मोदी जी। आप पहुंच जाते हैं, मुगलकाल में, कभी आप पहुंच जाते हैं, चीन और पाकिस्तान में। गुजरात के चुनाव में 6.5 करोड़ गुजराती वोट डालेंगे, पाकिस्तानी या अफगानिस्तानी या चीन के लोग नहीं। इस यथार्थ को जब तक आप नहीं समझेंगे, तब तक आप हार का सामना ऐसे ही करते रहेंगे, जैसा आदरणीय श्री विजय रुपाणी जी ने कहा था, कि हालत बहुत पतली है, हालत बड़ी खराब है, और सर्वे भी यह दिखाने लगे हैं कि आपकी हालत बड़ी पतली है। मीडिया पर कितना भी दबाव डालिए, परंतु कलम के ये सिपाही एक हद से आगे आपके आगे झुकने वाले नहीं। सच्चाई सामने आ जाएगी, सच्चाई यह है कि गुजरात के लोग आपके 22 साल के कुशासन से पीडि़त हैं, और वो न्याय की गुहार कर रहे हैं, बदलाव की गुहार कर रहे हैं, बदलाव और सृजन की गुहार है और एक खुशहाल गुजरात की गुहार है। और सत्ता हाथ से जाते देख आप ओछे से ओछे हथकंडे अपना रहे हैं। भगवान के लिए कम से कम भगवान राम को तो बख्श दीजिए।
आप कोई सवाल पूछना चाहें, तो स्वागत है:-
एक प्रश्न कि, जो मुहम्मद बिन तुगलक के वंशज हैं, मोदी और अमित शाह दोनों हैं या कोई एक है? सुरजेवाला ने कहा उनकी विचारधारा और नीति वंशज है। हम व्यक्ति विशेष की बात नहीं करेंगे। हम आदरणीय मोदी जी की तरह अपमानजनक भाषा का उपयोग नहीं करेंगे। हम आदरणीय मोदी जी तरह ओछी और सस्ती बातें नहीं करेंगे। हम हाथ जोड़कर उनसे कहते हैं कि आप देश के प्रधानमंत्री हैं, जब आप इतने निम्न स्तर पर गिर जाएंगे, तो राजनीति का स्तर कहां जाएगा। जीएसटी और नोटबंदी की नीति मुहम्मद बिन तुगलक की वंशज है। मुहम्मद बिन तुगलक ने भी राजधानी और सिक्के दोनों बदले थे, उसके बाद आदरणीय मोदी जी ने भी वही काम करके दिखाया। यह विचारधारा है, इसलिए मुगलकाल, इसलिए चीन, पाकिस्तान और अफगानिस्तान की नहीं, गुजरात के मुद्दों की बात कीजिए, भटकिए मत, घबराईये मत, बौखलाईये मत, झुंझलाईये मत। जवाब दीजिए, क्योंकि गुजरात जवाब और जवाबदेही दोनों मांगता है।
 
एक अन्य प्रश्न कि, आपने बीजेपी को मंथरा बोला है, राम वनवास जा रहे हैं, ऐसा बोला है, तो आप स्पष्ट कर रहे हैं कि राम मंदिर बनना चाहिए?   सुरजेवाला ने कहा 
मेरी बहन शायद आप मेरी बात दोबारा अपने वीडियो से निकालकर देखेंगी, तो आपको पता चलेगा। मैं फिर दोहराता हूं, आपकी जानकारी के लिए। मैंने यह कहा, भारतीय जनता पार्टी की भूमिका इतिहास के पात्र, महाभारत के पात्र, मंथरा जैसी हो गई है, क्यों?  महात्मा गांधी का रामराज्य सद्भाव वाला है। महात्मा गांधी का रामराज्य तो संकल्प वाला है। महात्मा गांधी का रामराज्य तो सेवा वाला है। महात्मा गांधी का रामराज्य तो भाईचारा है। महात्मा गांधी का रामराज्य तो शांति हैं, अहिंसा है, सत्य है। और भारतीय जनता पार्टी क्या कर रही है - ध्रुवीकरण, बंटवारा, नफरत और भटकाव। भटकाईये मत? गुजरात के मुद्दों का जवाब दीजिए। यह मैंने कहा। धन्यवाद।


भारतीय रिजर्व बैंक ने नीतिगत ब्‍याज दरें छह प्रति‍शत के स्‍तर पर कायम रखीं

 भारतीय रिजर्व बैंक ने मौद्रिक नीति की समीक्षा के बाद अपनी नीतिगत ब्‍याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया है। बैंक के गवर्नर उर्जित पटेल की अध्‍यक्षता में हुई छह सदस्‍यों वाली मौद्रिक नीति समिति की बैठक में रेपो दर को छह प्रतिशत के स्‍तर पर बरकरार रखा है। रिवर्स रेपो दर भी पांच दशमलव सात पांच के स्‍तर पर बनी रहेगी। रिजर्व बैंक ने कहा है कि नीतिगत ब्‍याज दरों में बदलाव न करने का फैसला उपभोक्‍ता मूल्‍य सूचकांक के मध्‍यम अवधि लक्ष्‍यों को प्राप्‍त करने के लिए किया गया है। श्री उर्जित पटेल ने बताया कि कुछ राज्‍यों में किसानों ऋण माफी योजना लागू होने, पेट्रोलियम उत्‍पादों पर उत्‍पाद शुल्‍क और वैट की आंशिक वापसी और कई वस्‍तुओं की वस्‍तु और सेवाकर दरों में कटौती से सरकार के वित्‍तीय संसाधानों में कुछ कमी आ सकती है। समि‍ति ने वैश्विक वित्‍तीय अस्थिरता के कारण परिसंपत्‍तों के मूल्‍यों में अस्थिरता और अर्थव्‍यवस्‍था में संभावित गिरावट की स्थिति‍ में महंगाई के लिए नीतियां लागू करने के बारे में टिप्‍पणी की है। हालांकि समि‍ति का मानना है कि जीएसटी परिषद द्वारा करों की दर घटाकर तथा सब्जियों और खाने की चीजों की कीमतें कम करके इन दबावों को कम करना संभव है। रिजर्व बैंक के इस के फैसले के बाद बंबई शेयर बाजार का संवेदी सूचकांक 205 अंकों की गिरावट से 32 हजार 597 पर बंद हुआ। निफ्टी 74 अंक कम होकर 10 हजार 44 पर बंद हुआ।अन्‍तरबैंक विदेशी मुद्राबाजार में आज डॉलर के मुकाबले रूपया 6 पैसे कमजोर हुआ। एक डॉलर 64 रूपये 44 पैसे का बोला गया।
वित्‍तमंत्रालय ने कहा है कि मौद्रिक नीति समिति ने अपने पांचवें नीतिगत वक्‍तव्‍य में यह बात स्‍वीकार की है कि मुद्रास्‍फीति पूरी तरह नियंत्रण में है। समिति के वक्‍तव्‍य का उल्‍लेख करते हुए मंत्रालय ने कहा है कि उसने वित्‍तीय वर्ष 2018 की दूसरी छमाही अवधि के लिए मुद्रास्‍फीति संबंधी अनुमान को पिछले स्‍तर पर बनाये रखा है और जोखिमों के बारे में भी संतुलित पूर्वानुमान लगाए हैं। मंत्रालय ने कहा है कि इसी कारण से समिति ने तटस्‍थ नीति बनाये रखी है।


वित्‍त मंत्री अरुण जेटली ने बड़े उद्योगपतियों से बुनियादी क्षेत्र में निवेश करने की अपील की
वित्‍त मंत्री अरुण जेटली ने बड़े उद्योगपतियों से कहा है कि वे भारत को सशक्‍त बनाने के लिए बुनियादी क्षेत्र में निवेश करें। उन्‍होंने कहा कि इस क्षेत्र में सरकारी और विदेशी निवेश के साथ निजी निवेश बढ़ने से रोजगार के नये अवसर पैदा होंगे। नई दिल्‍ली में बजट पूर्व बैठक में श्री जेटली ने भारतीय व्‍यापार और उद्योगजगत के प्रतिनिधियों से बुधवार को विचार-विमर्श किया। वित्‍त मंत्री ने बुनियादी सुविधा क्षेत्र में निवेश की महत्‍ता पर जोर देते हुए कहा कि सरकार ने इसे बढ़ाने के लिए राष्‍ट्रीय निवेश और बुनियादी ढांचा कोष जैसे अनेक कदम उठाए हैं। वित्‍त मंत्री अरूण जेटली ने सामाजिक क्षेत्र के अन्‍य संबद्ध पक्षों से भी बजट पूर्व विचार-विमर्श किया। उन्‍होंने कहा कि सरकार चाहती है कि जन कल्‍याण योजनाओं का प्रभावकारी इस्‍तेमाल हो।


राष्‍ट्रीय हरित अधिकरण ने दिल्‍ली सरकार और पड़ोसी राज्‍यों की सरकारों को फटकार लगाई
राष्‍ट्रीय हरित अधिकरण ने राष्‍ट्रीय राजधानी में प्रदूषण से निपटने के बारे में समुचित कार्ययोजना प्रस्‍तुत न करने के लिए दिल्‍ली सरकार और पड़ोसी राज्‍यों की सरकारों को फटकार लगाई।राष्‍ट्रीय हरित अधिकरण ने राष्‍ट्रीय राजधानी में प्रदूषण की गंभीर स्थिति से निपटने के तौर-तरीकों की कार्ययोजना को लेकर दिल्‍ली सरकार और पड़ोसी राज्‍यों की सरकारों को फटकार लगाई है। अधिकरण ने समस्‍या से निपटने के लिए इन राज्‍यों से गुरुवार  तक विस्‍तृत दस्‍तावेज जमा कराने को कहा है। न्‍यायमूर्ति स्‍वतंत्र कुमार की अध्‍यक्षता वाली राष्‍ट्रीय पीठ ने कहा है कि राज्‍यों द्वारा प्रस्‍तुत की गयी कार्ययोजना सिर्फ छलावा है और उन्‍होंने उच्‍चतम न्‍यायालय द्वारा नियुक्‍त पर्यावरण प्रदूषण निवारण और नियंत्रण प्राधिकरण की सिफारिशों की नकल करके दस्‍तावेज पेश किये हैं।अधिकरण ने यह भी कहा है कि दिल्‍ली में वायु प्रदूषण का स्‍तर कभी सामान्‍य नहीं रहा। उसने पंजाब, हरियाणा, उत्‍तर प्रदेश और राजस्‍थान सरकारों को वायु प्रदूषण नियंत्रण के बारे में नई कार्ययोजना प्रस्‍तुत करने का निर्देश दिया है।


सशस्‍त्र सेनाओं का राजनीतिकरण नहीं किया जाना चाहिए: थल सेना अध्‍यक्ष
थल सेना अध्‍यक्ष जनरल बिपिन रावत ने कहा है कि सशस्‍त्र सेनाओं का राजनीतिकरण नहीं किया जाना चाहिए क्‍योंकि जीवंत लोकतंत्र के लिए सशस्‍त्र सेनाओं का राजनीति से दूर रहना जरूरी है। 
बुधवार को नई दिल्‍ली में एक कार्यक्रम में उन्‍होंने कहा कि पुराने जमाने में सशस्‍त्र सेनाओं में राजनीति पर चर्चा न करने की परम्‍परा थी, लेकिन अब धीरे-धीरे राजनीति बहस का मुद्दा बनती जा रही है, जिससे बचा जाना चाहिए। वरिष्‍ठ पत्रकार संजय बारू ने कहा कि वे डोकलाम मुद्दे की मीडिया कवरेज से बहुत प्रभावित हैं, क्‍योंकि इसमें हमारी कूटनीति सफल रही।


राष्‍ट्र ने भारत रत्‍न डॉक्‍टर भीमराव आम्‍बेडकर की पुण्‍यतिथि पर भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की   राष्ट्र ने,  5 दिसम्बर को  डॉक्टर भीमराव आम्बेडकर की पुण्यतिथि पर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। भारतीय संविधान के जनक डॉक्टर आम्बेडकर का निधन 1956 में इसी  दिन हुआ था। यह दिन महापरिनिर्वाण दिवस के रूप में मनाया जाता है। मुख्य समारोह बुधवार को  नई दिल्ली में संसद भवन परिसर में हुआ, जहां बड़ी संख्या में लोग उनकी प्रतिमा पर श्रद्धा सुमन किये डॉ. भीमराव आम्‍बेडकर के 62वें महापरिनिर्वाण दिवस पर  राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद, उप राष्‍ट्रपति एम वेंकैया नायडू और प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने नई दिल्‍ली में संसद भवन परिसर में उनकी प्रतिमा पर श्रद्धा सुमन अर्पित किए। लोकसभा अध्‍यक्ष सुमित्रा महाजन, उपाध्‍यक्ष एम थम्‍बीदुरई, पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह, पूर्व उप प्रधानमंत्री लालकृष्‍ण आडवाणी, गृह मंत्री राजनाथ सिंह, सामाजिक न्‍याय और आधिकारिता मंत्री थावरचंद गहलोत तथा अन्‍य गण्‍यमान्‍य लोगों ने डॉ. आम्‍बेडकर को श्रद्धांजलि दी। डॉक्‍टर अम्‍बेडकर के महापरिनिर्वाण दिवस पर सूचना और प्रसारण मंत्री स्‍मृति ईरानी ने अपने ट्वीट संदेश में कहा कि सामाजिक न्‍याय सुनिश्चित करने और समावेशी समाज का निर्माण करने के लिए राष्‍ट्र डॉक्‍टर अम्‍बेडकर के प्रयासों के प्रति ऋणी है।  महापरिनिर्वाण दिवस पर उनके हजारों अनुयायियों ने मुम्‍बई की चैत्‍य भूमि में उनके स्‍मारक पर श्रद्धांजलि अर्पित की। महाराष्‍ट्र के राज्‍यपाल विद्या सागर राव और मुख्‍यमंत्री देवेन्‍द्र फडणवीस ने बुधवार को सवेरे चैत्‍यभूमि पर उन्‍हें श्रद्धासुमन अर्पित किये।


सूचना में हिस्‍सेदारी और  पारदर्शी सुशासन  लोकतंत्र के मुख्‍य स्‍तम्‍भ : उपराष्‍ट्रपति
उपराष्‍ट्रपति वैंकेया नायडू ने कहा है कि सूचना में हिस्‍सेदारी और लोगों के प्रति जवाबदेह पारदर्शी सुशासन बनाने की व्‍यवस्‍था लोकतंत्र के मुख्‍य स्‍तम्‍भ हैं। वे बुधवार को  नई दिल्‍ली में केन्‍द्रीय सूचना आयोग के बारहवें वार्षिक सम्‍मेलन में बोल रहे थे। श्री नायडू ने कहा कि सूचना हासिल करने में लोगों की अधिकाधिक पहुंच लोकतंत्र को ज्‍यादा प्रगतिशील, भागीदारी वाला और सार्थक बनाती है। ट्रांसपेरेन्‍सी अकाउंटेबिलिटी दिज आर टू इम्‍पोर्टेंट की एलीमेंट्स फोर सक्‍सेस ऑफ डेमोक्रेसी हमको स्‍वराज्‍य मिला है। स्‍वराज्‍य को सुराज के रूप में बदलना, ये हमारे सामने जो मुख्‍य एजेंडा है। श्री नायडू ने कहा कि सूचना का अधिकार - आरटीआई विधेयक बनना देश के इतिहास का एक महत्‍वपूर्ण क्षण रहा है।


अमरीका ने, म्‍यामां में रोहिंज्‍या समुदाय के प्रति हिंसा की निंदा की
अमरीका में प्रतिनिधिसभा ने म्‍यामां में रोहिंज्‍या समुदाय के प्रति हिंसात्‍मक रवैया अपनाने के खिलाफ निंदा प्रस्‍ताव पारित किया। अमरीका में प्रतिनिधि सभा ने रोहिंज्‍या समुदाय के खिलाफ जातीय हिंसा की निंदा करते हुए प्रस्‍ताव पारित किया है और म्‍यामां के रखाइन सूबे में तुरंत मानवीय सहायता बहाल करने का आग्रह किया है। प्रस्‍ताव में म्‍यामां सेना और सुरक्षाबलों की बर्बर कार्रवाई की निंदा की गई है और तुरंत हिंसा रोकने को कहा गया है। म्‍यामां की स्‍टेट काउंसलर आंग सान सू ची से देश को नैतिक नेतृत्‍व प्रदान करने का आग्रह किया गया है।
 

ओखी तूफान कमजोर हुआ ,गुजरात से मुंह मोड़ा 
सामान्‍य बारिश की संभावना। किन्तु समुद्र के अशांत रहने की आशंका।  ओखी तूफान कमजोर होकर कम दबाव के क्षेत्र में बदल गया है और अब गुजरात की ओर नहीं बढ़ेगा। अहमदाबाद के मौसम कार्यालय ने बताया कि पर्यावरण की प्रतिकूल परिस्थितियों के कारण यह तूफान कमजोर पड़ा है। मौसम विभाग ने बताया कि उत्‍तरी महाराष्‍ट्र और दक्षिण गुजरात के तटों के आसपास अगले 12 घंटों के दौरान 55 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से आंधी चलने की आशंका है। समुद्र में हलचल रहेगी और मछुआरों को समुद्र में न जाने की सलाह दी गई है। हालांकि तूफान कमजोर पड़ गया है लेकिन गुजरात प्रशासन ने किसी भी स्थिति से निपटने की सभी तैयारियां की हैं। मुख्‍यमंत्री विजय रूपाणी ने मंगलवार को  सूरत का दौरा किया और अधिकारियों के साथ बैठक में इन तैयारियों की समीक्षा की। प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ओखी चक्रवात के कारण देश के विभिन्‍न भागों में उपजी स्थिति की निरंतर निगरानी कर रहे हैं। मुम्‍बई और आसपास के इलाकों में मंगलवार को  शाम से वर्षा नहीं हुई है। मौसम विभाग का अनुमान है कि अधिकतर जगहों पर रुक-रुक कर वर्षा होगी और एक या दो जगहों पर सामान्‍य से भारी वर्षा हो सकती है। राज्‍य सरकार ने सभी स्‍कूलों और कॉलेजों को बंद रखने की घोषणा की है।===विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री डॉ. हर्षवर्द्धन ने कहा है कि चक्रवात ओखी तेजी से कमजोर पड़कर कम दबाव के क्षेत्र में बदल गया है और अभी दक्षिणी गुजरात पर केंद्रित है। श्री हर्षवर्द्धन ने कहा कि अब इससे किसी प्रतिकूल असर की आशंका नहीं है। रक्षा मंत्री निर्मला सीतारामन ने बताया कि तमिलनाडु में 233, केरल के 361 और लक्षद्वीप से 30 लोगों को बचाया गया है। गुजरात सरकार में राजस्‍व विभाग के प्रधान सचिव पंकज कुमार ने कहा है कि राज्‍य पर अब खतरा नहीं है और कल से मौसम में सुधार आएगा। लेकिन अगले चौबीस घंटों तक दक्षिण गुजरात और सौराष्‍ट्र के तटीय जिलों में हल्‍की से लेकर सामान्‍य तक वर्षा हो सकती है। केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य और परिवार कल्‍याण मंत्री जे. पी. नड्डा ने गुजरात और तमिलनाडु के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रियों को चक्रवात के असर से निपटने के लिए केंद्र के पूरे सहयोग का आश्‍वासन दिया है। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय की विज्ञप्ति में बताया गया है कि श्री नड्डा ने दोनों राज्‍यों के स्‍वाथ्‍य मंत्रियों से इस बारे में चर्चा की।


अंडमान निकोबार द्वीप समूह में फिर  भारी वर्षा- 

बंगाल की खाडी में बने कम दबाव के क्षेत्र के कारण अंडमान निकोबार द्वीप समूह में भारी वर्षा हो रही है। दक्षिण पूर्वी बंगाल की खाड़ी और उसके साथ लगे दक्षिण अंडमान सागर के ऊपर कम दबाव का क्षेत्र, अगले 24 घं टों में और उसके बाद के 48 घंटों के दौरान और गतिशील हो जाएगा। इसके अगले तीन दिनों में तमिलनाडु और दक्षिणी आंध्र प्रदेश की ओर बढ़ने की संभावना है।  इस दौरान समुद्र में बहुत तेज हलचल होगी। लिटिल अंडमान, लॉग आयलैंड, कार निकोबार और पोर्टब्लेयर में भारी वर्षा हो रही है। मौसम को देखते हुए मछुआरों को समुद्र में न जाने की सलाह दी गई है और पोर्टब्लेयर बंदरगाह पर खतरे का संकेत नम्बर तीन लगा दिया गया है। जहाजरानी विभाग की ओर से रंगट, डिगलीपुर और नीलदीप के लिए जलयान सेवा रद्द कर दी गई हैं। द्वीप समूह के सभी स्कूलों में मंगलवार को अवकाश की घोषणा की गई है। दक्षिण अंडमान जिला उपायुक्त उदित प्रकाश राय ने बताया कि प्रशासन स्थिति से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार है और आपदा प्रबंधन को सतर्क रहने को कहा गया है। गुजरात में विधानसभा चुनाव प्रचार के आज फिर तेजी पकड़ने की उम्मीद है। मंगलवार कोओखी तूफान और खराब मौसम के कारण कई रैलियां रद्द कर दी गई थीं।  विधानसभा चुनाव के पहले चरण का प्रचार गुरुवार को समाप्त हो जाएगा। मतदान शनिवार को होगा। बुधवार को शाम प्राप्त समाचारों के अनुसार, बंगाल की खाड़ी के पश्चिमोत्‍तर में बना हवा का कम दबाव का क्षेत्र आंध्र प्रदेश में मछलीपट्टनम के एक हजार एक सौ बीस किलोमीटर दक्षिण पूर्व में केन्द्रित है। यह ओडिशा में गोपालपुर से दक्षिण-दक्षिण पूर्व में है। पृथ्‍वी विज्ञान मंत्रालय की विज्ञप्ति में कहा गया है कि इस तूफान के पश्मित्‍तर की तरफ बढ़ने तथा शुक्रवार शाम तक आंध्र तट पर पहुंचने की संभावना है। तट के पास पहुंचने पर उसके कमजोर होने की संभावना व्‍यक्‍त की गई है।  इसके प्रभाव से अंडमान निकोबार द्वीप समूह में अगले 24 घंटे के दौरान अधिकांश स्‍थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा की आशंका है। मछुआरों को समुद्र में न जाने की सलाह दी गई है। खराब मौसम का सबसे ज्‍यादा असर जलयान सेवाओं पर पडा और आज कई द्वीपों के लिए सेवाओं को रद्द करना पडा। कल सुबह स्थिति‍ की पुन: समीक्षा की जाएगी। दक्षिण अंडमान जिला उपाय पर उदित प्रकाश राय ने बताया कि नील द्वीप में फंसे पर्यटकों को लाने के लिए चार जलयान कल भेजे जाएंगे। विमान कंपनियों से भी कहा गया है कि जिन पर्यटकों की कल की फ्लाइट है उन्‍हें प्राथमिकता दी जाए। पोर्ट ब्‍लेयर बन्‍दरगाह से हवाई अड्डे तक पहुंचने के लिए बसों की व्‍यवस्‍था भी की गई है। इस बीच पोर्ट ब्‍लेयर से कल विशाखापट्टनम के लिए रवाना होने वाले एक यात्री जहाज की सेवा खराब मौसम के कारण स्‍थगित कर दी गई है। अगले दो दिनों तक निकोबार द्वीप में भारी वर्षा होने की संभावना व्‍यक्‍त की गई है। जबकि अंडमान द्वीप के कई भागों में भी वर्षा होगी। 


अंतरराष्ट्रीय सौर गठजोड़-(ISA)   अब  संधि आधारित अंतरराष्ट्रीय अंतरसरकारी संगठन 
भारत के वैश्विक पहल, अंतरराष्ट्रीय सौर गठजोड़-आईएसए बुधवार से संधि आधारित अंतरराष्ट्रीय अंतरसरकारी संगठन बन जाएगा। आईएसए का उद्देश्य सदस्य देशों में सौर ऊर्जा को बढ़ावा देना है। संगठन का मुख्यालय भारत में है और इसका सचिवालय हरियाणा के गुरुग्राम में राष्ट्रीय सौर ऊर्जा संस्थान के परिसर में है। इस अभियान की शुरुआत नवम्बर 2015 में 21वें पेरिस जलवायु सम्मेलन-सीओपी-21 से अलग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांस्वा औलांद ने मिलकर की थी। मकर रेखा और कर्क रेखा के बीच पूर्ण या आंशिक रूप से स्थित देशों में सौर ऊर्जा की मांग से जुड़ी रुकावटों से निपटने में बेहतर समन्वय और संग्रह के लिए यह गठबंधन कार्य करता है।


भ्रष्‍टाचार के कारण चीन- पाकिस्‍तान आर्थिक गलियारे की तीन बड़ी सड़क परियोजनाओं की आर्थिक मदद रुक
चीन ने भ्रष्‍टाचार के आधार पर चीन- पाकिस्‍तान आर्थिक गलियारे से जुड़ी पाकिस्‍तान की तीन बड़ी सड़क परियोजनाओं के लिए आर्थिक मदद अस्‍थायी तौर पर रोकने का फैसला किया।  चीन ने भ्रष्ट्राचार की खबरों के बीच पाकिस्तान में बनाई जा रही तीन प्रमुख सड़क परियोजनाओं की फंडिंग पर अस्थायी रोक लगाने का फैसला किया है। पाकिस्तान में इन सड़कों का निर्माण 50 अरब डॉलर की लागत वाले चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारे-सीपीईसी के तहत हो रहा है। डॉन अखबार के अनुसार चीन सरकार के इस फैसले से पाकिस्तान की एक ट्रिलियन रुपए से अधिक की सड़क परियोजनाओं पर असर पड़ने की आशंका है। 

 

समाचार संक्षेप में 
>   राज्‍यसभा के सभापति वेंकैया नायडू ने जनता दल यूनाइटेड के सांसद शरद यादव और अनवर अली के मामलों में तुरंत फैसला करने की आलोचना को खारिज कर दिया है। उन्‍होंने कहा कि मामले को लंबित रखना न्‍याय की भावना के विपरीत है।

>   महाराष्‍ट्र में गढ़चिरौली जिले में सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में पांच महिलाओं सहित सात नक्‍सली मारे गये। महाराष्‍ट्र में गढ़चिरौली जिले में सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में सात नक्‍सली मारे गये। इनमें से पांच महिलाएं हैं। बुधवार को सवेरे हुई मुठभेड़ में पुलिस ने मारे गये नक्‍सलियों से हथियार बरामद किये।

>   राजस्‍थान में जयपुर की एक स्‍थानीय अदालत ने लश्‍करे तैयबा के आठ आतंकवादियों को बुधवार को  आजीवन कारावास की सजा सुनाई। इनमें तीन पाकिस्‍तानी भी शामिल हैं। राजस्‍थान पुलिस ने 2010 और 2011 में उन्‍हें गिरफ्तार किया था। पिछले सप्‍ताह जयपुर की अदालत ने उन्‍हें दोषी करार दिया और बुधवार को सजा सुनाई। उन पर जुर्माना भी लगाया गया है।

>  उच्‍चतम न्‍यायालय ने बुधवार को गोवा की एक अदालत को तहलका पत्रिका के सम्‍पादक तरूण तेजपाल के खिलाफ दुष्‍कर्म के कथित मामले के गवाहों से जिरह शुरू करने को कहा है। न्‍यायालय ने कहा कि 2013 के इस मामले की सुनवाई पर रोक नहीं लगाई जाएगी। उच्‍चतम न्‍यायालय ने बम्‍बई उच्‍च न्‍यायालय से कहा है कि वह आरोप तय किये जाने के खिलाफ तरुण तेजपाल की याचिका को तीन महीने के भीतर निपटाये।

>  
संयुक्‍त राष्‍ट्र बाल सहायता कोष--युनीसेफ ने कहा है कि बहुत अधिक प्रदूषण वाले इलाकों में रहने वाले विश्‍व के एक करोड़ सत्‍तर लाख शिशुओं में से एशिया में एक करोड़ साठ लाख से अधिक शिशु हैं। इन इलाकों में सुरक्षित स्‍तर से कम से कम छह गुना अधिक प्रदूषण है।

>  
माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्वीटर के अनुसार, प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी अमरीकी राष्‍ट्रपति डॉनल्‍ड ट्रम्‍प के बाद इस साल सबसे लोकप्रिय विश्‍व नेता के रूप में उभरे हैं। ट्वीटर ने  मंगलवार को इस बारे में आंकड़े जारी करते हुए बताया कि लोकप्रिय विश्‍व नेता के रूप में श्री मोदी तीन करोड़ 75 लाख फॉलोवर के साथ दूसरे स्‍थान पर हैं। अमरीकी राष्‍ट्रपति ट्रम्‍प चार करोड़ 41 लाख फॉलोवर के साथ पहले नम्‍बर पर हैं।

 

खेल-जगत 

*   भारत का खेल विश्‍वविद्यालय मणिपुर में स्‍थापि‍त होगा-कर्नल राज्‍यवर्धन राठौर 
खेल मंत्री कर्नल राज्‍यवर्धन राठौर ने कहा है कि वर्ष 2018 भारत में खेल का वर्ष होगा। बुधवार को नई दिल्‍ली में बिग पिक्‍चर सम्मिट को संबोधित करते हुए श्री राठौर ने कहा कि देश में खेल-कूद को बढ़ावा देना एक बड़ा काम है क्‍योंकि रोजगार पक्‍का करना प्रत्‍येक युवा की पहली प्राथमिकता है। उन्‍होंने कहा कि खेल-कूद की जानकारी केवल पाठ्यक्रम के जरिये नहीं दी जानी चाहिए, अब इसे मोबाइल ऐप से उपलब्‍ध कराया जाना चाहिए। खेल मंत्री ने कहा कि भारत का खेल विश्‍वविद्यालय मणिपुर के इम्‍फाल में स्‍थापि‍त किया जायेगा।


*   भारत ने पहली दक्षिण एशियाई क्षेत्रीय बैडमिन्‍टन टीम चैम्पियनशिप जीती। भारत ने पहली दक्षिण एशियाई क्षेत्रीय बैडमिंटन चैम्पियनशीप जीत ली है। गुवाहाटी में मंगलवार को  शाम फाइनल में भारत ने नेपाल को 3-0 से हराया। लड़कों के सिंगल्स फाइनल में आर्यमान टंडन ने दीपेश धामी को हराया। वहीं लड़कियों के सिंगल्स फाइनल में, अश्मिता चलीहा ने रशीला महार्जन को मात दी।  लड़कों के डबल्स में अरिन्ताप दास गुप्ता और कृष्णा प्रसाद की जोड़ी ने दीपेश धामी और नबिन श्रेष्ठ की जोड़ी को 19-21, 21-14, 21-11 से हराया।


*   भुवनेश्‍वर में विश्‍व हॉकी लीग फाइनल के क्‍वार्टर फाइनल में भारत और बेल्जियम के बीच मुकाबला जारी। -भुवनेश्वर में भारत और बेल्जियम के बीच विश्व हॉकी लीग फाइनल का क्वार्टरफाइनल मैच जारी है। अंतिम समाचार मिलने तक दोनों टीमें तीन-तीन की बराबरी पर थीं।


खबरी दुनिया  
*   अयोध्या में राम जन्मभूमि बाबरी मस्जिद स्थल के मालिकाना हक संबंधी विवाद पर सुनवाई 2019 तक टालने की सुन्नी वक्फ बोर्ड की अपील उच्चतम न्यायालय द्वारा ठुकराए जाने का समाचार 
बुधवार को कई अखबारों की पहली खबर है। दैनिक जागरण ने लिखा है- सुप्रीम कोर्ट में नहीं चली अयोध्या पर सियासत। अमर उजाला लिखता है- सुप्रीम कोर्ट ने आम चुनाव बाद सुनवाई की मांग खारिज की, 8 फरवरी नई तारीख। दैनिक भास्कर ने वरिष्ठ अधिवक्ता कपिल सिब्बल का बयान दिया है- चुनाव प्रभावित होगा, 2019 के बाद करें सुनवाई। पत्र ने उच्चतम न्यायालय का भी बयान दिया है- दलील बेतुकी, हम राजनीति नहीं तथ्य देखते हैं। दैनिक जागरण का कहना है- ताऱीख बदल गई, तवारीख नहीं।


*   राजस्थान पत्रिका ने लिखा है- ओखी से मुंबई में रिकॉर्ड बारिश, तूफान से बिगड़ा मौसम, पहाड़ों पर बर्फ, मैदान में उतरी सर्दी, तेजी से गिरेगा पारा।


*   इकनॉमिक टाइम्स के अनुसार- जी एस टी का दर्द कम करने के लिए बड़े बदलावों की तैयारी, सर्विसेज के लिए कंपोजिशन स्कीम लागू करने और ईवे बिल को टालने सहित कई सुझाव शामिल।


*   देशबंधु ने बताया है- कश्मीर में दो और युवक आतंक की राह छोड़कर घर लौटे। टाइम्स ऑफ इंडिया ने सचित्र खबर दी है-पत्थर फेंकने वाली कश्मीरी लड़की अफशान आशिक अब कश्मीर फुटबॉल टीम की कप्तान।


*  प्रख्यात अभिनेता फिल्मकार शशि कपूर को राजकीय सम्मान के साथ अंतिम बिदाई कई अखबारों के पहले पन्ने पर है।


*   नवभारत टाइम्स ने दिल्ली में छाए प्रदूषण की खबर देते हुए लिखा है-कोटला में फिर प्रदूषण की मार, खिलाड़ियों को हुई उल्टियां। इसी संदर्भ में हिंदुस्तान टाइम्स ने यूनीसेफ की रिपोर्ट दी है- प्रदूषण से बच्चों के मस्तिष्क को खतरा, याद्दाश्त और आई क्यू कम।


*   जनसत्ता ने खुशखबरी शीर्षक से पहले पृष्ठ पर लिखा है- बिहार के जर्दालु आम, मगही पान को मिली अंतर्राष्ट्रीय पहचान, बिहार के कृषि मंत्री प्रेम कुमार ने कहा आगे लगेगा शाही लीची और मखाना जैसे उत्पादों का नंबर।


*   दिल्ली में 
मंगलवार को 
 हॉकी के राष्ट्रीय खिलाड़ी सहित आत्महत्या की चार घटनाओं पर अमर उजाला की टिप्पणी है- धैर्य खोते लोग...दो मिनट रुककर अपनों और समाज के बारे में सोच लेते तो ऐसा नहीं होता। 
 

राजस्थान समाचार विशेष 
राजस्थान का शिक्षा मॉडल बनेगा एक मिसाल:  मुख्यमंत्री
झुन्झुनूं, 
 (अमित भारद्वाज) , सूरजगढ़ विधानसभा क्षेत्र में जनसंवाद अपने कार्यक्रम में मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे ने कहा कि पिछले चार सालों में शिक्षा के क्षेत्र में राजस्थान में कई नवाचार हुए हैं। गुणवक्तापूर्ण शिक्षा के लिए हर ग्राम पंचायत में मॉडल स्कूल खोले जा रहे हैं। आने वाले समय में राजस्थान का शिक्षा मॉडल न केवल हमारे प्रदेश की तस्वीर बदलेगा बल्कि पूरे देश के लिए एक मिसाल बनेगा।  श्रीमती राजे ने यह बात झुन्झुनूं जिले के सूरजगढ़ स्थित आरजे बरासिया टीटी कॉलेज में लोगों से जनसंवाद करते हुए उस समय कही जब दो स्कूली विद्यार्थियों अभिषेक कुमावत एवं अंकित कुमावत ने राजस्थान की स्कूली शिक्षा पर अपने सुझाव दिए। उन्होंने कहा कि क्षेत्र के विद्यार्थियों को जयपुर स्थित शिक्षा संकुल ले जाकर राजस्थान में शिक्षा के क्षेत्र में किए गए नवाचारों से अवगत कराया जाए। साथ ही शिक्षा में और सुधार के लिए उनके सुझाव भी लिए जाएं। जनसंवाद के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी समाजों के लोगों से सीधे मुलाकात करने और उनके क्षेत्र की बड़ी समस्याओं के बारे में जानने के लिए यह कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है। 
कार्यक्रम के दौरान सूरजगढ़ क्षेत्र में पट्टे नहीं मिलने की शिकायत पर मुख्यमंत्री ने संभागीय आयुक्त श्री राजेश्वर सिंह को निर्देश दिए कि इसका समाधान किया जाए। संभागीय आयुक्त ने मौके पर ही निदेशक, डीएलबी से बात कर आश्वस्त किया कि 15 दिन में विशेष शिविर लगाकर पट्टे दिए जाएंगे। 
खेतों में बसे लोगों को मिलेंगे कनेक्शन-सूरजगढ़ तहसील की झाझरिया की ढाणी निवासियों ने खेतों में बसे लोगों को बिजली कनेक्शन नहीं मिलने से बच्चों की पढ़ाई में आ रही दिक्कत की बात कही। इस पर अजमेर विद्युत वितरण निगम लि. के एमडी ने कहा कि दीनदयाल ग्राम ज्योति योजना के तहत इस श्रेणी के कनेक्शन भी दिए जा रहे हैं।
बुहाणा में खुलेगी आर्मी कैन्टीन- जनसंवाद में लोगों ने सैनिक बाहुल्य क्षेत्र होने के कारण बुहाणा में आर्मी कैन्टीन खोलने की मांग रखी। इस पर मुख्यमंत्री ने सैनिक कल्याण अधिकारी को निर्देश दिए कि कैन्टीन के लिए एक सप्ताह में प्रस्ताव बनाकर भेजें। इसी दौरान लोगों ने झुन्झुनूं-सूरजगढ़-बुहाणा-पचेरी के लिए एक रोडवेज बस संचालित किए जाने की भी मांग रखी। इस पर मुख्यमंत्री ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि इस रूट पर यात्री भार का परीक्षण करवाकर रोडवेज बस चलाने की कार्यवाही की जाए। 
मिसिंग लिंक की सूची बनाकर प्रस्ताव भेजें- श्रीमती राजे ने जनसंवाद के दौरान अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे क्षेत्र के ऎसे मार्गों जिन पर सड़कों का कुछ हिस्सा कच्चा है या क्षतिग्रस्त है उन्हें मिसिंग लिंक योजना या अन्य स्रोतों से बनवाकर लोगों को राहत प्रदान करें। इस दौरान उन्होंने बलौदा से सतनाली के बीच की 5 किलोमीटर सड़क मिसिंग लिंक योजना के तहत बनाने के निर्देश भी दिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि हरियाणा के बॉर्डर से जुड़ी मिसिंग लिंक सड़कों की सूची तैयार कर प्रस्ताव भेजे जाएं। उन्होंने सड़क निर्माण में गुणवत्ता का ध्यान रखने के भी निर्देश दिए। 
सीएचसी के लिए भेजें प्रस्ताव- मुख्यमंत्री को जब पचेरी की सरपंच रितुरानी ने बताया कि पचेरी का प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र वहां की आबादी के अनुसार सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में क्रमोन्नत किया जाना चाहिए।  इस पर मुख्यमंत्री ने चिकित्सा विभाग के अधिकारियों को परीक्षण करवाकर शीघ्र प्रस्ताव भेजने के निर्देश दिए। रेबारी समाज के लोगों ने दस घरों की बस्ती रूपेरपुरा में सिक्योरिटी राशि जमा होने के बावजूद घरेलू बिजली कनेक्शन मिलने में हो रही देरी से अवगत कराया तो मुख्यमंत्री ने बिजली विभाग के अधिकारियों को शीघ्र बिजली कनेक्शन देने के निर्देश दिए। 
एमजेएसए ने दिलाई फ्लोराइड़ युक्त पानी से मुक्ति- जनसंवाद के दौरान लोगों ने राज्य सरकार द्वारा विगत चार वर्षों में कराए गए विकास कार्यों एवं योजनाओं की मुक्तकंठ से प्रशंसा की। आसलवास गांव के सरपंच रणवीर नाड़ा ने बताया कि उनके गांव में फ्लोराइड की बहुत समस्या थी लेकिन एमजेएसए के तहत बनवाए गए कुंड से आज पूरा गांव पानी पी रहा है। उन्होंने इसके लिए पूरे गांव की तरफ से मुख्यमंत्री का आभार जताया। श्रीमती राजे ने कहा कि एमजेएसए में जो कार्य हो रहे हैं वे ऎतिहासिक हैं। आमजन इसमें पूरी भागीदारी निभाए तो जो क्षेत्र डार्क जोन में है वहां भी पानी की समस्या हमेशा के लिए खत्म हो सकती है। लोगों ने कहा कि इन चार साल में जो काम हुए हैं वे पिछले साठ साल में नहीं हो पाए। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान से गांवों की तस्वीर बदल रही है। साथ ही गांवों में भी अब बिजली, पानी, सड़क, चिकित्सा और शिक्षा सहित अन्य मूलभूत सुविधाओं की कमी का सामना नहीं करना पड़ रहा है। उन्होंने इन विकास कार्यों के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया। इसके अलावा मुख्यमंत्री ने बिजली, पानी, सड़क, चिकित्सा, शिक्षा सहित अन्य मांगों एवं समस्याओं को आत्मीयता के साथ सुना और इनके शीघ्र निस्तारण का आश्वासन दिया। उन्होंने कहा कि पिछले चार साल में राज्य सरकार ने विकास के नए कीर्तिमान स्थापित किए हैं। आगे भी विकास का ये दौर इसी तरह चलता रहेगा। कार्यक्रम के दौरान कुमावत समाज के हर्ष जलेन्द्रा ने मुख्यमंत्री को उनके द्वारा बनाई गई पेन्टिंग भेंट की।  इस अवसर पर खान राज्य मंत्री श्री सुरेन्द्रपाल सिंह टीटी, सांसद श्रीमती संतोष अहलावत, विधायक श्री अभिषेक मटोरिया सहित अन्य जनप्रतिनिधि एवं अधिकारीगण उपस्थित थें।
अन्नपूर्णा रसोई का शुभारम्भ- इससे पहले मुख्यमंत्री ने आरजे बरासिया टीटी कॉलेज सूरजगढ़ के बाहर अन्नपूर्णा रसोई का शुभारम्भ किया। उन्होंने अन्नपूर्णा रसोई का खाना खा रही महिलाओं सरोज, सुमन एवं गुडिया देवी से पूछा कि खाना कैसा है? महिलाओं ने खाने को अच्छा और घर के खाने जैसा बताया। 


डॉ. अंबेडकर की पुण्यतिथि पर विधानसभा में श्रद्धांजलि कार्यक्रम 
जयपुर,   डॉ. भीमराव अंबेडकर की पुण्यतिथि पर विधानसभा में बुधवार को श्रद्धांजलि कार्यक्रम का आयोजन किया गया।  श्रद्धांजलि कार्यक्रम में विधानसभा के उप सचिव श्री गिर्राज बांगड, श्री रामदयाल, श्री सुरेश शर्मा एवं विधानसभा सचिवालय के विभिन्न संगठनों के पदाधिकारियों सहित अधिकारियों एवं कर्मचारियों ने पुष्प अर्पित कर डा. अम्बेडकर को श्रद्धासुमन अर्पित किये। 


समरसता के लिए बाबा साहेब का योगदान महत्वपूर्- मुख्यमंत्री
जयपुर,  मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे ने डॉ. भीमराव अम्बेडकर की पुण्यतिथि पर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। श्रीमती राजे ने कहा कि बाबा साहेब अम्बेडकर ने भारतीय संविधान के निर्माण के साथ-साथ सामाजिक अधिकारों से वंचित जातियों के उत्थान तथा सामाजिक समरसता के लिए भी महत्वपूर्ण योगदान दिया। मुख्यमंत्री ने डॉ. अम्बेडकर के महापरिनिर्वाण दिवस पर उनको याद करते हुए कहा कि बाबा साहेब का जीवन समस्त देशवासियों के लिए प्रेरणादायी है।  मुख्यमंत्री ने कहा कि डॉ. अम्बेडकर का जीवन और उनके आदर्श हम सभी को सदैव प्रेरित करते रहेंगे। 


सैनिक कल्याण के लिए योगदान राष्ट्र सेवा का एक रूप- मुख्यमंत्री
जयपुर,    मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे ने कहा है कि सशस्त्र सेना झण्डा दिवस (7 दिसम्बर) सेना के प्रति सम्मान प्रकट करते हुए उन जांबाज सैनिकों के लिए एकजुटता दिखाने का दिन है, जो देश की आन-बान और शान के लिए अपना जीवन राष्ट्र को समर्पित करते हैं। श्रीमती राजे ने अपने संदेश में कहा कि सैनिकों के समर्पण व उनकी देश सेवा का मूल्य चुका पाना असंभव है किन्तु उनके कल्याण के लिए हर नागरिक को चाहिए कि वह उदारता से दान करे ताकि हमारे देश का झण्डा आसमान की ऊंचाइयों को छूता रहे। 


मुख्यमंत्री 13 को झुंझुनूं में सैनानी रैली को करेगी संबोधित
झुंझुनूं, (अमित भारद्वाज): मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे का झुंझुनूं जिला मुख्यालय के दौरे और सभा पर अंतत: अब जाकर मुहर लग गई है। इसका खुलासा भी कर दिया गया है।  आगामी 13 दिसंबर को झुंझुनूं,  जिला मुख्यालय पर सीएम श्रीमती वसुंधरा राजे के प्रस्तावित दौरे की पुष्टि राज्य मंत्री दर्जा प्राप्त, राज्य स्तरीय सैनिक सलाहकार समिति के अध्यक्ष प्रेम सिंह बाजौर
 ने बुधवार को आयोजित संवाददाता सम्मेलन देते हुए बताया कि आगामी 13 दिसम्बर को जिला मुख्यालय पर आयोजित होने वाले शहीद वीरांगनाओं एवं गौरव सैनानियों के सम्मान समारोह में,  मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे 1999 से पहले सभी युद्घों में शहीद हुए सैनिकों की वीरागगनाओं एवं उनके आश्रितों के लिए विशेष पैकेज की घोषणा करेंगी। राज्यमंत्री प्रेम सिंह बाजौर ने बताया कि मुख्यमंत्री की प्रस्तावित यात्रा की तैयारियों के लिए विधानसभावार प्रभारी एवं सहप्रभारी नियुक्त किए गए हैं। उन्होंने बताया कि पिलानी विधानसभा क्षेत्र के लिए जिले के प्रभारी मंत्री सुरेन्द्र पाल सिंह टीटी को लगाया गया है, जबकि झुंझुनू के लिए सार्वजनिक निर्माण मंत्री यूनुस खान को, मंड़ावा के लिए संसदीय सचिव कैलाश वर्मा को, उदयपुरवाटी के लिए यूआईटी के चैयरमेन हरीराम रिणवा को, खेतड़ी के लिए राजीव सिंह शेखावत को और सूरजगढ़ के लिए विधायक अभिषेक मटोरियां को प्रभारी अधिकारी नियुक्त किया गया हैं। गौरतलब है कि  मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे का गत  विधानसभा चुनाव के बाद मौजूदा सीएम के रुप में झुंझुनूं जिला मुख्यालय का पहली बार दौरा होगा। अब तक झुंझुनूं का चार बार दौरा बना लेकिन विरोध, प्रदर्शन तथा शहर की खस्ताहाल सड़कों के मद्देनजर उनका दौरा कैंसिल होता रहा। ध्यान रहे कि राजस्थान में मौजूदा वसुंधरा सरकार के चार साल भी 13 दिसंबर को ही पूरे हो रहे है इसलिए उसदिन झुंझुनूं में बड़ा जलसा होगा। उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री इन  दिनों  झुंझुनूं जिले के विधानसभा वार दौरे पर है।  गुरूवार को खेतड़ी विधानसभा क्षेत्र में जनसंवाद कार्यक्रम  कार्यक्रम होगा। इससे पहले 30 नवंबर तथा एक दिसंबर को क्रमश: जिले के पिलानी तथा गुढग़ौडज़ी विधानसभा क्षेत्र में जनसंवाद कार्यक्रम कर भाजपाइयों तथा अन्य मौजिज लोगों से वार्ता कर चुकी है।  सीएम के जनसंवाद कार्यक्रम में पहले से तय बुलाए गए पार्टी कार्यकर्ताओं और समर्थकों से दो तीन घंटे स्वयं मुख्यमंत्री प्रशासनिक अधिकारियों तथा जनप्रतिनिधियों की मौजदूगी में चर्चा करती है और आए शिकायतों और सुझावों पर कार्यवाही कर रही है।


वीरांगनाओं एवं गौरव सैनानियों के लिए मुख्यमंत्री करगी विशेष पैकेज की घोषणा:प्रेम सिंह बाजौर
झुंझुनूं, (अमित भारद्वाज): राज्य स्तरीय सैनिक कल्याण सलाहकार समिति के अध्यक्ष (राज्य मंत्री) प्रेम सिंह बाजौर ने कहा है कि आगामी 13 दिसम्बर को जिला मुख्यालय पर आयोजित होने वाले शहीद वीरांगनाओं एवं गौरव सैनानियों के सम्मान समारोह में  मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे 1999 से पहले सभी युद्घों में शहीद हुए सैनिकों की वीरांगनाओं एवं उनके आश्रितों के लिए विशेष पैकेज की घोषणा करेंगी। उन्होंने बताया कि देश में इस तरह का यह पहला पैकेज होगा जो किसी भी रा'य ने अभी तक सैनिक परिवारों के लिए घोषित नहीं किया है। इस घोषणा से गौरव सैनानी भी लाभान्वित होंगे। वे बुधवार को यहां सर्किट हाउस में वार्ता कर रहे थे। उन्होंने बताया कि जिस तरह से झुंझुनूं जिला देश में सेना में सर्वाधिक भागीदारी और शहादत के लिए जाना पहचाना जाता है, उसी तरह से मुख्यमंत्री की घोषणा से राजस्थान भी देश में सैनानियों के लिए घोषणा करने वाला पहला राज्य बनेगा। उन्होंने बताया कि 1999 से पहले शहीद हुए बहुत से जवानों की मूर्तियां नहीं लगी है, उनकी मूर्तियां लगाने का काम भी हमने भामाशाहों के सहयोग से प्रारंभ कर दिया है। उन्होंने बताया कि वे शहीद सम्मान यात्रा के दौरान अब तक 18 जिलों के 850 शहीदों की मूर्ति स्थलों एवं उनके घरों पर जाकर उनकी वीरांगनाओं व आश्रितों का सम्मान कर चुके हैं और अगले मार्च तक वे राज्य के शेष जिलों के 750 शहीदों के गांवों में भी उनके मूर्ति स्थलों एवं उनके घर जाकर शहीद वीरांगनओं एवं उनके आश्रितों का सम्मान करेंगे। 
उन्होंने  बताया कि शहीद सम्मान यात्रा के दौरान जिले में जिन शहीदों की मूर्तियां नहीं लगी है, उनकी मूर्तियां लगवाने की घोषणानुसार अब तक 15 शहीदों की मूर्तियां बन चुकी हैं, औरा शेष मूर्तियां भी 31 मार्च तक बनने के बाद शहीदों के गांवों में स्थापित करवा दी जाएंगी। उन्होंने बताया कि मूर्ति स्थल के लिए भूमि आंवटन की समस्या सामने आ रही है, जिसे जिला प्रशासन के माध्यम से हल करवाया जाएगा। मूर्तियां बनवाने में शहीदों की फोटो उपलब्ध नहीं होना भी एक समस्या है, जिसे उनके सेवा रिकॉर्ड से मंगवाने की व्यवस्था की जा रही है। उन्होंने बताया कि कुछ ऐसे शहीद भी हैं, जिन्हें अभी तक शहीद का दर्जा नहीं मिल पाया है। उनके नाम भी शहीद सूची में जुडवाने की कार्यवाही चल रही है। फिर भी किसी की जानकारी में हो तो सैनिक कल्याण विभाग को अवगत करवाया जाए, ताकि वे भी लाभान्वित हो सकें। उन्होंने बताया कि 1948 और 1952 के युद्वों मे जवानों के पास लड़ाई के दौरान पर्याप्त मात्रा में संसाधन भी उपलब्ध नहीं थे, लेकिन इसके बावजूद भी उन्होंने बहादुरी के साथ देश की रक्षा के लिए अपने प्राणों की आहूती दी। राज्य मंत्री प्रेम सिंह बाजौर ने बताया कि शहीद हमारे देश की धरोहर हैं और उन्हें देवताओं की तरह पूजना चाहिए ताकि उनसे आने वाली पीढ़ी को प्रेरणा मिल सकें। उन्होंने कहा कि शहीद देवताओं से कम नहीं हैं, क्योंकि देवताओं ने उस दौरान चमत्कारिक कार्य किए थे इसलिए उन्हें आज पूजा जाता हैं, लेकिन देश की रक्षा के लिए शहीद होने वाले जवानों ने तो प्राणोंत्सर्ग किया है। उन्होंने बताया कि शहीद सम्मान यात्रा के दौरान जैसलमेर, बीकानेर आदि जिलों में देखने में आया कि शहीदों के परिजनों ने उनके मन्दिर बना रखे हैं और वे आज भी उन्हें देवता की तरह पूजते हैं। 

07 दिसम्बर, 2017 

 

सुप्रीम कोर्ट में अयोध्या पर  सुनवाई आगामी 8 फरवरी तक  टली 

अयोध्या विवाद मामले की मंगलवार  (5 दिसंबर )से शुरू हुई रोजाना सुनवाई अगले साल तक टल गई है। अब इस मामले पर सुप्रीम कोर्ट 8 फरवरी 2018 को सुनवाई करेगा। कोर्ट ने सभी पक्षों को अनुवाद किए हुए सभी दस्तावेज जल्द से जल्द जमा कराने के लिए कहा है। हालांकि, मामले में एक पक्षकार सुन्नी वक्फ बोर्ड के वकील कपिल सिब्बल ने मामले को राजनीतिक बताते हुए इसकी सुनवाई जुलाई 2019 के बाद निर्धारित करने की मांग की। चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा, जस्टिस अशोक भूषण और जस्टिस अब्दुल नजीर की पीठ के समक्ष मंगलवार को  मामले की नियमित सुनवाई का पहला दिन था।सुनवाई के दौरान सुन्नी वक्फ बोर्ड के वकील कपिल सिब्बल ने पीठ के समक्ष इलाहाबाद हाई कोर्ट में पेश किए गए दस्तावेजों को पढ़ा और कहा कि सभी सबूत कोर्ट के सामने पेश नहीं किए गए हैं। सिब्बल ने कहा, आखिर इस मामले की सुनवाई की इतनी जल्दी क्यों है। इसे टाला क्यों नहीं जा सकता? इस पर पीठ ने कहा कि आखिर कहीं से तो शुरुआत करनी ही होगी। सिब्बल ने मामले की सुनवाई संवैधानिक पीठ के समक्ष किए जाने की भी मांग की। सिब्बल ने कहा कि मामला धर्मनिरपेक्षता से जुड़ा है जो कि संविधान के मूल तत्वों में से एक है। इसलिए मामले को संविधान पीठ में भेजा जाना चाहिए।इस पर वरिष्ठ वकील हरीश साल्वे ने मौजूदा 3 जजों की पीठ में ही सुनवाई की पैरवी करते हुए कहा कि संविधान के तहत कोर्ट के पास सुनवाई की प्रक्रिया तय करने का अधिकार है। हालांकि, कोर्ट ने मामले को बड़ी पीठ में भेजने के बारे में कोई टिप्पणी नहीं की। सुनवाई के दौरान मामले से जुड़े वकीलों के बीच काफी गर्मागर्म बहस हुई। वक्फ बोर्ड और अन्य मुस्लिम पक्षकारों के वकील राजीव धवन, कपिल सिब्बल और दुष्यंत दवे ने कहा कि उन्हें केस तैयार करने के लिए समय दिया जाए। तीनों वरिष्ठ वकीलों ने सुनवाई का विरोध करते हुए कोर्ट से कहा कि अगर सुनवाई ऐसे ही चलेगी तो वे इसमें भाग नहीं लेंगे और इसलिए कोर्ट उन्हें जाने की अनुमति दे। इसके बाद तीनों वकील अदालत से बाहर जाने के लिए खड़े हो गए लेकिन पीठ ने उन्हें अनुमति नहीं दी। तीनों वकीलों ने मांग की कि मामले को 7 जजों की संवैधानिक पीठ को भेजा जाए और सुनवाई 2019 के बाद की जाए, क्योंकि ये एक राजनीतिक मामला है जिसका इस्तेमाल आम चुनावों में किया जा सकता है। इसके बाद अदालत ने मामले की सुनवाई 8 फरवरी तक टालते हुए सभी पक्षों को अनुवादित दस्तावेज जल्द जमा कराने को कहा है।    
केन्‍द्र ने अयोध्‍या में 6 दिसंबर को विवादित ढांचा गिराए जाने के 25 साल पूरे होने पर केन्‍द्र ने राज्‍यों और केन्‍द्र शासित प्रदेशों को सतर्कता बरतने का परामर्श जारी किया है। सूत्रों के अनुसार सभी राज्‍यों और केन्‍द्र शासित प्रदेशों से साम्‍प्रदायिक सदभाव बनाए रखने के लिए आवश्‍यक कदम उठाने को कहा गया है। सभी संवेदनशील स्‍थानों पर अतिरिक्‍त सतर्कता बरतने के भी आदेश दिए गए हैं ताकि कोई शांति भंग करने का प्रयास न कर पाए। उत्‍तर प्रदेश में अयोध्‍या में विवादित ढांचे को 6 दिसंबर 1992 को ढह दिया गया था।
भारतीय जनता पार्टी ने उच्‍चतम न्‍यायालय में अयोध्‍या मामले में सुनवाई टाले जाने की मांग करने के लिए कांग्रेस की आलोचना की है। पार्टी के प्रवक्‍ता जी वी एल नरसिम्‍हा ने कहा है कि कांग्रेस को यह स्‍पष्‍ट करना चाहिए कि क्‍या वह श्री सिब्‍बल की बात से सहमत है। सुन्‍नी वक्‍फ बोर्ड के वकील श्री कपिल सिब्‍बल ने अदालत से अयोध्‍या मामले को 2019 के लोकसभा चुनाव तक के लिए टाले जाने की मांग की थी। पार्टी ने मांग की कि अयोध्‍या मामले की सुनवाई उच्‍चतम न्‍यायालय में जल्‍द से जल्‍द होनी चाहिए। अहमदाबाद में संवाददाताओं को संबोधित करते हुए पार्टी अध्‍यक्ष अमित शाह ने कहा कि कांग्रेस नेता और सुन्‍नी वक्‍फ बोर्ड के वकील कपिल सिब्‍बल ने  अदालत में सुनवाई के दौरान हैरान करने वाला रवैया अपनाया जब उन्‍होंने कहा कि मामले की सुनवाई 2019 के आम चुनाव के बाद तक टालने की दलील दी। मैं मांग करता हूं कि कांग्रेस पार्टी ने इस पर अपना स्‍टैंड स्‍पष्‍ट करना चाहिए कि कांग्रेस पार्टी श्रीराम जन्‍म केस की सुनवाई जल्‍द से जल्‍द हो। इस विषय पर सहमत है या नहीं। या कांग्रेस पार्टी भी चाहती है कि 2019 के चुनाव तक राम जन्‍म भूमि केस की सुनवाई न हो। कांग्रेस पार्टी ने अपना रूख स्‍पष्‍ट करना चाहिए।

 

चक्रवात तूफान ओखी के आधी रात गुजरात तट पर पहुंचने का अनुमान 

तूफान से महाराष्‍ट्र के अधिकांश स्‍थानों पर हल्‍की से सामान्‍य वर्षा की संभावना। अरब सागर के पूर्व मध्‍य में केन्द्रित चक्रवाती तूफान ओखी उत्‍तर-उत्‍तर पूर्व दिशा में आगे बढ गया है और सूरत से करीब दो सौ नब्‍बे किलोमीटर दक्षिण-दक्षिण पश्चिम तथा मुंबई से एक सौ साठ किलोमीटर पश्चिम-दक्षिण- पूर्व में केन्द्रित है। पृथ्‍वी विज्ञान मंत्रालय के अनुसार बुधवार को सुबह तक सौराष्‍ट्र और दक्षिणी गुजरात में हल्‍के से सामान्‍य तक वर्षा हो सकती है। महाराष्‍ट्र में भी अधिकतर स्‍थानों पर सामान्‍य वर्षा होने की संभावना है। मंगलवार को शाम सूरत में मीडिया को संबोधित करते हुए मुख्‍यमंत्री विजय रूपाणी ने कहा कि ऐतियात के तमाम इंतजाम कर लिए गए हैं और सभी संचार लाइनें खुली हुई हैं। उन्‍होंने कहा कि इस बात का ध्‍यान रखा जा रहा है कि तूफान और बारिश की वजह से पानी का जमाव न हो और पेय जल की आपूर्ति पर्याप्‍त बनी रहे। राज्‍य के प्रधान राजस्‍व सचिव पंकज कुमार ने बताया है कि सूरत जिले में तीन हजार तीन सौ साठ से अधिक लोगों को सुरक्षित स्‍थानों पर भेजा गया है।  मछली पकड़ने वाली 13 हजार नॉवें सुरक्षित रूप से लौट गई हैं। चक्रवात की चेतावनी के बाद सूरत, नवसारी और वलसाड जिलें में स्‍कूल और अन्‍य शै‍क्षणिक संस्‍थान कल बंद रहेंगे। गुजरात स्‍वास्‍थ्‍य विभाग के सभी कर्मचारियों की छुट्टी रद्द कर दी गई है। आरोग्‍य अधिकारियों को दवाईयों के पर्याप्‍त स्‍टॉक रखने के निर्देश दिये गये है। मौसम विभाग ने सौराष्‍ट्र और दक्षिण गुजरात के कई हिस्‍सों में भारी बारिश की और राज्‍य के ज्‍यादातर हिस्‍सों में हल्‍की से मध्‍यम बारिश की चेतावनी दी है।  प्रधानमंत्री ने गुजरात भाजपा कार्यकर्ताओं से राज्‍य के लोगों की मदद करने को कहा है। इस बीच, चक्रवाती तूफान ओखी के बाद केरल और लक्षद्वीप में मंगलवार कोछठे दिन भी राहत और बचाव अभियान पूरे जोरों पर चलता रहा। आधिकारिक सूत्रों के अनुसार तूफान के दौरान शुरू हुई वर्षा से संबंधित दुर्घटनाओं में केरल में मृतकों की संख्‍या 29 तक पहुंच गई है और 92 मछुआरे लापता बताये गये हैं।
बिहार सरकार ने मुख्‍यमंत्री राहत कोष से लक्षद्वीप प्रशासन को तूफान से प्रभावित लोगों की सहायता के लिए एक करोड़ रूपये देने की घोषणा की है। बंगाल की खाड़ी के ऊपर कम दबाव का क्षेत्र बनने से अंडमान और निकोबार द्वीप समूह के कई इलाकों में मंगलवार को भारी से भारी वर्षा दर्ज की गई। पोर्ट ब्‍लेयर में मौसम कार्यालय के अनुसार लिटिल अंडमान में 73 मिलीमीटर, लोंग आईलैंड 27 मिलीमीटर, पोर्ट ब्‍लेयर में 18 दशमलव पांच मिलीमीटर और कार-निकोबार में सात मिलीमीटर वर्षा दर्ज की गई।
दक्षिण-पूर्वी बंगाल की खाड़ी और दक्षिण अंडमान सागर के ऊपर कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है। अगले 24 घंटे के दौरान इसके विक्षोम बनने की आशंका है। अगले 48 घंटे के दौरान इसके और घना होने का अनुमान जताया गया है। इसके बाद यह अगले तीन दिन के दौरान पश्चिम-उत्‍तर पूर्व की ओर बढ़ने की संभावना है। यह उत्‍तर तमिलनाडु और दक्षिण आंध्रप्रदेश के तट की ओर बढ़ेगा। मौसम कार्यालय ने कहा है कि समुद्र में भारी उथल-पुथल रहेगी। मछुआरों को समुद्र में न जाने की सलाह दी गई है। अगले तीन दिन के दौरान निकोबार द्वीप समूह और अंडमान द्वीप समूह में कई स्‍थानों पर वर्षा होने का अनुमान है।

 

विजय माल्‍या के प्रत्‍यर्पण की सुनवाई लंदन की एक अदालत में शुरू
भारत में नौ हजार करोड़ रुपये की धोखाधड़ी और मनी लॉन्ड्रिंग के आरोपी विजय माल्या के प्रत्यर्पण की सुनवाई सोमवार को  ब्रिटेन में लंदन की अदालत में शुरू हुई। अभियोजन पक्ष ने कहा कि शराब कारोबारी माल्या को धोखाधड़ी के मामले का जवाब देना है। भारत सरकार की ओर से ब्रिटेन की शाही अभियोजन सेवा ने मामले पर बहस की शुरुआत की। अभियोजन पक्ष का कहना था कि अब सुनवाई अगले चरण की ओर बढ़नी चाहिए कि क्या प्रत्यर्पण में कोई बाधा है? 


केन्‍द्र ने विदेश व्‍यापार नीति की मध्‍यावधि समीक्षा जारी की                                              
केन्‍द्र ने मंगलवार को 2015 से 2020 तक की विदेश व्‍यापार नीति की मध्‍यावधि समीक्षा जारी की, जिसमें देश से समान और सेवाओं का निर्यात बढ़ाने तथा रोजगार के अवसरों में वृद्धि पर जोर दिया गया है। नई दिल्‍ली में मध्‍यावधि समीक्षा जारी करते हुए वाणिज्‍य मंत्री सुरेश प्रभु ने कहा कि देश में नई कर व्‍यवस्‍था लागू होने से निर्यात क्षेत्र को बढावा देने में मदद मि‍लेगी। उन्‍होंने कहा कि बडी संख्‍या में रोजगार देने वाले सूक्ष्‍म, लघु और मध्‍यम उद्योग क्षेत्र को बढ़ावा देने के लिए इस तरह की इकाइयों में बने सभी वस्‍तुओं के लिए प्रोत्‍साहन को दो प्रतिशत बढा दिया गया है। अपने भाषण में श्री प्रभु ने कहा कि किसानों की आमदनी दुगनी करने की प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी की सोच को साकार करने के लिए विदेश व्‍यापार नीति में कृषि निर्यात पर जोर दिया गया है।


अभिनेता शशि कपूर का राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार 
जाने-माने फिल्म अभिनेता-निर्माता शशि कपूर का मंगलवार को  दोहपर मुंबई के सांताक्रुज शवदाह गृह में अंतिम संस्कार कर दिया गया। इस अवसर पर फिल्म जगत की जानी-मानी हस्तियों, उनके मित्रों और परिजनों ने शशि कपूर को अश्रुपूर्ण विदाई दी। उनासी वर्षीय शशि कपूर का सोमवार को मुम्बई  निधन हो गया था। उनके शव को तिरंगे में लपेट कर लाया गया और पुलिस ने उन्हें तीन बंदूकों की सलामी दी। उनके अंतिम संस्कार में बॉलीवुड की कई दिग्गज हस्तियां शामिल हुईं।  अमिताभ बच्चन, सलीम खान, शाहरुख खान, सलमान खान, आमिर खान, अनिल कपूर, ऋषि कपूर, रणधीर कपूर, संजय दत्त, रणबीर कपूर, नसीरुद्दीन शाह, नवाजुद्दीन सिद्दीकी, सुप्रिया पाठक, शक्ति कपूर और सुरेश ओबेराय जैसी बॉलीवुड हस्तियां अंतिम संस्कार में मौजूद थे। उन्होंने ब्रिटिश अभिनेत्री जेनिफर केंडल से शादी की थी, जिनका सितंबर 1984 में निधन हो गया था। शशि कपूर की एक बेटी संजना कपूर और दो बेटे कुणाल और करण कपूर हैं।


भारतीय जनता पार्टी अध्‍यक्ष अमित शाह की रैलियां रद्
गुजरात में तूफान ओखी के कारण मौसम खराब होने से सौराष्‍ट्र और दक्षिण गुजरात में चुनाव प्रचार प्रभावित हुआ है। भारतीय जनता पार्टी के राज्‍य प्रवक्‍ता हर्षद पटेल के अनुसार सौराष्‍ट्र में पार्टी अध्‍यक्ष अमित शाह की मंगलवार को  होने वाली तीन जनसभाएं रद्द कर दी गई है। इस बीच, रक्षा मंत्री निर्मला सीतारामन, मुख्‍यमंत्री विजय रूपाणी, पूर्व मुख्‍यमंत्री आनंदीबेन पटेल सहित विभिन्‍न नेता पार्टी के पक्ष में प्रचार कर रहे हैं।बहुजन समाज पार्टी नेता मायावती राजकोट में जनसभा को संबोधित करेंगी। समाजवादी पार्टी नेता अखिलेश यादव राजकोट और जामनगर में प्रचार कर रहे हैं।  व्‍यय प्रेक्षक चुनाव के दौरान धन-बल के इस्‍तेमाल और शराब बांटे जाने को रोकने के लिए सभी उपाय कर रहे हैं। गुजरात में चुनाव से पहले 79 खर्च पर्यवेक्षक नियुक्‍त किए गये हैं जबकि 353 आयकर अधिकारी उम्‍मीदवार और राजनीतिक पक्षों के खर्च की निगरानी के लिए रखे गये हैं। राज्‍यों में चुनाव से पहले सभी 182 विधानसभा मतक्षेत्रों में नकद, शराब और अन्‍य मुफ्त सौगातों की हेराफेरी को रोकने के लिए फ्लाइंग स्‍क्‍वॉइड और स्‍ट्रेटिक सर्विलांस दलों को तैनात किया गया है। राज्‍य में पर्याप्‍त संख्‍या में चैकपोस्‍ट स्‍थापित की गई हैं और फ्लाइंग स्‍क्‍वॉइड और सर्विलांस दलों द्वारा त्‍वरित कार्रवाई के लिए सभी वाहनों को जीपीएस प्रणाली से सज्‍ज रखा गया है।  

    
निर्वाचन आयोग की गुजरात में प्रिंट मीडिया में विज्ञापन  प्रकाशन पर रोक

निर्वाचन आयोग ने गुजरात में पूर्व अनुमति के बिना शुक्रवार और शनिवार को प्रिंट मीडिया में विज्ञापन प्रकाशित करने पर रोक लगाई। चुनाव के पहले चरण का प्रचार चरम पर। निर्वाचन आयोग ने राजनीतिक दलों, उम्मीदवारों और अन्य संगठनों पर गुजरात में मंजूरी के बिना शुक्रवार और शनिवार को अखबारों में विज्ञापन देने पर रोक लगा दी है। राज्य में पहले चरण का चुनाव शनिवार को होगा। निर्वाचन आयोग ने कहा है कि ऐसे विज्ञापनों के प्रकाशन से पहले उन्हें राज्य तथा जिला स